April 12, 2024

सुबह का खास समाचार: बाबा नीब करौरी की कृपा से महिला विश्व चैंपियनशिप में जड़ा ऐतिहासिक ‘गोल्डन पंच’

0

New Delhi, Mar 26 (ANI): Indian boxer Lovlina Borgohain poses for a photo with her Gold medal and belt as she wins her maiden World Championships Gold Medal after defeating Australia's Caitlin Parker by 5-2 in the 75kg final of IBA Women's World Boxing Championship 2023, in New Delhi on Sunday. (ANI Photo)

New Delhi, Mar 26 : Indian boxer Lovlina Borgohain poses for a photo with her Gold medal and belt as she wins her maiden World Championships Gold Medal after defeating Australia’s Caitlin Parker by 5-2 in the 75kg final of IBA Women’s World Boxing Championship 2023, in New Delhi on Sunday.

-स्टीव जॉब्स, मार्क जुकरबर्ग, ओबामा व विराट कोहली की सूची में शामिल हुईं लवलीना

-लवलीना की सफलता के पीछे पहले से भी नैनीताल

नवीन समाचार, नैनीताल, 9 अप्रैल 2023। (By the grace of Baba Nib Karori, the historic ‘Golden Punch’ was embedded in the Women’s World Championship, Steve Jobs, Mark Zuckerberg, Obama included in the list of Virat Kohli, Nainital behind their success) महिला विश्व चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीतकर इतिहास रचने वाली भारतीय मुक्केबाज लवलीना बोरगोहेन ने अपने स्वर्ण पदक जीतने वाले ‘गोल्डन पंच’ का श्रेय बाबा नीब करौरी को दिया है। इस प्रकार लवलीना भी स्टीव जॉब्स, मार्क जुकरबर्ग, ओबामा और विराट कोहली जैसे उन खास लोगों की सूची में शामिल हो गई हैं, जिन्होंने अपने बुरे वक्त में बाबा नीब करौरी को याद किया और उन्हें बाबा की कृपा से बड़ी सफलता मिली। यह भी पढ़ें : यह भी पढ़ें : बाबा नीब करौरी, जिन्होंने नैनीताल की फल पट्टी के सेब को चख कर बना दिया दुनिया का ‘एप्पल’, बाबा व उनके कैंची धाम के बारे में पूरी जानकारी

बाबा नीब करौरी के दर्शनों के लिए नैनीताल पहुंचीं लवलीना ने खुद खुलासा किया है कि महिला विश्व चैंपियनशिप के दौरान उन्होंने बाबा नीब करौरी से अपनी जीत की मन्नत मांगी थी और स्वर्ण पदक जीतने के बाद उनके कैंची धाम आने का वादा किया था। इसलिए ही वह यहां आई हैं। लवलीना आज 9 अप्रैल को कैंची धाम बाबा नीब करौरी के दर्शन करने पहुंची हैं। यह भी पढ़ें : विराट-अनुष्का सहित हजारों श्रद्धालुओं ने किए बाबा नीब करौली के दर्शन 

उल्लेखनीय है कि लवलीना ने महिला विश्व चैंपियनशिप के 70-75 किग्रा भार वर्ग में स्वर्ण पदक जीता है। ऐसा करने वाली वह पहली भारतीय हैं। लवलीना ने ऑस्ट्रेलिया की कैटलिन पार्कर को जजों की समीक्षा में 5-2 से पराजित किया। इससे पहले वह विश्व चैंपियनशिप में 2018 और 2019 में कांस्य पदक ही जीत पाई थीं। जबकि पिछले साल राष्ट्रमंडल खेलों में 66 से 70 किलोग्राम भार वर्ग के क्वार्टर फाइनल में ही हारकर बाहर हो गई थीं। जबकि इससे पहले टोक्यो ओलंपिक में कांस्य पदक जीता था। यानी वह इन दिनों बुरे दौर से गुजर रही थीं। यह भी पढ़ें : बाबा नीब करौरी, जिन्होंने नैनीताल की फल पट्टी के सेब को चख कर बना दिया दुनिया का ‘एप्पल’, बाबा व उनके कैंची धाम के बारे में पूरी जानकारी

लवलीना की सफलता के पीछे पहले से नैनीताल

लवलीना की कड़ी मेहनत और इस सफलता के पीछे नैनीताल के अभिषेक साह का भी योगदान रहा है। अभिषेक लवलीना को गौहाटी में इंटरमीडिएट ट्रेंनिग के दौरान कोचिंग दे चुके हैं। उन्होंने पहले ही विश्वास जताया था कि वह देश के लिए महिला विश्व चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक भी जीत सकती हैं। यह भी पढ़ें : सुबह का खास समाचार: बाबा नीब करौरी की कृपा से महिला विश्व चैंपियनशिप में जड़ा था ऐतिहासिक ‘गोल्डन पंच’

वर्तमान में राष्ट्रीय कोच तथा पूर्व में सांई सेंटर गौहाटी में असिस्टेंट कोच रहे अभिषेक ने बताया कि 2014 से 2019 के बीच पांच वर्ष लवलीना को उन्होंने इंटरमीडिएट यानी माध्यमिक स्तर की कोचिंग दी है। उनमें काफी क्षमताएं हैं। वह शिवा थापा तथा मैरीकॉम के क्षेत्र से आती हैं। उल्लेखनीय है कि अभिषेक नगर के तल्लीताल के निवासी हैं। उनके पिता दीप लाल साह जिला न्यायालय में प्रशासनिक अधिकारी के पद पर कार्यरत रहे। वह देश के लिए खेलते हुए जर्मनी भी गए। यह भी पढ़ें : हल्द्वानी: शादीशुदा महिला को भारी पड़ी गैर मर्द से दोस्ती, अश्लील फोटो व वीडियो खींचकर कर दी आफत…

उनकी यूपी पुलिस में नौकरी भी लग गई थी, लेकिन वह नौकरी छोड़ साई यानी स्पोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया से जुड़े। वर्तमान में वह साईं के नेशनल सेंटर ऑफ एक्सीलेंस रोहतक में बॉक्सिंग कोच है। उन्होंने अपना बॉक्सिंग कैरियर 1996 में महाराणा प्रताप स्पोर्ट्स कॉलेज देहरादून से शुरू किया था। यहां से निकलने वाले अभिषेक पहले अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी रहे। वह ऑल इंडिया इंटर युनिवर्सिटी के गोल्ड मेडलिस्ट भी रह चुके है। उन्होंने 3 बार एलाइट नेशनल चौंपियनशिप में भी पदक जीते है। वह 2008 में नेशनल कैम्प के कोर ग्रुप में भी भागीदारी कर चुके हैं। यह भी पढ़ें : 12 वर्षीय बच्ची से 22 वर्षीय युवक ने की हैवानियत, तेजाब फेंकने की धमकी भी दी…

(डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य नवीन समाचार पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

Leave a Reply

आप यह भी पढ़ना चाहेंगे :

 - 
English
 - 
en
Gujarati
 - 
gu
Kannada
 - 
kn
Marathi
 - 
mr
Nepali
 - 
ne
Punjabi
 - 
pa
Sindhi
 - 
sd
Tamil
 - 
ta
Telugu
 - 
te
Urdu
 - 
ur

माफ़ कीजियेगा, आप यहाँ से कुछ भी कॉपी नहीं कर सकते

गर्मियों में करना हो सर्दियों का अहसास तो.. ये वादियाँ ये फिजायें बुला रही हैं तुम्हें… नये वर्ष के स्वागत के लिये सर्वश्रेष्ठ हैं यह 13 डेस्टिनेशन आपके सबसे करीब, सबसे अच्छे, सबसे खूबसूरत एवं सबसे रोमांटिक 10 हनीमून डेस्टिनेशन सर्दियों के इस मौसम में जरूर जायें इन 10 स्थानों की सैर पर… इस मौसम में घूमने निकलने की सोच रहे हों तो यहां जाएं, यहां बरसात भी होती है लाजवाब नैनीताल में सिर्फ नैनी ताल नहीं, इतनी झीलें हैं, 8वीं, 9वीं, 10वीं आपने शायद ही देखी हो… नैनीताल आयें तो जरूर देखें उत्तराखंड की एक बेटी बनेंगी सुपरस्टार की दुल्हन उत्तराखंड के आज 9 जून 2023 के ‘नवीन समाचार’ बाबा नीब करौरी के बारे में यह जान लें, निश्चित ही बरसेगी कृपा नैनीताल के चुनिंदा होटल्स, जहां आप जरूर ठहरना चाहेंगे… नैनीताल आयें तो इन 10 स्वादों को लेना न भूलें बालासोर का दु:खद ट्रेन हादसा तस्वीरों में नैनीताल आयें तो क्या जरूर खरीदें.. उत्तराखंड की बेटी उर्वशी रौतेला ने मुंबई में खरीदा 190 करोड़ का लक्जरी बंगला