Education

नवीन समाचार एक्सक्लूसिव: छात्रों के विरोध, धरना-प्रदर्शन के बाद डीएसबी परिसर के निदेशक को हटाया

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

-पूर्व निदेशक प्रो. एलएम जोशी को सोंपा परिसर निदेशक पद का प्रभार
नवीन समाचार, नैनीताल, 06 जून 2020। छात्रों के विरोध प्रदर्शन के बाद डीएसबी परिसर के निदेशक प्रो. एचसी चंदोला को पद से हटा दिया गया है। कुमाऊं विश्वविद्यालय के कुलसचिव केआर भट्ट ने बताया कि शनिवार अपराह्न कुलपति प्रो. एनके जोशी के निर्देशों पर कार्य मुक्त करने के आदेश जारी हो गये हैं। वहीं पूर्व परिसर निदेशक प्रो. एलएम जोशी को पुनः इस पद का प्रभार दे दिया गया है। इधर डा. जोशी ने डीएसबी परिसर के निदेशक पद का कार्यभार संभाल भी लिया है।
उल्लेखनीय है कि शनिवार को ही परिसर निदेशक चंदोला को हटाने की मांग पर अपने पूर्व घोषित कार्यक्रम के तहत छात्र नेता शनिवार को कुमाऊं विश्वविद्यालय के प्रशासनिक भवन पहुंचे और वहां धरना दिया। पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष पंकज भट्ट ने कहा कि प्रशासनिक भवन में कुलपति कार्यालय के बाहर ताला लगा था। इस पर छात्र नेता कार्यालय के बाहर ही धरने पर बैठ गये। बाद में कुलपति प्रो. एनके जोशी ने उनसे वार्ता की और शाम तक उचित कार्रवाई करने का आश्वासन दिया। प्रदर्शन में छात्र संघ सचिव हिमांशु भट्ट, कोषाध्यक्ष फैजान तथा छात्र नेता पंकज बिष्ट भी शामिल रहे। इधर कुमाऊं विश्वविद्यालय छात्र महासंघ के उपाध्यक्ष नीरज तिवारी, सुमित लोहनी, अमितपाल सिंह रावत व विकास कुमार तथा एमबी राजकीय महाविद्यालय छात्र संघ के अध्यक्ष राहुल धामी ने भी इस मामले में परिसर निदेशक के विरोध में आये छात्र नेताओं को समर्थन देने का ऐलान किया।

यह भी पढ़ें : परिसर निदेशक के विरोध में छात्र संघ में दोफाड़ ! अध्यक्ष के विरोध में आये अन्य पदाधिकारी

-परिसर निदेशक के खिलाफ राज्यपाल, मुख्यमंत्री आदि को भेजी शिकायत
नवीन समाचार, नैनीताल, 05 जून 2020। डीएसबी परिसर के निदेशक प्रो. एचसीएस चंदोला को हटाने की मांग पर पिछली 26 मई से झंडा बुलंद किये डीएसबी परिसर छात्र संघ के सचिव हिमांशु भट्ट व कोषाध्यक्ष फैजान खान, उप सचिव राकेश कुमार व पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष पंकज भट्ट ने अब प्रदेश की राज्यपाल को शिकायती पत्र भेजकर कार्रवाई करने की मांग की है। शुक्रवार को राज्यपाल को संबोधित यह पत्र एसडीएम विनोद कुमार को सोंपा गया। पत्र में परिसर निदेशक के दो शिक्षकों के साथ चल रहे विवाद एवं एक शोधार्थी के पुराने मामलों का भी जिक्र्र किया गया है। पत्र की प्रतियां मुख्यमंत्री, केंद्रीय मानव संशाधन मंत्री एवं कुमाऊं विश्वविद्यालय के कुलपति को भी भेजी गयी हैं।
इधर अगुवाई कर रहे छात्र संघ सचिव हिमांशु भट्ट ने प्रेस को जारी बयान में दावा किया है कि परिसर निदेशक के विरोध में छात्र संघ अध्यक्ष को छोड़कर सभी पदाधिकारी साथ हैं। उन्होंने अध्यक्ष विशाल वर्मा पर सिर्फ निजी हितों के लिए कार्य करने का आरोप भी लगाया है। प्रेस विज्ञप्ति में छात्र संघ के उपाध्यक्ष अमन राणा, कोषाध्यक्ष फैजान खान, उप सचिव राकेश कुमार एवं छात्रा उपाध्यक्ष पूजा रौतेला के नामों के आगे हस्ताक्षर भी किये गये हैं।
इस पर डीएसबी परिसर के निदेशक प्रो. चंदोला ने कहा कि शुक्रवार को शाम साढ़े चार बजे छात्र संघ के सचिव एवं कोषाध्यक्ष उनसे वार्ता के लिये आये। उन्होंने किसी तरह का मांग पत्र प्रस्तुत नहीं किया, अलबत्ता अध्यक्ष विशाल वर्मा पर भी आरोप लगाये। इस बारे में अध्यक्ष वर्मा का पक्ष प्राप्त नहीं हो पाया।

यह भी पढ़ें : छात्रों की परिसर निदेशक संबंधी मांगों पर प्रस्तावित प्रदर्शन को छात्र संघ ने बताया गैरकानूनी

नवीन समाचार, नैनीताल, 04 जून 2020। बृहस्पतिवार को छात्र संघ के सचिव हिमांशु भट्ट सहित अन्य छात्रों की ओर से प्रेस को जारी विज्ञप्ति में डीएसबी परिसर के निदेशक प्रो. एचसी चंदोला पर अव्यवस्थाओं के आरोप लगाते हुए 6 जून से उन्हें हटाने की मांग पर आंदोलन करने की घोषणा की थी। परिसर निदेशक प्रो. चंदोला ने बताया कि ‘नवीन समाचार’ में यह समाचार प्रकाशित होने के बाद उन्होंने छात्र संघ के पदाधिकारियों के साथ बैठक की। बैठक में छात्र संघ अध्यक्ष विशाल वर्मा ने कहा कि कुछ छात्र जो लोग मांग कर रहे हैं, उससे छात्र संघ का कोई लेना-देना नहीं है।

यह मांगें उनकी व्यक्तिगत हो सकती हैं। साथ ही कहा कि छात्र संघ के नाम पर विरोध प्रदर्शन करना गैरकानूनी होगा। भविष्य में ऐसी किसी गैरकानूनी गतिविधि पर कुलानुशासक समुचित कार्रवाई कर सकते हैं। वहीं कर्मचारी संघ की ओर से पत्र देकर कहा गया कि कर्मचारियों को निदेशक से कोई समस्या नहीं है। वहीं परिसर निदेशक प्रो. चंदोला व छात्र संघ अध्यक्ष ने कहा कि उठाई जा रही मांगें उनके संज्ञान में नहीं हैं, क्योंकि इस संबंध में किसी ने उन्हें कोई प्रत्यावेदन नहीं दिया है।

यह भी पढ़ें : डीएसबी परिसर निदेशक को हटाने की मांग पर छात्रों का 6 जून से धरना-प्रदर्शन का ऐलान

नवीन समाचार, नैनीताल, 4 जून 2020। मुख्यालय स्थित कुमाऊं विश्वविद्यालय के डीएसबी परिसर में हाल ही में नियुक्त परिसर निदेशक प्रो. एचसी चंदोला का विरोध बढ़ता ही जा रहा है। इस संबंध में छात्र संघ के सचिव हिमांशु भट्ट की अगुवाई में छात्र संघ एवं छात्रों के एक वर्ग द्वारा बीती 26 मई से विरोध-प्रदर्शन किये जा रहे हैं। इधर बृहस्पतिवार को सचिव हिमांशु भट्ट ने कहा है कि इस संबंध में विश्वविद्यालय के नवागत कुलपति प्रो. एनके जोशी से भी परिसर निदेशक को पद से हटाने की मांग पर वार्ता की गई थी। उनका आरोप है कि नये निदेशक के कार्यकाल में परिसर में अव्यवस्थाएं हावी हो रही हैं। प्रो. जोशी ने इस संबंध में उचित कार्रवाई करने के लिए आश्वस्त किया गया था। लेकिन अब तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है। इसलिए अब आगामी 6 जून यानी शनिवार को विश्वविद्यालय में शारीरिक दूरी के मानकों का पालन करते हुए धरना-प्रदर्शन किया जाएगा, और अगर परिसर निदेशक को तत्काल पद से कार्य मुक्त नही किया गया तो कुमाऊँ भर के छात्रसंघों से बात करके आंदोलन को और भी आगे बढ़ाया जाएगा। निदेशक के विरोध में पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष पंकज भट्ट,, विकास जोशी कोषाध्यक्ष फैजान, उपसचिव राकेश कुमार व पंकज बिष्ट आदि भी शामिल हैं।

Leave a Reply

loading...