-बायोमैट्रिक तरीके से भी हाजिरी लगेगी, मंडलायुक्त ने दिये आदेश
नैनीताल। कुमाऊं मंडल के आयुक्त राजीव रौतेला ने शनिवार को भी मण्डलीय अधिकारियों के साथ खाद्य एवं रसद, श्रम, चिकित्सा स्वास्थ्य, खेलकूद, शिक्षा तथा सेवायोजन महकमों की बारीकी से विभागीय समीक्षा बैठक की। इस दौरान उन्होंने अपर निदेशक शिक्षा डा. मुकुल सती को मंडल के दूरदराज पर्वतीय इलाकों में शत-प्रतिशत अध्यपकों की उपस्थिति सुनिश्चित करने के लिये इलेक्ट्रानिक-बायोमैट्रिक सिस्टम प्रभावी करने के निर्देश दिए। कहा कि हाजिरी के साथ ही विद्यालयों में अध्यापक मोबाइल से सेल्फी व गु्रप फोटो वाटसएप पर भेजें ताकि यह सिद्ध हो सके कि वाकई अध्यापक विद्यालय मंे मोैजूद हैं। इस बाबत आगामी 26 मई से 30 जून के बीच होने वाले ग्रीष्म अवकाश में शिक्षा महकमे के अधिकारी इस प्रकार की कार्ययोजना बनाने को कहा गया है। इसी तरह के निर्देश चिकित्सकों के लिए भी दिये गये। इसके अलावा उन्होंने सभी विद्यालयों में शत-प्रतिशत विद्यार्थियों के बैंक खाते खोलने व उन्हें आधार से जोड़ने को भी कहा।


वहीं खेल विभाग की समीक्षा करते हुए उन्होंने खेल प्रेमियों एवं खेत प्रतिभाओं के लिये सर्वोच्च प्राथमिकता पर जिम विकसित करने तथा हर जिले में जिला खेल प्रोत्साहन समितियां गठित कर उन्हें सक्रिय करने को कहा। आगे उन्होंने शिक्षा महकमे की तरह डाक्टरों की उपस्थिति भी इलैक्ट्रानिक तरीके से जांचने व परखने, सभी जिला चिकित्सालयों में सीसीटीवी कैमरे लगाने, बायोमैट्रिक मशीन को अधिकारियों के मोबाइल से जोड़ने, सभी जिला चिकित्सालयों में आईसीयू स्थापना की कार्ययोजना बनाने को भी कहा। इसके अलावा उन्होंने सम्भागीय खाद्य नियंत्रक ललित मोहन रयाल को विभिन्न क्रय एजेंसियों द्वारा की जा रही गेहूॅ खरीद में काश्तकारों को सरकार द्वारा निर्धारित समर्थन मूल्य मिलना सुनिश्चित करने को कहा। श्री रयाल ने बताया कि मंडल में 1.9 लाख मीट्रिक टन गेहूॅ खरीद का लक्ष्य और गेहूं का 1735 रूपये प्रति कुन्तल समर्थन मूल्य निर्धारित किया गया है। अब तक 10 हजार मीट्रिक टन गेहूं की खरीद 133 खरीद केन्द्रों द्वारा की जा चुकी है। साथ ही बैठक में क्षेत्रीय सेवायोजन अधिकारी यशवंत सिंह रावत नेे बताया कि मंडल में 3.97 लाख बेरोजगार पंजीकृत हैं।

About Admin

मेरा जन्म 26 नवंबर 1972 को हुआ था। मैं नैनीताल, भारत में मूलतः एक पत्रकार हूँ। वर्तमान में मार्च 2010 से राष्ट्रीय हिन्दी दैनिक समाचार पत्र-राष्ट्रीय सहारा में ब्यूरो चीफ के रूप में कार्य कर रहा हूँ। इससे पहले मैं पांच साल के लिए दैनिक जागरण के लिए काम कर चुका हूँ। कुमाऊँ विश्वविद्यालय के पत्रकारिता एवं जनसंचार विभाग से ‘नए मीडिया’ विषय पर शोधरत हूँ। फोटोग्राफ़ी मेरा शौक है। मैं NIKON COOLPIX P530 और अडोब फोटोशॉप 7.0 के साथ फोटोग्राफी कर रहा हूँ। फोटोग्राफी मेरे लिए दुनियां की खूबसूरती को अपनी ओर से चिरस्थाई बनाने का बहुत छोटा सा प्रयास है। एक फोटो पत्रकार के रूप में मेरी तस्वीरों को नैनीताल राजभवन सहित विभिन्न प्रदर्शनियों में प्रस्तुत किया गया, तथा उत्तराखंड की राज्यपाल श्रीमती मार्गरेट अलवा द्वारा सम्मानित किया गया है। कुछ चित्रों को राष्ट्रीय-अंतर्राष्ट्रीय पुरस्कार भी प्राप्त हो चुके हैं। गूगल अर्थ पर चित्र उपलब्ध कराने वाली पैनोरामियो साइट पर मेरी प्रोफाइल को 18.85 Lacs से भी अधिक हिट्स प्राप्त हैं।पत्रकारिता और फोटोग्राफी के अलावा मुझे कवितायेँ लिखना पसंद है। काव्य क्षेत्र में मैंने नवीन जोशी “नवेन्दु” के रूप में अपनी पहचान बनाई है। मैंने बहुत सी कुमाउनी कवितायेँ लिखी हैं, कुमाउनी भाषा में मेरा काव्य संकलन उघड़ी आंखोंक स्वींड़ प्रकाशित हो चुका है, जो कि पुस्तक के के साथ ही डिजिटल (PDF) फार्मेट पर भी उपलब्ध होने वाली कुमाउनी की पहली पुस्तक है। मेरी यह पुस्तक गूगल एप्स पर भी उपलब्ध है।

यहां है एक पत्रकार, लेखक, कवि एवं छाया चित्रकार के रूप में मेरी रचनात्मकता, लेख, आलेख, छायाचित्र, कविताएं, हिंदी-कुमाउनी के ब्लॉग आदि कार्यों का पूरा समग्र। मेरी कोशिश है कि यहां नैनीताल, कुमाऊं, उत्तराखंड और वृहद संदर्भ में देश की विरासत, संस्कृति, इतिहास और वर्तमान को समग्र रूप में संग्रहीत करने की….।

मेरे दिल में बसता है, मेरा नैनीताल, मेरा कुमाऊं और मेरा उत्तराखंड

Similar Posts

Leave a Reply

Loading...