Crime

दहेज की मांग पूरी न होने पर पति ने बिना तलाक लिए कर लिया दूसरा विवाह ! किसान आयोग के सदस्य सहित 4 लोगों पर मामला दर्ज

23 वर्षीय नवविवाहिता की शादी के 2 वर्ष से भी पहले हुई संदिग्ध मौत,  ससुरालियों पर आरोप… — नवीन समाचार : समाचार नवीन दृष्टिकोण से….

नवीन समाचार, किच्छा, 1 दिसंबर 2022। दहेज के लिए ससुराल वालों के साथ पति अपनी पत्नी को लगातार प्रताड़ित करता रहा। जब उसकी मांग पूरी नहीं हुई तो पत्नी को जबरन मायके भेज बिना तलाक की विधिक कार्यवाहीं के दूसरी शादी कर ली। इसका पता चलने पर जब पत्नी अपनी ससुराल गई तो उसे अपनी राजनैतिक पहुंच की धमकी देने के साथ ही घर में ही नहीं घुसने दिया गया। पुलिस ने महिला की शिकायत पर पति सहित दो देवरों व सास के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर लिया है। यह भी पढ़ें : सुबह का सुखद समाचार: उत्तराखंड में 71 विभागों में निकलीं बंपर नियुक्तियां, यहां देखें कैसे करें आवेदन…

पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार ग्राम इंदरपुर निवासी विनीता सिंह पुत्री विनय प्रकाश सिंह ने पुलिस को दिए प्रार्थना पत्र में कहा उसका विवाह 2007 में भारत भूषण सिंह पुत्र विनय प्रकाश सिंह निवासी ग्राम नौसड़ थाना खटीमा से हुआ था। उसके पिता ने विवाह में तीन लाख की नकदी के साथ ही दस तोला सोना व बाइक उपहार स्वरुप दी थी। परंतु आरोपों के अनुसार उसके ससुराल वाले इससे अधिक दहेज की लालसा मे उसे शादी के बाद प्रताड़ित करने लगे। यह भी पढ़ें : कल मां-बेटे पर हमला हुआ था, आज वहीं एक वृद्ध का आधा खाया हुआ शव बरामद…

उसकी मां चोरी-छिपे नकदी ससुराल वालों को दे उसका वैवाहिक जीवन बचाने के प्रयास में लगी रही। परंतु उसके दो देवर राजभूषण सिंह व चंद्रभूषण सिंह के साथ सास गीता सिंह का अत्याचार लगातार बढ़ता रहा और उसके साथ नौकर जैसा व्यवहार किया जाने लगा। उसकी सास ने उसके पिता को चार लाख रुपये की नकदी न दिए जाने पर उसके पति का विवाह कहीं और करवाने की भी धमकी दी। ससुराल वालों द्वारा जलील किए जाने की बात उसके पिता सहन नहीं कर पाए और उनकी ह्दयाघात से मौत हो गई। यह भी पढ़ें : नैनीताल: स्कूल से लौटती छात्रा को मारी कार ने टक्कर, करना पड़ा हल्द्वानी रेफर की धुन

इसके बावजूद उसके देवर चंद्र भूषण किसान आयोग के सदस्य होने का हवाला देते हुए लगातार अपनी पहुंच का दम भर कर उसे धमकाते रहते थे। उन्होंने उसके भाई को फर्जी मुकदमे मे फंसा उसकी पांच एकड़ भूमि भी अपने नाम करवाने की धमकी दी। उसके बाद वह अपने मायके में आकर रहने लगी थी। इसी दौरान उसे पता चला कि उसके पति ने जनपद कुशीनगर उत्तर प्रदेश निवासी महिला से दूसरी शादी कर ली है। पुलिस ने पति भारत भूषण, देवर राजभूषण सिंह, चंद्रभूषण सिंह, सास गीता सिंह के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर लिया है। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : शादी के एक वर्ष के भीतर ही दहेज के लिए पत्नी को घर से निकाला, तीन माह की बच्ची भी छीनी…

नवीन समाचार, रुद्रपुर, 29 नवंबर 2022। ऊधमसिंह नगर जिले में शादी के एक वर्ष के भीतर ही विवाहिता से दहेज उत्पीड़न का सनसनीखेत मामला सामने आया है। आरोप है कि दहेज में 10 लाख रुपये और कार की मांग को लेकर महिला के पति सहित ससुरालियों ने उसका उत्पीड़न किया और उसे तीन माह की बच्ची के साथ घर से निकाल दिया। बाद में पति ने पत्नी को धोखे से घर बुलाया और बच्ची भी छीन ली। पीड़िता की शिकायत पर पुलिस ने आरोपितों के विरुद्ध अभियोग दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। यह भी पढ़ें : आशिक की घर बुलाकर की जमकर लाठी-डंडों से पिटाई, वीडियो वायरल…

पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार पंतनगर के नगला गोल गेट निवासी साहिबा अंसारी ने पुलिस को तहरीर सोंपकर कहा है कि उसका निकाह 21 नवंबर 2021 को मीरपुर बीसलपुर पीलीभीत निवासी अफजल अंसारी पुत्र आमीन से हुआ था। विवाह के बाद से ही पति अफजल, ससुर आमीन, नंदोई मोबिन, देवर आजिम व कलीम तथा ननद साजिदा व नाजिया उसे कम दहेज लाने का ताना देते और मायके से 10 लाख रुपये और कार लाने का दबाव बनाते थे। यह भी पढ़ें : प्राधिकरण ने अवैध निर्माण पर चलाया बुल्डोजर

बाद में वह अपने पति अफजल के साथ मुंबई चली गई। जहां उसे पता चला कि उसके पति का उसकी महिला बिजनेस पार्टनर के साथ अवैध संबंध था। विरोध करने पर पति उसकी पिटाई करने लगा। 18 अगस्त 2022 को उसने बेटी को जन्म दिया। इसके बाद से पति सहित अन्य ससुरालियों ने उसका और अधिक उत्पीड़न करना शुरू कर दिया। साथ ही उसकी पिटाई कर घर से निकाल दिया। इस पर वह अपने मायके आ गई। यह भी पढ़ें : दिन दहाड़े युवक व उसकी मां सहित तीन लोगों पर झपटा गुलदार, गंभीर रूप से घायल किया…

लेकिन 26 सितंबर 2022 को उसके पति का फोन आया और उसे वापस बुला लिया। इस पर 27 सितंबर 2022 को उसकी मां और पिता उसे छोड़ने ससुराल आए। जहां पति ने उनकी बेइज्जती की और उसकी बच्ची को लेकर उन्हें वहां से भगा दिया। पीड़िता ने पुलिस से ससुरालियों के विरुद्ध कार्रवाई कर बच्ची को वापस दिलाने की मांग की है। थानाध्यक्ष पंतनगर राजेंद्र सिंह डांगी ने बताया कि अभियोग दर्ज कर लिया है। जांच की जा रही है, इसके बाद आवश्यक कार्रवाई की जाएगी। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : 23 वर्षीय नवविवाहिता की शादी के 2 वर्ष से भी पहले हुई संदिग्ध मौत, ससुरालियों पर आरोप…

नवीन समाचार, लालकुआं, 6 नवंबर 2022। लालकुआं कोतवाली क्षेत्र के अन्तर्गत एक 23 वर्षीय नवविवाहिता की शादी के दो वर्ष होने से भी पहले मौत हो गई। इस मामले में मृतका के पिता ने बेटी की मौत को दहेज से जोड़ते हुए कोतवाली पुलिस से उसके ससुरालियों के खिलाफ सख्त कानूनी कार्रवाई करने की गुहार लगाई है। इस पर कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक डीआर वर्मा का कहना है कि पुलिस ने मामले में धारा 304बी के तहत मुकदमा पंजीकृत कर जांच शुरू कर दी है। यह भी पढ़ें : नैनीताल से उच्च न्यायालय न समर्थन की मुहिम में पालिकाध्यक्ष व सभासदों का मिला समर्थन

मामले में मृतका के पिता रमेश चन्द्र जोशी निवासी ग्राम हरिनगर हरिपुर नायक ऊँचापुल हल्द्वानी ने बताया कि उनकी 23 वर्षीया पुत्री चरित्रा का विवाह 11 दिसम्बर 2020 को कमलेश कांडपाल पुत्र हरीश चन्द्र कांडपाल निवासी ग्राम तुलारामपुर हल्दूचौड़ के साथ हुआ था। पुत्री के विवाह में उन्होंने 15 लाख रुपए खर्च किये थे। यह भी पढ़ें : रात्रि में हुए ध्वस्तीकरण के बाद अब बदलेगी नैनीताल के तल्लीताल क्षेत्र की सूरत…

इधर छः माह से चरित्रा को उसका पति कमलेश, ससुर, दादी सासएवं सास दहेज को लेकर अत्यधिक दबाव बना रहे थे। इधर उन्हें 4 नवंबर की रात्रि लगभग 10.20 बजे बताया गया कि चरित्रा ने रात्रि लगभग 8 बजे जहर खाकर आत्महत्या कर ली। इसका उन्हें विश्वास नहीं है। संभवतया उसे जहर खिलाया गया है। उनकी तहरीर के बाद लालकुआं पुलिस ने अभियोग पंजीकृत कर अभियोग दर्ज कर लिया है। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : दहेज में 20 लाख रुपए की मांग पर पत्नी पर किया तलवार से हमला, बच्चा भी छीना, पुलिस ने भी न सुनी…

-अब न्यायालय के आदेश के बाद पुलिस ने दर्ज किया मुकदमा
पत्नी बोली- पति ब्रश नहीं करता, नहाता भी नहीं, तलाक दिलवा दो, महिला आयोग ने  कहा-एक मौका दे दो - Wife angry to husbands dirty habit and wants divorce  Women commission adviceनवीन समाचार, रुद्रपुर, 26 अक्तूबर 2022। शहर में 20 लाख रुपये दहेज के लिए एक महिला पर ससुरालियों द्वारा तलवार से हमला किए जाने का मामला प्रकाश में आया है। आरोप है कि पति और ससुर ने उसका बच्चा भी उससे छीन लिया है। इतना सब कुछ हो जाने के बावजूद पुलिस ने भी पीड़िता की नहीं सुनी। इस पर उसे न्यायालय की शरण लेनी पड़ी। अब न्यायालय के आदेश के बाद पुलिस ने आरोपितों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। यह भी पढ़ें : शहरी विकास विभाग में फिर बंपर तबादले, पिछली बार हुए तबादले मुख्यमंत्री ने कर दिए थे निरस्त…

पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुार पीड़िता हरलीन कौर का विवाह 11 मई 2015 को ट्रांजिट कैंप और वर्तमान में प्रीत विहार निवासी संतोष नारंग के साथ हुआ था। आरोप है कि विवाह के कुछ माह बाद से ही ससुराली उसका दहेज में कार और नकदी की मांग करते हुए उत्पीड़न करने लगे थी। इसकी शिकायत पुलिस से करने पर पंचायत हुई। यह भी पढ़ें : बेसहारा छोड़ा बैल हुआ हमलावर, पिता-पुत्र पर किया हमला, पिता की मौत, बेटा भी घायल…

बाद में वह अपने परिवार को बचाने के लिए वह काफी कुछ सहती रही। लेकिन इधर 27 जून 2022 की रात को उसके पति संतोष ने उसकी पिटाई की। सुबह जब वह सोकर उठी तो उसका बच्चा गायब था। पति ने पूछने पर कुछ नहीं बताया और फिर से उसकी पिटाई कर उसे कमरे में बंद कर दिया और उसका फोन भी गायब कर दिया। यह भी पढ़ें : कई आरटीओ-एआरटीओ अधिकारी बदले….

बाद में उसके पिता ने पुलिस की मदद से कमरा खुलवाकर उसे बाहर निकलवाया। पुलिस उसके पति को चौकी भी ले गई। लेकिन इसके बावजूद रात को जब वह खाना खाकर सोने गई तो पति फिर से उससे 20 लाख रुपये दहेज लाने का दबाव बनाने लगा, और इंकार करने पर उसने तलवार से हमला कर उसे घायल कर दिया। यह भी पढ़ें : हल्द्वानी : बेटी की शिकायत पर पिता गिरफ्तार

इसकी शिकायत पुलिस से की लेकिन कार्रवाई नहीं हुई। इस पर हरलीन कौर ने पुत्र को उसके सुपुर्दगी में देने और आरोपित पति और ससुर के विरुद्ध कार्रवाई की मांग करते हुए न्यायालय में गुहार लगाई। न्यायालय के आदेश पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : दहेज न मिलने की बात पर ससुरालियों ने पिला दिया तेजाब, हुई मौत….

नवीन समाचार, हरिद्वार, 18 अक्तूबर 2022। दहेज नहीं मिलने पर विवाहिता को तेजाब पिला दिया गया। इससे काफी दिनों तक जीवन-मृत्यु के बीच झूलने के बाद आखिर महिला ने तड़प-तड़प कर दम तोड़ दिया है। मृतका के पिता की तहरीर पर पथरी थाना पुलिस ने ससुराल पक्ष के छह लोगों के खिलाफ दहेज हत्या के आरोप में अभियोग दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है। यह भी पढ़ें : नैनीताल : एटीएम में सेंधमारी कर रुपए निकालते कैमरे में कैद हुआ युवक, गिरफ्तार

पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार पथरी क्षेत्र के घिस्सूपुरा निवासी रियाजुल अंसारी ने बताया कि उन्होंने अपनी बेटी का निकाह कुछ साल पहले घिस्सूपुरा में ही रहने वाले शाहरुख से किया था। कुछ दिन बाद ही पति-पत्नी में अनबन रहने लगी। जिसके बाद बेटी मायके आ गई। गांव के कुछ बड़े लोगों ने समझौता कराकर बेटी को उसकी ससुराल भेज दिया था। यह भी पढ़ें : अंकिता हत्याकांड में एक नई अपडेट: अंकिता की स्वैप डीएनए जांच की फॉरेंसिक रिपोर्ट आई…

पिता का आरोप है कि करीब चार महीने पहले ससुराल वालों ने उनकी बेटी को तेजाब पिला दिया, जिससे उसकी तबियत बिगड़ गई और उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया। अस्पताल में इलाज के बाद छुट्टी होने पर विवाहिता को उसके मायके वाले ले आये। अलबत्ता इसके बाद भी उसके मायके वाले ही उसका इलाज करा रहे थे। इधर मंगलवार सुबह मायके में ही विवाहिता की मौत हो गई। विवाहिता की मौत के बाद पुलिस कंट्रोल रूम को उसके परिजनों ने मौत की जानकारी देते हुए पोस्टमॉर्टम की मांग की। यह भी पढ़ें : केदारनाथ में बड़ा हादसा, हेलीकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त, पायटट सहित सभी 7 यात्रियों की मौत

सूचना के बाद पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव कब्जे में ले लिया। पुलिस की सूचना पर तहसीलदार की मौजूदगी में पंचनामा भरकर शव को पोस्टमॉर्टम के लिये जिला अस्पताल भेजा गया। पुलिस ने मृतका के पिता रियाजुल की तहरीर पर पति शाहरुख, ससुर वकील, सास कौसर जहां, जेठ हाफिज उर रहमान, जेठानी सलम और देवर फारूक के खिलाफ दहेज हत्या का मुकदमा दर्ज किया है। पुलिस ने मृतका के पति शाहरुख व पिता वकील को हिरासत में लिया गया है। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : हल्द्वानी में शादी के 6 वर्ष बाद दहेज की बलि चढ़ी एक बेटी, 2 बच्चों के सर से उठा माँ का आंचल

नाराज हुई छोटी बहन ने पीया जहर, अस्पताल में भर्ती | Angry younger sister  drank poison, hospitalized - Dainik Bhaskar

नवीन समाचार, हल्द्वानी, 17 सितम्बर 2022। मुखानी थाना क्षेत्र अंतर्गत दहेज के लिए शादी के 6वर्ष बाद एक विवाहिता की हत्या का मामला सामने आया है। महिला के मायके वालों की तहरीर पर मुखानी पुलिस ने पति सहित चार लोगों के खिलाफ दहेज हत्या सहित संबंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया है, और पुलिस पूरे मामले में जांच में जुटी हुई है। मृतका के 2 बच्चे हैँ। यह भी पढ़ें : अवमानना याचिका की तलवार लटकने के बाद फिर शुरू हुआ प्रशासन व फड़ वालों के बीच चूहे-बिल्ली का खेल

पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार मूलरूप से उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर थाना कालानतह निवासी गिरन्द ने पुलिस तहरीर देते हुए कहा है कि 6 साल पहले उन्होंने अपनी बेटी अनीता का विवाह रौदी करगैना, सुभाषनगर बरेली निवासी अनुज से किया था, जो वर्तमान में नैनीताल जिले के हल्द्वानी के मुखानी थाना क्षेत्र में रहता है। उनकी बेटी का शव संदिग्ध परिस्थितियों में बुधवार को हल्द्वानी में उसके पति के घर में फंदे में लटका मिला। उसका पति गुमराह करने के लिए मृत हालत में अनीता को अस्पताल ले गया। यही नहीं वह पुलिस को भी गुमराह करने के लिए करीब 1 घंटे घुमाता रहा। यह भी पढ़ें : बागेश्वर के सद्भाव ने तीसरी बार जीती 5वीं लिटिल मास्टर चेस चैंपियनशिप

पुलिस को दी तहरीर में मृतक के पिता ने कहा है कि उनकी बेटी ने कई बार कहा था कि उसका पति दहेज के तौर पर एक लाख रुपये व बाइक की डिमांड कर रहा है। नहीं देने पर जान से मारने की भी धमकी दे रहा है। बुधवार को बेटी को मारकर फंदे पर लटका दिया। इसके बाद आरोपित दामाद ने उन्हें सूचना दी। यहां तक कि पुलिस की पूछताछ में उसका दामाद बार-बार बयान भी बदल रहा है, इससे पूरा संदेह है कि उसके दामाद ने उसकी हत्या कर फंदे से लटका दिया। एसपी सिटी हरबंस सिंह ने बताया कि पति सहित चार ससुरालियों के खिलाफ दहेज हत्या सहित संबंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया है। पूरे मामले में जांच की जा रही है. पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी

यह भी पढ़ें : 10 लाख रुपए दहेज की मांग पर शादी के 4 साल बाद कर दी पत्नी की हत्या, जमानत खारिज

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 25 अगस्त 2022। जनपद के प्रभारी जिला एवं सत्र न्यायाधीश अजय चौधरी की अदालत ने दहेज लोभी पति सचिन उर्फ ओम प्रकाश गुप्ता पुत्र जीमल निवासी राजपुरा हल्द्वानी का जमानत प्रार्थना पत्र मामले की गंभीरता को देखते हुए खारिज कर दिया।

अभियोजन की ओर से जिला शासकीय अधिवक्ता फौजदारी सुशील कुमार शर्मा ने जमानत प्रार्थना पत्र का विरोध करते हुए बताया कि राम रतन लाल गुप्ता पुत्र जानकी प्रसाद गुप्ता निवासी बल्लिया, भमौरा जिला बरेली उत्तर प्रदेश ने अपनी पुत्री क्षमा गुप्ता का विवाह 19 फरवरी .2018 को सचिन गुप्ता निवसी राजपुरा हल्द्वानी के साथ हिन्दू रीति-रिवाज से किया था।

विवाह के बाद से ही पति सचिन गुप्ता, जेठ विपिन गुप्ता, सास वीरवाला, ससुर राम जीमल पुत्र मेवा राम, जेठानी इच्छा पत्नी विपिन कुमार, चचिया ससुर शिव कुमार पुत्र मेवा राम कम दहेज का ताना देकर उसे प्रताड़ित करते थे व दहेज के रूप में 10 लाख रूपए की मांग कर रहे थे। इधर 22 अप्रैल 2022 को शाम क्षमा ने अपने मायके फोन कर बताया कि पति व ससुराली दहेज के खारित उसके साथ मारपीट कर रहे है और जान से भी मार सकते हैं।

इसकी अगली सुबह 6 बजे ही पुत्री के ससुराल से किसी का फोन आया कि रिपोर्टकर्ता की पुत्री क्षमा गुप्ता की हत्या कर दी गयी है। उसका पोस्टमार्टम करने वाले डॉ. शाहिल खुराना ने बताया कि उसके गले में फासी के निशान व नाखून के निशान थे। गले की गर्दन के पास बायीं तरफ रगड़ का निशान भी था और मृत्यु का कारण फंदे पर लटकने से दम घुटना पाया गया। इस आधार पर न्यायालय ने आरोपित पति को जमानत नहीं दी। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : शादी के एक वर्ष से पहले ही दहेज के लिए गर्भवती पत्नी की हत्या कर दी थी… जमानत अर्जी खारिज..

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 23 अगस्त 2022। जनपद के प्रभारी जिला एवं सत्र न्यायाधीश अजय चौधरी की अदालत ने शादी के एक वर्ष से भी पहले एक लाख रुपए दहेज की मांग करते हुए गर्भवती पत्नी हत्या के आरोपित पति ईश्वरी राम पुत्र राम लाल निवासी ग्राम टिमरी तोक, सुकानी, तहसील खनस्यू जिला नैनीताल का जमानत प्रार्थना पत्र खारिज कर दिया।

जिला शासकीय अधिवक्ता फौजदारी सुशील कुमार शर्मा ने जमानत का विरोध करते हुए तर्क रखा कि रिपोर्टकर्ता रमेश चंद्र पुत्र स्वर्गीय देवराम निवासी ग्राम बबियाड, तोक रतन बोरा, तहसील धारी, जिला नैनीताल की बड़ी पुत्री मुन्नी देवी की शादी 29 अप्रैल .2021 को ईश्वरी राम पुत्र राम लाल के साथ हुई थी। शादी के कुछ समय बाद से ही उसके पति ईश्वरी राम, ससुर राम लाल, सास धनुली देवी, देवर भुवन एवं उसके बड़े भाई प्रकाश द्वारा दहेज में 1 लाख रूप्ए के लिए प्रताडित एवं उत्पीड़न किया जा रहा था।

इधर 19 अप्रैल 2022 को जब बेटी गर्भवती थी, ऐसे नाजुक समय में भी उसके पति व ससुराल वालों के द्वारा ससुरालियों से उत्पीड़न कर मार डाला। पोस्टमार्टम में उसकी मृत्यु फंदे पर लटकने से होने के कारण होेने की बात पुष्ट हुई। इस आधार पर न्यायालय ने आरोपित का जमानत प्रार्थना पत्र खारिज कर दिया। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : पति की मौत के बाद देवर से शादी कराई, होने लगी 10 लाख दहेज के लिए प्रताड़ना, दूसरे देवर ने किया दुष्कर्म का प्रयास..

नवीन समाचार, हरिद्वार, 16 अगस्त 2022। दहेज में 10 लाख रुपये की मांग पूरी न होने पर पति व ससुराल वालों ने विवाहिता का मानसिक व शारीरिक उत्पीड़न किया। यही नहीं देवर ने उससे दुष्कर्म करने का प्रयास किया। पीड़िता की तहरीर पर गंगनहर कोतवाली पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर कर मामले की जांच शुरू कर दी है।

पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार रुड़की निवासी पीड़िता के पति अमित निवासी सहारनपुर की मौत दो सितंबर 2020 को हो गई थी। इसके बाद मायके व ससुराल वालों ने मिलकर उसकी शादी 10 दिसंबर 2020 को देवर से ही कर दी थी। कुछ दिन सब सामान्य रहा। इसके बाद उसके दूसरे पति व ससुराल वालों ने अचानक ही 10 लाख रुपये की मांग शुरू कर दी। मायके वाले यह मांग पूरी न कर पाए।

इसके बाद उसके पति व ससुराल वालों ने उसका मानसिक व शारीरिक उत्पीड़न करना शुरू कर दिया। उसके साथ मारपीट की गई। यही नहीं एक दिन उसके पति के छोटे भाई यानी देवर ने उसके साथ दुष्कर्म का भी प्रयास किया। जैसे-तैसे उसने स्वयं को बचाया।

इधर ससुरालियों ने उसे 10 लाख रुपये मायके से लाने को कहा। परेशान होकर वह मायके आ गई। जब वह दोबारा अपनी ससुराल गई तो उसके कमरे के ताले टूटे हुए थे, और उसका सारा कीमती सामान गायब था। पीड़िता का आरोप है कि उसके ससुराल वालों ने ही यह चोरी कराई है। गंगनहर कोतवाली प्रभारी निरीक्षक ऐश्वर्य पाल ने बताया कि मामले में पीड़िता के पति, देवर सहित चार लोगों को नामजद किया गया है। यह सभी आरोपित सहारनपुर के मंडी थाना क्षेत्र के रहने वाले हैं। मामले की जांच पड़ताल की जा रही है। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : 7 माह के बच्चे की मां की विषपान से संदिग्ध मौत, मायके वालों ने ससुरालियों पर दहेज हत्या का आरोप लगाया…

बच्चे के गले में रस्सी लिपटने से मौत - kangra child death-mobileनवीन समाचार, बाजपुर, 15 अगस्त 2022। ऊधमसिंहनगर जिले के बाजपुर में जहरीला पदार्थ खाने से एक विवाहिता की मौत हो गई। बेटी की मौत पर मायके वालों ने ससुरालियों पर दहेज की खातिर जहर देकर हत्या करने का आरोप लगाया है। उनकी तहरीर पर पहुंची कोतवाली पुलिस ने फिलहाल शव कब्जे में लेकर पंचनामा भरने के बाद पोस्टमार्टम को भेज दिया है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार दोकपुरी टांडा थाना अजीमनगर रामपुर, उत्तर प्रदेश निवासी पूरन लाल ने अपनी बेटी गीता की शादी 16 मार्च 2020 में ग्राम पंचायत नमूना स्थित दूधिया कॉलोनी निवासी दिनेश पुत्र रामकिशन के साथ की थी। उनका एक सात माह का बेटा शिवांश है। रविवार शाम गीता को अज्ञात कारणों से जहरीले पदार्थ का सेवन करने के बाद अस्पताल ले जाया गया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। घटना की सूचना पर उसके मायके वाले बाजपुर पहुंचे।

सोमवार की सुबह कोतवाली पहुंचे मायके वालों ने एसएसआई विक्रम सिंह धामी से मुलाकात की। उन्होंने आरोप लगाया कि शादी के बाद से ही ससुराल वाले दहेज के लिए प्रताड़ित कर रहे थे। लिहाजा उन्होंने तहरीर देकर ससुराल वालों पर दहेज की खातिर बेटी से मारपीट करने व जहर देकर हत्या करने का आरोप लगाया।

इसके बाद सीओ वंदना वर्मा, एसएसआई विक्रम सिंह धामी, बरहैनी चौकी प्रभारी प्रकाश सिंह बिष्ट पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और घटना स्थल का मौका मुआयना कर पूछताछ के साथ मामले की जांच शुरू कर दी है। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : अमानवीयता की हद, दहेज लोभियों ने नवविवाहिता को शौचालय साफ करने वाला तेजाब पिला दिया…

tezaab vs colin Experiment तेजाब और कोलिन का युद्ध - YouTubeनवीन समाचार, हरिद्वार, 8 अगस्त 2022। हरिद्वार जनपद के पथरी थाना क्षेत्र के गांव घिस्सूपुरा में एक नवविवाहिता से ससुरालियो द्वारा अमानवीयता की हद पार करने वाला मामला प्रकाश में आया है आरोप है कि नवविवाहिता को शौचालय साफ करने वाला तेजाब पिलाया गया। पीड़िता का अस्पताल में उपचार चल रहा है। पीड़िता के पिता ने पुलिस को तहरीर देकर ससुरालियों पर कार्रवाई की गुहार लगाई है। पुलिस मामले की जांच में जुटी है।

पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार गांव घिस्सूपुरा निवासी रियाजुल अंसारी ने पुलिस को तहरीर देकर अपनी बेटी के ससुराल पक्ष पर बेटी के उत्पीड़न का आरोप लगाया है। आरोप है कि उनकी बेटी की शादी दो वर्ष पूर्व गांव के ही रहने वाले युवक से हुई थी। दहेज के लालच में ससुराल पक्ष के लोग उसकी बेटी के साथ मारपीट करते रहते थे।

आरोप है कि उसकी बेटी को ससुराल पक्ष के लोगों ने टॉयलेट साफ करने वाला तेजाब पिला दिया। एसिड पीने से युवती की हालत बिगड़ गई जिसके बाद उसे अस्पताल ले जाया गया। यह भी आरोप है कि पति, सास, ससुर ने एक कागज पर युवती को डरा-धमका कर साइन करा लिये हैं, ताकि कानूनी कार्रवाई से बचा जा सके। मामले में पीड़िता के पिता ने पुलिस को तहरीर देकर कार्रवाई की गुहार लगाई है। पुलिस मामले की जांच में जुटी है। एसओ पथरी रविंद्र कुमार ने बताया तहरीर के आधार पर मामले की जांच कर कार्रवाई की जायेगी। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : 9 माह की बेटी के साथ थाने पहुंची महिला, लगाई पति को दूसरी शादी करने से रोकने की गुहार

थाने पहुंची महिलानवीन समाचार, हरिद्वार, 29 जुलाई 2022। शनिवार को एक विवाहिता अपनी 9 महीने की बेटी के साथ लक्सर कोतवाली पहुंची। महिला ने यहां फूट-फूटकर रोकर पुलिस को बताया कि उसका पति दूसरी शादी कर रहा है। उसकी शादी होने से रोकी जाए। पुलिस मामले की जांच कर रही हैं।

महिला ने पुलिस को बताया कि वह लक्सर कोतवाली क्षेत्र की रहने वाली है। साल 2020 में उसकी शादी मुस्लिम रीति रिवाज से पदार्था गांव निवासी मुंतजिर के साथ हुई थी। महिला के मुताबिक शादी में उसके परिजनों ने हैसियत के हिसाब से काफी दान-दहेज दिया था लेकिन उसके पति ने दहेज में बुलेट मोटरसाइकिल की मांग की, जो उसके घर वाले दे नहीं पाए। महिला का आरोप है कि बाइक नहीं मिलने से नाराज होकर उसके पति ने उसे प्रताड़ित करना शुरू कर दिया और पांच महीने पहले आरोपित ने उसे मारपीट कर घर से निकाल दिया।

पीड़िता ने बताया कि तब से वह अपने मायके में रह रही है। अब पता चला कि उसका पति दूसरी शादी करने जा रहा है। महिला ने पुलिस को तहरीर देकर पति की दूसरी शादी रुकवाने के लिए गुहार लगाई। एसएसआई अंकुर शर्मा ने बताया कि महिला की शिकायत पर पुलिसकर्मियों को उसके पति के घर भेजा गया है। मामले की जांच के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : दुल्हन करती रही दूल्हे व बारात का इंतजार, न दूल्हा आया न बारात….

शादी के मंडप पर इंतजार करती रही दुल्हन, ना आया दूल्हा ना बाराती, अगले दिन  हुई शादी | TV9 Bharatvarshनवीन समाचार, हरिद्वार, 11 जुलाई 2022। दहेजलोभियों की कार और नगदी की मांग पूरी न कर पाने के कारण आखिरी समय में बारात नहीं आई और दुल्हन पूरे दिन बारात का इंतजार करती रह गई। परिवार के लोग भी मेहमानों के स्वागत में जुटे रहे। लेकिन न दूल्हा आया और न बरात। दुल्हन के पिता का आरोप है कि दूल्हे के परिजनों ने 11 लाख रुपये नकद और कार की मांग की थी। उन्होंने यह देने में असमर्थता जताई तो सारी बातें तय होने के बाद भी बरात नहीं आई। इस पर पीड़ित ने थाने में तहरीर देकर कर्रवाई की मांग की है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार मामला हरिद्वार के धनौरी इलाके के एक गांव का है। कलियर थाने में असफनगर निवासी व्यक्ति ने तहरीर देकर बताया कि उसने अपनी बेटी का विवाह ग्राम डालुवाला खुर्द निवासी मोहन सिंह के साथ तय किया था। विवाह तय करने के बाद नवंबर 2021 में बड़े धूम-धाम से सगाई हुई। सगाई में एक लाख 51 हजार रुपये नगद तथा सोने व चांदी जेवहरात व परिवार को कपड़े दिए गए। विवाह की तारीख भी 10 जुलाई को तय हो गई। लेकिन 8 जुलाई को मोहन सिंह के परिवार वाले बारात वाले दिन दहेज दिए जाने की मांग करने लगे।

इधर बारात के दिन भी लड़की पक्ष के लोगों को विश्वास था कि बारात आएगी। इसके लिए दूर-दराज से मेहमान व रिश्तेदार आए हुए थे। बारात व मेहमानों के लिए भोजन एवं नाश्ते की व्यवस्था की गई थी। दुल्हन भी सजधजकर बारात का इंतजार कर रही थी, लेकिन बारात नहीं आई और लड़के व उसके पिता तथा मुख्य रिश्तेदारों के फोन बंद आने लगे। बारात न आने से दुल्हन भी रोती-बिलखती रही। इस पर पीड़ित पिता ने आरोपितों के खिलाफ गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज करने की मांग की है। थानाध्यक्ष मनोहर सिंह भंडारी ने बताया कि तहरीर पर मामले की जांच की जा रही है। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : काफी दहेज देने के बावजूद दहेज की खातिर पत्नी को घर से निकालने और दूसरा विवाह करने का आरोप…

बस्ती: पति ने दहेज में इनोवा कार न मिलने पर पत्नी को निकाला घर से और फिर  रचाया दूसरा विवाह | AZAMGARH | NYOOOZ HINDIनवीन समाचार, नानकमत्ता, 1 जुलाई 2022। महिलाओं के खिलाफ अपराध कम होने का नाम नहीं ले रहा है। एक महिला ने अपने पति एवं उसके परिजनों पर दहेज के कारण उसे घर से निकालने और दूसरा विवाह रचाने का आरोप लगाया है। पुलिस ने मामले में मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार गुरजीत कौर पत्नी कुलदीप सिंह निवासी ग्राम प्रतापपुर नंबर तीन ने पुलिस को दी तहरीर में कहा है कि उसका विवाह 12 मई 2021 को सिसौना कोटाफार्म निवासी कुलदीप सिंह पुत्र सतनाम सिंह के साथ हुआ है। विवाह में दहेज के रूप में घरेलू सामान, टीवी, एसी और कुलदीप को दो तोला सोना, ससुर सतनाम सिंह को डेढ़ तोला सोने की अंगूठी तथा ननद, देवर और सास को भी जेवरात दिए थे।

पीड़िता ने आरोप लगाया कि शादी के एक माह बाद आरोपितों ने उसे परेशान करना शुरू कर दिया। आरोप है कि पति कुलदीप सिंह ने गत 30 जून को पत्नी के माध्यम से उसकी मां के खाते से 3.90 लाख रुपये चेक के जरिए ले लिए। इसके अलावा भी आरोपित पति ने उससे भी 55 हजार रुपये लिए। इधर उसके पति, ससुरालियों ने मारपीट कर उसे घर से भगा दिया है।

यह भी आरोप लगाया कि पति कुलदीप सिंह ने पूर्व में विवाह कर रखा है। आरोपित की दूसरी पत्नी से एक बेटी भी है। पुलिस ने गुरजीत कौर की तहरीर पर कुलदीप सिंह, सतनाम सिंह, मनीष सहित पांच ससुरालियों के खिलाफ दहेज अधिनियम, मारपीट व धोखाधड़ी की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया है। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : ससुरालियों ने दहेज में मोटर साइकिल व 50 हजार की मांग पर एक बच्ची की मां को जहर पिलाया, लटकी गिरफ्तारी की तलवार…

पति: दहेज हत्या में पति-जेठानी को जेल - Husband-sister in law jail in case  of dowry murder | Navbharat Timesनवीन समाचार, रामनगर, 28 जून 2022। नैनीताल जनपद के रामनगर के उदयपुरी चोपड़ा निवासी एक परिवार पर शादी के चार साल के भीतर ही बहू को जहर देकर मारने का आरोप लगा है। बताया गया है कि इससे पहले इस परिवार ने अपनी बहू को घर से निकाल दिया था लेकिन पंचायत में सुलह-समझौता होने पर वह ससुराल में वापस आकर रहने लगी थी। मृतका की मां की शिकायत पर रामनगर पुलिस ने मुकदमा दर्ज करके छानबीन शुरू कर दी है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार जसपुर के जुलाहन मोहल्ले की रहने वाली शमा परवीन ने पुलिस को बताया कि उसकी बेटी सना परवीन का निकाह 27 दिसंबर 2018 को उदयपुरी चोपड़ा रामनगर निवासी इंतखाब के साथ पूरे दान-दहेज के साथ हुआ था। लेकिन इंतखाब के परिजन दहेज से खुश नहीं थी, औरएक मोटर साइकिल और पचास हजार रुपये नकद और दहेज में दिए जाने की मांग करते हुए शना के साथ मारपीट करते थे, और कई बार खाली हाथ, सिर्फ पहने हुए कपडो में ही घर से निकाल देते थे ।

हर बार पंचायत के बाद बेटी अपनी ससुराल जाती थी। इधर गत 17 जून को भी सना के पति इन्तखाब, जेठ इस्तिखार, ससुर इश्तियाक, ननद फरहाना व सुहाना ने सना से मोटर साईकिल व पचास हजार रूपये मायके से लाने की मांग करते हुए मार-पीटा की और उसे बच्ची के साथ खाली हाथ घर से निकाल दिया। इस बार भी पंचायत में फिर से राजीनामा होने के बाद सना ससुराल में रहने लगी थी।

आरोप है कि इधर 24 जून को ससुराल वालों ने सना को जहर खिला दिया, इस कारण 25 जून को सना की मौत हो गई। इस पर सना की मां शमा परवीन ने अब रामनगर कोतवाली पहुंच कर अपनी बेटी के ससुरालियों पर बेटी का हत्या का आरोप लगाते हुए तहरीर पुलिस को सौंपी। पुलिस ने भी मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : 21 वर्ष पूर्व दहेज के लिए जला दी गई विवाहिता को हाईकोर्ट से मिला न्याय, निचली अदालत से बरी पति को हाईकोर्ट ने सुनाई 7 वर्ष के कठोर कारावास की सजा..

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 27 जून 2022। 21 वर्ष पूर्व दहेज के लिए जला दी गई विवाहिता को उत्तराखंड उच्च न्यायालय से न्याय मिला है। उच्च न्यायालय की कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश संजय कुमार मिश्रा एवं न्यायमूर्ति आरसी खुल्बे की खंडपीठ ने नजीर पेश करने वाला फैसला देते हुए दहेज के लिए पत्नी की हत्या करने के आरोपित पति को 20 वर्ष पहले अपर सत्र न्यायाधीश ऊधमसिंह नगर की ओर से बरी किये जाने के मामले में निचली कोर्ट के आदेश को रद्द करते हुए सात साल के कठोर कारावास व 20 हजार रुपये अर्थदंड की सजा सुनाई है।

अभियोजन पक्ष के अनुसार 30 जुलाई 2001 को खटीमा की मझौला चौकी क्षेत्र में शादी के 3 वर्ष के बाद ही विवाहिता को उसके पति ने केरोसिन छिड़ककर आग लगा कर जला दिया था। लेकिन 7 जून 2002 को अपर सत्र न्यायाधीश ऊधमसिंह नगर की अदालत ने दहेज हत्या के आरोपित पति को दोषमुक्त करार दिया था। जिसके खिलाफ राज्य सरकार ने हाईकोर्ट में अपील दायर की थी। हाईकोर्ट ने सरकार की अपील को स्वीकार करते हुए निचली अदालत के आदेश को रद्द करते हुए आरोपित को दहेज हत्या का दोषी ठहराया और उसे सात साल के कठोर कारावास व 20 हजार रुपये अर्थदंड की सजा सुनाई।

हाईकोर्ट ने अपने आदेश में कहा कि दहेज उत्पीड़न अधिनियम के मुताबिक यदि शादी के सात वर्ष के भीतर किसी महिला की जलने या मारपीट से मौत होती है। अगर महिला ने दहेज के लिये ससुराल में मारपीट, प्रताड़ना होने की शिकायत की हो तो ऐसे मामले में दहेज उत्पीड़न या दहेज हत्या का जुर्म होता है। लेकिन निचली अदालत ने इस तथ्य को नजर अंदाज किया है। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : शादी के दो माह बाद ही ससुराल में फंदे से लटकी मिली नवविवाहिता

छत्तीसगढ़ : नवविवाहिता की फंदे से लटका मिला शव, 5 महीने पहले ही हुई थी शादी  - Chhattisgarh watchनवीन समाचार, गुप्तकाशी, 18 जून 2022। ऊखीमठ ब्लॉक के नारायणकोटी गांव में 24 वर्षीय नवविवाहिता की शादी के दो माह बाद ही संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई है। उसका शव अपने कमरे में फंदे से झूलता मिला। पुलिस ने शव को कब्जे में लेते हुए पोस्टमार्टम की कार्रवाई के लिए जिला चिकित्सालय भेज दिया जबकि मृतका के मायके पक्ष ने अपनी बेटी की हत्या करने का आरोप लगाया है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार सिंगोली गुप्तकाशी की रहने वाली सपना का विवाह अनिल लाल पुत्र किशन लाल निवासी ग्राम नारायनणकोटी के साथ इसी वर्ष 13-14 अप्रैल को हुआ था। शादी के महज दो महीने ही गुजरे थे कि शनिवार को सपना की संदिग्ध परिस्थिति में मौत हो गई। मृतका के मायके पक्ष ने सपना के पति पर सपना का गला दबाकर हत्या करने का आरोप लगाया है।

उनका आरोप है कि शुक्रवार को उनकी सपना से बात हुई थी, वह काफी खुश थी। वह, आत्महत्या जैसा कदम नही उठा सकती, उसके पति ने ही कुछ साजिश रची है। थाना प्रभारी अजय जाटव ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही मौत के कारणों का पता चल पाएगा। मामले की जांच की जा रही है। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : नवविवाहिता को दहेज में कार व 20 लाख की मांग पर शादी के एक माह बाद ही घर से निकाला…

नवीन समाचार, काशीपुर, 9 जून 2022। दहेज में बीस लाख रुपये नकद और कार की मांग पूरी नहीं होने पर एक विवाहिता को शादी के एक माह बाद ही मारपीट कर घर से निकालने का मामला प्रकाश में आया है। मामले में पीड़िता की शिकायत पर पुलिस ने पति तथा सास-ससुर के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार गौरी विहार ढाकिया गुलाबों की रहने वाली पीड़िता ने पुलिस को बताया कि उसकी शादी यूपी के राजनगर एक्सटेंशन गाजियाबाद निवासी मयंक नाम के युवक के साथ क्षमतानुसार पूरे दान-दहेज के साथ 2 दिसंबर 2021 को हुई थी। ससुराल में आकर पति मयंक, ससुर प्रवेश व सास वंदना दहेज और कार में बीस लाख रुपये की मांग करते हुए मानसिक व शारीरिक प्रताड़ना करने लगे।

यहां तक कि पति तलाक देकर दूसरा करने की धमकी देने लगा। इधर 3 जनवरी 2022 को उसकी सास ने उसे घर से निकाल दिया। यहां से वह बमुश्किल अपने पिता के घर काशीपुर आई। पुलिस ने तहरीर के आधार पर आरोपी के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : उफ, ऐसे दहेज के दानव: पिछले वर्ष कार सहित 35 लाख दहेज के साथ हुई शादी, अब 5 लाख और दहेज के लिए ससुर ने किया बहु से दुष्कर्म…

शादी के सात महीने बाद ही नवविवाहिता को दिया तलाक - The Netizen News

नवीन समाचार, हरिद्वार, 8 जून 2022। हरिद्वार जनपद से रिश्तों को शर्मसार करने वाला एक मामला सामने आया हैं। यहां पिरान कलियर क्षेत्र में बहू ने ससुर पर 5 लाख रुपए दहेज में देने की मांग पूरी न करने पर दुष्कर्म करने का आरोप लगाते हुए कलियर थाने में आरोपित ससुर के खिलाफ तहरीर दी है। पुलिस ने पीड़िता की तहरीर पर मामला दर्ज कर लिया है।

पीडिता ने पुलिस को दी तहरीर में कहा है कि उसका विवाह कलियर थाना क्षेत्र के गांव में पिछले साल 2021 में हुआ था। महिला के अनुसार उसके परिजनों ने विवाह में करीब 35 लाख रुपये खर्च किये थे, जिसमें एक बोलेरो कार भी शामिल है। आरोप है कि इसके बावजूद भी उसका ससुर दहेज के लिए उसे प्रताड़ित कर रहा है। यहां तक कि उसके ससुर ने 5 लाख रुपये नकद देने की मांग की और पैसे न मिलने पर उसे और उसके पति को घर से बाहर निकाल दिया।

बीती 3 जून को उसका ससुर रात को उसे अकेला देखकर उसके कमरे में आया और उसके साथ दुष्कर्म किया। आरोप है कि ससुर ने कट्टा दिखाते हुए किसी को न बताने की धमकी भी दी। महिला के अनुसार वह डर गई थी इसलिए पांच दिन बाद थाने में तहरीर दी। महिला की तहरीर पर पुलिस ने उसके ससुर के खिलाफ बलात्कार और दहेज मांगने समेत अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है। मामले में पिरान कलियर थानाध्यक्ष मनोहर सिंह भंडारी का कहना है कि महिला की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है और मामले की जांच शुरू कर दी है। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : कैसे नशेड़ी-दहेजलोभी ससुरालियों में फंसी नवविवाहिता, पति कहता है फोटो खिंचवाने को शादी की, ससुर दरवाजा खटखटाता है…

नवीन समाचार, हल्द्वानी, 6 जून 2022। काठगोदाम थाना क्षेत्र की रहने वाली, पिछले साल ही शादी के बंधन में बंधी एक विवाहिता अपने नशेड़ी पति व ससुर से परेशान है। उनकी हरकतों से परेशान होकर पुलिस थाने पहुंची महिला ने आरोप लगाया है कि कुसुमखेड़ा निवासी पति नशा करता है। नशे के लिए पीड़िता के रुपए चुराता है। उसे धमकाता है। कहता है कि उसने शादी शौक के लिए-फोटो खिंचवाने के लिए की थी। दहेज नहीं दिया तो उसे बेच देगा।

वहीं उसका ससुर भी दहेज के लिए दबाव बना रहा है। वह भी नशे में पड़ा रहता है, और दिन-रात गालियां देता है। इतना ही नहीं, ससुर आधी रात को कमरे का दरवाजा खटखटाता है और शराब पीकर परेशान करता है। पीड़िता ने बताया कि गत 23 अप्रैल को समझाने के लिए मायके वाले आए तो अगले ही दिन पति ने उसे मारपीट कर मायके के बाहर छोड़ दिया।

इस पर महिला ने अब अपने पति, सास-ससुर सहित नन्द, नन्दोई के खिलाफ दहेज मांगने, शारीरिक उत्पीड़न, छेड़छाड़ सहित अन्य संबंधित धाराओं में काठगोदाम थाने में मुकदमा दर्ज कराया। काठगोदाम थाना प्रभारी प्रमोद पाठक ने बताया कि महिला की तहरीर पर पति, सास-ससुर सहित 5 के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है, और पूरे मामले की जांच की जा रही है। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : पत्नी को दहेज के लिए जहर दिया, फिर एक बार में ही तीन तलाक बोला…

-अदालत ने खारिज किया पति का जमानत प्रार्थना पत्र
डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 4 जून 2022। जिला एवं सत्र न्यायाधीश राजेंद्र जोशी की अदालत ने पत्नी को जहर देकर मारने की कोशिश करने व तीन तलाक देने तथा मारपीट करने वाले दहेजलोभी पति अलीम पुत्र मो. खलील आजाद नगर टंडोली टांडा बादली जिला रामपुर का जमानत प्रार्थना पत्र खारिज कर दिया है।

जिला शासकीय अधिवक्ता-फौजदारी सुशील कुमार शर्मा ने आरोपित के जमानत प्रार्थना पत्र का विरोध करते हुए तर्क रखा कि एक अक्टूबर 2021 को थाना कालाढुंगी में तमन्ना अंसारी पुत्री तस्लीम अंसारी ग्राम बच्चीपुर धमोला कालाढुंगी ने रिपोर्ट दर्ज कराई कि उसकी शादी नवंबर 2016 में खलील से दान-दहेज के साथ हुई थी। शादी के 2-3 माह बाद से ही पति के साथ ही सास, नंद व देवर आदि दो लाख रुपए देकर उसे प्रताणित करने लगे।

इसी कड़ी में 6 सितंबर 2017 को उसके पति ने उसे दोपहर के खाने में जहर दे दिया। किसी तरह उसकी बुआ ने आकर उसे बचाया। इसके बाद भी उसे पति ने एक बार में ही तीन तलाक दे दिया। इन तर्कों पर न्यायालय ने आरोपित का जमानत प्रार्थना पत्र खारिज कर दिया। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : दहेज में स्कॉर्पियो दी, फॉर्च्यूनर न देने पर परेशान की जा रही नवविवाहिता ने शादी के दो माह बाद ही दो मंजिले से कूदी नवविवाहिता

बड़ी खबर : घर में हुआ झगड़ा, पुल से कूदी महिला | Khabar Uttarakhand Newsडॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 12 मई 2022। दहेज में फॉर्च्यूनर कार की मांग से दबाव में आई नवविवाहिता ने शादी के दो माह बाद ही दो मंजिल से कूदकर आत्महत्या कर ली। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार कुंडा थाना क्षेत्र के सरवरखेड़ा निवासी मोहम्मद यासीन की 25 वर्षीय पुत्री सबा परवीन ने बुधवार की देर शाम दो मंजिल से कूदकर आत्महत्या कर ली। सूचना पर पहुंची कुंडा थाना पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा। कुंडा थानाध्यक्ष प्रदीप नेगी ने बताया कि मामले में अभी कोई तहरीर प्राप्त नहीं हुई है। तहरीर प्राप्त होते ही रिपोर्ट दर्ज कर कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

बताया गया है कि सबा का निकाह बीती एक मार्च को यानी करीब दो माह पहले ही बरेली निवासी एक युवक से हुआ था। निकाह के दौरान मायके पक्ष ने दान दहेज के साथ एक स्कॉर्पियो गाड़ी भी दी थी। शादी के कुछ समय बाद ही ससुराली विवाहिता को फॉर्च्यूनर गाड़ी दहेज में ना देने की बात को लेकर प्रताड़ित करने लगे।

उत्पीड़न से परेशान महिला ने यह बात अपने पिता यासीन को बताई। तीन दिन पहले ही यासीन अपनी पुत्री को उसके ससुराल से वापस ले आए। जिसके बाद भी सबा परवीन को उसका पति फोन कर दहेज के लिए परेशान कर रहा था। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : चिकित्सक पर पत्नी से सुहागरात पर अप्राकृतिक संबंध बनाने व ससुरालियों पर दहेज के लिए शारीरिक-मानसिक उत्पीड़न-दुष्कर्म का आरोप

Molestation Charge Against Husband. - पति करता था अप्राकृतिक सेक्स, बनाता था  वीडियो - Amar Ujala Hindi News Liveनवीन समाचार, हल्द्वानी, 9 मई 2022। एक चिकित्सक की पत्नी ने उस पर सुहागरात के दौरान अप्राकृतिक तरीके से यौन संबंध बनाने, तथा ससुर, चचिया ससुर व ननदोई पर छेड़छाड़ एवं दुष्कर्म तथा दहेज में 50 लाख रुपये व बीएमडब्लू कार की मांग करने जैसे बड़े आरोप लगाए हैं। पुलिस ने पीड़िता की शिकायत पर चिकित्सक सहित छह लोगों के विरुद्ध अभियोग पंजीकृत कर लिया है।

शहर कोतवाली में दी गई तहरीर में पीड़िता ने बताया है कि कि 29 जून 2020 को उसका विवाह सोना, 12 लाख की हुंडई कार, तीन लाख के फर्नीचर सहित भरपूर दहेज के साथ नई दिल्ली निवासी माणिक शर्मा के साथ हुआ। सुहागरात के दौरान ही पति ने उससे अप्राकृतिक तरीके से शारीरिक संबंध बनाए, जबकि ससुराली कम दहेज देने की बात कहकर प्रताड़ित करते हुए दो करोड़ रुपये व आडी या बीएमडब्ल्यू कार की मांग करने लगे।

आरोप है कि 25 दिसंबर को 2020 को जब उसके पति, ननद व सास किसी पार्टी में गए थे। रात को ससुर व चचिया ससुर ने उससे छेड़छाड़ कर दुष्कर्म करने का प्रयास किया। आरोप है कि पांच जनवरी 2021 को ननदोई अपनी पत्नी से मिलने के बहाने उसके कमरे में घुस गया और अकेला पाकर उससे दुष्कर्म किया और पर्स में 10 हजार रुपये जबरदस्ती निकालकर ले गया। इस मानसिक व शारीरिक प्रताडना के बाद वह मायके आ गई।

सितंबर 2021 में परिवार न्यायालय हल्द्वानी में तलाक का मामला दायर किया है। कोतवाल हरेंद्र चौधरी ने बताया कि तहरीर के आधार पर महिला के पति माणिक शर्मा, सास रजनी शर्मा, ससुर राजेंद्र शर्मा, चचिया ससुर राकेश शर्मा, नंदोई संदीप शर्मा व ननद सोनाली शर्मा पर छेड़छाड़, दुष्कर्म, मारपीट, दहेज उत्पीडन, दुष्कर्म आदि धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : पत्नी के अंतिम संस्कार के बाद व्यापारी नेता गिरफ्तार, जेल भेजा…

नवीन समाचार, हल्द्वानी, 24 अप्रैल 2022। एक दिन पूर्व शनिवार यानी 23 अप्रैल की सुबह प्रांतीय नगर व्यापार मंडल की हल्द्वानी इकाई के वरिष्ठ उपाध्यक्ष सचिन गुप्ता की पत्नी ने खुदकुशी कर ली थी। उसका शव उसी कमरे में फंदे से लटका हुआ मिला, जिस कमरे में गुप्ता सोये हुए थे। आज पत्नी के अंतिम संस्कार के बाद पुलिस ने मृतका के मायके पक्ष की ओर से बेटी को दहेज हत्या एवं आत्महत्या के लिए उकसाने जैसे गंभीर आरोपों के आधार पर व्यापारी नेता सचिन गुप्ता को गिरफ्तार कर न्यायालय के आदेश पर जेल भेज दिया है।

उल्लेखनीय है कि मृतका के ससुराल वालो की ओर से बताया गया था कि शनिवार सुबह छह बजे उठकर प्रांतीय नगर व्यापार मंडल के वरिष्ठ उपाध्यक्ष सचिन गुप्ता की पत्नी क्षमा (26) ने परिजनों को चाय पिलाई, और इसके बाद उसने अपने कमरे में फंदे से लटककर आत्महत्या कर ली। मृतका के ढाई साल के जुड़वा बेटा-बेटी हैं।

मृतका के मायके पक्ष के कस्बा दिवचरा, बलिया बरेली से पहुंचे लोगो ने आरोप लगाया कि उनकी बेटी की हत्या कर शव को फंदे से लटकाया गया। पिता की तहरीर पर पुलिस ने पति, सास-ससुर, जेठ-जेठानी सहित छह लोगों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर लिया था। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : नैनीताल की बेटी के दहेज उत्पीड़न पर हल्द्वानी के ससुरालियों के खिलाफ अभियोग दर्ज

प्रतीकात्मक चित्रडॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 17 अप्रैल 2022। नगर निवासी एक विवाहिता ने अपने पति सहित ससुरालियों पर दहेज उत्पीड़न का आरोप लगाया है। पुलिस ने पीड़िता की शिकायत पर अभियोग पंजीकृत कर लिया है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार मल्लीताल निवासी युवती का विवाह हल्द्वानी के मुनगली गार्डन से हुआ था। आरोप है कि विवाह के बाद से ससुराली दहेज की मांग पर उसका उत्पीड़न कर रहे हैं। इधर तीन माह पूर्व भी उसने शिकायत की थी। जिस पर पुलिस ने दोनों पक्षों की काउंसिलिंग की। लेकिन इसके बावजूद ससुरालियों का उत्पीड़न कम नहीं हुआ।

परेशान होकर पीड़िता ने मल्लीताल कोतवाली में ससुरालियों के खिलाफ पुलिस में तहरीर दी। इस पर पुलिस ने पीड़िता के पति तथा सास-ससुर के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 498, 504 व दहेज अधिनियम की धारा 3/4 के तहत अभियोग पंजीकृत कर लिया है। वरिष्ठ उपनिरीक्षक जगबीर सिंह ने बताया कि आरोपों की जांच की जा रही है। जांच के आधार पर ही आगे की कार्रवाई की जाएगी। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : एक वर्ष पूर्व हुई शादी में 20 लाख से अधिक दहेज देने के बावजूद उत्पीड़न, ससुर पर अश्लील हरकत करने का आरोप

नवीन समाचार, हल्द्वानी, 9 अप्रैल 2022। एक विवाहिता ने करीब एक वर्ष पूर्व ही शादी में दहेज के तौर पर 20 लाख की नगदी, जेवरात व अन्य सामान देने के बावजूद अपने पति, सास और ससुर पर दहेज की मांग करते हुए न केवल शारीरिक उत्पीड़न बल्कि ससुर पर अश्लील हरकत करने का सनसनीखेज आरोप लगाया है। पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है।

पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार यातायात नगर चौकी क्षेत्र में रहने वाली महिला ने पुलिस को तहरीर देकर कहा है कि उसकी शादी 16 फरवरी 2021 को अबोहर जिला फाजिल्का पंजाब निवासी युवक से 20 लाख की नगदी, जेवरात व अन्य सामान के दहेज के साथ हुई थी। आरोप लगाया है कि शादी के कुछ समय बाद पति, सास और ससुर उससे दुर्व्यवहार करने लग गए। यही नहीं पिता की उम्र के ससुर उसके साथ अश्लील हरकत भी करते हैं।

Bilaspur The bridegroom ran away for not getting the Audi Car in dowry  bride family reached the police station - दहेज में ऑडी कार ना मिलने पर मंडप  से भागा दूल्हा, दुल्हनमहिला के अनुसार उससे कार लाने की मांग की गई। मना करने पर घर से निकाल दिया गया। कोतवाल हरेन्द्र चौधरी ने बताया कि आरोपितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : पति को भारी पड़ा पत्नी का दहेज के लिए उत्पीड़न, लुक आउट नोटिस के बाद विदेश भागने की कोशिश में एयरपोर्ट पर ही पकड़ा गया…

नवीन समाचार, रुद्रपुर, 6 अप्रैल 2022। पत्नी का दहेज के लिए उत्पीड़न करना उसके पति को भारी पड़ गया। आरोपित के सामने विदेश भागने की नौबत आ गई। इस पर उसके खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी हुआ और इमीग्रेशन ने इसे दिल्ली एयरपोर्ट पर ही पकड लिया, और पुलिस ने जेल भेज दिया।

दहेज उत्पीड़न का यह पूरा मामला रुद्रपुर के ट्रांजिट कैंप थाना क्षेत्र का है। रुद्रपुर निवासी एक महिला ने गत 24 फरवरी को यूपी के सहारनपुर जिले के रहने वाले अपने पति हरविंदर सिंह के खिलाफ ट्रांजिट कैंप थाने में दहेज उत्पीड़न के तहत अभियोग दर्ज कराया था। पीड़िता का आरोप था कि उसका पति दहेज के लिए आए दिन उसके साथ मारपीट और उसका मानसिक उत्पीड़न करता है।

एसएसपी मंजूनाथ टीसी ने पुलिस कार्यालय में पत्रकार वार्ता में बताया कि दो बार बुलाने के बावजूद आरोपित महिला हेल्पलाइन में हाजिर नहीं हुआ था। इधर, महिला ने सूचना दी थी कि उसका पति पुलिस कार्रवाई से बचने के लिए विदेश भागने की फिराक में है। इस पर उसके खिलाफ लुक आउट सर्कुलर जारी किया गया था। इधर इमिग्रेशन दिल्ली ने उसे एयरपोर्ट पर रोककर उधमसिंह नगर को पुलिस को सूचना दी। इसके बाद पुलिस ने उसे हिरसत में ले लिया। आरोपित कुवैत में ट्रांसपोर्ट कंपनी में कार्य करता है। उसे कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया गया है। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : दहेज में 20 लाख रुपये व कार नहीं लाने पर ससुरालियों ने विवाहिता को शादी के 13 वर्ष बाद मारपीट कर घर से निकाला

नवीन समाचार, काशीपुर, 30 मार्च 2022। दहेज में 20 लाख रुपये व कार नहीं लाने पर ससुरालियों ने विवाहिता को शादी के 13 वर्ष बाद मारपीट कर घर से निकाल दिया। पुलिस ने पीड़िता की तहरीर के आधार पर पति व सास के खिलाफ दहेज अधिनियम के तहत रिपोर्ट दर्ज की है।

पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार वैशाली कॉलोनी निवासी मनीषा रानी ने पुलिस को तहरीर देकर कहा है कि 7 दिसंबर 2008 को उसका विवाह गुलशन वर्मा निवासी अधौर शहर कॉलोनी सुंदर नगरी जिला फाजिल्का पंजाब के साथ हुआ था। शादी के कुछ दिन बाद से ही ससुराल वाले उसको 20 लाख रुपये व कार की मांग को लेकर परेशान करने लगे।

आरोप लगाया कि उसका पति किसी अन्य महिला के साथ भी शादी करना चाहता था। उसमें उसकी मदद सास भी कर रही थी। दहेज की मांग को लेकर 18 दिसंबर 2021 को पति व सास ने उसको मारपीट कर घर से निकाल दिया। पुलिस ने पीड़िता की तहरीर के आधार पर पति व सास के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की है। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : शादी के चार माह बाद ही दुपट्टे पर लटकी मिली नवविवाहिता, पोस्टमार्टम रिपोर्ट से पलट गया मामला…

प्रतीकात्मक चित्र CG NEWS : नवविवाहिता ने की आत्महत्या, पति की इस करतूत से थी परेशान
प्रतीकात्मक चित्र

नवीन समाचार, रुद्रपुर, 28 मार्च 2022। शनिवार को शहर के शांति विहार कालोनी निवासी एक नवविवाहिता का शव दुपट्टे के फंदे से लटका हुआ मिला था। मामले में मृतका के परिजनों के साथ ही पुलिस भी प्रथमदृष्टया आत्महत्या का मामला बता रही थी, किंतु मृतका की पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद मामला हत्या का बन गया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के अनुसार मृतका की मौत दम घुटने से हुई है। इसके बाद माना जा रहा है कि मृतका को पहले मारने के बाद फंदे पर लटकाया गया होगा।

इसके बाद मृतका के भाई ने अपने जीजा पर बहन की हत्या करने का आरोप लगाते हुए पुलिस में तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की है। पुलिस ने भी मृतका के पति के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। मृतका का तीन-चार माह पूर्व ही विवाह हुआ था।

मालूम हो कि शनिवार दोपहर मूलरूप से मुरलीवाला फार्म, थाना अफजलगढ़, जिला बिजनौर निवासी प्रीति कौर पत्नी संदीप सिंह उर्फ गोल्डी का शव घर में दुपट्टे के फंदे पर लटका हुआ मिला था। आज इस मामले में मृतका के बाजपुर, बन्नाखेड़़ा निवासी भाई परमजीत सिंह पुत्र दर्शन सिंह ने अपने जीजा संदीप सिंह पर बहन की हत्या करने का आरोप लगाते हुए तहरीर सौंपी है।

तहरीर में भाई ने कहा है कि बहन प्रीति कौर का विवाह तीन-चार माह पहले संदीप सिंह उर्फ गोल्डी के साथ हुआ था। शादी के बाद वह शांति विहार कालोनी में किराए में रहने लगे। बहन का अक्सर स्वास्थ्य खराब रहता था, जिसका उपचार भी वहीं करा रहा था। 25 मार्च को बहन की तबीयत ठीक नहीं थी तो वह उसे दिखाने के लिए रुद्रपुर आया था। तबीयत ठीक होने पर वह अपनी बहन प्रीति कौर तथा जीजा संदीप सिंह को उनके किराये के मकान पर छोड़ कर बाजपुर चला गया था।

26 मार्च को बहन प्रीति कौर ने फांसी लगाकर आत्महत्या करने की सूचना पर वह भी रुद्रपुर पहुंच गया। जीजा संदीप सिंह वहां नहीं थे, जिसे उसने कई बार फोन किया लेकिन उनका फोन बंद मिला। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में बहन की मौत दम घुटने से होने पर उसने शक जताया कि उसके जीजा संदीप सिंह ने ही उसकी बहन को मारा है। कोतवाल विक्रम राठौर ने बताया कि संदीप सिंह के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कर लिया है। जांच की जा रही है।  (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : शादी में ऑडी कार व लाखों के जेवहरात मिलने के बावजूद बड़े व्यवसायी की बेटी को दहेज में दो करोड़ रुपये और फ्लैट नहीं लाने पर घर से निकाला

नवीन समाचार, हल्द्वानी, 23 मार्च 2022। शहर के एक बड़े व्यवसायी की बेटी ने अपने पति और ससुरालियों के खिलाफ दहेज में दो करोड़ रुपये और फ्लैट नहीं लाने पर घर से निकालने के आरोप लगाए हैं। काठगोदाम पुलिस ने मामले की तफ्तीश में जुट गई है। महिला के पिता स्टोन क्रशर के मालिक हैं।

प्राप्त जानकारी के अनुसार काठगोदाम के कृष्णाकुंज हरिपुर कर्नल वार्ड नम्बर 13 निवासी ऋचा अग्रवाल पुत्री नीरज अग्रवाल का कहना है कि उसकी सगाई अभिषेक भंडारी पुत्र अवेश भंडारी निवासी सेक्टर 30 नोएडा गौतमबुद्ध नगर उत्तर प्रदेश के साथ 25 फरवरी 2016 को रुद्रपुर के होटल रेडिसन ब्लू में और शादी 25 फरवरी 2016 को होटल इरोज नेहरु प्लेस दिल्ली में हुई थी। दोनों कार्यक्रमों पर खर्चे के साथ शादी में दहेज के सारे सामान व जेवहरात के साथ ऑडी कार भी दी गई थी।

आरोप है कि इसके बावजूद शादी के कुछ दिन बाद ही कम दहेज के लिए ससुराली प्रताड़ित करने लगे। वह मारपीट भी करते थे औ एक टाइम खाना देकर कमरे में बंद कर देते थे। पीड़िता ने पति से शिकायत की तो वह बोला कि इन सबसे बचना है तो 2 करोड़ रुपये अपने पिता से लेकर आओ। पीड़िता ने पति पर शराब पीकर जबरदस्ती संबंध बनाने का भी आरोप लगाया है। इधर, 4 मार्च को ससुरालियों ने पीड़िता के पिता को बुलाकर फ्लैट की मांग की।

असमर्थता जताने पर उन्हें अपमानित किया और उनके साथ पीड़िता को घर से निकाल दिया। एसओ प्रमोद पाठक ने बताया कि मामले में महिला हेल्पलाइन में सुनवाई के बाद पीड़िता की तहरीर पर पति अभिषेक भंडारी, ससुर अवेश भंडारी, सास कंचन भंडारी, मामा सुनील आनन्द और मामी पूजा आनन्द के खिलाफ काठगोदाम थाने में मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें। 

यह भी पढ़ें : शादी के चार साल बाद ही विवाहिता की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत

-ससुरालियों पर मुकदमा दर्ज
महाराष्ट्र के पालघर में महिला की हत्‍या कर शव को झाड़ियों में फेंका | GNS  Newsनवीन समाचार, हरिद्वार, 1 मार्च 2022। जनपद की लक्सर कोतवाली के थाना खानपुर क्षेत्र के भारूवाला गांव में एक विवाहिता की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। उसका करीब चार वर्ष पूर्व ही विवाह हुआ था। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए भेजा। विवाहिता के परिजनों ने उसके ससुरालियों पर दहेज उत्पीड़न और हत्या का आरोप लगाया है, इस पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार मुज्जफरनगर जनपद के जानसठ थाना क्षेत्र के निठारी गांव निवासी वेदपाल की बेटी अंकिता की शादी वर्ष 2017 में खानपुर थाना क्षेत्र के भारूवाला गांव निवासी सागर के साथ हुई थी। 23 फरवरी को संदिग्ध परिस्थितियों में अंकिता की मौत हो गई। परिजनों ने इसकी सूचना पुलिस को दी, इस पर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा।

अंकिता के पिता वेदपाल की ओर से पुलिस को दी गई तहरीर में बताया गया कि शादी के बाद से ही उसके ससुराल वाले उसे दहेज के लिए प्रताड़ित कर रहे थे। कई बार उन्होंने उन्हें पैसे दिए, लेकिन वह उसे इसके बावजूद प्रताड़ित करते रहे। खानपुर थाना प्रभारी संजीव थपलियाल ने बताया कि वेदपाल की तहरीर पर विवाहिता के पति सागर, सास रामो देवी तथा उनके दो रिश्तेदार बिजेंद्र निवासी घोसीपुरा एवं मीता देवी निवासी भिश्तीपुर के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच की जा रही है। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें। 

यह भी पढ़ें : शादी के ढाई माह बाद ही बीएससी की छात्रा ने की आत्महत्या, पति को 5 माह बाद भी नहीं मिली जमानत

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 17 फरवरी 2022। जिला एवं सत्र न्यायाधीश राजेंद्र जोशी की अदालत ने बृहस्पतवार को दहेज हत्या के आरोपित पति राकेश मौर्य पुत्र कृपा राम मौर्य निवासी दिनेशपुर ऊधमसिंह नगर का जमानत प्रार्थना पत्र खारिज कर दिया। मृतका बीएससी की छात्रा थी और उसने ससुरालियों की दहेज प्रताणना से तंग आकर शादी के करीब ढाई माह बाद ही आत्महत्या कर ली थी।

अदालत में आरोपित के जमानत प्रार्थना पत्र का ऑनलाइन सुनवाई के दौरान अभियोजन पक्ष की ओर से विरोध करते हुए जिला शासकीय अधिवक्ता-फौजदारी सुशील कुमार शर्मा ने तर्क रखा कि 14 सितंबर 2021 को मृतका दिव्या रानी की माता विजयालक्ष्मी पत्नी शिव शंकर निवासी विलासपुर रामपुर यूपी ने आरोपित के विरुद्ध पुलिस में तहरीर दी। बताया कि दिव्या छात्रावास में रहकर बीएससी की पढ़ाई कर रही थी। 22 जून 2021 को उसने खुद को सेना में फौजी बताने वाले राकेश से प्रेम करने के बाद रुद्रपुर में शादी की थी।

शादी के बाद से ही उसे पति, सास, ससुद व जेठ आदि उसे दहेज में दो लाख रुपए, कार व सोने के जेवर मांगते हुए प्रताणित करने लगे। शादी के दो माह 16 दिन बाद ही 8 सितंबर 2021 को उसके द्वारा फांसी लगाकर आत्महत्या करने की सूचना उसके ससुरालियों की जगह उसकी दोस्त ने दी। इस प्रकार घटना को बेहद गंभीर पाते हुए अदालत ने पांच माह बाद भी आरोपित पति को जमानत नहीं दी। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

‘नवीन समाचार’ पर पूर्व में प्रकाशित दहेज से संबंधित समाचार पढ़ने को यहां क्लिक करें।

Leave a Reply