Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!

चार दशक में डेढ़ किमी पीछे खिसक गया पिंडारी ग्लेशियर

यूसैक देहरादून, कुमाऊं विवि, नैनीताल व आईआईएसईआर, कोलकाता का संयुक्त अध्ययन  अध्ययन में रिमोट सेंसिंग के माध्यम से ग्लेशियर की

Read more
Loading...