‘भारत के स्विटजरलेंड’ में गांधी जी ने लिखी थी ‘अनासक्ति योग’

      moreराष्ट्रपिता महात्मा गांधी एक अलग दृष्टि के महामानव थे। यही कारण है कि उन्होंने अपनी आग उगलती बंदूकों और जुल्मो-सितम के लिए पहचाने जाने वाले अंग्रेजों को, जिनके राज में तब कभी सूर्य अस्त न होता था, एक अलग तरह के अहिंसा के अस्त्र का प्रयोग कर असंभव को संभव कर दिखाते हुए देश से […]

साफ़ हुई पंचाचूली-पिंडारी ग्लेशियर रूट की राह, रेकी कर लौटे पुणे के दल ने सराही व्यवस्थाएं

      more-केएमवीएन आगामी मार्च माह से यहां करायेगा बड़े स्तर पर ट्रेकिंग-होम स्टे नवीन समाचार, नैनीताल, 17 दिसंबर 2018। केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास निगम आगामी मार्च माह से कुमाऊं मंडल के पंचाचूली एवं पिंडारी ग्लेशियर के यात्रा मार्गों पर बड़े स्तर पर ट्रेकिंग एवं होम स्टे की योजना को आगे बढ़ाना जा रहा है। इस […]