Information News

सुबह का सुखद समाचार : उत्तराखंड में घटी बेरोजगारी दर, 5 सालों में 13.32 लाख से अधिक लोगों को मिली सरकारी नौकरी…

बेरोजगारी दर कम होने के मामले में उत्तराखंड पांचवें स्थान पर, सीएमआईई की  रिपोर्ट जारी – Dastak Timesनवीन समाचार, नैनीताल, 18 जून 2022। हालांकि आंकड़ों पर हमेशा विवाद रहता है, लेकिन सीएमआईई की हालिया रिपोर्ट की मानें तो इस रिपोर्ट के अनुसार उत्तराखंड में बेरोजगारी की दर में 14.1 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई है। पिछले साल अप्रैल से जून 2021 की तिमाही में उत्तराखंड की बेरोजगारी दर 17.00 प्रतिशत थी, जो मई 2022 में 2.9 प्रतिशत तक रह गई है। पिछले पांच साल में लोक सेवा आयोग, अधीनस्थ सेवा चयन आयोग, चिकित्सा सेवा चयन बोर्ड और निजी क्षेत्र-परियोजनाओं में सात लाख 13 हजार 32 लोगों को रोजगार दिया गया है। विपक्ष ने भी बिना कोई हंगामा किए इन आंकड़ों को माना है।

प्रदेश के श्रम एवं सेवायोजन मंत्री सौरभ बहुगुणा ने प्रश्नकाल में भगवानपुर की विधायक ममता राकेश और धनोल्टी विधायक प्रीतम सिंह पंवार के सवालों के जवाब में सदन को यह जानकारी दी। बहुगुणा ने कहा कि रोजगार सृजन के लिए सरकार हर संभव प्रयास कर रही है। 15 हजार 561 विभिन्न पदों पर भर्ती की प्रक्रिया भी विभिन्न स्तर पर जारी है। यह भी बताया कि राज्य में इस वक्त सेवोयाजन कार्यालय में दर्ज बेरोजगारों की संख्या आठ लाख 39 हजार 697 है। हालांकि ममता ने तल्ख टिप्पणी करते हुए कहा था कि सेवायोजना विभाग का अपना औचित्य ही खो चुका है।

इस पर बहुगुणा ने कहा कि सरकार सेवोयाजन विभााग को आउटसोर्स एजेंसी बनाएगी। इसके लिए सीएम पुष्कर सिंह धामी और वित्त विभाग से भी बातचीत की गई। धनोल्टी विधायक प्रीतम पंवार के सवाल के जवाब में उन्होंने यह जानकारी दी। प्रीतम ने पूछा था कि उपनल और पीआरडी के जरिए चयन की एक तय प्रकिया है। उसमें सभी बेरोजगारों का मौका नहीं मिल पाता। शिक्षा विभाग में टिहरी का उदाहरण देते हुए कहा कि तीन साल से पीआरडी के जरिए भर्ती होनी थी, लेकिन आज तक नहीं हो पाई। बहुगुणा ने कहा कि इन तकनीकी दिक्कतों के समाधान के लिए सेवायोजन विभाग को आउटसोर्स एजेंसी के रूप में विकसित करने की कोशिश की जा रही है।

रोजगार पर इस बार न हुआ हंगामा
रोजगार के आंकड़ों का लेकर सदन में पिछले दो साल से लगातार हंगामा हो रहा था। लेकिन इस बार नहीं हुआ। पिछले साल दिसंबर 2021 में विधानसभा सत्र के दौरान सरकारी आंकड़ों को लेकर विपक्ष ने सरकार को कठघरे में कर दिया था। तब तत्कालीन श्रम मंत्री हरक सिंह रावत ने पांच साल में सात लाख लोगों को रोजगार देने का दावा किया था। जबकि इससे एक साल पहले विस सत्र में ही तत्कालीन संसदीय कार्य मंत्री मदन कौशिक ने दावा किया था कि सरकार 10 लाख लोगों को रोजगार दे चुकी है। इस मामले में हरक के खिलाफ विशेषाधिकार हनन का मामला भी आ गया था। लेकिन अब सेवायोजन मंत्री के आंकड़ों को विपक्ष ने सहज स्वीकार कर लिया। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : खुशखबरी : रोजगार कार्यालय के माध्यम से विदेश में एक लाख रुपए वेतन की नौकरी पाने का मौका

HMC wins 'Elite Hospital' award for its role throughout Covid-19 pandemic |  The Peninsula Qatarडॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 21 मई 2022। सामान्यतया सेवायोजन विभाग के रोजगार कार्यालयों की पहचान केवल बेरोजगारों के पंजीकरण करने भर के लिए होती है, लेकिन संभवतया पहली बार रोजगार कार्यालय के जरिए विदेश में नौकरी करने का अवसर उपलब्ध कराया जा रहा है।

जिला सेवायोजन अधिकारी शंकर बोरा ने बताया कि भारत सरकार की कौशल विकास योजना के अंतर्गत बीएससी नर्सिंग के 30 व बीएससी जीएनएम के 100 पदों पर भर्ती के लिए अभ्यर्थियों से आवेदन मांगे गए हैं। अभ्यर्थी इन पदों के लिए जनपद के नैनीताल, हल्द्वानी व रामनगर स्थित सेवायोजन कार्यालय में अपने आवेदन जमा कर सकते हैं। आगे अभ्यर्थियों की लिखित परीक्षा देहरादून में और लिखित परीक्षा में सफल अभ्यर्थियों को साक्षात्कार के बाद संयुक्त अरब अमीनात के कतर स्थित प्राइम हेल्थ केयर यूएई व इनोवेशन ग्रुप कतर के चिकित्सालयों में नियुक्ति दी जाएगी।

बताया गया है कि वहां बीएससी नर्सिंग किए अभ्यर्थियों को एक लाख जबकि जीएनएम के अभ्यर्थियों को 75 हजार रुपए मासिक वेतन दिया जाएगा। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

यह भी पढ़ें : बदलीं पुलिस भर्ती की तिथियां, नई तिथियां घोषित, प्रवेश पत्र जारी, जानें भर्ती परीक्षा की पूरी जानकारी

Uttarakhand Police Constable Fireman Bharti For 1521 Posts. गुड न्यूज: उत्तराखंड  पुलिस में 1521 कास्टेबलों की भर्ती, 2 मिनट में पढ़िए पूरी डिटेल. Uttarakhand  Constable Recruitments 2022 ...नवीन समाचार, देहरादून, 9 मई 2022। उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग ने चारधाम यात्रा की वजह से तीन जिलों में पुलिस आरक्षी पदों पर भर्ती की शारीरिक नापजोख एवं शारीरिक दक्षता परीक्षा की तिथियों में बदलाव कर परीक्षा की तिथियों की घोषणा कर दी है और प्रवेश पत्र जारी कर दिए हैं।

गलती से 8 मई की जगह 8 जून की तिथि अंकित आयोग के पत्र में कहा गया है कि 1521 पदों पर होने वाली यह परीक्षा प्रदेश के उत्तरकाशी, रुद्रप्रयाग व टिहरी जिलों में हो रही चारधाम यात्रा के दृष्टिगत 15 जून से तथा शेष 10 जिलों में 15 मई से होगी। इन 10 जिलों के लिए आयोग ने रविवार को प्रवेश पत्र अपनी वेबसाइट में अपलोड कर दिए हैं।

बताया गया है कि प्रदेश भर से करीब 2.60 लाख उम्मीदवारों ने इस परीक्षा के लिए आवेदन किया है। नैनीताल जनपद में यह परीक्षा बस स्टेंड के पास मिनी स्टेडियम एवं आईआरबी प्रथम बैलपड़ाव में, देहरादून में पुलिस लाइन रेसकोर्स, आईआरबी द्वितीय झाझरा सुद्दोवाला व एसडीआरएफ मुख्यालयन जॉलीग्रांट, हरिद्वार में पुलिस लाइन रोशनाबाद, 40वीं वाहिनी पीएसी व परेड ग्राउंड एटीसी भेल में व उधमसिंह नगर में पुलिस लाइन एवं 31वीं व 46वीं वाहिनी पीएसी में तथा शेष 6 जनपदों में एक स्थान पर होगी। सभी परीक्षा केंद्रों में एक दिन में 400 अभ्यर्थियों की परीक्षा होगी।

चंपावत जिले में चुनाव प्रक्रिया के कारण 29 से 31 मई तथा 3 जून को परीक्षा नहीं होगी। परीक्षार्थियों से सुबह साढ़े सात बजे अपने फोटो पहचान पत्र, प्रवेश पत्र, दो फोटो एवं आयु व शारीरिक नापजोख में छूट संबंधी व होमगार्ड सेवा के प्रमाण पत्र तथा पानी व जलपान की सामग्री सहित उपस्थित होने को कहा गया है। बताया गया है कि किसी भी परीक्षा में अनर्ह पाए जाने पर अभ्यर्थी आगे की पूरी परीक्षा के लिए अनर्ह घोषित हो जाएंगे, तथा सभी परीक्षाओं में अर्ह अभ्यर्थी ही लिखित परीक्षा दे पाएंगे।(डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : सूचना : भीमताल में सिक्योरिटी एजेंसियों का रोजगार भर्ती मेला गुरुवार को…

INFOGRAPHIC] Attention, in numbers - KnowledgeOneडॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 20 अप्रैल 2022। जनपद में विभिन्न सिक्योरिटी एजेन्सियों द्वारा शिक्षित बेरोजगार को रोजगार उपलब्ध कराने हेतु खंड विकास कार्यालय भीमताल में 21 अप्रैल गुरुवार को रोजगार भर्ती मेले का आयोजन किया जा रहा है। नैनीताल के डीएम धीराज गर्ब्याल कहा कि इच्छुक अभ्यर्थी अपने शैक्षिक अभिलेखों के साथ कार्यालय में उपस्थित होकर सिक्योरिटी गार्ड, सुपरवाइजर, गनमैन एवं पीएसओ के पदों के लिए उपस्थित होकर लाभ ले सकते हैं। अन्य ताज़ा नवीन समाचार पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : थानाध्यक्ष ने युवाओं को दिया पुलिस भर्ती के लिए मार्गदर्शन…

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 10 अप्रैल, 2022। जनपद के बेतालघाट में युवाओं को पुलिस एवं सेना तथा अन्य भर्ती परीक्षाओं के लिए तैयारी कराई जा रही है। इसी कड़ी में बेतालघाट के थानाध्यक्ष सतीश शर्मा के द्वारा स्थानीय युवक-युवतियों को आगामी पुलिस भर्ती की तैयारी करने हेतु बेतालघाट के स्टेडियम में प्रशिक्षण दिया जा रहा है। साथ ही उन्हें भर्ती प्रक्रिया व भर्ती के अवसरों, भर्ती की प्रक्रिया आदि की जानकारी तथा शारीरिक व लिखित परीक्षा के बारे में मार्गदर्शन कर युवाओं का मनोबल बढ़ाया जा रहा है।

इसके अतिरिक्त रविवार को प्रतिभागी युवाओं को सामान्य ज्ञान की पुस्तक, नोटबुक, पेन, फाइल फोल्डर आदि भी भेंट किया गया और आगामी पुलिस भर्ती में सफल होने के लिए शुभकामनाएं दी। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : खुशखबरी : बड़ा समाचार: उत्तराखंड उच्च न्यायालय ने 1431 पदों पर लगी रोक हटाई

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 1 अप्रैल 2022। उत्तराखंड उच्च न्यायालय की वरिष्ठ न्यायाधीश न्यायमूर्ति मनोज कुमार तिवारी की एकलपीठ ने राज्य में एलटी कला वर्ग के शिक्षकों की भर्ती प्रक्रिया पर लगी रोक शुक्रवार को हटाते हुए भर्ती रोकने संबंधी याचिका को भी खारिज कर दिया है।

बताया गया है कि अभ्यर्थी ओम प्रकाश गौड़ व अन्य ने नैनीताल उच्च न्यायालय में याचिका दाखिल कर कहा था कि राज्य सरकार ने 13 अक्टूबर 2021 को एलटी वर्ग में 1431 पदों पर भर्ती के लिए विज्ञापन जारी किया। इसमें बीएड अनिवार्य किया गया था। इस बीच सरकार ने 25 फरवरी 2022 को नियमों में बदलाव कर कला वर्ग में बीएड की अनिवार्यता को समाप्त कर दिया। बिना बीएड के अभ्यर्थियों को भर्ती में शामिल करने को नियम विरुद्ध बताया गया।

इस पर न्यायालय ने भर्ती प्रक्रिया पर रोक लगाते हुए सरकार व उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग को नोटिस जारी कर पूछा कि भर्ती के दौरान नियमों में बदलाव क्यों किया ? ऐसा करने वाले आयोग के सचिव पर क्या कार्रवाई की जा सकती है? शुक्रवार को सरकार के जवाब दाखिल करने के बाद एकलपीठ ने भर्ती से रोक हटाते हुए याचिका को भी खारिज कर दिया। अन्य ताज़ा नवीन समाचार पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : 1300 पदों पर जल्द निकलने वाली है नौकरी

नवीन समाचार, देहरादून, 2 मार्च 2022। बीएड प्रशिक्षित बेरोजगारों के लिए अच्छी खबर है। एलटी से प्रवक्ता संवर्ग में पदोन्नति की वजह से रिक्त होने वाले पदों को सीधी भर्ती के जरिए भरा जाएगा। शिक्षा विभाग ने शिक्षकों की पदोन्नतियों का अंतिम प्रस्ताव सरकार को भेज दिया है। जबकि अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के लिए भर्ती का प्रस्ताव बनाना भी शुरू कर दिया है। विभागीय कोटे के अनुसार 1300 से ज्यादा पदों को सीधी भर्ती से भरा जाना है।

माध्यमिक शिक्षा निदेशक सीमा जौनसारी ने इसकी पुष्टि करते हुए आचार संहिता की वजह से उन्होंने इस विषय पर अधिक टिप्पणी तो नहीं की, लेकिन यह जरूर कहा कि निदेशालय स्तर पर भर्ती का प्रस्ताव बनाया जा रहा है।

सूत्रों के अनुसार एलटी शिक्षकों की पदोन्नतियों को लेकर पूर्व में लोक सेवा आयोग को भेजे गए प्रस्ताव पर आयोग ने कुछ जानकारियां मांगी थी। आयोग की आपत्तियों का समाधान करते हुए पदोन्नतियों का संशोधित प्रस्ताव सरकार को भेज दिया गया है। अब शासन से औपचारिक पत्र आयोग को जाना है। इसके बाद आयोग डीपीसी की तारीख तय कर देगा।

बंपर प्रमोशन की वजह से एलटी कैडर में खाली होने वाले पदों को भरने के लिए भी शिक्षा विभाग ने अभी से कसरत शुरू कर दी। इन पदों को वर्तमान शैक्षिक सत्र में ही भरने के लिए अधीनस्थ सेवा चयन आयोग को प्रस्ताव भेजा जा रहा है। प्रस्ताव का ड्राफ्ट तैयार कर लिया गया है। सूत्रों के अनुसार विभागीय कोटे के अनुसार 2200 पदों में 40 फीसदी को बेसिक से पदोन्नतियों के जरिए भरा जाएगा। बाकी 1300 से अधिक पद सीधी भर्ती के होंगे। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : 1614 पदों पर निकली भर्तियां, कोई फीस नहीं देनी होगी, आयु सीमा में एक वर्ष की छूट भी मिलेगी…

नवीन समाचार, मंगलौर, 28 दिसंबर 2021। उत्तराखण्ड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग ने मंगलवार को 2 भर्ती विज्ञापनों के द्वारा पुलिस विभाग में 1614 पदों पर भर्ती प्रकिया प्रारम्भ की गयी है। गृह विभाग के अंतर्गत नागरिक पुलिस व पीएसी-आईआरबी में आरक्षी तथा फायरमैन के कुल 1521 तथा एक अन्य विज्ञप्ति के द्वारा विभिन्न विभागों में सांख्यिकी अधिकारी व संगणक श्रेणी के 93 पदों पर भर्ती प्रकिया प्रारम्भ की गयी है।

उत्तराखण्ड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग की मूल विज्ञप्तियां यहाँ देखें : 

पुलिस आरक्षी व फायरमैन के पदों पर ऑनलाइन आवेदन की प्रकिया तीन जनवरी 2022 से 16 फरवरी तक एवं सांख्यिकी अधिकारी के पदों पर ऑनलाइन आवेदन पत्र 30 दिसंबर से 12 फरवरी तक भरे जायेंगे। दोनों ही मामलों में अभ्यर्थियों को ऊपरी आयु सीमा में एक वर्ष की अतिरिक्त छूट तथा आवेदन शुल्क में पूर्ण छूट दी गयी है। इसलिए अभ्यर्थियों से शुल्क नहीं लिया जायेगा।

पुरुष अभ्यर्थियों के लिए आयु सीमा 18-23 वर्ष तथा महिला अभ्यर्थियों के लिए 18-26 वर्ष रखी गयी है। विज्ञप्ति के अनुसार पुलिस विभाग की 1521 रिक्तियों के लिए भर्ती प्रकिया के 2 मुख्य चरण होंगे। पहले शारीरिक माप-जोख तथा शारीरिक दक्षता परीक्षण तथा उसके बाद लिखित परीक्षा। इसके उपरांत मेरिट के आधार पर अभ्यर्थियों को पदों का विकल्प लेने का अवसर दिया जायेगा। आरक्षी के पदों पर होमगार्ड के रूप में तीन वर्ष की सेवा पूर्ण कर चुके अभ्यर्थियों को 5 प्रतिशत का आरक्षण दिया गया है।

सांख्यिकी अधिकारी व संगणक के पदों पर सांख्यिकी व गणित आदि विषयों से स्नातक व स्नातकोत्तर अभ्यर्थी आवेदन कर सकते हैं। इन पदों के लिए चयन लिखित परीक्षा के आधार पर होगा। आवेदन पत्र भरने में आने वाली कठिनाइयों के लिए अभ्यर्थी टॉल फ्री नंबर 9520991172 या व्हाट्सएप्प नंबर 9520991174 या आयोग के ईमेल chayanayog@gmail.com पर भी सम्पर्क कर सकते हैं। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

उत्तराखंड में बेरोजगारी

उत्तराखंड में बेरोजगारी को लेकर भाजपा और कांग्रेस के बीच सियासी जंग छिड़ी है। कांग्रेस पिछले पांच सालों में बढ़ी बेरोजगारी को लेकर प्रदेश सरकार पर निशाने साध रही है। सत्तारूढ़ भाजपा भी आंकड़ों से बताने का जतन कर रही है कि प्रदेश में बेरोजगारी कम हुई है। पक्ष-विपक्ष की इस जंग के बीच रोजगार दफ्तरों में पंजीकरण कराने वाले उत्तराखंड के ४,७२,८०४ बेरोजगार नौकरी ढूंढ रहे हैं। सरकारी रिपोर्ट के अनुसार पिछले चार साल में पंजीकृत बेरोजगारों में से केवल दो प्रतिशत लोगों को रोजगार मिला। पंजीकृत बेरोजगारों में सरकार ने चार साल में कुल १०२६८ को रोजगार दिया। २०१८-१९ में ५६७८, २०१९-२० में २७०९, २०२०-२१ में १८७३ लोगों को रोजगार मिला। मौजूदा वर्ष में आठ पंजीकृत उम्मीदवारों को रोजगार मिला। सीएमआईई के २७ राज्यों के सर्वेक्षण में उत्तराखंड बेरोजगारी दर के मामले में दूसरे राज्यों की तुलना में देश में १६वें स्थान पर है।

यह भी पढ़ें : उत्तराखंड में खुलने वाला है 2500 से अधिक सरकारी नौकरियों का पिटारा, इनमें 800 पदों पर मिल सकता है मुस्लिमों को लाभ

-अधीनस्थ सेवा चयन आयोग शुरू करेगा सिपाहियों के 1521 और दरोगाओं के 197 पदों पर भर्ती
– प्रदेश में जल्द 800 उर्दू अध्यापकों की भर्ती होगी
नवीन समाचार, देहरादून, 19 दिसंबर 2021। उत्तराखंड की धामी सरकार ने बेरोजगार युवाओं को पुलिस विभाग में भर्ती के दरवाजे खोल दिए हैं। साथ ही राज्य के सरकारी विद्यालयों में उर्दू शिक्षकों के 800 पदों पर भी भर्ती होने जा रही है। इन 800 में से अधिकांश पदों पर मुस्लिमों को लाभ मिलने की अधिक संभावना है।

पुलिस भर्ती के संबंध में सचिव डा। रंजीत कुमार सिन्हा की ओर से जारी आदेश में कहा गया है कि उत्तराखंड पुलिस के 1521 आरक्षी पदों और 197 उपनिरीक्षक पदों पर भर्ती का निर्णय शासन ने लिया है। उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग को इन पदों की भर्ती परीक्षा की विज्ञप्ति जारी करने और परीक्षा कार्यक्रम जारी करने के निर्देश दिए गए हैं।

उल्लेखनीय है कि हाल ही में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने ‘देवभूमि बेरोजगार मंच’ के तहत रोजगार के लिए प्रदर्शन कर रहे युवाओं को आश्वासन दिया था कि अतिशीघ्र पुलिस विभाग में भर्ती की प्रक्रिया शुरू की जाएगी। बीते 17 दिसंबर को बेरोजगार युवाओं ने मुख्यमंत्री आवास कूच किया था। इस दौरान अधिकारियों के जरिए हुए वार्ता में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी दो दिन के भीतर पुलिस भर्ती प्रक्रिया शुरू करने का आश्वासन दिया था, जो अब पूरा होने जा रहा है।

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री का गत 4 जुलाई को पदभार संभालते ही धामी ने कहा था कि युवाओं को रोजगार के अवसर उपलब्ध कराना उनकी पहली प्राथमिकता है। सरकारी नौकरी के साथ स्वरोजगार मुहैया करवाकर ही पहाड़ी क्षेत्र से हो रहे पलायन को रोका जा सकता है। उन्होंने तुरंत विभिन्न सरकारी विभागों में रिक्त पड़े लगभग 24000 पदों पर नियुक्ति शुरू करने के निर्देश दिए थे। इसके बाद अधिकांश विभागों ने अपने यहां रिक्त पदों के सापेक्ष भर्ती प्रक्रिया शुरू कर दी है।

प्रदेश में जल्द 800 उर्दू शिक्षकों की भर्ती होगी
उत्तराखंड अल्पसंख्यक आयोग के उपाध्यक्ष मजहर नईम नवाब ने बताया कि प्रदेश के सरकारी स्कूलों में जल्द 800 उर्दू अध्यापकों की भर्ती की जाएगी। उन्होंने बताया कि आयोग ने कोशिश करके मदरसा बोर्ड की नियमावली बनवाई और समकक्षता के लिए लगातार कोशिश जारी है। कई छात्राओं को उच्च शिक्षा में दाखिले दिलाए जा रहे हैं। 144 उर्दू शिक्षकों की नियुक्तियों की प्रक्रिया जारी है। प्रदेश में चार इंटर कॉलेज और दो डिग्री कॉलेज खुल रहे हैं। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : उत्तराखंड लोक सेवा आयोग से निकलीं 318 पदों पर भर्तियां

नवीन समाचार, देहरादून, 12 दिसंबर 2021। उत्तराखंड लोक सेवा आयोग ने युवाओं को सरकारी नौकरी करने का एक और मौका दिया है। आयोग ने पूर्व में 224 पदों पर भर्ती जारी करने के बाद अब इस भर्ती में 94 रिक्त पदों को और सम्मिलित कर 318 पदों पर भर्ती की विज्ञप्ति जारी की है। इसके साथ आयोग ने उत्तराखंड सम्मिलित राज्य सिविल-प्रवर अधीनस्थ सेवा परीक्षा-2021 के लिए फिर से आवेदन की प्रक्रिया शुरू कर दी है। इस हेतु आयोग की आधिकारिक वेबसाइट https://www.ukpsc.gov.in/ के जरिए 28 दिसंबर 2021 तक ऑनलाइन आवेदन किए जा सकते हैं। शैक्षणिक योग्यता संबंधी अधिक जानकारी के लिए अभ्यर्थी जारी आधिकारिक नोटिफिकेशन को देख सकते हैं।

इन विभिन्न पदों पर आवेदन करने वाले अभ्यर्थी के पास किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक की डिग्री होनी चाहिए। आवेदन करने वाले अभ्यर्थियों की उम्र 21 से 42 वर्ष के बीच होनी चाहिए। वहीं अधिकतम उम्र सीमा में राज्य के एससी, एसटी और ओबीसी वर्ग के अभ्यर्थियों को पांच वर्ष की छूट दी गई है। इन विभिन्न पदों पर अभ्यर्थियों का चयन प्रारंभिक परीक्षा और मुख्य परीक्षा के आधार पर किया जाएगा। प्रारंभिक परीक्षा में सफल अभ्यर्थी मुख्य परीक्षा के लिए योग्य होंगे।

इस भर्ती में पुलिस उपाधीक्षक के 10 पद, वित्त अधिकारी के 18, सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी के 11, कारखाना सहायक निदेशक के 4, खंड विकास अधिकारी के 28, उप शिक्षा अधिकारी के 32, सूचना अधिकारी के 14, परिवहन कर अधिकारी के 5, बाल विकास परियोजना अधिकारी के 19 सहित कई पदों पर भर्ती विज्ञप्ति जारी की गई है। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : असिस्टेंट प्रोफेसरों के 455 पदों पर नियुक्तियां जारी…

नवीन समाचार, देहरादून, 6 दिसंबर 2021। उत्तराखंड के सरकारी महाविद्यालयों में असिस्टेंट प्रोफेसर के 455 पदों पर नियुक्तियां होगी। उत्तराखंड लोक सेवा आयोग ने नियुक्तियों हेतु विज्ञप्ति जारी कर दी है। 24 दिसंबर तक इन पदों के लिए ऑनलाइन आवेदन किए जा सकते हैं। आयोग की विज्ञप्ति के मुताबिक अंग्रेजी में 52, अर्थशास्त्र में 42, रसायन विज्ञान में 34, हिंदी में 33, गणित में 29, वाणिज्य में 25, राजनीति शास्त्र व इतिहास में 24-24, समाजशास्त्र में 23, वनस्पति विज्ञान में 21, संस्कृत व भूगोल में 19-19, गृह विज्ञान में 15, भूगर्भ विज्ञान व भौतिक विज्ञान में 6-6, शिक्षाशास्त्र व जंतु विज्ञान में 4-4, और बीसीए में तीन, मनोविज्ञान, सैन्य विज्ञान, चित्रकला व संगीत में दो-दो तथा मानव विज्ञान में एक पदों पर भर्ती होगी।

आयोग के सचिव कर्मेंद्र सिंह के मुताबिक, अभ्यर्थी वेबसाइट https://ukpsc.gov.in/ पर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। यूजीसी के मानकों के तहत नेट की परीक्षा उत्तीर्ण कर चुके अभ्यर्थी ही नियुक्ति प्रक्रिया में हिस्सा ले सकते हैं। जिसके लिए आयु सीमा 21 से 42 वर्ष तक रखी गई है। विजिटिंग फैकल्टी व संविदा प्रवक्ताओं को नियुक्ति में 10 अंकों का बोनस दिया जाएगा। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : उत्तराखंड में लगातार हर माह घट रही है बेरोजगारी दर, सेंटर ऑफ मॉनिटरिंग इंडियन इकोनॉमी का आंकलन

नवीन समाचार, देहरादून, 4 दिसंबर 2021। उत्तराखंड में बेरोजगारी की दर और घट गई है। सेंटर ऑफ मॉनिटरिंग इंडियन इकोनॉमी (सीएमईआई) के ताजा आंकड़ों के मुताबिक नवम्बर में प्रदेश में बेरोजगारी दर ३.१ फीसद रही, जो अक्टूबर में ३.३ फीसद थी। बीते कुछ महीने से बेरोजगारी दर में लगातर कमी आ रही है।

अगस्त में जहां बेरोजगारी दर ६.२ फीसद थी वहीं सितम्बर में ४.१ और अक्टूबर में ३.३ तो नवम्बर में ३.१ फीसद ही रह गई। देश में देखें तो देश में अक्टूबर में बेरोजगारी दर बढ़ी हुई ७.७५ फीसद दर नवम्बर में कम हो गई है यह सात फीसद हो गई है। सितम्बर में यह ६.८६ तो अगस्त में ८.३ फीसद थी। उल्लेखनीय है कि प्रदेश में अगस्त में बेरोजगारी दर जुलाई के मुकाबले दोगुनी हो गई थी। प्रदेश में बेरोजगारी दर जुलाई के ३.२ फीसद से बढ़कर अगस्त में ६.२ प्रतिशत हो गई थी।

वैसे यह पिछले साल के सितंबर के आंकड़े यानी २२.३ फीसद से बहुत कम है। सीएमआईई के नवम्बर के आंकड़ों के मुताबिक बेरोजगारी सबसे अधिक हरियाणा में २९.३ फीसद और सबसे कम ओडिशा में ०.६ प्रतिशत है। उत्तराखंड में बेरोजगारी की दर २०२० के फरवरी में ५ फीसद थी जो कि कोरोना और उसके बाद लगे विवेकहीन लॉकडाउन यानी तालाबंदी के बाद मार्च में १९.९ फीसद हो गई। यह बाद में घटकर अप्रैल में घटकर ६.५ फीसद हो गई, बेरोजगारी दर मई में फिर से बढ़ने लगी ८, वह जून में ८.६, जुलाई में १२.४, अगस्त में १४.३, सितंबर में २२.३ के उच्च स्तर पर पहुंच गई।

अक्टूबर में बेरोजगारी दर फिर घटी और ९.२ फीसद हो गई और नवम्बर में न्यूनतम १.५ फीसद तक पहुंच गई। दिसम्बर २०२० में फिर बढ़कर ५.२ फीसद हुई तो इस साल यानी जनवरी २०२१ में ४.५ फीसद हो गई। फरवरी में बढ़कर ४.७, मार्च में ३.३, कोरोना कर्फ्यू में छूट मिलते ही अप्रैल में ६ फीसद और मई में ५.५ फीसद हो गई, जून में बेरोजगारी दर ४.८ प्रतिशत रही और जुलाई में घटकर ३.२ प्रतिशत हो गई अब बेरोजगारी दर जबकि अगस्त लगभग दोगुनी होकर ६.२ फीसद हो गई थी। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : कहां है बेरोजगारी: उत्तराखंड के संस्थान से छात्र को मिला 2.15 करोड़ का पैकेज, अन्य को 1.3 व 1.8 करोड़ के पैकेज भी मिले

नवीन समाचार, रुड़की, 2 दिसंबर 2021। ‘खुदी को कर बुलंद इतना कि हर तकदीर से पहले, खुदा बंदे से खुद पूछे कि बता तेरी रजा क्या है’। जी हां, बेरोजगारी के राजनीतिक शोर के बीच यह खबर उन युवाओं के लिए प्रेरणास्पद हो सकती है जो व्यवस्था पर प्रश्न उठाने की जगह खुद व्यवस्था से आगे बढ़ने का होंसला रखते हैं।

उत्तराखंड के रुड़की स्थित भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान यानी आइआइटी में हुए ताजा कैंपस प्लेसमेंट के पहले दिन संस्थान के एक छात्र को 2.15 करोड़ का सालाना अंतरराष्ट्रीय पैकेज और दो अन्य छात्रों को 1.30 करोड़ से लेकर 1.8 करोड़ के और कुल मिलाकर 11 छात्रों को एक करोड़ से अधिक के सालाना पैकेज प्राप्त हुए हैं। इसका अर्थ यह हुआ कि उन्हें प्रति माह करीब 8 लाख से लेकर करीब 18 लाख रुपए प्रति माह प्राप्त होंगे, जितने आम बेरोजगारी का रोना रोने को अभिशप्त छात्र शायद पूरे वर्ष में प्राप्त करने की नहीं सोच रहे होंगे। गौरतलब है आईआईटी में इससे पहले संस्थान के छात्रों को अधिकतम 1.5 करोड़ का पैकेज मिल चुका था।

उल्लेखनीय है कि बुधवार से आईआईटी में कैंपस प्लेसमेंट शुरू हुए हैं। इस दौरान संस्थान के छात्रों को 13 अंतरराष्ट्रीय सहित कुल 450 आफर प्राप्त हुए हैं। पहले दिन कुल 35 कंपनियों ने कैंपस प्लेसमेंट में हिस्सा लिया। पिछले वर्ष की तुलना में इस साल आईआईटी रुड़की के कैंपस प्लेसमेंट में घरेलू आफर में 80 प्रतिशत और अंतरराष्ट्रीय आफर में 40 प्रतिशत का उछाल आया है। आइआइटी रुड़की के प्लेसमेंट एंड इंटर्नशिप सेल के प्रभारी प्रोफेसर विनय शर्मा ने बताया कि एक दिसंबर से शुरू हुए कैंपस प्लेसमेंट के पहले दिन संस्थान के एक छात्र को 2.15 करोड़ का अंतरराष्ट्रीय पैकेज मिला है। बीच में कोरोना की विभीषिका के बावजूद छात्रों के साथ प्लेसमेंट सेल ने भी इसके लिए विशेष रणनीति बनाई थी, व विशेष प्रयास-मेहनत की थी। इससे यह सफलता मिली है। उन्होंने बताया कि कैंपस प्लेसमेंट 15 दिनों तक चलेगा।

कैंपस प्लेसमेंट में अल्फाग्रेप सिक्योरिटीज प्राइवेट लिमिटेड, अमेजन, ऐप्पल, एपीटी पोर्टफोलियो, बजाज ऑटो, केयर्न ऑयल एंड गैस, कोडनेशन, दा विंची डेरिवेटिव्स, फ्लिपकार्ट, गूगल, ग्रेविटॉन रिसर्च कैपिटल एलएलपी, हिंदुस्तान यूनिलीवर, इन्फर्निया टेक्नोलॉजीज, इंटेल टेक्नोलाजीज, आईटीसी, जगुआर लैंड रोवर, जेपीएमसी क्वांट, मर्सिडीज बेंज, माइक्रोन टेक्नोलाजीज आपरेशंस इंडिया एलएलपी, माइक्रोसॉफ्ट, मिलेनियम मैनेजमेंट, एनवीडिया, ओरेकल, प्लूटस रिसर्च प्राइवेट लिमिटेड, टाटा स्टील, टेक्सास इंस्ट्रूमेंट, ट्रेक्सक्वांट, उबर आदि कंपनियां शामिल हैं। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : फिर आयोग से निकली भर्तियां, कोई आवेदन शुल्क नहीं, आयु सीमा में भी मिलेगी एक वर्ष की छूट

नवीन समाचार, देहरादून, 27 नवंबर 2021। चुनावी वर्ष में एक बार फिर उत्तराखंड में नियुक्तियां निकली हैं। उत्तराखंड लोक सेवा आयोग ने लंबे समय बाद नौ विभागों में जूनियर इंजीनियरों के 776 पदों पर भर्ती निकली है। भर्ती की विस्तृत जानकारी आयोग की वेबसाइट (https://ukpsc.gov.in/latestupdate/index/1088-Recruitments) पर देख सकते हैं।

आयोग की विज्ञप्ति के अनुसार ग्रामीण निर्माण विभाग में 182, सिंचाई विभाग में 49, लघु सिंचाई विभाग में 39, पंचायती राज विभाग में 21, पेयजल एवं स्वच्छता विभाग में 79, लोक निर्माण विभाग में 222, विद्युत सुरक्षा विभाग में नौ, आवास विभाग में 139 और कृषि विभाग में 36 जूनियर इंजीनियरों की भर्ती निकाली है। इन सभी पदों के लिए 17 दिसंबर तक ऑनलाइन आवेदन किया जा सकता है।

खास बात यह भी है कि इस भर्ती परीक्षा के आवेदन का कोई शुल्क नहीं लिया जाएगा, क्योंकि मुख्यमंत्री के आदेश के बाद सभी भर्ती आवेदनों का शुल्क माफ है। साथ ही उम्मीदवारों को राज्य सरकार के आदेश के तहत अधिकतम आयु सीमा में एक वर्ष की छूट दी जाएगी।

यह भी उल्लेखनीय है कि जूनियर इंजीनियर भर्ती की परीक्षा 14 शहरों-अल्मोड़ा, बागेश्वर, चंपावत, हल्द्वानी, खटीमा, रुद्रपुर, पिथौरागढ़, देहरादून, गोपेश्वर, हरिद्वार, नई टिहरी, रुद्रप्रयाग, श्रीनगर और उत्तरकाशी में परीक्षा केंद्र चुनने का विकल्प उम्मीदवारों को दिया गया है।आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : UKSSSC से 157 पदों पर आवेदन के लिए बस कुछ घंटे शेष..

नवीन समाचार, रोजगार डेस्क, 24 नवंबर 2021। उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग ने गत दिनों 157 विभिन्न पदों पर सीधी भर्ती के लिए आवेदन आमंत्रित किए थे। इन पदों पर इच्छुक अभ्यर्थी 25 नवंबर तक ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। यानी इन पदों के लिए आवेदन करने को अब सिर्फ दो दिन शेष हैं। विस्तृत जानकारी इस लिंक पर भी देख सकते हैं : https://sssc.uk.gov.in/files/karms5oct494.pdf इन पदों का विवरण निम्नवत है: 

कनिष्ठ सहायक व कनिष्ठ अभियंता के अभिलेख सत्यापन हेतु क्लिक करें

अवर अभियंता (विद्युत एवं यांत्रिक प्रशिक्षु की औपबंधिक श्रेष्ठता सूची हेतु क्लिक करें

सहायक अध्यापक (एलटी) की अभिलेख सत्यापन हेतु औपबंधिक श्रेष्ठता सूची हेतु क्लिक करें

समूह-ग के अन्तर्गत सहायक कृषि अधिकारी व अन्य के पदों पर सीधी भर्ती के विज्ञापन हेतु क्लिक करें

लेखा लिपिक की अभिलेख सत्यापन की औपबंधिक श्रेष्ठता सूची(क्लिक करें) 

अनुदेशक विद्युत (जनजाति कल्याण) के 4 पद
शैक्षिक योग्यता इंटरमीडिएट और हाईस्कूल में विज्ञान और गणित विषय अनिवार्य है।
संबंधित व्यवसाय में न्यूनतम 60% अंकों सहित राष्ट्रीय व्यावसायिक प्रमाण पत्र व राष्ट्रीय शिशिछुता प्रमाण पत्र।
संबंधित व्यवसाय में 1 वर्ष का सीटीआई प्रमाण पत्र।

कर्मशाला अनुदेशक इलेक्ट्रॉनिक्स (प्राविधिक शिक्षा विभाग) के 8 पद
शैक्षिक योग्यता संबद्ध शाखा में 3 वर्ष का जीएसटीएस का प्रमाण पत्र अथवा हाई स्कूल के साथ संबद्ध शाखा में जीटीआई या आईटीआई या पॉलिटेक्निक का प्रमाण पत्र या संबद्ध शाखा में डिप्लोमा। प्रमाण पत्र के बाद 3 वर्ष का औद्योगिक अनुभव।

अनुदेशक डीजल मैकेनिक (जनजाति कल्याण) के 2 पद

शैक्षिक योग्यता इंटरमीडिएट पास और हाईस्कूल विज्ञान एवं गणित विषयों से उत्तीर्ण।
संबंधित व्यवसाय में न्यूनतम 60% अंकों सहित राष्ट्रीय व्यावसायिक प्रमाण पत्र राष्ट्रीय शिशिक्षुता प्रमाण पत्र।
1 वर्ष का सीटीआई प्रमाण पत्र।
प्रशिक्षण अवधि को संबोधित करते हुए कम से कम 5 साल का अनुभव जो किसी सरकार या सार्वजनिक निजी विभाग अथवा प्रतिष्ठान का सवेतन हो।

अनुदेशक मोटर मैकेनिक (जनजाति कल्याण) के 2 पद
शैक्षिक योग्यता इंटरमीडिएट पास और हाईस्कूल विज्ञान एवं गणित विषयों से उत्तीर्ण।
संबंधित व्यवसाय में न्यूनतम 60% अंकों सहित राष्ट्रीय व्यावसायिक प्रमाण पत्र व राष्ट्रीय शिशिक्षुता प्रमाण पत्र।
1 वर्ष का सीटीआई प्रमाण पत्र।
हल्के एवं भारी वाहन चालक का वैध लाइसेंस।

अनुदेशक वेल्डर के 2 पद
शैक्षिक योग्यता इंटरमीडिएट पास और हाईस्कूल विज्ञान एवं गणित विषयों से उत्तीर्ण।
संबंधित व्यवसाय में न्यूनतम 60% अंकों सहित राष्ट्रीय व्यावसायिक प्रमाण पत्र व राष्ट्रीय शिशिछुता प्रमाण पत्र।
1 वर्ष का सीटीआई प्रमाण पत्र।

अनुदेशक फिटर के 5 पद
शैक्षिक योग्यता इंटरमीडिएट पास और हाईस्कूल विज्ञान एवं गणित विषयों से उत्तीर्ण।
संबंधित व्यवसाय में न्यूनतम 60% अंकों सहित राष्ट्रीय व्यावसायिक प्रमाण पत्र व राष्ट्रीय शिशिछुता प्रमाण पत्र।
1 वर्ष का सीटीआई प्रमाण पत्र।

कर्मशाला अनुदेशक के 109 पद
शैक्षिक योग्यता शैक्षिक योग्यता संबद्ध शाखा में 3 वर्ष का जी एस टी एस का प्रमाण पत्र अथवा हाई स्कूल के साथ संबद्ध शाखा में जीटीआई या आईटीआई अथवा पॉलिटेक्निक का प्रमाण पत्र या संबद्ध शाखा में डिप्लोमा। प्रमाण पत्र के बाद 3 वर्ष का औद्योगिक अनुभव।

लाइनमैन का 01 पद
शैक्षिक योग्यता हाई स्कूल उत्तीर्ण
मान्यता प्राप्त औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान से 2 साल का विद्युत व्यवसाय का प्रमाण पत्र।

सहायक बोरिंग टेक्निशियन (लघु सिंचाई विभाग) के 13 पद
शैक्षिक योग्यता हाईस्कूल उत्तीर्ण।
संबंधित व्यवसाय में 2 वर्षीय पाठ्यक्रम का डिप्लोमा।

तकनीकी सहायक के 3 पद
शैक्षिक योग्यता फिटर इलेक्ट्रिशियन, प्लंबिंग ट्रेड में आईटीआई 3 वर्षीय प्रमाण पत्र और 2 साल का अनुभव।

इच्छुक अभ्यर्थी इन पदों के लिए 12 अक्टूबर से 25 नवंबर तक ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। इसके लिए अभ्यर्थियों को https://sssc.uk.gov.in/ पर लॉग इन करना होगा। इन पदों के लिए लिखित परीक्षा का अनुमानित समय मार्च 2022 है। लिखित परीक्षा 100 अंको की 2 घंटे की वस्तुनिष्ठ प्रकार की होगी। इन पदों के लिए आयु सीमा न्यूनतम 18 और 21 साल से 43 वर्ष तक निर्धारित है। उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के फैसले के बाद 31 मार्च 2022 तक सीधी भर्ती में कोई शुल्क नहीं लिया जाएगा। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

सरकारी नौकरियों से संबंधी पुराने समाचार इस लिंक पर देखें।

Leave a Reply