यह सामग्री कॉपी नहीं हो सकती है, फिर भी चाहिए तो व्हात्सएप से 8077566792 पर संपर्क करें..
 

ब्रेकिंग : मुक्तेश्वर के पास नैनो कार गिरी खाई में, एक स्थानीय व्यक्ति की मौत, दूसरा हुआ घायल…

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

दान सिंह लोधियाल @ नवीन समाचार, धानाचूली, 2 सितंबर 2019। थाना मुक्तेश्वर के गहना में देर शाम एक टाटा नैनो के गहरी खाई में गिरने से एक कि मौत हो गयी जबकि दूसरा घायल हो गया। घायल को उपचार के लिए हायर सेंटर भेजा गया है।
थानाध्यक्ष मुक्तेश्वर कैलाश जोशी ने बताया गहना से आ रही टाटा नैनो कार यूके 06 टी 8272 डबल डांठ के पास अनियंत्रित होकर करीब 100 मीटर गहरी खाई में गिर गयी। जिसमे सवार हरीश सिंह (50) पुत्र आन सिह निवासी ग्राम सुनकिया थाना मुक्तेश्वर की मौत हो गयी। जबकि मनोज कुमार (37) पुत्र भरत भूषण निवासी सुनकिया मुक्तेश्वर घायल हो गया। दोनों को आपातकालीन वाहन 108 की मदद से पदमपुरी ले जाया गया। जहाँ से घायल को हायर सेंटर रेफर कर दिया। जबकि मृतक का शव पदमपुरी अस्पताल में ही रखा गया है। वही घटना से सुनकिया गांव में मातम पसर गया है। पुलिस घटना की जांच में जुट गई है। शव का पीएम बुधवार को होगा।

यह भी पढ़ें : दुत्कानेधार के समीप खाई में गिरी स्कूटी, सामाजिक कार्यकर्ता की मौत

दान सिंह लोधियाल @ नवीन समाचार, धानाचूली, 8 अगस्त 2019। जनपद के रामगढ़ ब्लॉक के दुत्कानेधार समर फोर्ड के समीप एक स्कूटी दुर्घनाग्रस्त होने से स्कूटी सवार सामाजिक कार्यकर्ता को मौत हो गयी। मृतक का शव पुलिस ने अपने कब्जे में लेकर आगे की कार्यवाही शुरू कर दी है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार रामगढ़ विकास खंड के सूपी गांव के तोक भटेलिया निवासी आन सिंह (60) अपनी स्कूटी से हल्द्वानी से सूपी के तोक भटेलिया आ रहा था। बृहस्पतिवार अपराह्न करीब 3 बजे भटेलिया-रामगढ़ मोटर मार्ग में दुत्कानेधार के समीप समरफोर्ड के पास स्कूटी का संतुलन बिगड़ने से स्कूटी गहरी खाई में जा गिरी। दुर्घटना में सवार आन सिंह गम्भीर रूप से घायल हो गए। गम्भीर हालत में उन्हें प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र रामगढ़ ले जाया गया जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। आन सिह एक सामाजिक तौर पर काफी सक्रिय कार्यकर्ता थे। वे अपने पीछे दो बेटे व पत्नी को रोता बिलखता छोड़ गए हैं। घटना से पूरे गांव में शोक व्याप्त हो गया है। भवाली पुलिस शव का पंचनामा कर पीएम को जिला मुख्यालय भेजने में जुटी हुई है।

यह भी पढ़ें : आपस में भिड़ीं दो बाइकें, एक युवक की मौके पर ही दर्दनाक मौत, सड़क पर बिखरी मिली शराब की थैलियां

ललित मोहन बधानी @ नवीन समाचार, कालाढुंगी, 23 जुलाई 2019। नैनीताल के कालाढुंगी में दो बाइकें आपस में भिड़ गईं। दुर्घटना में एक युवक की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई। घटना के बाद परिजनो का रो-रो कर बुरा हाल है।
जानकारी के अनुसार 18 वर्षी अशोक पुत्र भगवान दास निवासी बादली टांडा जिला रामपुर उत्तर प्रदेश अपने साथी करतार सिंह के साथ अपनी मोटरसाइकिल से निगम से राशन का समान लेकर अपने घर जा रहा था, तभी पुरनपुर गांव के पास सामने से आ रही मोटरसाइकिल से उसकी बाइक की आमने-सामने की टक्कर हो गई, जिसमें अशोक की मौके पर ही मौत हो गई, वही दुसरी बाइक सवार युवक मौके पर मोटरसाइकिल छोड कर फरार हो गए। मौके पर कच्ची शराब के दर्जनो पाउच भी बिखरे पडे थे। गांव वालो का आरोप है कि फरार युवक कच्ची शराब के तस्कर है ओर वह गांव मे शराब बेचने आया था। सूचना पर मौके पर पहंुची पुलिस ने शव को कब्जे मे लेकर पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया है, वहीं दोनों मोटरसाइकिलों को थाने लाकर फरार युवकों की तलाश कर रही है। बताया जा रहा है कि युवक यहीं रहकर खेतों मे मेहनत-मजदूरी करता था।

यह भी पढ़ें : हाई कोर्ट के पास कार की टक्कर से महिला घायल…

नवीन समाचार, नैनीताल, 24 जून 2019। रविवार को नगर में कार की टक्कर लगने से एक महिला घायल हो गई। बीडी पांडे जिला अस्पताल से मिली जानकारी के अनुसार रुद्रपुर निवासी माया अधिकारी (45) मल्लीताल हाईकोर्ट के निकट सड़क से आ रही थी। पीछे से आ रही आईटेन कार ने उसे टक्कर मार दी। टक्कर लगने से महिला नीचे गिर गई। उसके दोनों पैरों में गंभीर चोट आई। स्थानीय लोगों ने उसे अस्पताल पहुंचाया। अस्पताल में डॉ. जाने आलम ने उसका इलाज किया। डॉक्टर ने बताया कि महिला के दोनो घुटनों के साथ ही शरीर के अन्य हिस्से में गुम चोट बताई। हालाँकि चिकित्सकों के अनुसार उसकी एक्सरे आदि रिपोर्टें सामान्य आईं। वहीं एक अन्य घटना में बाइक से गिरकर एक व्यक्ति घायल हो गया।

यह भी पढ़ें : नैनीताल रोड पर एक साथ सैलानियों की चार कारों में हुई जबर्दस्त भिड़ंत, कई सैलानी घायल…

ललित मोहन बुधानी @ नवीन समाचार, कालाढुंगी, 27 जून 2019। बृहस्पतिवार को नैनीताल मार्ग पर एक साथ चार कारों में जबरदस्त भिड़ंत होने से कई पर्यटक घायल हो गए। जिन्हें स्थानीय लोगों की मदद से कालाढूंगी पुलिस ने स्थानीय अस्पताल पहुंचाया। जानकारी के अनुसार काशीपुर निवासी 22 वर्षीय राहुल सिंह व उनके कुछ साथी अपनी कार संख्या यूके18एच-3092 से नैनीताल जा रहे थे कि कालाढूंगी से निकलते ही नैनीताल से वापस आ रही कार संख्या डीएल10सीटी-1431 से उनकी कार की भिड़ंत हो गयी। जिसके बाद नैनीताल से उक्त कार के पीछे आ रही कार संख्या सीएचओ आईबीटी-8753 व कार संख्या डीएल सीएक्स 1906 भी उसके पीछे से भिड़ गयीं। कारों की आपस में भिड़ंत इतनी जबरदस्त थी कि सभी कारें क्षतिग्रस्त हो गयीं। हादसे में राहुल सिंह सहित वैशाली इन्क्लेव राजौरी गार्डन नई दिल्ली निवासी 47 वर्षीय सुरेंद्र पुत्र भीम सिंह उनकी पत्नी 40 वर्षीय सुशीला व पालम कालौनी नई दिल्ली निवासी 60 वर्षीय सावित्री देवी पत्नी बंशी प्रसाद व 75 वर्षीय सृष्टि पत्नी चमन राम घायल हो गए। सूचना मिलने पर एसआई बलवंत सिंह पटवाल सहित पुलिसकर्मी राजेश कुमार व नवीन कुमार तथा चालक सुखजिंदर सिंह ने मौके पर पहुंच राहगीरों की मदद से 108 सेवा से घायलों को स्थानीय अस्पताल पहुंचाया। जहां सबकी हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है।

यह भी पढ़ें : दुर्घटना में अधिवक्ता घायल, अन्य घटना में एक सैलानी की मृत्यु

नवीन समाचार, नैनीताल, 24 जून 2019। सोमवार को एक दुर्घटना में एक अधिवक्ता घायल हो गये, जबकि अन्य घटना में एक सैलानी की मृत्यु हो गयी। प्राप्त जानकारी के अनुसार रुद्रपुर निवासी अधिवक्ता मनी कुमार पुत्र हरकिशन लाल सोमवार को अपाची बाइक से नैनीताल आ रहे थे। तभी नैनीताल-हल्द्वानी राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 109 पर नगर से करीब 4 किमी पहले ताकुला के समीप एक कार ने उनकी बाइक को टक्कर मार दी, जिससे अधिवक्ता मनी को चोर्टें आइं। उन्हें 108 के जरिए घायल अवस्था में सुशीला तिवारी अस्पताल हल्द्वानी ले जाया गया। जहां उनका उपचार चल रहा है।
वहीं दूसरी घटना में गुजरात से नैनीताल घूमने आए पर्यटक दरियापुर जिला अहमदाबाद गुजरात निवासी मुश्ताक मुइउद्दीन (47) पुत्र उस्मान मिया सैय्यद की नगर में हृदयाघात से मौत हो गई। पुलिस ने शव को पंचनामा भर पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया। बताया गया है कि मुश्ताक अपने परिवार के साथ नैनीताल घूमने आए थे। रविवार रात्रि मुश्ताक की अचानक तबीयत बिगड़ गई। परिजन उसे बीडी पांडे जिला अस्पताल ले गए। जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

यह भी पढ़ें : नैनीताल आ रहे सैलानियों की कार खाई में गिरी, 4 घायल, हलद्वानी भेजे..

नवीन समाचार, ज्योलीकोट (नैनीताल) 19 जून 2019। दिल्ली से नैनीताल घूमने आ रहे पर्यटकों की स्विफ्ट कार मुख्यालय से करीब 15 किमी पहले नैना गांव के पास लगभग 50 फीट गहरी खाई में गिरने से कार में सवार चारों पर्यटक घायल हो गए। जिन्हें इलाज के लिए निजी वाहन से हल्द्वानी भेज दिया गया।
ज्योलीकोट के चौकी प्रभारी डीसी जोशी से प्राप्त जानकारी के अनुसार स्विफ्ट कार संख्या डीएल5सी एच-2707 में सवार मोहम्मद नासिर पुत्र मोहम्मद आसिफ, बादशाह पुत्र मोहम्मद अरकान, आरिफ पुत्र मोहम्मद अहमद और गुलफाम पुत्र मुन्ना पहलवान निवासी सीलमपुर दिल्ली घूमने के लिए नैनीताल आ रहे थे। तभी नैना गांव के पास वाहन अनियंत्रित होकर लगभग 50 फीट गहरी खाई में जा गिरा। घटना की जानकारी होते ही स्थानीय लोगों और अन्य वाहन के यात्रियों की सहायता से चौकी इंचार्ज डीसी जोशी व पुलिसकर्मियों नवीन जोशी, लक्ष्मण व कमल कुमार ने घायलों को खाई से निकाल कर निजी वाहन से इलाज के लिए हल्द्वानी भेजा । दुर्घटना की सूचना पर थाना तल्लीताल से भी पुलिस बल मौके पर पहुंचा। चारों घायलों की स्थिति खतरे से बाहर बताई जा रही है। उनके परिजनों को सूचित कर दिया गया है।

यह भी पढ़ें : 34 वर्षीय सीआईएसएफ इंस्पेक्टर सहित परिवार के 6 सदस्य काल के गाल में समाये…

नवीन समाचार, त्यूनी, 17 जून 2019। देहरादून जिले के त्यूनी में एक ऑल्टो कार अनियंत्रित होकर गहरी खाई में गिर गई। दुर्घटना में 34 वर्षीय सीआईएसएफ इंस्पेक्टर सहित उनके ही परिवार के कार सवार सभी छह लोगों की मौत हो गई। बताया गया कि कार में सीआईएसएफ इंस्पेक्टर व उनका परिवार सवार था। सभी 6 शव खाई से निकाले जा चुके हैं। एक साथ छह शव देख के मौके पर मौजूद हर किसी की आंख नम हो गई। हादसे में हंसता-खेलता परिवार खत्म हो गया। स्थानीय लोगों की सूचना पर त्यूनी पुलिस व प्रशासन मौके पर पहुंची और रेस्क्यू कार्य किया। हादसे में सीआईएसएफ इंस्पेक्टर पवन नेगी (32), उनकी पत्नी रश्मि (24), बेटी इशिका (4), बुआ मूर्ति देवी और बहन सुमन देवी व सुमन के पुत्र आरंभ मौत हो गई है। 
बताया गया कि कार संख्या यूके-07-5274 बानपुर से त्यूणी आ रही थी। तभी बानपुर के समीप 600 मीटर गहरी खाई में कार गिर गई जिसमें छह लोग काल के गाल में समा गए। मिली जानकारी के अनुसार सीआईएसएफ में कार्यरत पवन नेगी कार चला रहे थे। पवन अपने गांव बानपुर जा रहे थे, वह इकलौते पुत्र थे, भाई बहिन व उनके परिवार के साथ हुए इस हादसे से पूरे क्षेत्र में शोक की लहर है|बानपुर से त्यूनी बाजार की ओर आ रही थी और अनियंत्रित होकर गहरी खाई में गिर गई। शवों का पंचनामा भरकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा गया है।

यह भी पढ़ें : नैनीताल में सात बजे खड़ी सड़क पर पलटी पिकअप, साढ़े सात पर पलटती तो मच जाता कोहराम !

-तीक्ष्ण चढ़ाई वाली शेरवानी रोड पर पलटा पिकअप, बची भीषण दुर्घटना
नवीन समाचार, नैनीताल, 14 जून 2019। शुक्रवार सुबह तड़के मुख्यालय की शेरवानी-आरिफ कैसल्स होटल को जाने वाली संकरे व तीक्ष्ण चढ़ाई वाले मार्ग पर करीब 25 कुंतल सामान से भरा एक पिकअप वाहन करीब 25 मीटर तक अनियंत्रित होकर पीछे लुड़कता चला गया और सड़क पर ही पलट गया। इस दौरान वाहन में सवार चालक और तीन-चार नेपाली मजदूरों ने लुड़कते पिकअप से कूदकर अपनी जान बचा ली। यदि घटना थोड़ी देर बाद यानी साढ़े सात बजे हुई होती तो बड़ी दुर्घटना हुई होती, क्योंकि इस दौरान यहां से बड़ी संख्या में स्कूली बच्चों का गुजरता प्रारंभ हो जाता है। पास ही में कई बड़े स्कूल भी हैं। दुर्घटना के बाद संकरे मार्ग पर करीब एक घंटे जाम लग गया। दुर्घटना में सड़क किनारे की बलरामपुर होटल की दीवार भी क्षतिग्रस्त हो गयी। यह दीवार न होती तो पिकअप नीचे स्थित स्टेट बैंक कर्मी प्रदीप साह के घर पर गिरकर भी बड़ी दुर्घटना का कारण बन सकती थी।
बताया गया कि हल्द्वानी के पर्वतीय जनता ट्रांसपोर्ट का पिकअप संख्या यूके04सीए-4247 सुबह करीब 7 बजे इस मार्ग पर होटलों के लिए खाद्यान्न एवं अन्य सामान ले कर जा रहा था कि अधिक भार एवं तीक्ष्ण चढ़ाई की वजह से चालक वाहन पर नियंत्रण खो बैठा और वाहन पीछे की ओर फिसलता चला गया और आखिर बगल की दीवार को क्षतिग्रस्त कर सड़क पर पलट गया। इससे मार्ग पर पिक अप में रखा सारा सामान भी बिखर गया। क्षेत्रवासियों ने इस घटना पर नाराजगी जताते हुए भविष्य में इस तरह की दुर्घटना को न होने देने के लिए प्रबंध करने की मांग की है। क्षेत्रवासी भूपेंद्र बिष्ट ने बताया कि वर्ष 2000 में भी इसी तरह की दुर्घटना में एक बिहारी मजदूर की मौके पर ही मृत्यु हो चुकी है। खासकर गर्मियों के महीनों में इस मार्ग पर भीड़भाड़ बढ़ने मार्ग से गुजरने वाले लोगों की जान जोखिम में रहती है।

यह भी पढ़ें : उत्तराखंड में फिर भीषण हादसा, 4 की मौत-6 घायल

उत्तरकाशी, 15 अक्तूबर 2018। उत्तराखंड में खासकर उत्तरकाशी जिले के साथ दुर्घटनाओं का दुर्योग छूटने का नाम नहीं ले राह है। सोमवार को फिर जिले के चिन्यालीसौड तहसील क्षेत्र के धरासू जोगत मोटर मार्ग  में भीषण सड़क हादसा हो गया है। बताया जा रहा है कि भडकोट के पास एक मैक्स के  खाई में गिरने से चार लोगों की मौत हो गई, जबकि छह लोग घायल हो गए हैं।

घटना सोमवार सुबह सुबह की है। एक मैक्‍स वाहन बनकोट से चिन्यालीसौड  की ओर आ रही थी। इसी दौरान धरासू जोगत मोटर मार्ग पर भडकोट के पास वाहन से अनियं‍त्रण होकर खाई में जा गिरा। इस दर्दनाक हादसे में 4 लोगों की मौत हो गई वहीं 6 लोग घायल बताए जा रहे है। स्थानीय लोगों की सूचना के बाद पुलिस प्रशासन की टीम मौके पर पहुंची। घायलों को खाई से निकाला और अस्‍पताल में भर्ती कराया है।

ताजा जानकारी के अनुसार घायलों की स्थिति गंभीर बनी हुई है। मृतकों की पहचान  कृपाल सिंह (60 वर्ष), दिपना देवी (55 वर्ष) पत्नी विशन सिंह, कृष्णा देवी (21 वर्ष) पत्नी संदीप सिंह सभी निवासी बनकोट चिन्यालीसौड और लक्ष्मी देवी (40 वर्ष) पत्नी विक्रम भैंगवाल निवासी गांव चिन्यालीसौड के रूप में हुई है।

घायलों के नाम- सोबन सिंह, चालक विद्या सिंह, प्रियंका, पुलम सिंह, सुषमा व एक दो साल की बच्ची शामिल हैं। गंभीर घायलों को हेली से रेफर करने की तैयारी की जा रही है।

उत्तराखंड में गुजरात के तीर्थयात्रियों के साथ भीषण सड़क हादसा, नौ की मौत; पांच घायल

  • शुक्रवार शाम गंगोत्री राजमार्ग पर भागीरथी नदी में  गिर गया टेंपो ट्रेवलर, 1 माह में ही मार्ग में दूसरा बड़ा सड़क हादसा

उत्तरकाशी, 5 अक्टूबर 2018। शुक्रवार शाम गंगोत्री राजमार्ग पर सुनागर और भुक्की के बीच यात्री से भरा टेंपो ट्रेवलर भागीरथी नदी में  गिर गया। टेंपो ट्रेवलर वाहन के सीधे गंगा भागीरथी में डूबने की सूचना मिलते ही आला-अधिकारी मौके के लिए रवाना हो गए। हादसे में नौ यात्रियों की मौत हो गई जबकि पांच लोग गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। हादसे की सूचना पर प्रशासन,पुलिस और एसडीआरएफ की टीम मौके पर पहुंची पुलिस और राहत-बचाव में जुट गर्इ। बताया जा रहा है कि यात्री गुजरात के राजकोट के हैं। घायलों को नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया गया। बारिश के कारण शवों के रेस्क्यू में परेशानी हुुुई। दो घायलों को ही बचाया जा सका।

यह भी पढ़ें : पूर्व मंत्री और कांग्रेस नेता बेहड़ की इनोवा कार को बस ने मारी टक्कर, बेहड़ के साथ उनका गनर और ड्राइवर घायल

रुद्रपुर, 223 सितंबर 2018। उत्तराखंड के पूर्व मंत्री तिलक राज बेहड़ की इनोवा कार को रुद्रपुर में यूपी रोडवेज की एक बस ने टक्कर मार दी। हादसे में बेहड़ समेत तीन लोग घायल हो गए हैं। रविवार को रामपुर में पूर्व मंत्री और कांग्रेस नेता तिलक राज बेहड़ की इनोवा कार हादसे का शिकार हो गई। यहां एक बस ने कार को जोरदार टक्कर मार दी। हादसे में पूर्व मंत्री बेहड़ के साथ उनका गनर और ड्राइवर घायल हो गया। हादसा सुबह करीब 6 बजे का है। तीनों घायलों को फुटेला अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां उनका इलाज चल रहा है। बताया कि पूर्व मंत्री तिलक राज बेहड़ सुबह चार बजे दिल्ली के लिए निकले थे। रामपुर के सिविल लाइंस थाने में यूपी रोडवेज की कौशाम्बी डिपो के चालक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

यह भी पढ़ें : वाटरफाल में डूबे कानपुर के दो पर्यटक, एसडीआरएफ दूसरे दिन बरामद कर पाई शव

  • मुक्तेश्वर के निकट भालूगाड़ की घटना, राजस्व पुलिस व एसडीआरएफ टीम ने घंटों तलाश के बाद अधेरा घिरने के बाद रोका खोज अभियान
मुक्तेश्वर का भालूगाड़ वाटरफॉल

<

p style=”text-align: justify;”>दान सिंह लोधियाल, धानाचूली। बरसात के मौसम में अनजान जगह पर पानी में अधिक मस्ती कानपुर के 2 दोस्तों को भारी पड़ गयी। नैनीताल जिला मुख्यालय से करीब 30 किमी दूर धारी तहसील के गजार, चौखुटा, बुराशी ग्राम पंचायत के बीच में पड़ने वाले भालू गाड़ वाटरफाल के नीचे बचे ताल में दो पर्यटकों डूब गये हैं। राजस्व पुलिस व एसडीआरएफ की टीम ने ताल में घंटों तलाश के लिये अभियान चलाया, किंतु रात तक कोई सफलता हाथ नहीं लगी। आखिर अधेरा घिरने के बाद खोज अभियान को रोक दिया गया। इसके बाद गुरुवार को शुबह से ही फिर से खोज अभियान  चलाया गया, जिसके बाद दोनों के शव सुबह 9 बजे के करीब गहरे ताल से बरामद कर लिए गये।
प्राप्त जानकारी के अनुसार बुधवार अपराह्न करीब 2 बजे राजस्व पुलिस को दो लोगों के भालू गाड़ वाटरफाल में डूबने की सूचना मिली। इस पर एसडीएम रेखा कोहली व तहसीलदार नवाजिश खलीक अपनी टीम के साथ घटना स्थल पर पहुंचे और एनडीआरएफ के जवानों के साथ खोज व बचाव अभियान शुरू किया। एसडीएम रेखा कोहली ने बताया कि कानपुर के आठ युवकों का दल भालूगाड़ वाटरफाल घूमने आया था। इस दौरान संभवतया फोटो-सेल्फी खींचने के दौरान दो युवक-रोशननगर कल्याणपुर निवासी जुबेर उम्र 25 वर्ष पुत्र नईम थाना काकादेव कानपुर शिवम उम्र 20 वर्ष पुत्र नर्मदा पानी में डूब गये। इस पर उनके साथ के अन्य युवकों-मोहमद इरशाद उम्र 23 पुत्र शमशाद रोशननगर कानपुर, आर्यन उम्र 21 पुत्र तौफीक अहमद रोशन नगर कानपुर,शमशाद आलम उम्र 38 पुत्र बकाउल्ला रोशन, बबलू उम्र 37 पुत्र फारुख अहमद चमनगंज कानपुर, मो. फिरोज अली 35 पुत्र जाहिद अली सर्वोदय नगर कानपुर और अमर कुमार उम्र 23 जयप्रकाश आवास विकास ने शोर मचाकर मदद मांगी। करीब तीन घंटे के खोज बचाव अभियान के बावजूद दोनों का कुछ पता नहीं चल पाया है। आगे बृहस्पतिवार सुबह फिर से अभियान चलाया जाएगा। बताया गया है कि जुबेर टाइल लगाने और शिवम मोटर बाइंडिंग का काम करता था।

उल्लेखनीय है कि मुक्तेश्वर का भालूगाड़ वाटरफॉल एक हालिया नया विकसित प्राकृतिक पर्यटन स्थल है। यहां खासकर गर्मियों के मौसम में करीब 40 फिट ऊंचे पहाड़ों से नीचे छोटे से करीब 1000 वर्ग फिट आकार के छोटे से ताल में पानी के गिरने का नजारा बेहद मनमोहक में होता है। अलबत्ता, बरसात के मौसम में यह कितना खतरनाक हो सकता है, इसका आभाष इस घटना के बाद पहली बार ही हुआ है।

यह भी पढ़ें: भाजयुमो नेता की कार के एक्सीडेंट में चालक की मौत

दुर्घटना स्थल पर पहुंचे पुलिस कर्मी व दुर्घटनाग्रस्त कार।

नैनीताल, 22 जुलाई 2018। रविवार शाम करीब चार बजे मुख्यालय से करीब 10 किमी दूर सरियाताल से करीब 2 किमी दूर नैनीताल बाइपास पर एक कार करीब 50 फिट गहरी खाई में जा गिरी। कार भारतीय जनता युवा मोर्चा के प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य रवि दानू की थी। दुर्घटना में उनका रिश्ते का चचेरा भाई व कार चला रहा फौजी गंभीर रूप से घायल हुए। उधर हल्द्वानी के निजी अस्पताल में कार चला रहे दीपू उर्फ वीरेंद्र कुंवर की उपचार के दौरान मौत हो गई। दीपू कुमाऊं रेजीमेंट में तैनात थे और चार दिन पहले ही छुट्टियों पर घर आया था। अब इस मामले में दुर्घटना से ठीक पहले का एक वीडियो सामने आया है। लगता है कि घटना से ठीक पहले मृतक चालक सहित तीनों युवक पूरी मस्ती में थे, व गाने चलाते हुए संभवतया किसी से वीडियो चैट कर रहे थे।

देखिये दुर्घटना-मौत से ठीक पहले का वह आख़िरी लाइव वीडियो :

घटनाक्रम के अनुसार बाजपुर के बरहैनी निवासी तीन युवक दीपू कुंवर (28), दीप दानू (25) व संजय सिंह (22) पार्टी करने के लिए मारुति अल्टो कार संख्या यूके18एफ-9001 से नैनीताल आये थे। यहां वे बाईपास पर पार्टी करने के बाद लौट रहे थे, तभी कार अनियंत्रित होकर खाई में जा गिरी। दुर्घटना में कार चला रहे दीपू कुंवर व दीप दानू गंभीर रूप से तथा संजय सिंह मामूली रूप से घायल हो गये। स्थानीय लोगों ने गंभीर रूप से घायलों को खाई से निकालकर सूचना मिलने पर पहुंचे तल्लीताल थाने के एसआई दिलीप कुमार की मदद से उपचार के लिए हल्द्वानी भिजवाया। बाद में रवि दानू भी मौके पर पहुंच गये। बताया कि उनका रिश्तेदार दीप दानू कार मांगकर लाया था।

यह भी पढ़ें : कमिश्नर-डीआईजी हटाए, एआरटीओ-एसओ , एई सस्पेंड, दूरस्थ क्षेत्रों में 18 ICU बनाएंगे बलूनी

<

p style=”text-align: justify;”>रविवार 1 जुलाई को 48 लोगों की जान लेने वाली धुमाकोट बस दुर्घटना के बाद राज्य सरकार एक्शन मोड में आ गयी। एक ओर जहां मजिस्ट्रयल जांच के आदेश दे दिये गये हैं, वहीं गढ़वाल मंडल के आयुक्त दिलीप जावलेकर और सुबह देहरादून से चलने के बाद शाम तक घटनास्थल तक न पहुंच पाने वाले डीआईजी पुष्पक ज्योति को पद से हटा दिया गया है। पूर्व में नैनीताल के डीएम रहे और तीन दिन पूर्व ही शैक्षिक अवकाश से वापस लौटे वरिष्ठ आईएएस शैलेश बगौली को गढ़वाल मंडल का नया आयुक्त जबकि कुमाऊं के डीआईजी रह चुके अजय रौतेला को गढ़वाल मंडल का नया डीआईजी बनाया गया है। वहीं धुमाकोट के थाना प्रभारी और एआरटीओ के साथ ही लोनिवि के सहाहक अभियंता रविशंकर यादव को निलंबित कर दिया गया है। दुर्घटना में राहत पहुंचाने में इंकार-लेटलतीफी करने वाली हेली सेवा कंपनी को भी नोटिस भेजा जा रहा है।

इधर राज्य के नये राज्य सभा सदस्य अनिल बलूनी ने इस घटना से सबक लेते हुए एक अभिनव पहल का ऐलान किया है। इसके तहत वे अपने छह वर्ष के कार्यकाल में हर वर्ष अपनी निधि से प्रदेश के दूरस्थ क्षेत्रों में हर वर्ष 2-3 कर 18 तक आईसीयू का निर्माण करवाएंगे।
उधर बेहद गमगीन माहौल में मृतकों के परिजनों ने हरिद्वार, ऋषिकेश, रामनगर व अन्य घाटों पर अपने परिजनों का अंतिम संस्कार किया। प्रदेश के काबीना मंत्री सतपाल महाराज व पूर्व सीएम हरीश रावत भी इस दौरान हरिद्वार के खड़खड़ी घाट में दिवंगतों के परिजनों को सांत्वना देने पहुंचे। वहीं कई दिवंगतों के लिए उनके परिजनों को धुमाकोट की छोटी बाजार में कफन के लिए प्रयुक्त सफेद कपड़े के केवल चार थान ही उपलब्ध होने व उनके बिक जाने के बाद कफन भी नसीब न होने की दुःखद खबरें भी आ रही हैं।

उत्तराखंड में भीषण बस हादसे से पलायन का जख्म भी हुआ गहरा, गर्मियों की छुट्टियों के बाद गाँव से लौट रहे 48 मरे

-बस की छत-परखच्चे उड़े, नैनीडांडा के पिपली-भौन मोटर मार्ग पर हुई बस दुर्घटना में 61 यात्रियों से खचाखच भरी थी 28 सीटर बस, उत्तराखंड का दूसरा सबसे बड़ा बस हादसा बताया जा रहा

नैनीडांडा-धूमाकोट, 1 जुलाई 2018। उत्तराखंड के पौड़ी जिले की धूमाकोट विधानसभा के नैनीडांडा ब्लाक में एक बड़ी बस दुर्घटना हुई है। रविवार सुबह करीब 8:45 बजे नैनीडांडा के पिपली-भौन मोटर मार्ग पर हुई इस बस दुर्घटना में 61 यात्रियों से खचाखच भरी धूमाकोट के बमेड़ीसैंण से रामनगर को आ रही गढ़वाल यूजर्स मोटर को-आपरेटिव ट्रांसपोर्ट सोसाइटी लि. की 28 सीटर बस संख्या यूके12सी-0159 धूमाकोट से पहले चिनवाड़ी ग्राम पंचायत के क्वीन गांव के पास करीब 60 मीटर यानी लगभग 200 फिट गहरे संगुड़ी गधेरे यानी बरसाती नाले में गिर गई। दुर्घटना इतनी भीषण थी कि बस के परखच्चे क्या छत ही उड़ गई। इससे सभी यात्री इधर-उधर छिटककर हताहत एवं 42 मौके पर ही तथा कुल 48 लोग काल कवलित हो गए। तीन घायलों को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र धूमाकोट लाया गया था, जहाँ पर 3 की उपचार के दौरान मृत्यु हुई। मरने वालों में 16 महिलाएं, 22 पुरुष और 10 छोटे बच्चे शामिल हैं। बस हादसा पलायन के दर्द व जख्म को भी और अधिक गहरा गया है। हादसे के सभी मृतक स्‍थानीय लोग बताये गए हैं, साथ ही बताया गया है कि  दुर्घटना में मारे गये लोगों में से कई गर्मियों की छुट्टियां पूरी होने के बाद और कई गांव में आयोजित कुल देवताओं की एक दिन पूर्व ही पूजा करने के बाद प्रवास पर-काम पर लौट रहे थे। 12 घायलों को रामनगर व सुशीला तिवारी मेडिकल कॉलेज हल्द्वानी तथा एयरलिफ्ट कर जौलीग्रांट देहरादून व ऋषिकेश एम्स में भर्ती किया गया है। एसडीआरएफ की टीम ने भी पुलिस व प्रशासनिक कर्मियों के साथ राहत व बचाव कार्यों में योगदान दिया।

इससे पूर्व हादसे की खबर लगते ही करीब सात किमी दूर स्थित धूमाकोट बाजार से व्यापारी, ग्रामीण घटनास्थल की ओर दौड़ गए। धूमाकोट के नायब तहसीलदार तीरथ सिंह और एचएसओ धुमाकोट लक्ष्मण सिंह कठैत पुलिस बल के साथ सबसे पहले घटनास्थल पर पहुंचे, और उन्होंने स्थानीय लोगों के साथ घायलों को खाई से बाहर निकालकर धूमाकोट अस्पताल पहुंचाया। इधर नैनीताल के डीएम विनोद कुमार सुमन के आदेश पर एडीएम हरवीर सिंह, एसडीएम रामनगर पारितोष वर्मा व एएसपी हरिश्चंद्र सती घटना दुर्घटना स्थल के लिए रवाना हुए हैं।

प्रधानमंत्री, केन्द्रीय गृहमंत्री, राज्यपाल व मुख्यमंत्री ने जताया दुःख, मुख्यमंत्री पहुंचे घटनास्थल

https://twitter.com/Narendramodi_PM/status/1013337746516004864?s=19

हादसे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट करके अपनी संवेदनाएं व्यक्त की हैं। उन्होंने कहा कि ‘उत्तराखंड के पौड़ी-गढ़वाल में बस दुर्घटना से बेहद दुखी हूं। शोकग्रस्त परिवारों के साथ मेरी गहरी संवेदना है। मैं प्रार्थना करता हूं कि जल्द ही घायलों के स्वास्थ्य में सुधार हो। बचाव अभियान चल रहे हैं और अधिकारी दुर्घटना स्थल पर सभी संभावित सहायता प्रदान कर रहे हैं।’  शाम करीब पौने पांच बजे मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत भी हेलीकॉप्टर से मरचूला-रामनगर होते हुए सड़क मार्ग से धुमाकोट पहुंचे। उन्होंने घटना पर गहरा दुख जताते हुए मृतकों के परिजनों ढांढस बंधाया, और दुर्घटना में मृतकों के आश्रितों को 2-2 लाख तथा घायलों को 50-50 हजार रुपए की आर्थिक सहायता राशि अविलम्ब उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह जी को भी फोन पर दुर्घटना के बारे मे अवगत कराया, और गृहमंत्री ने मदद का भरोसा दिया। राज्यपाल केके पॉल ने भी हादसे पर शोक व्यक्त किया है।

यह भी पढ़ें: युवा कुमाउनी लोक गायक पप्पू कार्की भीषण सड़क हादसे में काल कवलित, सीएम ने दी श्रद्धांजलि

नैनीताल जनपद में शनिवार 9 मई की सुबह हुए एक बेहद भीषण व दुःखद सड़क हादसे में देश-दुनिया में प्रतिष्ठा पा चुके युवा, मात्र 34 वर्षीय कुमाउनी लोक गायक प्रवेंद्र सिंह कार्की उर्फ पप्पू कार्की पुत्र किशन सिंह निवासी गोरापड़ाव की मौत हो गई। दुर्घटना में दो अन्य युवा भी काल कवलित हो गये, जबकि अन्य 2 युवा जख्मी हुए हैं। यह सभी लोग हैड़ाखान आश्रम के पास स्थित ग्राम गौनियारो में चल रही रामलीला में बीती रात्रि अपनी प्रस्तुति देकर हल्द्वानी लौट रहे थे। इस दौरान ही उनकी ईओन कार हैड़ाखान रोड पर मुड़कुड़िया के पास अनियंत्रित होकर ऊपर की सड़क से लुड़कती हुई नीचे की सड़क तक आ कर बुरी तरह से दुर्घटनाग्रस्त हो गयी।

दुर्घटनाग्रस्त कार

हादसे में पप्पू कार्की के अलावा गौनियारो गांव निवासी राजेंद्र गौनिया (31) और पुष्कर सिंह (33) पुत्र उत्तम सिंह की भी मौके पर ही मौत हो गई, जबकि लोक कलाकार अजय आर्य (25) पुत्र भुवन प्रकाश आर्य निवासी चोरपानी नैनीताल और जुगल किशोर पंत (25) निवासी करायल छड़ायल हल्द्वानी घायल हो गये। उन्हें स्थानीय लोगों ने 108 एंबुलेंस सेवा की मदद से हल्द्वानी के अस्पताल लाया गया।

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने ट्वीट करके पप्पू के निधन पर शोक व्यक्त किया है। उन्होंने ट्वीट करके लिखा- ‘कुमाऊं के प्रसिद्ध युवा लोकगायक पप्पू कार्की की असमय मृत्यु का अशुभ समाचार सुनकर धक्का लगा। ईश्वर से उनकी आत्मा को शांति व परिजनों को संबल प्रदान करने की कामना करता हूं।’

View this post on Instagram

Dubai show

A post shared by Pappu Karki (@pappu.karki) on

उल्लेखनीय है कि मूलतः पिथौरागढ़ जिले के थल-पांखू के बीच सेलाबन पट्टी पुंगराऊं निवासी पप्पू कार्की दुबई सहित विदेशों में भी कुमाउनी लोक गीतों की प्रस्तुतियां दे चुके थे। नैनीताल निवासी उनके रिश्तेदार चंद्रशेखर कार्की ने कहा कि उन्होंने एक दूरस्थ गांव का नाम दुनिया में रोशन किया था। आगे उनसे बहुत उम्मीदें थीं, लेकिन असमय काल ने उन्हें छीन लिया। पप्पू अपने पीछे पत्नी व चार वर्षीय पुत्र सहित भरा-पूरा परिवार रोता-बिलखता छोड़ गये हैं, जबकि उनके चाहने वालों में भी शोक की लहर है।

यह भी पढ़ें: नींद के झोंके से ‘लैंड्स इंड’ से हजारों फिट गहरी खाई में समाने से बचीं 25 जिंदगियां

<

p style=”text-align: justify;”>-दिल्ली को जाने वाली रामनगर डिपो की बस चालक के कल पूरे दिन व पूरी रात चलने के बाद हुई दुर्घटनाग्रस्त
-चालक ने होशियारी दिखा सड़क पर ही पलटाई बस, अन्यथा घटना की भयावहता की कल्पना करना भी होता कठिन

नैनीताल, 26  मई 2018। । शनिवार की सुबह दैवयोग से काली होने से बच गयी। सुबह सात बजे के करीब नैनीताल के सूखाताल से कालाढुंगी रोड पर दिल्ली के लिए निकली बस नगर से करीब 5 किमी दूर ही सड़क पर पलट गयी। गंभीर बात यह है कि हादसा बस चालक को नींद का झोंका आने से हुआ। चालक शुक्रवार सुबह 11 बजे रामनगर से दिल्ली जाकर और रात भर बस चलाकर सुबह नैनीताल पहुंचने के बाद फिर सुबह बस लेकर लौट रहा था। गनीमत रही और बस चालक ने आखिरी पलों में होशियारी व सक्रियता दिखाकर बस को ‘लैंड्स इंड’ के निचले वाले मोड़ पर पहाड़ी की ओर टकरा दिया, इससे बस सड़क पर ही पलट गयी, अन्यथा बस का हजारों फिट गहरी खाई में जाना निश्चित था, और ऐसे में बस में सवार 23 सवारियों एवं दो बस चालक-परिचालक का क्या होता व दुर्घटना की कैसी भयावहता होगी, उसकी कल्पना करना भी कठिन है। घटना में तीन महिलाएं चोटिल हुई हैं।
प्राप्त जानकारी के अनुसार रोडवेज के रामनगर डिपो (बस में पूर्व का भवाली डिपो ही अंकित है) की रोडवेज बस संख्या यूके07पीए-3252 सुबह सात बजे से सूखाताल से दिल्ली के लिए चली बस सवा सात बजे के करीब ही सड़क पर पलटकर दुर्घटनाग्रस्त हो गयी। दुर्घटना में दो बहनें स्नेहा (16) व सोनाली (19) पुत्री चंद्रशेखर निवासी बी-1/80 डीएलएफ कॉलोनी साहिबाबाद गाजियाबाद तथा नगर के पॉपुलर कंपाउंड निवासी दीपा जोशी (35) पत्नी पंकज जोशी घायल हुईं। मल्लीताल थाने के एसआई पूरन सिंह मर्तोलिया व बारापत्थर चौकी के आरक्षी ललित व अन्य कर्मियों ने बस का पिछला शीशा तोड़कर घायलों को बाहर निकाला। बस को रोहित कुमार चला रहा था, जबकि परिचालक विजय सिंह था।

रात-दिन लगातार चलना रहा दुर्घटना का कारण

नैनीताल। उल्लेखनीय है कि सूखाताल से दिल्ली की यह बस सूखाताल से सुबह सात बजे चलती है, करीब साढ़े नौ बजे रामनगर पहुंचती है। वहां से इसे एक नया ड्राइवर करीब 11 बजे लेकर दिल्ली के लिए चलता है। शाम करीब 6-6.30 बजे लगातार चल कर बस दिल्ली पहुंचती है, और वहां करीब 1-1.30 घंटे आराम के बाद ही रात्रि आठ बजे यही ड्राइवर इसे लेकर लेकर नैनीताल के लिए चलता है, और पूरे दिन के बाद पूरी रात्रि चलकर सुबह करीब 4 बजे नैनीताल पहुंचता है, और 2-3 घंटे के ही आराम के बाद उसे यह बस फिर से रामनगर ले जानी होती है। समझना आसान है कि इतनी लंबी यात्रा में चालक थका हुआ व नींद के झोंके में होता है, इसलिए बस को तेज भी चलाता है। इस बस के हमेशा तेज चलने की शिकायत भी आती रहती है। आज भी यह बस काफी तेज गति में बताई गयी है। इसी कारण बीते नवंबर माह में भी यहीं बस दिल्ली से आते हुए बारापत्थर के पास दुर्घटनाग्रस्त हो गयी थी।

यह भी पढ़ें : रात भर दिल्ली से चले चालक को झपकी आने से नाले में गिरी सैलानियों की कार

-दैवयोग से बची दो परिवारों की जान

रविवार को रूसी नाले में पुलिया से नीचे गिरी कार।

नैनीताल, 13 मई 2018। दिल्ली से रात भर चलकर नैनीताल आ रहे दिल्ली के सैलानियों की वैगनआर संख्या डीएल एससीपी-3575 रविवार सुबह तड़के करीब सात बजे चालक को झपकी आ जाने की वजह से शहर से पांच किमी पहले हल्द्वानी रोड पर अनियंत्रित होकर रूसी नाले की पुलिया सेे नीचे जा गिरी। हादसे में दो परिवारों के आधा दर्जन लोग घायल हो गए। दुर्घटना में कार चला रहे कमल चावला पुत्र हेमराज निवासी सी-138 डीडीए फ्लैट जहांगीर पुरी पंजाबी बाग दिल्ली, उनकी पत्नी 26 वर्षीय दीपिका व 11 वर्षीय बेटी जाह्नवी तथा उनके पड़ोसी 40 वर्षीय सुरजीत व सुरजीत की पत्नी 32 वर्षीय शशि तथा 11 वर्षीय बेटा इशांत घायल हो गए। गनीमत रही कि कार कम गहराई में गिरकर ही अटक गई, अन्यथा हादसा अधिक भयावह हो सकता था। सूचना मिलने पर मौके पर पहुंचे प्रभारी थानाध्यक्ष मनवर सिंह, आरक्षी राजा राम, उमेश सती व अन्य ने मौके पर पहुंचकर घायलों को आपातकालीन 108 एंबुलेंस के माध्यम से बीडी पांडेय अस्पताल लाकर उपचार कराया गया। सभी घायल खतरे से बाहर बताए जा रहे हैं। बताया गया कि दोनों परिवार रात्रि 12 बजे के आसपास चले थे, और रात भर चलते रहे थे।

यह भी पढ़ें : बागेश्वर के दो वाहन सवारों के लिए अमंगलकारी साबित हुई मंगलवार की सुबह, एक की मौत, 9 घायल

<

p style=”text-align: justify;”>

नैनीताल, 17 अप्रैल 2018। हल्द्वानी रोड पर आमपड़ाव के पास मंगलवार की सुबह दो वाहनों के लिए अमंगलकारी साबित हुई। यहां एक ट्रक व जीप में आमने-सामने की जोरदार टक्कर के बाद दोनों वाहन खाई में जा गिरे। दुर्घटना में ट्रक चालक की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि जीप चालक सहित जीप में सवार नौ लोगों को चोटें आई हैं। सभी को 108 आपातकालीन सेवा की मदद से हल्द्वानी ले जाया गया है। खास बात यह है कि दोनों वाहनों में सवार सभी लोग बागेश्वर जिले के निवासी हैं।
घटनाक्रम के अनुसार मंगलवार सुबह ट्रक संख्या यूके04सीए-5479 बागेश्वर से खड़िया लेकर हल्द्वानी और मैक्स जीप संख्या यूके02टीए-0978 हल्द्वानी से बेरीनाग जिला बागेश्वर की 8 सवारियों को लेकर जा रही थी। सुबह करीब साढ़े छह बजे ‘भट्ट जी का भुट्टा’ के लिए प्रसिद्ध मटियाली बैंड मोड़ पर संभवतया ट्रक के ब्रेक फेल हो जाने के बाद चालक किशन सिंह गड़िया (42) पुत्र हयात सिंह गड़िया निवासी ग्राम पोथिंग कपकोट, जिला बागेश्वर ट्रक पर नियंत्रण नहीं रख पाया, और ट्रक अनियंत्रित होकर सामने से आ रही जीप से टकराकर उसे लेकर करीब 12 फिट गहरी खाई में जा गिरा। दुर्घटना में ट्रक चालक ट्रक के भीतर कुचल गया, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गयी। अलबत्ता, दोनों वाहन नीचे घूमकर आ रही रोड से पहले ही दैवयोग से ऊपर पेड़ पर अटक गए, जिस कारण जीप सवार लोग बाल-बाल बच गये। मौके पर दल-बल के साथ पहुंचे ज्योलीकोट चौकी प्रभारी मनवर सिंह ने घायल जीप चालक ग्राम महरोड़ी जिला बागेश्वर निवासी मोहन जोशी (35) पुत्र बच्ची राम जोशी, इसी गांव के हेमंत सिंह (62) पुत्र पान सिंह, उनकी पत्नी पार्वती देवी (60) के साथ ही ग्राम वनतोला बेरीनाग निवासी गीता कठैत (33) पुत्री खीम सिंह, उसका भाई पवन सिंह (24 ग्राम मदगांव कमेड़ीदेवी निवासी उमेश रावत (21) पुत्र खुशाल रावत व उनके भाई चंचल सिंह (24) तथा हुकुम सिंह (42) पुत्र पान सिंह, जीतेंद्र रावत (23) पुत्र दीवान रावत तथा ग्राम लोहाथल बेरीनाग निवासी बलवंत सिंह (21) पुत्र प्रकाश सिंह को खाई से निकालकर 108 की मदद से हल्द्वानी भिजवाया और मृतक के शव को पंचनामा भरकर परिजनों को सूचित किया, तथा बाद में पोस्टमार्टम कराकर शव परिजनों के सुपुर्द कर दिया।

नवीन समाचार

मेरा जन्म 26 नवंबर 1972 को हुआ था। मैं नैनीताल, भारत में मूलतः एक पत्रकार हूँ। वर्तमान में मार्च 2010 से राष्ट्रीय हिन्दी दैनिक समाचार पत्र-राष्ट्रीय सहारा में ब्यूरो चीफ के रूप में कार्य कर रहा हूँ। इससे पहले मैं पांच साल के लिए दैनिक जागरण के लिए काम कर चुका हूँ। कुमाऊँ विश्वविद्यालय के पत्रकारिता एवं जनसंचार विभाग से ‘नए मीडिया’ विषय पर शोधरत हूँ। फोटोग्राफ़ी मेरा शौक है। मैं NIKON COOLPIX P530 और अडोब फोटोशॉप 7.0 के साथ फोटोग्राफी कर रहा हूँ। फोटोग्राफी मेरे लिए दुनियां की खूबसूरती को अपनी ओर से चिरस्थाई बनाने का बहुत छोटा सा प्रयास है। एक फोटो पत्रकार के रूप में मेरी तस्वीरों को नैनीताल राजभवन सहित विभिन्न प्रदर्शनियों में प्रस्तुत किया गया, तथा उत्तराखंड की राज्यपाल श्रीमती मार्गरेट अलवा द्वारा सम्मानित किया गया है। कुछ चित्रों को राष्ट्रीय-अंतर्राष्ट्रीय पुरस्कार भी प्राप्त हो चुके हैं। गूगल अर्थ पर चित्र उपलब्ध कराने वाली पैनोरामियो साइट पर मेरी प्रोफाइल को 18.85 Lacs से भी अधिक हिट्स प्राप्त हैं।पत्रकारिता और फोटोग्राफी के अलावा मुझे कवितायेँ लिखना पसंद है। काव्य क्षेत्र में मैंने नवीन जोशी “नवेन्दु” के रूप में अपनी पहचान बनाई है। मैंने बहुत सी कुमाउनी कवितायेँ लिखी हैं, कुमाउनी भाषा में मेरा काव्य संकलन उघड़ी आंखोंक स्वींड़ प्रकाशित हो चुका है, जो कि पुस्तक के के साथ ही डिजिटल (PDF) फार्मेट पर भी उपलब्ध होने वाली कुमाउनी की पहली पुस्तक है। मेरी यह पुस्तक गूगल एप्स पर भी उपलब्ध है। ’ यहां है एक पत्रकार, लेखक, कवि एवं छाया चित्रकार के रूप में मेरी रचनात्मकता, लेख, आलेख, छायाचित्र, कविताएं, हिंदी-कुमाउनी के ब्लॉग आदि कार्यों का पूरा समग्र। मेरी कोशिश है कि यहां नैनीताल, कुमाऊं, उत्तराखंड और वृहद संदर्भ में देश की विरासत, संस्कृति, इतिहास और वर्तमान को समग्र रूप में संग्रहीत करने की….। मेरे दिल में बसता है, मेरा नैनीताल, मेरा कुमाऊं और मेरा उत्तराखंड

5 thoughts on “ब्रेकिंग : मुक्तेश्वर के पास नैनो कार गिरी खाई में, एक स्थानीय व्यक्ति की मौत, दूसरा हुआ घायल…

Comments are closed.

Next Post

अटल जी के बाद अब RSS के पूर्व सरसंघचालक के नाम पर हुआ कुमाऊं विवि का एक संस्थान...

Wed Sep 4 , 2019
यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये      Share on Facebook Tweet it Share on Google Email https://navinsamachar.com/accident/#YWpheC1sb2FkZXI -आरएसएस के पूर्व सरसंघचालक को समर्पित हुआ नैनीताल स्थित देश के अनूठे नैनो साइंस और टेक्नोलॉजी सेंटर https://navinsamachar.com/accident/#cGljLmpwZw== नवीन समाचार, नैनीताल, 3 सितंबर 2019। बीते पखवाड़े डीएसबी परिसर स्थित पत्रकारिता एवं जनसंचार […]
Loading...

Breaking News