उत्तराखंड के कुमाऊं-गढ़वाल को जोड़ने के लिए इस बड़ी कोशिश में है सरकार

-इस हेतु प्रयासरत वन मंत्री डा. हरक सिंह रावत ने कहा कंडी मार्ग बन कर रहेगी, बरसात पूर्व व बाद वन्य जीवों के आवागमन पर राष्ट्रीय वन्य जीव संस्थान के सहयोग से किया जा रहा है सर्वे, सितंबर तक आ जाएगी सर्वे रिपोर्ट नैनीताल, 2 जुलाई 2018। उत्तराखंड के कुमाऊं व गढ़वाल मंडलों को जोड़ने

हिमालयी राज्यों पर मंडरा रहे इस बड़े खतरे की वैज्ञानिकों ने दी चेतावनी

अंतर्राष्ट्रीय पत्रिका ‘एन्वायरमेंटल रिसर्च लेटर्स’ में वैज्ञानिकों ने भारत के बड़े भू-भाग के लिए खतरे की घंटी बजा दी है। चेतावनी दी है कि बढ़ती गर्मी एवं उमस के संयुक्त प्रभाव से भारत का उत्तर-पूर्वी क्षेत्र (जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, पश्चिमी बंगाल, दार्जिलिंग, सिक्किम एवं अरुणाचल प्रदेश) 21वीं सदी के अंत तक हीट स्ट्रेस से

फ़्रांस तक पहुंचा उत्तराखंड के शिक्षकों-बच्चों का स्वच्छता गीत : कूडा- कचरा साफ करेंगे बापू हम…

-प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ फ़्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने मिलकर बनारस के घाट पर सुना गीत  उत्तराखंड के शिक्षकों द्वारा स्वच्छ भारत अभियान के लिए तैयार किया गया स्वच्छता गीत की गूँज पूरे देश के साथ ही फ्रांस तक पहुंची है। नैनीताल जनपद के शिक्षक डा. देवकी नंदन भट्ट द्वारा लिखे गये और

वन विभाग ने पथरीले पहाड़ पर उगाया ‘हिमालयन बॉटनिकल गार्डन’

तत्कालीन वन वर्धनिक उत्तराखंड मनोज चंद्रन ने 350 हेक्टेयर क्षेत्रफल को केवल 90.5 लाख रुपए से किया सबसे बड़े जीवंत जैव संग्रहालय के रूप में नवीन जोशी, नैनीताल। पर्यटन नगरी नैनीताल में बीते एक दशक में एक ऐसा नया पर्यटन स्थल विकसित हो गया है, जो कभी पथरीला पहाड़ हुआ करता है, और यहां के

एक वर्ष में दो बार खिला उत्तराखंड का यह खास फूल, दिये जलवायु परिवर्तन के खतरनाक संकेत

नवीन जोशी, नैनीताल। उत्तराखंड का राज्य वृक्ष बुरांश इस बार एक ही वर्ष में आश्चर्यजनक तौर पर दो बार खिल रहा है। पहले यह कमोबेश अपने सही समय पर फरवरी माह के पहले पखवाड़े में खिल गया था, और अब तक तब के खिले बुरांश के फूल सूख भी गये हैं। लेकिन इधर नैनीताल के

‘कार्बन न्यूट्रल’ होगा गौलापार हल्द्वानी में प्रस्तावित देश का पहला अंतरराष्ट्रीय चिड़ियाघर

पांच सौ करोड़ की लागत से बनने वाले इस प्राणी उद्यान में आधुनिक अस्पताल भी होगा जहां जानवरों के इलाज के साथ-साथ पहली दफा सर्जरी की भी व्यवस्था होगी वन्य जीव सफारी, मांसाहारी व शाकाहारी जीवों को अलग-अलग खंड, जैव विविधता पार्क और जुरासिक पार्क भी बनेंगे  वन्य जीवों के वासस्थल सीमेंट और कंक्रीट की बजाय लकड़ियों

सीजन शुरू होते ही सरोवरनगरी के घरों में पानी के लिए हाहाकार

-पिछले वर्ष हर दिन होती थी 14 एमएलडी पानी की आपूर्ति, इस वर्ष दिसंबर से नैनी झील बचाने के उद्देश्य से केवल 8 एमएलडी की आपूर्ति, सीजन में भी नहीं बढ़ाई जा रही आपूर्ति -होटलों एवं अन्य महत्वपूर्ण संस्थानों में अधिक पानी देने व नियत 8 एमएलडी पानी की आपूर्ति भी न किये जाने के

ग्लोबलवार्मिंग का प्रभाव ! दो माह पूर्व ही “काफल पाको पूसा…!!!” 🤔

नैनीताल। कुमाऊं के सुप्रसिद्ध लोकगीत ‘बेड़ू पाको बारों मासा, ओ नरैंण काफल पाको चैता’ में वर्णित व चैत यानी चैत्र माह के आखिर में पकना शुरू करने वाला और वास्तव में मई-जून की गर्मियों में शीतलता प्रदान करने वाला काफल (वानस्पतिक नाम मैरिका एस्कुलेंटा-Myrica esculenta) इस वर्ष संभवतया अपने इतिहास में पहली बार, कड़ाके की

नये वर्ष में ठंड कम, बारिश अधिक कराएगा अल नीनो !

पिछले वर्षों में अतिवृष्टि के रूप में अपना प्रभाव दिखा चुके अल-नीनो के बाबत यूजीसी के दीर्घकालीन मौसम विशेषज्ञ डा. बीएस कोटलिया का दावा अल नीनो के प्रभाव में सर्दियों में आईटीसीजेड को पर्वतीय राज्यों तक नहीं धकेल पाएगा दक्षिण-पश्चिमी मानसून नवीन जोशी, नैनीताल। उत्तर भारत में बारिश को तरस रही सर्दियों का क्रम आने

बीमार राष्ट्रीय पक्षी को बचाने के लिए बनाया नेबुलाइजर का ‘जुगाड़’

-शेड्यूल एक का प्राणी भारतीय मोर करीब चार दिन से हैं ठंड की वजह से बीमार -नैनीताल चिड़ियाघर में चिकित्सक डा. भारद्वाज कर रहे मनुष्यों के नेबुलाइजर से इलाज नवीन जोशी, नैनीताल। संशाधनों की कमी से ही खासकर ‘अपने हित के लिए जुगाड़’ तैयार होते हैं। शायद इसीलिए भारत को ‘जुगाड़ों का देश’ भी कहा

::ब्रेकिंग समाचार::उत्तरी भारत में अभी-अभी 6.2 तीव्रता के भूकंप के हलके झटके महसूस किये गए

बुधवार 09 जनवरी 2018 को उत्तर भारत में अभी-अभी भूकंप के हल्के झटके महसूस किए गए। इसका केंद्र हिंदुकुश हिमालय क्षेत्र में अफगानिस्तान में 37.02 अंश उत्तरी अक्षांस व 71.41 अंश देशांतर के बीच (275 km SE of Dushanbe, Tajikistan / pop: 544,000 / local time: 15:41:45.8 2018-05-09, 53 km SW of Khorugh, Tajikistan / pop:

खुल गया जसपुर में मिले डायनासोर के कंकाल का राज

पिछले वर्ष 19 नवंबर 2017 को तराई पश्चिमी वन प्रभाग के अंतर्गत जसपुर के बिजली घर में स्टोर की सफाई के दौरान मिले डायनासोर की तरह दिखने वाले कंकाल की गुत्थी सुलझ गई है। वन्य जीव संस्थान देहरादून ने कंकाल की डीएनए जांच के बाद उसके बिल्ली प्रजाति का होने की पुष्टि की है। उल्लेखनीय

नैनीताल में आज से शुरू होगा तीन दिवसीय नैनीताल बर्ड फेस्टिवल

पहुचेंगे देश भर के बर्ड वॉचर एवं खासकर 30 महिला बर्ड फोटोग्राफर आगे अक्टूबर-नवंबर माह में फ्लैट्स मैदान में मुख्यमंत्री की उपस्थिति के बीच इसी तरह का अंतराष्ट्रीय महोत्सव कराने की भी योजना नैनीताल। मुख्यालय स्थित हिमालयन बॉटनिकल गार्डन में शुक्रवार 27 अप्रैल से तीन दिवसीय पहला ‘नैनीताल बर्ड फेस्टिवल’ का आयोजन शुरू होने जा

एक सांप खाकर ज्योलीकोट में घर में घोंसला बनाने घुसी मादा किंग कोबरा !

किंग कोबरा के प्राकृतिक आवास स्थल के रूप में स्थापित हुआ ज्योलीकोट 2007 में घोंसला बना था, हुए थे 17 बच्चे, भवाली रोड पर मस्जिद तिराहे के पास छोड़े गए थे नैनीताल। मुख्यालय से करीब 18 किमी दूर ज्योलीकोट किंग कोबरा के प्राकृतिक आवास स्थल (नेचरल हैबिटैट) के रूप में स्थापित होता जा रहा है।

कुमाऊं के पर्वतीय क्षेत्रों में एकल घर बनाने वालों के लिए बड़ी राहत, 5 की जगह केवल 1 फीसद देना होगा शुल्क

राष्ट्रीय व राज्य मार्गों के केवल 200 मीटर के दायरे ही आयेंगे प्राधिकरण के दायरे में 200 मीटर के अंतर्गत भी एकल आवासीय भवन बनाने के लिए नक्शा स्वीकृत कराने की जरूरत नहीं होगी सरकार की घोषणा के अनुरूप विकास शुल्क में 70 फीसद तक की कटौती होगी नैनीताल, 7 अगस्त 2018। कुमाऊं मंडल के

Loading...