April 23, 2024

Uttarakhand Bhasha Sansthan-नैनीताल जनपद निवासी वरिष्ठ साहित्यकार दामोदर जोशी ‘देवांशु’ को ‘कुमगढ़’ के लिए मिला ‘उत्तराखंड साहित्य गौरव सम्मान’

0

Uttarakhand Bhasha Sansthan : Exciting news! The highly esteemed ‘Uttarakhand Sahitya Gaurav Samman’ of the Uttarakhand Bhasha Sansthan will be awarded to renowned Kumaoni litterateur, Devanshu, for his remarkable work ‘Kumgarh’. The director of Uttarakhand Bhasha Sansthan, IAS officer Swati S. Bhadauria, announced the selection of Devanshu, a resident of Paschim Kheda Gaulapar Haldwani in Nainital district, for his magazine ‘Kumgarh’ based on the recommendation of the ‘Uttarakhand Literature’ selection committee. The prestigious ‘Gaurav Samman’ will be presented to Bhairav Dutt Dhulia, the recipient of the award, on June 30 in the presence of the Chief Minister and Language Minister of Uttarakhand, along with prominent literary figures. Notably, Devanshu was previously honored with the Pitambar Dutt Badthwal Bhasha Samman in 2011 by the Uttarakhand Government. Devanshu’s magazine ‘Kumgarh’ has been instrumental in uniting various folk languages of the state since 2014, making it a unique platform. Additionally, Devanshu has authored numerous books and translations in the Kumaoni language.

Uttarakhand Bhasha Sansthan

-प्रदेश के मुख्यमंत्री धामी ने सम्मान के रूप में एक लाख रुपए के नगद पुरस्कार सहित प्रतीक चिन्ह व प्रमाण पत्र आदि भी प्रदान किये
नवीन समाचार, नैनीताल, 30 जून 2023। उत्तराखंड भाषा संस्थान की ओर से इस वर्ष साहित्य के क्षेत्र में सर्वोच्च ‘उत्तराखंड साहित्य गौरव सम्मान’ (Uttarakhand Bhasha Sansthan) देने की शुरुवात की गई है। इस वर्ष यह सम्मान प्रदेश के नैनीताल जनपद के वरिष्ठ साहित्यकार दामोदर जोशी ‘देवांशु’ को दिया गया है। शुक्रवार को राजधानी देहरादून में प्रदेश के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने उन्हें यह सम्मान प्रदान किया। सम्मान के रूप में प्रतीक चिन्ह, प्रमाण पत्र व शॉल आदि के साथ एक लाख रुपए का पुरस्कार भी प्रदान किया गया है।

Uttarakhand Bhasha Sansthan
साहित्यकार दामोदर जोशी ‘देवांशु’ को ‘उत्तराखंड साहित्य गौरव सम्मान’ प्रदान करते मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी।

उत्तराखंड भाषा संस्थान की निदेशक आईएएस अधिकारी स्वाति एस भदौरिया ने बताया कि नैनीताल जनपद के पश्चिमी खेड़ा गौलापार हल्द्वानी निवासी श्री देवांशु को उनके द्वारा प्रकाशित पत्रिका ‘कुमगढ़’ के लिए चयन समिति की अनुशंसा पर ‘उत्तराखंड साहित्य गौरव सम्मान’ योजना के अंतर्गत भैरव दत्त धूलिया पुरस्कार से अलंकृत किया गया है। उल्लेखनीय है कि श्री देवांशु को इससे पूर्व भी उत्तराखंड सरकार के द्वारा वर्ष 2011 में पीतांबर दत्त बड़थ्वाल भाषा सम्मान से भी सम्मानित किया जा चुका है।

गौरतलब है कि श्री जोशी वर्ष 2014 से ‘कुमगढ़’ पत्रिका के माध्यम से प्रदेश की सभी लोकभाषाओं को एक मंच पर लाने का कार्य कर रहे हैं। ‘कुमगढ़’ प्रदेश की सभी लोकभाषाओं को एक मंच पर लाने वाली एकमात्र पत्रिका के रूप में भी प्रतिष्ठित है। इसके अतिरिक्त देवांशु की एक दर्जन से अधिक कुमाउनी भाषा में पुस्तकें व अनुवाद प्रकाशित हो चुके हैं। इस अवसर पर प्रदेश के भाषा मंत्री सुबोध उनियाल सहित राज्य के अनेक मूर्धन्य साहित्यकार मौजूद रहे। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य एवं अधिक पढ़े जा रहे ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें। यदि आपको लगता है कि ‘नवीन समाचार’ अच्छा कार्य कर रहा है तो हमें सहयोग करें..

यह भी पढ़ें : खुशखबरी: उत्तराखंड भाषा संस्थान (Uttarakhand Bhasha Sansthan) का इस वर्ष का प्रतिष्ठित ‘उत्तराखंड साहित्य गौरव सम्मान’ कुमाउनी साहित्यकार देवांशु को ‘कुमगढ़’ के लिए मिलेगा

नवीन समाचार, नैनीताल, 19 जून 2023। उत्तराखंड भाषा संस्थान (Uttarakhand Bhasha Sansthan) का इस वर्ष का प्रतिष्ठित ‘उत्तराखंड साहित्य गौरव सम्मान’ प्रदेश के वरिष्ठ साहित्यकार दामोदर जोशी ‘देवांशु’ को दिया जाएगा।

Uttarakhand Bhasha Sansthanउत्तराखंड भाषा संस्थान की निदेशक आईएएस अधिकारी स्वाति एस भदौरिया की ओर इस आशय की जानकारी देते हुए बताया गया है कि नैनीताल जनपद के पश्चिमी खेड़ा गौलापार हल्द्वानी निवासी श्री देवांशु को उनके द्वारा प्रकाशित पत्रिका ‘कुमगढ़’ के लिए चयन समिति की अनुशंसा पर ‘उत्तराखंड साहित्य गौरव सम्मान’ योजना के अंतर्गत भैरव दत्त धूलिया पुरस्कार से अलंकृत किया जाएगा।

उन्हें यह पुरस्कार आगामी 30 जून को प्रदेश के मुख्यमंत्री एवं भाषा मंत्री के द्वारा प्रदेश के मूर्धन्य साहित्यकारों की उपस्थिति में देकर सम्मानित किया जाएगा। उल्लेखनीय है कि श्री देवांशु को इससे पूर्व भी उत्तराखंड सरकार के द्वारा वर्ष 2011 में पीतांबर दत्त बड़थ्वाल भाषा सम्मान से भी सम्मानित किया जा चुका है।

गौरतलब है कि श्री जोशी वर्ष 2014 से ‘कुमगढ़’ पत्रिका के माध्यम से प्रदेश की सभी लोकभाषाओं को एक मंच पर लाने का कार्य कर रहे हैं। ‘कुमगढ़’ प्रदेश की सभी लोकभाषाओं को एक मंच पर लाने वाली एकमात्र पत्रिका के रूप में भी प्रतिष्ठित है। इसके अतिरिक्त देवांशु की एक दर्जन से अधिक कुमाउनी भाषा में पुस्तकें व अनुवाद प्रकाशित हो चुके हैं। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य एवं अधिक पढ़े जा रहे ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें। यदि आपको लगता है कि ‘नवीन समाचार’ अच्छा कार्य कर रहा है तो हमें सहयोग करें..

Good news: This year’s prestigious ‘Uttarakhand Sahitya Gaurav Samman’ of Uttarakhand Bhasha Sansthan will be given to Kumaoni litterateur Devanshu for ‘Kumgarh’

Naveen Samachar, Nainital, 19 June 2023. This year’s prestigious ‘Uttarakhand Sahitya Gaurav Samman’ of the Uttarakhand Bhasha Sansthan will be given to the state’s senior litterateur Damodar Joshi ‘Devanshu’. IAS officer Swati S. Bhadauria, director of Uttarakhand Bhasha Sansthan, has informed that Mr. Devanshu, a resident of Paschim Kheda Gaulapar Haldwani of Nainital district, has been selected for the magazine ‘Kumgarh’ published by him on the recommendation of the selection committee for ‘Uttarakhand Literature’. Bhairav Dutt Dhulia will be decorated with the award under ‘Gaurav Samman’ scheme. He will be honored with this award on June 30 by the Chief Minister of the state and the Minister of Languages in the presence of prominent litterateurs of the state. It is notable that Mr. Devanshu has also been honored with Pitambar Dutt Badthwal Bhasha Samman in the year 2011 by the Government of Uttarakhand. It is worth mentioning that since 2014, Shri Joshi has been working to bring all the folk languages of the state on one platform through the magazine ‘Kumgarh’. ‘Kumgarh’ is also reputed as the only magazine to bring all the folk languages of the state on one platform. Apart from this, more than a dozen books and translations of Devanshu have been published in Kumaoni language.

Leave a Reply

आप यह भी पढ़ना चाहेंगे :

 - 
English
 - 
en
Gujarati
 - 
gu
Kannada
 - 
kn
Marathi
 - 
mr
Nepali
 - 
ne
Punjabi
 - 
pa
Sindhi
 - 
sd
Tamil
 - 
ta
Telugu
 - 
te
Urdu
 - 
ur

माफ़ कीजियेगा, आप यहाँ से कुछ भी कॉपी नहीं कर सकते

गर्मियों में करना हो सर्दियों का अहसास तो.. ये वादियाँ ये फिजायें बुला रही हैं तुम्हें… नये वर्ष के स्वागत के लिये सर्वश्रेष्ठ हैं यह 13 डेस्टिनेशन आपके सबसे करीब, सबसे अच्छे, सबसे खूबसूरत एवं सबसे रोमांटिक 10 हनीमून डेस्टिनेशन सर्दियों के इस मौसम में जरूर जायें इन 10 स्थानों की सैर पर… इस मौसम में घूमने निकलने की सोच रहे हों तो यहां जाएं, यहां बरसात भी होती है लाजवाब नैनीताल में सिर्फ नैनी ताल नहीं, इतनी झीलें हैं, 8वीं, 9वीं, 10वीं आपने शायद ही देखी हो… नैनीताल आयें तो जरूर देखें उत्तराखंड की एक बेटी बनेंगी सुपरस्टार की दुल्हन उत्तराखंड के आज 9 जून 2023 के ‘नवीन समाचार’ बाबा नीब करौरी के बारे में यह जान लें, निश्चित ही बरसेगी कृपा नैनीताल के चुनिंदा होटल्स, जहां आप जरूर ठहरना चाहेंगे… नैनीताल आयें तो इन 10 स्वादों को लेना न भूलें बालासोर का दु:खद ट्रेन हादसा तस्वीरों में नैनीताल आयें तो क्या जरूर खरीदें.. उत्तराखंड की बेटी उर्वशी रौतेला ने मुंबई में खरीदा 190 करोड़ का लक्जरी बंगला