News

परम्परागत तौर पर कैसे मनाई जाती थी दिवाली ? कैसे मनाएं दीपावली कि घर में वास्तव में लक्ष्मी आयें, क्यों भगवान राम की जगह लक्ष्मी-गणेश की होती है पूजा ?

      बिन पटाखे, कुमाऊं में ‘च्यूड़ा बग्वाल’ के रूप में मनाई जाती थी परंपरागत दीपावली -कुछ ही दशक पूर्व से हो रहा है पटाखों का प्रयोग-प्राचीन लोक कला ऐपण से होता है माता लक्ष्मी का स्वागत और डिगारा शैली में बनती हैं महालक्ष्मीडॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार,  नैनीताल। वक्त के साथ हमारे परंपरागत त्योहार अपना […]

News

नैनीताल की सीख से विधानसभा अध्यक्ष ने अपने सरकारी आवास पर बनाए ऐपण से माता लक्ष्मी के पग चिन्ह, प्रदेश वासियों से भी किया बड़ा आह्वान…

      नवीन समाचार, देहरादून, 22 अक्तूबर 2022। महिलाएं कितने भी बड़े पद पर हों लेकिन अपनी जिम्मेदारियां नहीं छोड़तीं। उत्तराखंड की विधानसभा अध्यक्ष ऋतु भूषण खंडूड़ी ने धनतेरस पर्व पर शनिवार को देहरादून स्थित अपने शासकीय आवास पर ऐपण कला के जरिए मां लक्ष्मी के चरण और कई सुंदर कलाकृतियां बनाकर दीपावली की प्रदेशवासियों को शुभकामनाएं […]