News

होटल में चल रहे सैक्स रैकेट का खुलासा, तीन जोड़ों सहित होटल के मैनेजर व कर्मी भी गिरफ्तार

समाचार को यहाँ क्लिक करके सुन भी सकते हैं

Sex Racket Expose In Uttarakhand - उत्तराखंड में एक और सेक्स रैकेट का  खुलासा, दस लड़कियां रेस्क्यू - Amar Ujala Hindi News Liveनवीन समाचार, नैनीताल, 12 जनवरी 2022। लक्सर कोतवाली पुलिस ने क्षेत्र के एक होटल में चल रहे सेक्स रैकेट का खुलासा करते हुए एक होटल से देह व्यापार में संलिप्त तीन जोड़ों को गिरफ्तार किया गया है। होटल मालिक मौका देखकर फरार हो गया है। पुलिस ने होटल को सील कर आरोपितों के खिलाफ अभियोग पंजीकृत कर उसकी तलाश प्रारंभ कर दी है।

बताया गया है कि पुलिस ने लक्सर कोतवाली क्षेत्र की सुल्तानपुर चौकी पुलिस ने ग्रामीणों की सूचना पर मोहम्मदपुर कुन्हारी स्थित प्रिंस होटल में छापेमारी की। इस दौरान तीन महिलाओं सहित छह लोगों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार किए गए लोगों में होटल मैनेजर अफजाल और होटल कर्मचारी वीरेंद्र भी शामिल हैं। पुलिस गिरफ्तार महिला और पुरुषों से पूछताछ कर इस गिरोह में शामिल अन्य लोगों का पता लगाने का प्रयास कर रही है। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : न्यू इयर सेलीब्रेशन के लिए भेजी जा रही थीं कॉल गर्ल्स, एएचटीयू ने किया खुलासा

Sex Racket Busted In Raipur, 4 North East Girls Caught In Raid - स्पा में  चल रहा था सेक्स रैकेट, गिरफ्तार कॉल गर्ल्स में नॉर्थ ईस्ट की 4 लड़कियां भी  शामिल | Patrika Newsनवीन समाचार, देहरादून, 27 दिसंबर 2021। पुलिस ने नव वर्ष के स्वागत के लिए राज्य में जुट रहे सैलानियों के बीच एक सेक्स रैकेट का खुलासा किया है। पुलिस का दावा है कि देहरादून से मसूरी में नए वर्ष के स्वागत के लिए आ रहे सैलानियों को परोसने के लिए कॉल गर्ल्स ले जाई जा रही थीं। इन लड़कियों को नौकरी के नाम पर सेक्स के कारोबार में धकेला गया था। आरोपित ह्वाट्सएप के माध्यम से यह सैक्स रैकेट चला रहे थे। नए वर्ष के मौके पर यह धंधा चमकाने और माहौल को दूषित करने की कोशिश तेज हो गई है।

राजपुर पुलिस और एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट (एएचटीयू) की टीम को बीती रात सूचना मिली कि वेश्यावृत्ति में शामिल आरोपित लड़कियों को मसूरी ले जा रहे हैं। इस पर पुलिस ने मसूरी बाईपास रोड पर चेकिंग शुरू कर एक कार में सवार दो युवकों और चार युवतियों को आपत्तिजनक सामग्री के साथ पकड़ा। पूछताछ के दौरान आरोपितों ने अपने नाम राहुल पाटिल पुत्र गोकुल प्रसाद निवासी वाल्मीकि बस्ती मूल निवासी प्रतापगढ़ कुंडा यूपी और राहुल कुमार पुत्र रामेश्वर कुमार निवासी ब्रह्मपुरी हरिद्वार मूल निवासी हरिपुरम सोसायटी पिट्ठूवाला चंद्रबनी पटेलनगर बताया।

पूछताछ में लड़कियों ने बताया कि राहुल पाटिल ने उन्हें नौकरी दिलाने के बहाने दून बुलाया था और उनकी गरीबी का फायदा उठाते हुए सेक्स के कारोबार में धकेल दिया। दोनों ऐसी लड़कियों की तलाश में रहते हैं जो गरीब घर की होती है और जिन्हें पैसे की जरूरत होती है। 2018 में में आरोपित राहुल पाटिल को अवैध देह व्यापार करते गिरफ्तार किया जा चुका है और इसके बाद भी आरोपियों ने इस कारोबार को नहीं छोड़ा। वह वाट्सएप के जरिए ग्राहकों को लड़कियो की फोटो दिखाकर यह धंधा चलाता है। चारों लड़कियां झारखंड, पंजाब और दिल्ली की रहने वाली हैं और आरोपी उन्हें नए साल के लिए दिल्ली से लेकर आए थे। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : राहगीरों को अश्लील इशारे करती चार महिलाएं गिरफ्तार..

sex racket busted in bhopal 9 arrested - सेक्स रैकेट : लड़कियों को जॉब ऑफर  कर कराते थे जिस्मफरोशी का धंधा, 9 अरेस्ट 2नवीन समाचार, हरिद्वार, 13 दिसंबर 2021। देवभूमि उत्तराखंड की धर्म नगरी हरिद्वार देह व्यापार का गढ़ बनती जा रही है। यहां महिलाएं खुद राहगीरों को अश्लील इशारे कर होटल-गेस्ट हाउसों में ले जा रही हैं, और वहां उनके साथ जिस्मफरोशी करती हैं। पुलिस नेऐसी ही 4 महिलाओं को गिरफ्तार किया है।

बताया गया है कि यह महिलाएं रेलवे स्टेशन के आसपास राहगीरों को अश्लील इशारे कर अपने पास बुला रही थीं। मुखबिर की सूचना पर मायापुर चौकी प्रभारी संतोष सेमवाल ने महिला आरक्षी मोनिका और दीपमाला को साथ लेकर रेलवे स्टेशन के पास छापेमारी की तो चार महिलाएं राहगीरों की तरफ अश्लील इशारे करती नजर आईं। इस पर पुलिस ने महिलाओं को गिरफ्तार कर लिया। पकड़ी गई महिलाएं ज्वालापुर, भूपतवाला और सहारनपुर की रहने वाली हैं। महिलाओं के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उन्हें कोर्ट में पेश किया गया है।

बताया गया है कि हरिद्वार में रेलवे स्टेशन के आसपास कई होटल और गेस्ट हाउस सिर्फ जिस्मफरोशी के भरोसे चल रहे हैं। महिलाएं खुद ग्राहकों को होटल व गेस्ट हाउस में ले जाती हैं। कई बार गेस्ट हाउस संचालक भी कमीशन पर उन्हें बुलाते हैं। ऐसे होटलों और गेस्ट हाउस संचालकों के खिलाफ पुलिस कार्रवाई नहीं कर रही। इस पर लगातार सवाल उठ रहे हैं। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : उत्तराखंड में सेक्स की मंडी में नया शगल, एस्कॉर्ट सर्विस के नाम पर सेक्स वेबसाइटों से चल रहा धंधा, फिर पकड़ा गया एक और सेक्स रैकेट

नवीन समाचार, रुद्रपुर, 17 नवंबर 2021। जी हां, उत्तराखंड में सेक्स की मंडी में नया शगल चल रहा है। यहां एस्कॉर्ट सर्विस के नाम पर सेक्स वेबसाइटों से लोगों को लड़कियां उपलब्ध कराई जा रही हैं। वेबसाइटों पर लड़कियों के नंबर भी उपलब्ध हैं। यहां से उनसे बात कर ऑनलाइन भुगतान कर उन्हें जहां चाहे वहां बुलाया जा सकता है। अच्छी बात है कि इधर पुलिस भी इस मामले में सक्रिय है, और लगातार सेक्स रैकेटों का खुलासा कर रही है।
हाईप्रोफाइल सेक्स रैकेट का खुलासा, अच्छी नौकरी देने के नाम पर बुलायी  लड़कियां

इधर, एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग सेल ने ऊधमसिंह नगर जनपद में चल रहे सेक्स रैकेट का पर्दाफाश किया है। आरोपी एस्कॉर्ट सर्विस नाम वेबसाइट के जरिए ऑनलाइन सेक्स रैकेट चला रहे थे। टीम ने दो युवक और दो युवतियों को ऑल्टो कार, स्कूटी और बाइक तथा अन्य आपत्तिजनक सामग्री के साथ गिरफ्तार किया है, और उनके विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर कानूनी कार्रवाई प्रारंभ कर दी गई है।

पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार ऊधमसिंह नगर और नैनीताल जनपदों के अलग-अलग कस्बों में एस्कॉर्ट सर्विस नाम से सेक्स रैकेट चलाया जा रहा था। इसके लिए वेबसाइट पर बकायदा कॉल गर्ल्स के नंबर दिए गए हैं। जिन पर संपर्क करने वाले लोगों से गूगल पे, फोन पे पेटीएम सहित ऑनलाइन पेमेंट एप के जरिए पेमेंट लेकर लड़कियां उपलब्ध कराई जाती हैं।

टीम ने रुद्रपुर और आसपास के इलाकों में इन नंबरों पर पड़ताल की तो तीन नंबर चलते हुए पाए गए। इसके बाद टीम ने मुखबिर की सूचना पर जयनगर थाना दिनेशपुर क्षेत्र में एक घर पर छापेमारी की तो मौके पर अनैतिक कार्य चलता हुआ मिला। टीम ने मौके से दलीप और बलराम सहित दो युवतियों को गिरफ्तार किया। जबकि गिरोह का सरगना सूरज विश्वास निवासी लक्खीपुर थाना दिनेशपुर मौके से भाग गया।
आरोपितों द्वारा मौके पर एक युवती से भी अनैतिक कार्य करवाया जा रहा था। युवती का मेडिकल परीक्षण कर उसे परिजनों के सुपुर्द कर दिया गया। पूछताछ में आरोपित बलराम मंडल ने बताया कि पकड़े गये वाहनों की मदद से अनैतिक कार्यों को करने के लिए लड़कियों को ग्राहकों के पास छोड़ा जाता था। देह व्यापार से कमाये पैसे में 50-50 प्रतिशत का बंटावारा होता था। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : उत्तराखंड में लगातार दूसरे दिन एक और सैक्स रैकेट का खुलासा

नवीन समाचार, देहरादून, 16 नवंबर 2021। उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में लगातार दूसरे दिन एक और सेक्स रैकेट का खुलासा हुआ है। पुलिस ने अब शहर के विकासनगर के लेहमन पुल हरबर्टपुर में देह व्यापार में संलिप्त दो आरोपितों को गिरफ्तार किया है, और उनके चंगुल से तीन पीड़ित युवतियों को छुड़ाया है। जबकि उनका एक साथी भागने में कामयाब रहा है।

High Profile Sex Racket Brothel Racket Busted In Lucknw - हाईप्रोफाइल सेक्स  रैकेट का पर्दाफाश, युवतियों संग अंतरंग मिले व्यापारी, अंदर का नजारा देख  पुलिस भी चौंकी ...बताया गया है कि पकड़े गए आरोपित लड़कियों को नौकरी का झांसा देकर और उनकी गरीबी का फायदा उठाकर उन्हें अनैतिक देह व्यापार के धंधे में लगा देते थे। उनके पास से आपत्तिजनक सामग्री भी बरामद हुई है। पकड़े गए आरोपितों ने अपने नाम मुकर्रम उर्फ मोनू पुत्र रमजान निवासी ग्राम जीवनगढ़, थाना विकास नगर, जनपद देहरादून व अक्षय कुमार पुत्र पप्पू कुमार निवासी ग्राम सट्टा रसूलपुर, शामली, उत्तर प्रदेश बताए हैं, जबकि राजकुमार पुत्र शिव कुमार महतो निवासी बाल्मीकि बस्ती, विकासनगर, देहरादून मामले में वांछित है।

पुलिस टीम में प्रभारी निरीक्षक कोतवाली विकासनगर प्रदीप बिष्ट, महिला उपनिरीक्षक अनीता नेगी, हेड कांस्टेबल महेंद्र सिंह, आरक्षी धर्मेंद्र, नरेश, रचना, मनवीर व मोनू कुमार शामिल रहे। (डॉ. नवीन जोशी) अन्य नवीन समाचार पढ़ने को यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : बड़े सैक्स रैकेट का खुलासा: फ्लैट से दूसरे राज्यों-दूसरे देशों की 11 महिलाएं व तीन पुरुष गिरफ्तार, वेबसाइट से चलता था देह व्यापार का धंधा

To curb sex racket, cops keep an eye on hotels, lodges in Pimpri-Chinchwad  region - Indian Expressनवीन समाचार, देहरादून, 15 नवंबर 2021। राजधानी की पटेलनगर पुलिस ने देहराखास के टीएचटीसी कॉलोनी में एक फ्लैट में चल रहे अनैतिक देह व्यापार का खुलासा करते हुए 11 महिलाओं और तीन पुरुषों को गिरफ्तार किया है। बताया गया है कि इस देह व्यापार कांड का संचालक राजीव महिलाओं को न केवल उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल, उड़ीसा व दिल्ली आदि भारत के विभिन्न राज्यों से वरन भूटान, बांग्लादेश आदि से बुलाकर रखता था। ग्राहकों से संपर्क करने के लिए संचालक की ओर से ‘दून स्कॉट सर्विस’ के लिंक और नंबर वेबसाइट स्कोका डॉट कॉम पर दे रखे थे। ग्राहकों को वह फ्लैट के साथ ही देहरादून व अन्य पर्यटक स्थलों के होटलों में बड़ी रकम लेकर लड़कियां सप्लाई करता था।

पटेलनगर कोतवाल देवेंद्र चौहान ने पत्रकारों को बताया कि उन्हें काफी समय से देहराखास स्थित टीएचडीसी कॉलोनी में एक फ्लैट में अनैतिक देह व्यापार के संचालन की जानकारी मिल रही थी। इसकी जानकारी देकर शनिवार रात फ्लैट में दबिश दी गई। दबिश के दौरान एक कमरे में दो महिला व दो पुरुष आपत्तिजनक स्थिति में एवं दूसरे कमरे में छह महिलाएं मिलीं।

महिलाओं ने बताया कि वह अलग-अलग राज्यों से देह व्यापार करने के लिए देहरादून आई हैं। वह संचालक के कहने पर ग्राहकों से फ्लैट के साथ ही अलग-अलग होटलों में जाती थीं। ग्राहकों से जितनी कीमत मिलती है, उसका आधा हिस्सा संचालक लेता था और बाकी उन्हें दिया जाता है। संचालक ही उन्हें ग्राहकों से मिलाता है और पैसे का लेन-देन करता है। इस मौके पर पुलिस को भारी मात्रा में आपत्तिजनक सामग्री भी मिली है। (डॉ. नवीन जोशी) अन्य नवीन समाचार पढ़ने को यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : योग गुरु बाबा रामदेव के फोटो लगातार बेची जा रही हैं सेक्सवर्धक दवाइयां, पुलिस ने पकड़ीं छोटी मछलियां….

sex power medicine for man: क्या Sex पावर की दवा इस्तेमाल करने के बाद उसे  बंद करने पर उत्तेजना में कमी हो जाती है? - sex power medicine for man |  Navbharat Timesनवीन समाचार, हरिद्वार, 13 नवंबर 2021। योग गुरु स्वामी रामदेव की फोटो लगाकर नकली सेक्स वर्धक दवाएं बेचने का मामला प्रकाश में आया है। इस मामले में पुलिस ने गिरोह के दो सदस्यों को उत्तर प्रदेश के आगरा से गिरफ्तार किया है। आरोपितों के कब्जे से काफी सामान भी बरामद हुआ है। पुलिस ने आरोपितों को हरिद्वार न्यायालय में पेश कर जेल भेज दिया है। वास्तव में पुलिस ने आरोपित कंपनी के सिर्फ दो कर्मचारियों को पकड़ा है। कंपनी का मालिक व अन्य बड़े पदों पर कार्यरत कोई भी व्यक्ति पुलिस के हत्थे अभी नहीं चढ़े हैं। अबलत्ता पुलिस का दावा है कि उनकी तलाश कर रही है।

गिरफ्तार आरोपीएसएसपी डॉ. योगेंद्र सिंह रावत ने शनिवार को बताया कि 28 जुलाई 2021 को दिव्य योग मंदिर पतंजलि फेस-1 के प्रतिनिधि राजू वर्मा ने बहादराबाद थाने में शिकायती पत्र देकर मुकदमा दर्ज कराया था कि अश्लील वेबसाइटों पर संचालित होने वाले विज्ञापनों में सेक्स वर्धक दवा बेचने के लिए योग गुरु स्वामी रामदेव के चित्र का प्रयोग किया जा रहा है। मामले की जांच रानीपुर कोतवाल कुंदन सिंह राणा को सौंपी गई थी। छानबीन के बाद उन्होंने इलेक्ट्रानिक सर्विलांस, सीडीआर लोकेशन के बाद यूपी के आगरा के सिकंदरा थाना क्षेत्र की नीरव निकुंज कॉलोनी में चल रहे कॉल सेंटर में छापेेमारी की, ओर आकाश शर्मा निवासी सेक्टर-8, मकान नंबर 1048, आवास-विकास कॉलोनी निकट सेंट्रल जेल, थाना जगदीशपुरा, आगरा और सतीश कुमार निवासी किशोरपुरा, थाना जगदीशपुरा, आगरा को गिरफ्तार कर लिया।

पकड़े गए आरोपितों ने पूछताछ में बताया कि गिरोह का सरगना गजेंद्र यादव निवासी ग्राम बाईपुर थाना सिकंदरा है। वह हाल ही में अपने गांव से प्रधान पद का प्रत्याशी भी रहा था। रानीपुर कोतवाल कुंदन सिंह राणा ने बताया कि कंपनी के मालिक यानी गिरोह के सरगना गजेंद्र यादव निवासी ग्राम बाईपुर, थाना सिकंदरा, जनपद आगरा की तलाश की जा रही है। कंपनी में दिलीप यादव निवासी ग्राम कुंआखेड़ा, थाना ताजगंज, जनपद आगरा सह मालिक है, जबकि राजेश यादव निवासी गांव अहीरपुरा जाट, रुणकत्ता आगरा और बालकिशन कंपनी के अन्य प्रमुख कार्य देखते हैं। इसके अलावा पीयूष निवासी गोपी नगर, बादल ठाकुर निवासी राधानगर, सिकंदरा व शरद कंपनी के विज्ञापन इलेक्ट्रानिक मीडिया में चलाने का कार्य देखते हैं।

बताया गया है कि यह गिरोह सोशल मीडिया और अश्लील वेबसाइटों पर विज्ञापन जारी कर ग्राहक तलाशता था। विज्ञापन पर दर्ज टेलीफोन नंबरों पर ग्राहकों के फोन करने पर कॉल सीधे सेंटर में डायवर्ट होती थी। यहां से ऑर्डर बुक कर कर दवाएं ग्राहकों तक भेजी जाती थीं। दवा भेजने के लिए हैमर ऑफ थॉर, नव्या ग्रुप, आरके हेल्थकेयर और एसके ट्रेडर्स फमों का प्रयोग किया जाता था। (डॉ. नवीन जोशी) अन्य नवीन समाचार पढ़ने को यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : बेहूदगी की हद पार ! महिला गांव में अपने घर में सगे पुत्र-पुत्री सहित सैक्स रैकेट चलाते हुई गिरफ्तार, दो अन्य युवतियां भी पकड़ी गईं

नवीन समाचार, नानकमत्ता, 7 नवंबर 2021। ऊधमसिंह नगर पुलिस की एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट ने नानकमत्ता के दहला गांव में देह व्यापार का भंडाफोड़ किया है। बेहूदगी की बात यह है कि यहां एक महिला अपने सगे पुत्र और पुत्री के साथ देह व्यापार का धंधा चलाते हुए पकड़ी गई है। पांच अन्य युवक और युवतियों भी देह व्यापार में प्रयुक्त आपत्तिजनक सामग्री के गिरफ्तार किये गये हैं।

एसपी सिटी ममता बोहरा ने बताया कि नानकमत्ता के दहला गांव के लोगों ने कई बार शिकायत की थी कि गांव की ही एक महिला घर में अनैतिक देह व्यापार का धंधा कर रही है। इससे गांव का माहौल खराब हो रहा है। इस सूचना पर रविवार को एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट प्रभारी बसंती आर्या के नेतृत्व में पुलिस बल ने दलहा गांव में आरोपित महिला के घर में दबिश दी।

छापेमारी में पुलिस ने अनैतिक देह व्यापार की मुख्य संचालिका तथा उसकी पुत्री के साथ ही पुत्र लखविंदर सहित तीन अन्य युवक और दो महिलाएं गिरफ्तार किए गए। बाद में पुलिस आठों आरोपितों को पकड़कर नानकमत्ता थाने ले आई।

पकड़े गए लोगों में कुकरौली, सितारगंज निवासी अनमोल पुत्र राम कुमार और नलई सितारगंज निवासी धर्म सिंह पुत्र अवध नारायण बताया। जबकि दो युवतियां रुद्रपुर व सितारगंज की बताई गई हैं। (डॉ. नवीन जोशी) अन्य नवीन समाचार पढ़ने को यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : होटल संचालक पति-पत्नी सैक्स रैकेट चलाते मिले, 6 युवक-युवतियां गिरफ्तार, संचालक पति-पत्नी के विरुद्ध मामला दर्ज

हाईप्रोफाइल सेक्स रैकेट का खुलासा, अच्छी नौकरी देने के नाम पर बुलायी  लड़कियांनवीन समाचार, सितारगंज, 5 नवंबर 2021। पुलिस की एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग टीम ने शहर के एक होटल में छापा मारकर 3 युवकों को 3 युवतियों को आपत्तिजनक स्थिति में गिरफ्तार कर सेक्स रैकेट चलाए जाने का खुलासा किया है। इस दौरान अनैतिक कार्य में प्रयोग की जाने वाली सामग्री भी बरामद की गई है।

पूछताछ के दौरान होटल संचालक पकड़े गए युवक-युवतियों की होटल में इंट्री के कोई भी दस्तावेज नहीं दिखा सके। इस पर पुलिस ने होटल संचालक पति-पत्नी को भी हिरासत में ले लिया है।

एंटी ह्यूमन ट्रेफिकिंग सेल की प्रभारी बसंती आर्य ने बताया कि काफी समय से होटल में सेक्स रैकेट चलाए जाने की सूचनाएं मिल रही थी। इसके आधार पर कार्यवाही करते हुए छापेमारी की गई और छापेमारी के दौरान तीन युवक युवतियों को होटल के कमरों से हिरासत में लिया गया है।

साथ ही होटल स्वामी पति-पत्नी को युवक युवतियों को होटल में कमरा देने के कोई साक्ष्य नहीं दिखाए जाने पर हिरासत में लेते हुए अनैतिक कार्य करवाने के मामले में विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज कर कार्यवाही की जा रही हैं। (डॉ. नवीन जोशी) अन्य नवीन समाचार पढ़ने को यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : गजब, मां-बेटा-बेटी साथ मिलकर चलाते मिले सैक्स रैकेट, 4 महिलाएं ग्राहक सहित गिरफ्तार

नवीन समाचार, काशीपुर, 3 नवंबर 2021। उत्तराखंड में काशीपुर के निकट स्थित कस्बा कुंडा में पुलिस ने जिस्मफरोशी के धंधे का भंडाफोड़ करते हुए 5 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। इनमें चार महिलाएं शामिल हैं। खास बात यह है कि यह गंदा धंधा सगे मां-बेटे व बेटी द्वारा अपने घर में चलाया जा रहा था। इनमें से बेटी तो गिरफ्तार हो गई है, जबकि मुख्य आरोपित बताए जा रहे मां-बेटे फरार हैं।

प्राप्त जानकारी के अनुसार थाना कुंडा पुलिस को क्षेत्र के सरवरखेड़ा के पास स्थित गोविंद कालोनी में कुछ दिनो से अनैतिक देह व्यापार होने की सूचना प्राप्त हो रही थी। इस पर पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर सहायक पुलिस अधीक्षक-क्षेत्राधिकारी काशीपुर अक्षय प्रह्लाद कोंडे के नेतृत्व में एक मकान में दबिश दी।

इस दौरान मौके पर 32 वर्षीय ग्राहक रणजीत सिंह पुत्र रक्षपाल सिंह निवासी ग्राम गढ़ी इन्द्रजीत चौकी प्रतापपुर काशीपुर तथा गृह स्वामी की विवाहित पुत्री सहित तीन अन्य तलाकशुदा महिलाओं को अनैतिक देह व्यापार के धंधे में लिप्त पाते हुए जिस्मफरोशी से सम्बन्धित सामग्री के साथ गिरफ्तार कर लिया। उनके विरुद्ध अनैतिक देह व्यापार निवारण अधिनियम 1956 की धारा 3/4/5/8 के अंतर्गत अभियोग पंजीकृत कर लिया गया।

बताया गया कि इस मकान की स्वामिनी अफरोज पत्नी स्व. मामूर जहाँ अपने बेटे दानिश व तलाकशुदा बेटी के साथ बाहर से लड़कियों व तलाकशुदा औरतों को बुलाकर यहां धंधा करती थी। जानकारी मिली कि वह खास तरीके से यह धंधा करते थे। किसी को शक न हो, इसलिए एक-एक ग्राहक को ही यहां बुलाया जाता है। जब एक ग्राहक चला जाता था, तब दूसरे को बुलाया जाता था, ताकि किसी को शक न हो।

पकड़ी गई औरतों में धंधा चलाने वाली की बिजनौर में विवाहित 26 वर्षीय शादीशुदा पुत्री तथा ग्राम धमोला कालाढुंगी निवासी एक 30 वर्षीय तलाकशुदा, गुलरभट्टी निवासी 26 वर्षीय तलाकशुदा व नई बस्ती शरीफ नगर ठाकुरद्वारा निवासी 38 वर्षीय तलाकशुदा महिलाएं शामिल हैं। जबकि दानिश पुत्र स्व0 तैमूर हुसैन व उसकी मां अफरोज जहाँ पत्नी स्व0 तैमूर हुसैन को गैंग लीडर बताया गया है। दोनों फरार हो गए हैं। (डॉ. नवीन जोशी) अन्य नवीन समाचार पढ़ने को यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : रिहायशी इलाके में चलता मिला ‘कोठा’, युवतियों की गरीबी का फायदा उठाकर कराया जा रहा था गंदा धंधा

नवीन समाचार, देहरादून, 10 अक्टूबर 2021। देवभूमि को कुछ लोग दूषित करने पर तुले हुए हैं। राज्य की राजधानी देहरादून इसका गढ़ बनती जा रही है। अब देहरादून पुलिस एक एक रिहायशी क्षेत्र में ‘कोठा’ चलते हुए पकड़ा है। युवकों के द्वारा गरीब लड़कियों को नौकरी का झांसा देकर इस गंदे धंधे में लगाया जा रहा है। धंधे में जो मिलता है, उसमें से आधा यह दलाल हड़प जाते हैं।

पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार जानकारी के अनुसार शनिवार को देहरादून की पटेल नगर थाना पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर ग्रीनव्यू एन्कलेव-2 बंजारावाला स्थित एक मकान में देह व्यापार के धंधे का पर्दाफाश किया। छापेमारी में मकान के प्रथम तल पर बने एक कमरे में एक महिला आपत्तिजनक स्थिति में पाई गई। साथ ही कमरे में आपत्तिजनक वस्तुएं भी बरामद हुईं। जबकि दूसरे कमरे में 2 पुरुष-29 वर्षीय जयपाल सिंह राणा उर्फ गौरव पुत्र जीत सिंह राणा हिन्डवाल गांव, थाना चम्बा, जनपद टिहरी गढ़वाल और 23 वर्षीय मौ. साजिद पुत्र इसरार, निवासी सिहाली जागीर, थाना हसनपुर, जिला अमरोहा उत्तर प्रदेश दो महिलाओं के साथ अनैतिक कृत्य करते मिले।
पूछताछ में दोनों महिलाओं ने बताया कि आरोपी जयपाल व मौ. साजिद उन्हें काम दिलाने के बहाने यहां लाये, और उनकी गरीबी का फायदा उठाकर उनसे अवैध देह व्यापार का काम करवाते हैं। ग्राहकों से 1500 से 2000 रुपये लिये जाते हैं, और लड़कियों को कमाई का आधा हिस्सा मिलता है, जबकि आधा दोनों युवक हड़प कर जाते हैं। पुलिस ने दोनों आरोपितों के खिलाफ अनैतिक देह व्यापार के आरोप में भारतीय दंड संहिता की धारा 3, 4, 6 व 7 के तहत मुकदमा दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। इनके द्वारा बुकिंग पर लड़कियों को होटल भी भेजा जाता था। बताया जा रहा है कि लड़कियों को होटल ले जाने के लिए मोहम्मद साजिद अपनी कार डिजायर का प्रयोग करता था। पिछले छह-सात महीने से वह इसी किराये के मकान में रह रहे थे। मकान मालिक बाहर रहता है। जिसका फायदा उठाकर उन्होंने मकान में यह अनैतिक कारोबार शुरू कर दिया। (डॉ. नवीन जोशी) अन्य नवीन समाचार पढ़ने को यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : नाबालिग से करा रहे थे गलत काम, अब थी 6 लाख में बेचने की तैयारी, दो महिलाओं सहित 5 गिरफ्तार

नवीन समाचार, रुद्रपुर, 14 सितंबर 2021। नगर के ट्रांजिट कैंप में एक नाबालिग किशोरी को छह लाख रुपये में बेचने की तैयारी थी। गनीमत रही कि पुलिस को सूचना मिल गई और पुलिस ने त्वरित कार्रवाई कर दो महिलाओं सहित पांच लोगों को गिरफ्तार कर लिया, जबकि दो आरोपित भागने में कामयाब हो गए। पुलिस ने पकड़े गए आरोपितों के पास से ऐसी आपत्तिजनक सामग्री भी बरामद की है, और मुकदमा दर्ज कर उन्हें जेल भेज दिया है। पुलिस के अनुसार पकड़े गए आरोपित युवतियों और किशोरियों को देह व्यापार के लिए उकसाते हैं।
फरार आरोपित खेड़ा निवासी चंदन और पहाड़गंज निवासी घनश्याम बठला की तलाश की जा रही हैएसपी सिटी ममता बोहरा ने बताया कि कुछ दिन पहले एक व्यक्ति ने शिकायत की थी कि उसकी नाबालिग पुत्री घर में किसी को बिन बताए अक्सर कई दिनों तक गायब रहती है। इस पर एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट मामले की जांच कर रही थी, कि तभी लापता किशोरी घर लौट आई। इस पर यूनिट की प्रभारी बसंती आर्या ने किशोरी से पूछताछ की तो किशोरी ने बताया कि उसे और उसकी सहेली को एक युवती और दो युवक कई दिनों से अपने पास रखकर गलत काम करा रहे थे। बताया कि युवती किसी से फोन पर उसे छह लाख रुपये में बेचने की बात कर रही थी। इस पर वह अपनी सहेली के साथ उनके चंगुल से बचकर भाग आई।
इस सूचना के बाद सीओ सिटी अमित कुमार के नेतृत्व में थानाध्यक्ष विनोद फर्त्याल, एंटी ह्यूमन ट्रैफिक यूनिट प्रभारी बसंती आर्या, कांस्टेबल कपिल भाकुनी, नवीन गिरी, ममता मेहरा, प्रियंका आर्या, रेखा टम्टा ने छापेमारी कर जनपथ रोड स्थित एक मकान से दो महिलाओं सहित पांच लोगों को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में पकड़े गए आरोपितों ने अपना नाम इंदिरा कालोनी गली नंबर एक निवासी राजा खान उर्फ रौनक पुत्र जफर खान, शांति विहार निवासी कुनाल वर्मा उर्फ गोलू पुत्र अभिनंदन वर्मा और ट्रांजिट कैंप, कृष्णा विहार कालोनी निवासी संजय उर्फ सुजोय सेन पुत्र सुनील सेन बताया। जबकि पकड़ी गई दो महिलाएं जनपथ रोड व ट्रांजिट कैंप के श्मशान घाट निवासी है। एसपी सिटी ममता बोहरा ने बताया कि फरार आरोपित खेड़ा निवासी चंदन और पहाड़गंज निवासी घनश्याम बठला की तलाश की जा रही है, जल्द ही उन्हें भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा। (डॉ. नवीन जोशी) अन्य नवीन समाचार पढ़ने को यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : ग्राहक नहीं मिला तो खुद ही खड़ी कार में अनैतिक कार्य में जुटे थे… पुलिस ने 3 विवाहिताओं सहित 5 लोगों को 70% लाभ के धंधे में दबोचा

नवीन समाचार, दिनेशपुर यूएस नगर, 6 सितंबर 2021। एंटी हयूमन ट्रैफिकिंग यूनिट ने दिनेशपुर में एक आम के बाग में खड़ी स्विफ्ट डिजायर कार से पांच लोगों को अश्लील हरकतें करते हुए गिरफ्तार किया है। इनमें तीन युवतियां व दो युवक शामिल हैं। पूछताछ करने पर युवकों ने बताया कि वह युवतियों को बड़े ग्राहकों के पास रात को 10 हजार लेकर भेजते हैं। उनमें से तीन-तीन हजार युवतियों को और बाकी सात हजार दोनों युवक आपस में बांट लेते हैं।
More Road Sex Is In Your Future Thanks To Self-Driving Cars - Mandatory
प्रतीकात्मक चित्र

जनपद की एएसपी ममता बोहरा ने बताया कि पांचों लोग यह काम लंबे समय से कर रहे हैं। जहां ग्राहक पैसे ज्यादा देते हैं वहीं चले जाते हैं। उन्होंने बताया कि अधिकांश नैनीताल, हल्द्वानी व रुद्रपुर में काम करते हैं। युवतियों ने भी इस धंधे में शामिल होने की बात स्वीकार की है। जबकि युवकों ने बताया कि उन लोगों ने तीनों लड़कियों को अनैतिक-अश्लील कार्य करने के लिए तैयार किया। आज ग्राहक नहीं मिला तो वह खुद ही आम के बाग में गाड़ी खड़ी कर अनैतिक कार्य कर रहे थे। वह वाहन के कागजात भी मांगने पर नहीं दिखा सके। इसलिए उनके वाहन को भी पुलिस ने एमबी एक्ट के तहत अपने कब्जे में लेकर सीज कर दिया।

गिरफ्तार लोगों में रियासत अली निवासी वार्ड नंबर 15 पहाड़गंज रुदपुर, विवेक बोस निवासी चंदनगढ़ वार्ड नंबर तीन थाना दिनेशपुर, के अलावा फकीरी घोराडाल साउथ पश्चिम बंगाल, ग्राम बामनगाछी थाना 127 जिला नार्थ पश्चिम बंगाल व जोशी कालोनी थाना न्यूरिया पीलीभीत निवासी तीन विवाहिताएं शामिल हैं। उन्हें पकड़ने वाली टीम में निरीक्षक बसंती आर्य के साथ ही आरक्षी नवीन गिरी, कपिल भाकुनी, प्रियंका आर्य, भूपेंद्र सिंह शामिल रहे। (डॉ. नवीन जोशी) अन्य नवीन समाचार पढ़ने को यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : राजधानी में बड़े सेक्स रैकेट का खुलासा, 7 महिलाओं व 6 पुरुषों सहित कुल 13 लोग गिरफ्तार

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 29 जुलाई 2021। राजधानी देहरादून को कुछ विकृत मानसिकता के लोग सेक्स की राजधानी यह भी पढ़ें : राजधानी में बड़े सेक्स रैकेट का खुलासा, 7 महिलाओं व 6 पुरुषों सहित कुल 13 लोग गिरफ्तार
बनाने पर भी तुले लगते हैं। शहर की पटेल नगर कोतवाली पुलिस ने 7 महिलाओं व 6 पुरुषों सहित कुल 13 लोगों को पकड़कर एक ऐसे हाईटेक सेक्स रैकेट के बड़े मामले का खुलासा किया है, जो वेबसाइट के जरिए लोगों को देहरादून, मसूरी व ऋषिकेष सहित कई पर्यटक स्थलों पर लड़कियां परोसता था। पुलिस ने रैकेट के सरगना से कार, डेढ दर्जन महंगे मोबाइल फोन, लैपटॉप और दर्जनों एटीएम कार्ड व नगदी भी बरामद किए हैं।
पटेल नगर पुलिस का कहना है कि उन्हें लम्बे समय से पटेलनगर क्षेत्र में अवैध तरीके से देह व्यापार का धंधा चलने और इसमें कॉल गर्ल्स और कॉल सेंटरों में शामिल लोगों की सूचना मिल रही थी। एसएसपी योगेंद्र रावत ने भी उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने के आदेश दिए थे। इस पर बीती देर रात मुखबिर की सूचना पर कार्रवाई की गई। इस दौरान एक कमरे में एक महिला और एक पुरुष आपत्तिजनक अवस्था में पाये गए, जबकि उसी अपार्टमेन्ट के दूसरे कमरे में छह लड़कियां और पांच पुरुष भी मिले। इस प्रकार कुल 13 लोगों को गिरफ्तार किया गया।
पकड़े गए लोगों ने बताया कि वेबसाइट के जरिए ऑनलाइन बुकिंग करते थे। उनके देहराखाश के मितान्स अपार्टमेंट में बनाए गए हेड ऑफिस से कॉल गर्ल्स को देहरादून, मसूरी व ऋषिकेश आदि स्थानों पर मोटी रकम लेकर भेजा जाता था। उनका सरगना अजय कुशवाह उर्फ वरुण उर्फ साहिल है, जो वेबसाइट से फोटो भेजकर ग्राहकों को फंसाता था फिर उनसे मोटी रकम वसूलता था। वह ही लड़कियों को नेपाल, पश्चिम बंगाल, कोलकाता और दिल्ली से लाकर उनसे अवैध तरीके से देहव्यापार कराता था। लड़कियां इस अपार्टमेन्ट में रुककर बुकिंग मिलने पर अलग-अलग स्थलों पर ग्राहक के पास जाती थीं। (डॉ. नवीन जोशी) अन्य नवीन समाचार पढ़ने को यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : लॉकडाउन में घर को बना दिया कोठा, पुलिस ने 4 महिलाओं सहित 6 लोग आपत्तिजनक स्थिति में किये गिरफ्तार…

नवीन समाचार काशीपुर 23 जून 2021। कोरोना काल में जहाँ लोग घरों में बंद रहने को मजबूर रहे, वही कुछ लोग अपने घर को ही कोठा बनाकर अनैतिक कृत्यों में भी जोर शोर से लगे रहे हैं। ऐसा ही एक मामला काशीपुर में आया है। यहां पुलिस ने एक घर में चल रहे सेक्स रैकेट का खुलासा करते हुए 4 महिलाओं को दो पुरुषों को गिरफ्तार किया है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार सहायक पुलिस अधीक्षक क्षेत्राधिकारी काशीपुर अक्षय प्रहलाद कोंडे के नेतृत्व में पुलिस टीम ने मुखबिर की सूचना पर टांडा उज्जैन रिपोर्टिंग चौकी अंतर्गत ढकिया गुलाबों में छीना फार्म स्थित एक घर में छापा मारा। यहां पुलिस ने जिस्मफरोशी का कारोबार करते हुए 4 महिला और दो पुरुषों कोआपत्तिजनक स्थिति में गिरफ्तार किया। वहां पुलिस को मौके ने लेडीज पर्स व ₹2000 नगद सहित आपत्तिजनक सामग्री बरामद करने का दावा करते हुए सभी को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में एक युवती ने खुद को ढकिया गुलाबो, दूसरी ने गोरखपुर उत्तर प्रदेश की और अन्य ने दो को काशीपुर निवासी बताया है। पुलिस ने इस घटना में शामिल प्रवीण सिंह पुत्र किशन सिंह निवासी कुंडेश्वरी तथा विकास कुमार पुत्र हेमराज निवासी जबलपुर मध्य प्रदेश को गिरफ्तार कर सभी के खिलाफ अनैतिक व्यापार निवारण अधिनियम 1956 के अंतर्गत मामला दर्ज कर सभी को न्यायालय में पेश किया है। (डॉ. नवीन जोशी) अन्य नवीन समाचार पढ़ने को यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : सैक्स रैकेट का भंडाफोड़, गेस्ट हाउस से 3 महिलाएं व 4 पुरुष गिरफ्तार, गेस्ट हाउसों में नाबालिगों से देह व्यापार कराने की सूचना

नवीन समाचार, हरिद्वार, 11 जून 2021। पिरान कलियर में एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग टीम ने एक गेस्ट हाउस में सैक्स रैकेट का भंडाफोड़ करते हुए तीन महिलाओं और चार पुरुषों को गिरफ्तार किया है। सभी को मुकदमा पंजीकृत कर न्यायालय में पेश करने के बाद जेल भेज दिया गया है।
एंटी ह्यूमेन ट्रैफिकिंग सेल के टीम प्रभारी राकेश सिंह कठैत ने बताया कि कलियर में देह व्यापार होने की सूचना मिल रही थी। सूचना के आधार पर शहर के एक गेस्ट हाउस पर छापा मारकर वहां मौजूद चार पुरुषों व तीन महिलाओं को अनैतिक कृत्य करते हुए पकड़ा गया। पूछताछ करने पर पुरुषों ने अपना नाम इरशाद निवासी मंगलौर, रवि निवासी गाजियाबाद यूपी, कार्तिक निवासी बेलड़ा, आसिफ निवासी पिरान कलियर बताया। वहीं महिलाओं ने बताया कि वह सहारनपुर यूपी और रानीपुर हरिद्वार व कलियर की रहने वाली हैं। वह कलियर के अलग-अलग गेस्ट हाउसों में जाकर देह व्यापार का कार्य करती हैं। उन्होंने बताया कि कुछ अन्य गेस्ट हाउसों में किशोरियों से भी देह व्यापार कराये जाने की सूचना है। बहुत जल्द ही उन गेस्ट हाउसों को चिन्हित कर छापामार कर कार्रवाई की जायेगी। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें। 

यह भी पढ़ें : बड़े सेक्स रैकेट का खुलासा, होटल से 5 जोड़े आपत्तिजनक सामग्री के साथ पकड़े गए

नवीन समाचार, रुद्रपुर, 05 जून 2021। ऊधमसिंह नगर की पुलिस और एसओजी की टीम ने बीती रात्रि एक होटल में छापा मारकर बड़े सेक्स रैकेट का खुलासा किया है। पुलिस की कार्रवाई में पांच जोड़ों यानी 10 युवक-युवतियों व होटल संचालक को आपत्तिजनक स्थितियों में हिरासत में लिया गया है, जबकि मौके पर मौजूद रहे तीन लोग भागने में सफल हो गए। मौके से आपत्तिजनक सामग्री, 11 मोबाइल, लैपटॉप, आधार कार्ड, 6100 रुपये, सिगरेट के डिब्बे और चार लेडिज पर्स भी बरामद किये हैं।
पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार पुलिस एवं एसओजी की संयुक्त टीम ने रुद्रपुर कोतवाली क्षेत्र के आदर्श कॉलोनी स्थित नैनी व्यू होटल में छापा मारा। पुलिस ने मौके पर आपत्तिजनक स्थिति में मिले 10 युवक-युवतियों को हिरासत में ले लिया है। पकड़ी गई पांच युवतियां नेपाल एवं पश्चिम बंगाल की रहने वाली जबकि पकड़े गए पांचों युवक उत्तर प्रदेश के रहने वाले हैं। पूछताछ में होटल संचालक विनोद गंगवार ने बताया कि उसने होटल नैनी व्यू दो-तीन साल पहले लीज पर लिया था। जिसका किराया काफी अधिक था। किराया चुकाने के लिए उसने होटल में अनैतिक देह व्यापार का धंधा शुरू कराया। इसके लिए उसने अपने दोस्त शबाव, आमिर और आकाश रावत की मदद ली। बताया कि प्रति कमरा वह एक-एक हजार रुपये लेता था। जबकि पकड़ी गई युवतियों ने बताया कि वह शबाब, आमिर और आकाश रावत के माध्यम से रुद्रपुर आती थीं। प्रति व्यक्ति पांच-पांच सौ रुपये लेती थी। बताया जा रहा है कि यूपी के लोगों के लिए भी उत्तराखंड के सीमावर्ती क्षेत्र सैक्स के लिए मुफीद साबित हो रहे हैं। (डॉ.नवीन जोशी)

यह भी पढ़ें : रामनगर में महिला के घर में चला अनैतिक देह व्यापार गिरोह पकड़ा गया, तीन कॉल गर्ल्स व संचालिका सहित 8 गिरफ्तार..

नवीन समाचार, रामनगर, 03 जून 2021। नैनीताल जनपद के रामनगर के चोरपानी गांव में पुलिस ने अनैतिक देह व्यापार चलाने वाले गिरोह का पर्दाफाश करते हुए गिरोह के संचालक लखनपुर निवासी शंकर पुत्र द्वारिका प्रसाद, भवानीगंज निवासी गर्षित पुत्र विकास व खताड़ी निवासी मुनीष पुत्र इसरत व मोहल्ला गुलरघट्टी निवासी बादशाह इरशाद पुत्र शहादत के साथ ही संचालिका व तीन कॉल गर्ल्स सहित कुल आठ लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपितों के खिलाफ अनैतिक देह व्यापार के आरोप में मुकदमा दर्ज किया गया है। बताया गया है कि संचालिका एक व्यक्ति से ढाई हजार रुपये लेती थी और इसमें से आधी धनराशि कॉल गर्ल को देती थी।
प्राप्त जानकारी के अनुसार चोरपानी गांव में पुलिस को काफी समय से हत्या के मामले में एक जेल में बंद व्यक्ति की पत्नी पूजा सैनी के घर में अनैतिक व्यापार चलाने की सूचना मिल रही थी। इस पर पुलिस ने पुलिस ने गिरोह को पकडने के लिए उनके संचालकों से दो कॉल गर्ल्स का पांच हजार रुपये में फोन पर सौदा तय किया। तय सौदे के तहत बुधवार देर रात्रि दो पुलिस कर्मियों को सादी वर्दी में संचालक के घर भेजा गया। कुछ देर तक पुलिस कर्मी वहां रहे। इसके बाद सीओ बलजीत सिंह भाकुनी के नेतृत्व में एसओजी प्रभारी सुधीर, कोतवाल अबुल कलाम व पुलिस टीम ने वहां छापा मारा तो हड़कंप मच गया। पुलिस ने दरवाए खुलवाए तो दो कमरों में दो जोड़े आपत्तिजनक हालत में पाए गए।
पुलिस टीम ने घर में मौजूद चार महिलाओं व चार युवकों को पकड़ लिया। उन्हें कोतवाली लाकर पूछताछ करने पर आरोपितों ने स्वीकारा कि वह लंबे समय से अनैतिक व्यापार का धंधा कर रहे थे। इस बीच एक आरोपित फरार हो गया था, बृहस्पतिवार सुबह उसे भी दबोच लिया गया। आगे पुलिस इस बात की जांच कर रही है कि कौन-कौन लोग इस धंधे से जुड़े हुए थे। पूछताछ के दौरान गिरोह से जुड़ी अन्य कालगर्ल्स के नाम भी सामने आए हैं। पुलिस ऐसी कालगर्ल की डिटेल खंगाल रही है। कोतवाल ने बताया कि सामने आए कुछ नामों की जानकारी जुटाई जा रही है। (डॉ.नवीन जोशी)

यह भी पढ़ें : साथी सहित कॉल गर्ल के साथ होटल में पकड़ा गया सभासद, चेयरमैन बनने की कर रहा था तैयारी

नवीन समाचार, हरिद्वार, 25 फरवरी 2021। हरिद्वार पुलिस ने बीती रात्रि शहर के एक होटल में छापा मारकर देह व्‍यापार के गंदे-धंधे का भंडाफोड़ किया है। मामले में होटल से दो कॉल गर्ल व दो ग्राहकों सहित होटल मैनेजर को गिरफ्तार किया गया है। ग्राहकों की पहचान बिजनौर की झालू नगर पंचायत के सभासद उपेंद्र कुमार और उनके साथी सौरभ चौधरी के रूप में हुई। पुलिस की पूछताछ में सामने आया है कि सभासद उपेंद्र व उनका साथी सौरभ चौधरी अक्सर हरिद्वार आते थे। उपेंद्र के साथ कई बार कुछ और युवक भी हरिद्वार आ चुके हैं। बताया जा रहा है कि उपेंद्र कुमार अगले चुनाव में नगर पंचायत चेयरमैन पद पर चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहा था।
शहर कोतवाल अमरजीत सिंह को बीती रात सूचना मिली कि शिवमूर्ति चौक के पास होटल वेलकम इन में सैक्स रैकेट चल रहा है। इस पर पुलिस टीम ने होटल में छापा मारा तो अलग-अलग कमरों से दो कॉल गर्ल, दो युवकों के साथ आपत्तिजनक हालत में मिलीं। वहीं छापा पड़ने पर भागने का प्रयास कर रहे होटल मैनेजर को भी पुलिस ने दबोच लिया। होटल मैनेजर ने अपना नाम संदीप बलूनी निवासी राजपुर रोड, सिविल लाइन नई दिल्ली बताया। जबकि दोनों कॉल गर्ल हरिद्वार की निवासी हैं। सीओ सिटी अभय प्रताप सिंह ने बताया कि गिरफ्तार कॉल गर्ल, ग्राहकों व होटल मैनेजर को कोर्ट में पेश किया गया। फरार होटल संचालकों की तलाश की जा रही है। होटल में अनैतिक देह व्यापार का धंधा किया जा रहा था, इस कारण होटल सील कर दिया गया है। रिपोर्ट जिलाधिकारी को भेजी जा रही है। होटल से 55 हजार रुपये की नकदी, तीन मोबाइल और आपत्तिजनक सामान भी बरामद हुआ है। पुलिस देह व्‍यापार चलाने वाले होटल संचालकों की तलाश में जुटी है।
वहीं, टिहरी विस्थापित कॉलोनी रानीपुर और मायापुर हरिद्वार निवासी दोनों कॉल गर्ल ने पुलिस को बताया कि वह होटल संचालक सुरेश नेगी व मुन्ना लाल और होटल मैनेजर संदीप बलूनी के साथ मिलकर देह व्यापार करती हैं। कमाई का आधा हिस्सा होटल संचालक इन तीनों को भी दिया जाता था। कुछ और होटल मैनेजर व संचालक भी डिमांड पर उन्हें बुलाते हैं। पुलिस उनके बारे में भी जानकारी जुटा रही है।

यह भी पढ़ें : उफ, हल्द्वानी में गंदा धंधा: कार से चलता मिला कारोबार, 10 मिनट में 12 हजार में कर देते थे इच्छा पूरी…

नवीन समाचार, हल्द्वानी, 26 जनवरी 2021। अब तक बड़े महानगरों में होने वाला गंदा धंधां हल्द्वानी में होने लगा है। यहां एंटी ह्यूमन ट्रेफिकिंग सेल व हल्द्वानी पुलिस ने ऐसे मामले का खुलासा किया है जिसमें कार से लड़कियों की सप्लाई हो रही थी। ऐसी चार लड़कियों के साथ पुलिस ने उन्हें सप्लाई करने वाले दो लड़कों को पकड़ा है। इनका दावा है कि वह हर तीसरे-चौथे दिन लड़कियों को कार से लेकर हल्द्वानी आते हैं और शाम को 9 से 10 बजे के बीच किसी एकांत स्थान में गाडी खडी कर मांग करने वाले लोगों को सीधे या होटलो में 12 से 15 हजार रुपये प्रति रात्रि की दर से तुरंत 10 से 15 मिनट में लडकिया पहंुचा देते है
इधर मंगलवार को गणतंत्र दिवस के दिन प्रभारी निरीक्षक कोतवाली हल्द्वानी को उनके निजी मोबाईल फोन पर सूचना प्राप्त हुई कि ट्रांसपोर्ट नगर के पास लजीज बार से करीब 50 मीटर दूर सतवाल पेट्रोल पम्प की ओर सडक किनारे बनी दुकानो की आड में एक इनोवा गाडी संख्या यूके06एएस-9937 में चार लड़कियां व दो लडके अनैतिक कार्य कर रहे हैं। इस पर उन्होंने वरिष्ठ अधिकारियों के संज्ञान में मामले को लाकर एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट की प्रभारी लता बिष्ट के नेतृत्व में पुलिस बल का गठन कर त्वरित कार्यवाही करते हुए बताई गई कार से दो लडकों व 4 लडकियों को अनैतिक दैह व्यापार व अनैतिक कार्य करते हुए 11 मोबाइल फोन व अन्य अश्लील सामग्री के गिरफ्तार कर लिया।
पूछताछ में उन्होंने बताया कि वह एक टीम के रुप में होटलों में एवं जरुरतमंद लोगो को 12 से 15 हजार रुपये प्रति रात्रि में लडकियां पहुंचाते हैं। हर तीसरे-चौथे दिन वह हल्द्वानी आते हैं तथा शाम को 9 से 10 बजे के बीच ऐसे ही एकांत में गाड़ी खडी कर लोगों के फोन का इंतजार करते हैं, और लोगों के फोन आते ही तुरंत 10 से 15 मिनट में ग्राहक तक लडकियां पहुंचा देते हैं। पुलिस ने उन्हें भारतीय दंड संहिता की धारा 294/34 व 5/7 अनैतिक व्यापार (निवारण) अधिनियम 1956 के तहतं गिरफ्तार कर लिया है। पकड़े गए युवकों की पहचान 32 वर्षीय सुकुमार सरकार पुत्र मनिंदर सरकार निवासी माधोपुर अमरिया जिला पीलीभीत यूपी व 28 वर्षीय हरिदास विश्वास निवासी ग्राम महतोष मोड़ पिपलिया थाना ऊधमसिंह नगर के रूप में हुई, जबकि युवतियां कलियागंज पश्चिम बंगाल, हाल निवासी ग्राम फुलसंुगा मूल निवासी ग्राम शीषगढ़ जिला पीलीभीत, हाल निवासी तुगलकाबाद एक्सटेंसन कालकाजी मूल निवासी बारासात जिला 24 परगना कोलकाता व जिला स्यालदा कोलकाता की रहने वाली हैं।

यह भी पढ़ें : युवक नैनीताल आया था परीक्षा देने, मंगा ली कॉल गर्ल, गंवा बैठा 27 हजार

-‘कॉल गर्ल इन नैनीताल’ सर्च करने पर मुंबई के ठगों द्वारा ठगा गया
नवीन समाचार, नैनीताल, 06 अक्टूबर 2020। किच्छा का एक युवक नैनीताल आया तो परीक्षा देने, परंतु लग गया सोशल मीडिया के जरिये होटल में कॉल गर्ल बुलाने। नतीजा-न ही तय पर कॉलगर्ल पहुंची, अलबत्ता वह 27 हजार रुपये जरूर गंवा बैठा।
प्राप्त जानकारी के अनुसार युवक सोमवार को कोई तकनीकी परीक्षा देने किच्छा से नैनीताल आया था। परंतु यहां इंटरनेट पर ‘कॉल गर्ल इन नैनीताल’ सर्च करने पर दिखी एस्कॉट सर्विस नाम की इंटरनेट साइट के नंबरों पर फोन कर कॉलगर्ल की मांग करने लगा। यही नहीं, उसने एक रात के लिए कॉलगर्ल का 27 हजार रुपए में सौदा तय किया और इंटरनेट साइट पर एक-दो हजार कर 27 हजार रुपये बताए गए खाते में जमा भी कर दिये। इसके बाद भी 10 रुपए उससे पुलिस सेफ्टी चार्ज के रूप में मांगे जाने लगे तो उसने लुटे जाने का अंदेशा होने पर अपने रुपए वापस मांगे। लेकिन इसके बाद दूसरी ओर से नंबर बंद कर दिया गया। इसके बाद उसने पुलिस से मदद की गुहार लगाई। मल्लीताल कोतवाली के एएसआई सत्येंद्र गंगोला ने बुधवार को बताया कि फोन नंबर व धनराशि जमा करने वाले बैंक खाते मुंबई के हैं। युवक लिखित तहरीर देने में भी लोकलाज से डर रहा है। बहरहाल मामले की जांच कर रही है।

यह भी पढ़ें : पति ने मंगाई कॉल गर्ल, निकली अपनी ही पत्नी, फिर जो हुआ….

नवीन समाचार, काशीपुर, 20 जनवरी 2020। उत्तराखंड के काशीपुर में एक ऐसा मामला सामने आया है जिसने आज के दौर की भोगवादी प्रवृत्ति में महिला-पुरुष दोनों के धंसने का वीभत्स चेहरा समाज के सामने ला दिया है। एक व्यक्ति ने महिला दलाल के माध्यम से कॉलगर्ल की मांग की। महिला ने उसके पास जो कॉल गर्ल भेजी, वह उसकी पत्नी निकली। इसके बाद तो दोनों पति-पत्नी की स्थिति ही ऐसी हो गई, कि काटो तो खून नहीं। लेकिन थोड़ी बार संयत होने के बाद दोनों पूरी तरह झेंपने के बजाय एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगाने लगे और मामला हाथापाई तक पहुंच गया। दोनों ने एक दूसरे के खिलाफ गंभीर आरोप लगाते हुए पुलिस को तहरीर सौंपी है। एएसपी ने मामले में जांच कराने की बात कही है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार शहर के आईटीआई थाना क्षेत्र की युवती का विवाह कुछ वर्ष पूर्व दिनेशपुर निवासी युवक के साथ हुआ था। लेकिन विवाह के बाद महिला अधिकतर समय ससुराल में न रहकर मायके काशीपुर में ही रहती थी, और श्यामपुरम में रहने वाली एक महिला के माध्यम से कॉल गर्ल के रूप में कार्य करती थी। बताया जा रहा है कि इधर युवक ने इसी महिला के माध्यम से कॉलगर्ल की तो उसे इत्तफाक से अपनी पत्नी ही कॉलगर्ल के रूप में मिल गई। जिसके बाद तो विवाद होना ही था। अलबत्ता, युवक का कहना था कि पत्नी की एक सहेली ने उसे पत्नी के कॉल गर्ल के रूप में कार्य करने की जानकारी दी थी, इसलिए उसने जानबूझकर महिला द्वारा व्हाट्सएप पर उपलब्ध कराई गई कई लड़कियों की फोटो में से अपनी पत्नी को ही भेजने को कहा था। वहीं कॉल गर्ल के रूप में आई उसकी पत्नी ने आरोप लगाया कि उसके पति के उसकी सहेली से संबंध रखने और प्रताड़ित करने का आरोप लगाते हुए आईटीआई थाना पुलिस को तहरीर सौंपी। दोनों ने ही पुलिस को एक-दूसरे के खिलाफ तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की है। एएसपी ने मामले में जांच कराने की बात कही है।

यह भी पढ़ें : नाबालिग को देह व्यापार में धकेलने के आरोप में उत्तराखंड पुलिस का निलंबित सिपाही गिरफ्तार


-पूर्व में पत्नी भी पकड़ी जा चुकी है
नवीन समाचार, रुद्रपुर, 6 जनवरी 2019।
रुद्रपुर में पुलिस ने बड़ी सफलता हासिल करते हुए देह व्यापार में संलिप्त, कुछ माह पूर्व बागेश्वर जिले से निलंबित एक  सिपाही राजेश को गिरफ्तार किया है। बताया गया है कि गत जुलाई 2019 में गुमशुदा-अपहृत हुई एक नाबालिग के मामले में निलंबित सिपाही को गिरफ्तार किया गया है। उस पर नाबालिग बच्चियों को देह व्यापार में धकेलने का आरोप है। पूर्व में उसकी पत्नी भी देह व्यापार कराने के आरोप में गिरफ्तार की जा चुकी है।
बता दें कि बीते दिनों ट्रांजिट कैम्प से लापता किशोरी को पुलिस ने पुलिस कर्मी राजेश के घर से बरामद किया था। किशोरी के साथ घर से पुलिस ने एक युवती को भी बरामद किया था। साथ ही पुलिस कर्मी की पत्नी पिंकी को गिरफ्तार कर लिया था। पूछताछ में एक महिला दीपा का नाम भी प्रकाश में आया था। इस पर पुलिस ने दोनों के खिलाफ केस दर्ज कर पिंकी को जेल भेज दिया था। राजेश भी इसी मामले में फरार होने के बाद वांछित था। मामले में दीपा नाम की महिला भी जेल भेजी जा चुकी है।

सैक्स रैकेट संबंधी पुराने समाचार पढ़ने को यहां क्लिक करें।

नवीन समाचार
‘नवीन समाचार’ विश्व प्रसिद्ध पर्यटन नगरी नैनीताल से ‘मन कही’ के रूप में जनवरी 2010 से इंटरननेट-वेब मीडिया पर सक्रिय, उत्तराखंड का सबसे पुराना ऑनलाइन पत्रकारिता में सक्रिय समूह है। यह उत्तराखंड शासन से मान्यता प्राप्त, अलेक्सा रैंकिंग के अनुसार उत्तराखंड के समाचार पोर्टलों में अग्रणी, गूगल सर्च पर उत्तराखंड के सर्वश्रेष्ठ, भरोसेमंद समाचार पोर्टल के रूप में अग्रणी, समाचारों को नवीन दृष्टिकोण से प्रस्तुत करने वाला ऑनलाइन समाचार पोर्टल भी है।
https://navinsamachar.com

Leave a Reply