यह सामग्री कॉपी नहीं हो सकती है, फिर भी चाहिए तो व्हात्सएप से 8077566792 पर संपर्क करें..

नैनीताल में प्रदूषण जांच केंद्र खुला

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

नवीन समाचार, नैनीताल, 15 नवंबर 2019। जिला व मंडल मुख्यालय के कैलाखान स्थित ठाकुर मोटर्स  में शुक्रवार को प्रदूषण जांच केंद्र खोल दिया गया है। इस केंद्र में सभी प्रकार के छोटे बड़े पेट्रोल व डीजल वाहनों की प्रदूषण जांच के साथ ही उन्हें सार्टिफिकेट जारी किए जा रहे हैं। अब नैनीताल से वाहन चालकों को अन्यत्र नहीं जाना पड़ेगा। 

यह भी पढ़ें : काम की सूचना: नैनीताल में भी हो सकेगी वाहनों की प्रदूषण जांच..

नवीन समाचार, नैनीताल, 9 सितंबर 2019। जिला व मंडल मुख्यालय में वाहनों के प्रदूषण की जांच की कोई सुविधा नहीं है। इधर अधिक कठोर हुए नये मोटर यान अधिनियम के प्राविधानों के तहत वाहनों की प्रदूषण जांच जरूरी है, और इसके बिना भारी जुर्माने की सजा है। ऐसे में यहां के लोग अपने वाहनों की जांच के लिए निकटस्थ हल्द्वानी जाएं तो रास्ते में ही भारी जुर्माने के साथ चालान होने की पूरी संभावना है। इस समस्या के समाधान का संज्ञान दिलाये जाने के बाद डीएम सविन बंसल ने मुख्यालय में कालाढुंगी रोड पर स्थित केएमवीएन के पेट्रोल पंप के पास स्थित गैराज में शीघ्र ही प्रदूषण जांच का शिविर लगाने की बात कही है।

यह भी पढ़ें : 14 अक्टूबर से 31 घंटे तक गुल रह सकती है नैनीताल व नजदीकी क्षेत्रों में बिजली, देखें आपके यहाँ कितने घंटे जाएगी और क्यों ?

-पांच दिनों तक दिन में तीन से सात घंटे तक रहेगी गायब

पेड़ों पर झूलते बिजली के तार, जिनकी चपेट में महिला आई

नवीन समाचार, नैनीताल, 11 अक्टूबर 2019। आगामी 14 अक्टूबर से नैनीताल मुख्यालय व आसपास के क्षेत्रों में दिन में बिजली तीन से सात घंटे तक गुल रहेगी। 20 अक्टूबर तक यह सिलसिला चलेगा और इस दौरान मुख्यालय सहित कई क्षेत्रों में 28 से 31 घंटे तक बिजली गायब रह सकती है।
विद्युत वितरण खंड नैनीताल के अधीक्षण अभियंता की ओर से शुक्रवार शाम जारी विज्ञप्ति के अनुसार 14 को 33/11 केवी उप संस्थान पाइंस, सूखाताल, रामगढ़, सरगाखेत व भीमताल से जुड़े मुख्यालय के तल्लीताल व मल्लीताल के सभी क्षेत्रों, ज्योलीकोट, एटीआई, सौड़, बगड़, सुयालबाड़ी, रामगढ़, सरगाखेत, मुक्तेश्वर व भीमताल, 15 को मुख्यालय के कमिश्नरी, डीएम कार्यालय व राजभवन, हाईकोर्ट, सौड़, बगड़ तथा मुख्यालय में जलकल के तहत पंप हाउस व निकटवर्ती क्षेत्रों, रामगढ़, मुक्तेश्वर, जौरासी, क्वारब, नथुवाखान से शीतला, नौकुचियाताल, हैड़ाखान तथा 17 अक्टूबर को ज्योलीकोट, सौड़, बगड़, रामगढ़, जौरासी से क्वारब, देवीधूरा, जून स्टेट भीमताल में सुबह 10 से शाम पांच बजे तक लगातार सात घंटे बिजली गुल रहेगी। वहीं 18 अक्टूबर को मुख्यालय के पूरे नगर पालिका क्षेत्र, गरमपानी, भवाली में सुबह 10 से एक बजे तक यानी तीन घंटे, नगर के समस्त तल्लीताल व ज्योलीकोट तथा समस्त तल्लीताल व ग्रामीण क्षेत्र में दो से पांच बजे तक तीन घंटे एवं नगर के कैलाखान, कृष्णापुर, एरीज, बिड़ला, जू रोड क्षेत्रके साथ ही मुक्तेश्वर क्षेत्र में 10 से पांच बजे तक सात घंटे तथा 19 का 33 केवी भीमताल, पदमपुरी, मुक्तेश्वर क्षेत्र में 11 से दो बजे तथा मुख्यालय में कमिश्नरी से शेरवुड तक, मल्लीताल के समस्त, जलकल, सौड़ बगड़, ज्योलीकोट, ज्योलीकोट, रामगढ़, मुक्तेश्वर, भीमताल में सुबह 10 से पांच बजे तक तथा 20 अक्टूबर को मुख्यालय के बिड़ला से जू रोड एवं रामगढ़, जौरासी से क्वारब क्षेत्र में सुबह 10 से पांच यानी सात घंटे बिजली बंद रहेगी। इस दौरान उपभोक्ताओं से वैकल्पिक प्रबंध करने को कहा गया है।

यह भी पढ़ें : पंचायत चुनावों के लिए अधिकारियों को मिलीं जिम्मेदारियां…

नवीन समाचार, नैनीताल, 13 सितंबर 2019। निकट भविष्य मे होने वाले त्रिस्तरीय सामान्य निर्वाचन प्रक्रिया को शांतिपूर्ण एवं निष्पक्ष ढंग से कराने के लिए जिला निर्वाचन अधिकारी-डीएम सविन बंसल ने जनपद में 42 जोनल मजिस्ट्रेट तथा 104 सैक्टर मजिस्टेªट तैनात कर दिये है। जानकारी देते हुये श्री बंसल ने बताया कि अजय कुमार पंत मुख्य अभियंता ग्रामीण अभियन्त्रण सेवा, बीएन तिवारी मुख्य अभियंता लोनिवि, एमसी पाण्डे मुख्य अभियंता सिचाई, पीके संयुक्त निदेशक कृषि, संजीव शुक्ला अधीक्षण अभियंता जामरानी, एसके पंत अधीक्षण अभियंता, डीएस नबियाल अधीक्षण अभियंता लोनिवि, बीसी सनवाल अधीक्षण अभियंता नलकूप, एनएस पतियाल अधीक्षण अभियंता सिचाई, पीके दीक्षित अधीक्षण अभियंता सिचाई, गोधन बिष्ट उपनिदेशक मत्स्य, आरके निदेशक एफटीआई,संजय उपाध्याय उपनिदेशक डेयरी, विजय कुमार माथुर अधिशासी अभियंता जिला विकास प्राधिकरण, पूरन चंद्र जोशी, डीएस बसनाल अधिशासी अभियंता लोनिवि, पान डुगरियाल संयुक्त आयुक्त राज्यकर, शशिकान्त आर्या उपायुक्त राज्यकर, धन कुटियाल अधिशासी अभियंता लोनिवि, तरूण कुमार बसंल अधिशासी अभियंता सिचाई, अनन्त राम उनियाल पीएमजीएसवाई को जोनल मजिस्टेट बनाया गया है। उन्होने बताया कि इसी प्रकार सुनील कुमार अधिशासी अभियंता राष्ट्रीय राजमार्ग लोनिवि, कैप्टन आरएस धपोला जिला सैनिक कल्याण अधिकारी, जावेद अनवर अधिशासी अभियंता जामरानी, धु्रव मर्तोलिया उपप्रभागीय वनाधिकारी, सुधीर कुमार अधिशासी अभियंता पेयजल निगम, अरविंद कुमार प्रभागीय लौगिक प्रबंधक, जेपी भट्ट प्रभागीय लौंगिक प्रंन्धक खनन, सुखबीर अधिशासी अभियंता पेयजल निगम, केसी उनियाल अधिशासी अभियंता सिचाई, महेंद्र कुमार अधिशासी अभियंता लोनिवि, हिम्मत रावत अधि0अभि. लोनिवि, केएस बिष्ट अधिशासी अभियंता पीएमजीएसवाई, एएस नेगी अधिशासी अभियंता सिचाई, सुखबीर अधिशासी अभियंता पेयजल निगम, एनसी कुलाश्री उपश्रमायुक्त, जेएम नेगी उपनिदेशक प्रशिक्षण, पंकज कुमार उपनिदेशक प्रशिक्षण, भावना जोशी मुख्य उद्यान अधिकारी, मीना भट्ट अधिशासी अभियंता पीएमजीएसवाई, लोनिवि तथा नंदकिशोर अधिशासी अभियंता को नोडल अधिकारी का दायित्व दिया है। इनके अलावा जनपद के विभिन्न विभागों के सहायक अभियंताओं के अलावा सहायक अभियंता पंकज तिवारी, बृजेद्र ठाकुर, दीपचंद्र तिवारी, भूवन चंद्र, स्वाति पंत, प्रवीण गुरुरानी, प्रकाश तिवारी, राजेंद्र प्रसाद, एएससी भट्ट, एसपी बडौनी, गोविंद जनौटी, तारा सिंह, किशन बसेडा, लक्ष्मण सावंत, बीएस भोज,संजय कुमार पंत, मनोज कुमार, आनन्द, नवीन चंद्र पांडे, अमित बंसल, पंचदेव जोशी, अनिल कुमार जोशी, राजेन्द्र चौधरी, देवेंद्र बोरा, शिल्पी भट्ट, निताली कपिल, अभय कुमार वर्मा, भरत, गिरजा भूषण जोशी, मदन बहादुर थापा, ललित मोहन तिवारी, भुवन चंद्र, राजेन्द्र प्रसाद जोशी, राजकमल चक्रपानी, मो. शाहनवाज, शुकदीप, संतोष पांडे, संजय कुमार, गोविन्द टम्टा, सीएस नगरकोटी, राजेश श्रीवास्तव, महेंद्र, राजेश कुमार, अंचित रमन, गौरव कुमार, जेसी जोशी, मयंक मित्तल, हरीश भदोला, भूवन चंद्र भंडारी, यूसी पंत, अतुल गुप्ता, जय खोलिया, महेश चंद्र जोशी, शाहिद अख्तर, दीप कांडपाल, एनसी जोशी, आरएस बिष्ट, दिनेश कुमार को सैक्टर मजिस्टेट तथा दिनेश कुमार उपनिदेशक एटीआई, रमेश चंद्र काण्डपाल सहायक वन अधिकारी, खेमराज भटट,दुर्गेश डिमरी, उपकुल सचिव कुमायू विश्वविद्यालय, डा. युगल किशोर जोशी सूचना वैज्ञानिक, नागेंद्र प्रसाद शर्मा सहायक प्राध्यापक, अरविंद गौड जिला पर्यटन अधिकारी, उमेश चंद्र पांडे उपराजस्व अधिकारी, रामप्रसाद सहायक निदेशक डेयरी, गौरव पंत सहायक राज्यकर आयुक्त, हरीश चंद्र धपवाल सहायक आयुक्त व्यापारकर, अख्तर अली जिला क्रिडा अधिकारी, डा. महेंद्र कुंजियाल जिला आयुर्वेदिक अधिकारी, नारायण दरम्वाल नगर सेवायोजन अधिकारी, मृदुला परियोजना प्रबंधक, विवेक कुमार राजकीय पॉलीटैक्निक, वृजमोहन जोशी राज्यकर अधिकारी, राहुल कुमार झा, बहादुर बिष्ट जिला लेखा परीक्षाधिकारी, राजेंद्र लाल उपनिबंधक अतुल कुमार शर्मा उपनिबंधक, राजेन्द्र मर्तोलिया सहायक निदेशक प्रशिक्षण, सीके सकलानी राजकीय निर्माण निगम, अनिल कुमार टम्टा सहायक निदेशक जलागम, बीसी गुणवन्त जिला भेषज समन्वयक,विशाल दत्ता जिला मत्स्य प्रभारी, रमेश बिष्ट सहायक प्रबन्धक बहुउददेशीय वित्त एवं विकास निगम, गोकुल नेगी सहायक अभियंता सर्वशिक्षा, संदीप भटट परियोजना अधिकारी उरेडा, केसी सती जिला खादी एवं ग्रामोद्योग अधिकारी, डीके जोशी क्षेत्रीय अधिकारी, दिनेश कुमार खान अधिकारी,आशुतोष सोनी परियोजना प्रबन्धक टनल, पीसी जोशी लोनिवि, अशोक वर्मा मनोज दास, ईश्वरी रावत अधिशासी अधिकारी नगर पालिका को सैक्टर मजिस्ट्रेट नामित किया है। डीएम ने सभी नोडल अधिकारियों से समन्वय करते हुये निष्पक्ष एवं शान्तिपूर्ण निर्वाचन सम्पन्न कराने मे अपने दायित्यों निर्वहन करने को कहा है।

यह भी पढ़ें : प्राइवेट वाहनों के बंद से स्कूली बच्चों पर हुई ज्यादती, सुबह-सुबह राजभवन के पास लगा जाम, पुलिस नदारद

नवीन समाचार, नैनीताल, 11 सितंबर 2019। निजी ऑपरेटरों ने हड़ताल तो नये मोटर यान अधिनियम में ज्यादतियों का आरोप लगाते हुए शासन-प्रशासन को चेताने के लिए की थी, लेकिन लगता है कि वे शासन-प्रशासन तक अपनी बात पहुंचाने में तो नाकाम रहे, अलबत्ता उन्होंने आम लोगों, खास कर हजारों स्कूली बच्चों व उनके अभिभावकों पर जरूर सुबह-सुबह ज्यादती कर दी। मुख्यालय में अभिभावकों को टैक्सियों की जगह अपने निजी वाहनों से स्कूल छोड़ने जाना पड़ा। इससे खासकर अधिकांश प्रमुख स्कूलों वाली राजभवन रोड पर राजभवन के पास दोनों ओर वाहनों का लंबा जाम लगा रहा। चौपहिया वाहन भी ‘वन-वे’ व्यवस्था होने के बावजूद दोनों ओर चलने से फंसे रहे और पुलिस नदारद रही। इससे स्कूली बच्चे देर से स्कूल पहुंचे। वहीं कई जगह टैक्सी यूनियनों के लोग सैलानियों को लेकर गुजर रही टैक्सियों को भी रोकते देखे गये, और इस सब में पुलिस की ‘व्यवस्था’ बनाने को मौजूदगी शून्य रही।

हड़ताल से टैक्सी-ट्रैवल्स एसोसिएशन ने खुद को किया अलग

नैनीताल। कुछ संगठनों ने बुधवार को नये मोटर यान अधिनियम के विरोध में चक्का जाम करने का ऐलान किया है। किंतु मुख्यालय के टैक्सी-ट्रैवल्स एसोसिएशन ने इस बंद-चक्का जाम का ‘घोर विरोध व निंदा’ करने की बात कही है। एसोसिएशन के अध्यक्ष नीरज जोशी ने कहा कि एसोसिएशन नये मोटर यान अधिनियम के समर्थन में है। साथ ही कहा है कि यदि किसी संगठन ने बंद के टैक्सी-ट्रैवल्स एसोसिएशन की गाड़ियों को रोककर बदतमीजी या तोड़फोड़ की जाती है तो बंद बुलाने वाले संगठनों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply

Loading...
loading...