News

नैनीताल : 22 वर्षीय युवती ने गटका कीटनाशक

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 26 जुलाई 2021। मुख्यालय के निकटवर्ती फगुनियाखेत-खुर्पाताल क्षेत्र की एक 22 वर्षीय युवती ने सोमवार सुबह अज्ञात कारणों से विषपान कर लिया। उसे गंभीर स्थिति में उपचार हेतु बीडी पांडे जिला चिकित्सालय लाया गया। यहां इमरजेंसी मेडिकल ऑफीसर डॉ. सुधांशु शर्मा ने उसका उपचार करने के बाद बताया कि युवती ने करीब 30 मिलीलीटर कीटनाशक पी लिया था। इससे उसकी स्थिति गंभीर हो गई।

प्राथमिक उपचार के बाद उसे चिकित्सालय में भर्ती कर लिया गया है। मल्लीताल कोतवाली पुलिस को भी घटना की सूचना दी गई है। पुलिस युवती द्वारा कीटनाशक पिए जाने की जांच कर रही है। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें। 

यह भी पढ़ें : झील में कूदा 4 बच्चों का पिता

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 28 जून 2021। सोमवार को एक चार बच्चों का पिता नगर की नैनी झील में कूद गया। गनीमत रही कि लोगों ने उसे झील में कूदते देख लिया और त्वरित सक्रियता से उसे बचा लिया। बचाने के बाद युवक शराब के नशे में धुत मिला और झील में कूदने के बारे में कुछ भी नहीं बता पाया। उसकी पहचान नगर के जय लाल साह बाजार निवासी अतीक पुत्र कल्लू के रूप में हुई।
प्राप्त जानकारी के अनुसार सोमवार शाम करीब पांच बजे कुछ लोगों ने एक व्यक्ति को नयना देवी मंदिर के पास ठंडी सड़क से नैनी झील में कूदते देखा। कूदने के बाद व्यक्ति झील में बचने के लिए छटपटाने लगा। इस पर पुलिस को सूचना दी गई और नौकायन कर रहे कुछ सैलानी एवं अन्य लोगों ने सूचना मिलने पर मौके पर पहुंचे मल्लीताल कोतवाली के उपनिरीक्षक हरीश सिंह व अन्य पुलिस कर्मियों की मदद से व्यक्ति को सकुशल बचा लिया। एसआई हरीश सिंह ने बताया कि उसे थाने लाया गया। उसकी पत्नी को भी थाने बुलाया गया। पत्नी ने बताया कि वह चार बच्चों का पिता है। उसका परिवार उसकी आए दिन शराब पीने की लत से परेशान हैं। आज शराब के नशे में ही वह झील में कूद गया।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार अतीक पुत्र कल्लू निवासी जय लाल शाह बाजार मल्लीताल नैनीताल उम्र 40 वर्ष जो कि आज दिनांक28/06/21 को साईं 5:00 बजे लगभग नैना देवी मंदिर के पास बोट स्टैंड से झील में कूद गया था जिसे जल पुलिस कांस्टेबल दिनेश कोहली की सहायता से झील से सकुशल बाहर निकालकर बचाया गया अतीक जो कि अशरफ कबाड़ी वाला बीच बाजार मल्लीताल की दुकान में कार्य करता  है। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें। 

यह भी पढ़ें : बहन की आत्महत्या के बाद बहुमंजिला इमारत की छत से कूदने को चढ़ा युवक, पुलिस ने बमुश्किल बचाया…

tower नवीन समाचार, नैनीताल, 12 जून 2021। हल्द्वानी में एक युवक ने शनिवार को मुखानी स्थित एक ब्लड बैंक की बहुमंजिला इमारत की छत पर चढ़ कर जान देने की धमकी देते हुए पुलिस के पसीने छुड़ा दिए। छत पर चढ़े युवक ने कई घंटे तक हाई वोल्टेज ड्रामा किया। मौके पर पहुंची पुलिस ने काफी मशक्कत के बाद युवक को बातों में उलझाकर और पीछे से जाकर पकड़ लिया। मामले मंे यह बात भी प्रकाश में आई है कि युवक मानसिक रूप से परेशान था। कुछ समय पूर्व उसकी बहन ने भी आत्महत्या की थी।
प्राप्त जानकारी के अनुसार पवन सिंह नाम का 21 वर्षीय युवक शनिवार दोपहर को अचानक मुखानी स्थित एक ब्लड बैंक की बिल्डिंग की छत पर चढ़ गया। जहां से वह नीचे कूदने की धमकी देने लगा। यह देखकर वहां लोग इकट्ठा होने लगे। इस बीच किसी ने इसकी सूचना मुखानी थाने में दी। सूचना मिलते ही एसओ सुशील कुमार टीम के साथ मौके पर पहुंचे। उन्होंने युवक को काफी देर तक बातों में लगाए रखा, और इसी बीच पुलिस की एक टीम ने चुपचाप छत पर चढ़कर युवक को काबू में कर लिया। एसओ ने बताया कि युवक मानसिक रूप से अस्वस्थ है। उसकी बड़ी बहन ने भी कुछ समय पहले आत्महत्या कर ली थी। बताया कि युवक के परिजनों को बुलाकर मनोचिकित्सक से उसकी कॉउंसलिंग कराई गई है। पुलिस टीम में एसआई धरम, ताजबीर नेगी, नरेंद्र राणा, राजेश यादव, केदार सिंह व देवलचौड़ निवासी एक अन्य व्यक्ति पवन मेहरा भी मौजूद रहे। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें। 

यह भी पढ़ें : हल्द्वानी में छात्र-छात्रा ने किया आत्महत्या का प्रयास, फिर खुद पहुंचे अस्पताल

नवीन समाचार, हल्द्वानी, 22 मार्च 2021। हल्द्वानी में दो छात्र-छात्राओं के द्वारा आत्महत्या का प्रयास किया गया है। मुक्तेश्वर के रहने वाले छात्र-छात्रा शहर में किराए में रहकर एमबीपीजी कॉलेज में पढ़ाई करते थे, आज अचानक दोनों ने जहर खाकर आत्महत्या का प्रयास किया। जिसके बाद दोनों खुद टेम्पो से बेस अस्पताल पहुंचे। जहां छात्र की गम्भीर हालत को देखते हुए उसे सुशीला तिवारी अस्पताल में रेफर किया गया है। जबकि छात्रा का बेस अस्पताल में इलाज चल रहा है। फिलहाल इस आत्मघाती कदम को उठाने के पीछे क्या वजह थी पुलिस इसकी जांच कर रही है। एसपी क्राइम देवेंद्र पिंचा के अनुसार फिलहाल दोनों के स्वास्थ्य उपचार का ध्यान रखा जा रहा है। जैसे ही स्वास्थ्य में सुधार होगा उसके बाद अग्रिम जांच कर कार्रवाई की जाएगी कि आखिर ऐसा कदम उठाने के पीछे क्या कारण रहा।

यह भी पढ़ें : अब पुलिस कर्मी ने किया नैनी झील में कूद कर जान देने का प्रयास

नवीन समाचार, नैनीताल, 28 फरवरी 2021। नैनी झील में हालिया दिनों से एक बार फिर झील में कूदने के मामले बढ़ने लगे हैं। रविवार को एक पुलिस कर्मी द्वारा झील में कूदने का प्रयास करने का मामला सामने आया। हालांकि बताया गया कि पुलिस कर्मी झील में उतरा। वहां पानी भी कम था, और उसे दैवयोग से एक यातायात पुलिस के कर्मी से देख लिया और टोक दिया। इस पर वह खुद ही झील से बाहर निकल आया।
नगर के पुलिस क्षेत्राधिकारी विजय थापा ने यह जानकारी देने के साथ ही बताया कि अल्मोड़ा जिले के भिकियासैंण का निवासी एवं वर्ष 2012 मंे होमगार्ड कोटे से पुलिस में भर्ती हुआ करीब 35 वर्षीय पुलिस कर्मी गोविंद सिंह जीना पारिवारिक कारणों से परेशान था। इस कारण उसने झील में कूदने जैसा कदम उठाया। लेकिन उसे बचा लिया गया। इसके बाद उसे अवकाश स्वीकृत कर उसके भाई के सुपुर्द कर दिया गया है।

यह भी पढ़ें : माता-पिता के विवाद में नाबालिग बेटी ने खाया जहर, करना पड़ा बाहर रेफर

नवीन समाचार, नैनीताल, 20 फरवरी 2021। जिला मुख्यालय के निकटवर्ती पंगोट क्षेत्र की एक नाबालिग किशोरी ने जहर गटक लिया। अचेत अवस्था में परिजन उसे बीडी पांडे जिला अस्पताल ले आए। यहां प्राथमिक उपचार के बाद भी उसकी स्थिति मंे सुधार नहीं हुआ, इस पर उसे हल्द्वानी रेफर करना पड़ा। बताया गया है कि माता-पिता के बीच विवाद के बाद किशोरी ने यह कदम उठाया।
प्राप्त जानकारी के अनुसार नाबालिग किशोरी के माता-पिता के बीच किसी बात को लेकर कहासुनी हो गई। विवाद बढ़ने पर बच्चों ने मामला शांत करने की कोशिश की, लेकिन माता-पिता शांत होने का नाम नहीं ले रहे थे। इस पर तनाव में आकर घर की नाबालिग बेटी ने घर पर रखा कीटनाशक गटक लिया। इससे उसकी तबीयत बिगड़ने लगी। इस पर परिजन उसे उपचार के लिए बीडी पांडे जिला चिकित्सालय लाए। यहां वरिष्ठ फिजीशियन डॉ. एमएस दुग्ताल ने उसका उपचार किया। उन्होंने बताया कि किशोरी को प्राथमिक उपचार के दौरान पेट से कीटनाशक निकाल दिया गया। फिर भी उसकी हालत में कुछ खास सुधार नहीं हुआ। इस पर उसे पेट की अंदरूनी जांचों के लिए हायर सेंटर रेफर कर दिया गया।

यह भी पढ़ें : चलती गाड़ी से झील में कूदा युवक

नवीन समाचार, भीमताल, 16 फरवरी 2021। पिछले वर्ष द्वाराहाट की एक विवाहिता ने भीमताल की झील में कूदकर आत्महत्या कर ली थी, जबकि मंगलवार शाम को द्वाराहाट के एक युवक ने चलते वाहन से भीमताल झील में छलांग लगाकर आत्महत्या करने का प्रयास किया। इससे मौके पर अफरातफरी मच गई। गनीमत रही कि नाव चालकों ने युवक को झील से सकुशल निकाल कर बचा लिया। युवक मानसिक रूप से कमजोर बताया जा रहा है।
पुलिस के अनुसार मंगलवार शाम द्वाराहाट निवासी युवक को उसके परिजन हल्द्वानी के अस्पताल से दिखाकर टैक्सी वाहन लौट रहे थे। नगर के ठंडी सड़क मार्ग पर भीड़ के चलते उनका वाहन धीरे-धीरे चल रहा था। इस दौरान मौका लगते ही युवक ने वाहन की खिड़की से बाहर निकलकर झील में छलांग लगा दी। इससे वाहन में मौजूद यात्रियों में अफरातफरी मच गई। घटना के बाद परिजनों ने वाहन से उतरकर बेटे को बचाने के लिए शोर किया।
झील में नौकायन करा रहे चालकों ने तत्परता दिखाते हुए युवक को बचा लिया। गनीमत रही कि युवक को गंभीर चोट नहीं आई। घटना की सूचना मिलने पर थाना पुलिस भी मौके पर पहुंची। एसआई प्रदीप यादव ने बताया कि परिजनों ने उन्हें बताया गया है कि युवक मानसिक रूप से कमजोर है और उसे हल्द्वानी से दिखाकर घर जा रहे थे।

यह भी पढ़ें : नाबालिग किशोरी ने दो बार किया आत्महत्या का प्रयास..

नवीन समाचार, नैनीताल, 13 फरवरी 2021। नगर निवासी एक 15 वर्षीय किशोरी ने शनिवार को लगातार दो बार आत्महत्या का प्रयास किया। संयोग रहा कि दोनों बार तल्लीताल थाने की चीता मोबाइल चीते की गति से उसे बचाने पहुंच गई और दोनों बार उसे बचा लिया गया।
प्राप्त जानकारी के अनुसार नगर के हरिनगर निवासी किशोरी ने पहली बार अपराह्न करीब डेढ़ बजे ठंडी रोड पर पाषाण देवी मंदिर के पास से नैनी झील में कूदकर जान देने का प्रयास किया। दैवयोग से किसी ने चीता मोबाइल प्रभारी शिवराज राणा को इसकी सूचना दे दी। इस पर राणा तत्काल मौके पर पहुंच गए और किशोरी को उसके पिता के सुपुर्द कर दिया। लेकिन इसके कुछ ही देर बाद शाम करीब चार बजे पुनः इसी किशोरी के द्वारा अपने घर के हरिनगर के पास ही बलियानाला से खाई में कूदने की खबर आ गई। इस पर पुनः चीता मोबाइल प्रभारी राणा ने उसे बचा लिया। इसका कारण बताए जाने पर किशोरी ने परिवार की कमजोर आर्थिक स्थिति के साथ ही माता-पिता के विवाद की बात बताई। बताया कि पिता गाइड का काम करते हैं, जबकि मां पिता से अलग रुद्रपुर रहती है। उसका एक भाई भी है। वह पिता के साथ नहीं रहना चाहती है। इस पर उसकी मां से संपर्क किया गया। मां ने कहा कि वह रविवार को आकर उसे अपने साथ ले जाएगी।

यह भी पढ़ें : अलग रह रही पत्नी ने कहा जहर खा लो, बेटे सहित खा लिया जहर, बेटे की मौत…

-बोला जेल में रहूंगा, अब जीवन में कुछ नहीं बचा
नवीन समाचार, हल्द्वानी, 13 दिसम्बर 2020। घर के कलह मनुष्य के जीते-जी मार डालते हैं। खासकर पति-पत्नी के रिश्ते में जब इंसान को जब ठेस लगती है तो…। शहर के एक व्यक्ति को उससे अलग रही उसकी पत्नी ने फोन पर कह दिया कि वह जहर खा ले। इस पर व्यक्ति ने न केवल खुद जहर खा लिया, बल्कि उस गोद लिए 11 साल के बेटे को भी जहर खिला दिया, जिसे वह तीन दिन का एसटीएच हल्द्वानी से लाया था। पिता तो उपचार के बाद बच गया पर घटना के चार दिन बाद उपचार के बाद भी बेटे की मौत हो गई है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार मुरादाबाद जिले के कठघर थाना क्षेत्र निवासी व्यक्ति करीब 13 साल से मेडिकल चौकी थाना क्षेत्र में रहता है। उसकी पत्नी डेढ़ साल पहले से उससे अलग दिल्ली में रहती है। चार दिन पहले फोन पर उसका पत्नी से विवाद हो गया। इस दौरान गुस्से में पत्नी ने कह दिया कि तुम जहर खा लो और बेटे को अनाथालय भेज दो। पत्नी की बात उसके दिल पर गई और उसने बृहस्पतिवार को जहर खाया और बेटे के खाने में भी जहर मिला दिया। दोनों के बेहोश होने पर पड़ोस के लोगों ने दोनों को बेस अस्पताल में भर्ती कराया। शनिवार को पिता और बेटे अस्पताल से डिस्चार्ज हुए, लेकिन घर ले जाने पर बेटे की हालत फिर खराब हो गई और उसकी मौत हो गई। इस पर मेडिकल चौकी के उपनिरीक्षक महेश चंद्र ने बच्चे के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पुलिस ने उसके पिता को पूछताछ के लिए हिरासत में ले लिया। शाम को पत्नी और मां कोतवाल संजय कुमार के पास आए। कोतवाल का कहना था कि दोनों ने पुलिस को शिकायत नहीं दी। इसी कारण पिता को छोड़ना पड़ा। यदि शिकायत लिखित मिली तो पिता के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी । जब तीन दिन का था तब गोद लिया था
पिता का कहना था कि बेटे के जहर खिलाने का उसे गम तो है लेकिन पत्नी से विवाद होने पर वह आपा खो बैठा था। सोचा कि जब वह मर जाएगा तो लोग उसके बेटे को अनाथाश्रम में डाल देंगे। इसी कारण उसने दोनों की इहलीला समाप्त करने का निर्णय लिया था। उससे अलग दिल्ली रहने वाली पत्नी दीपावली पर अपने जेवरात और कपड़े लेने के लिए आई थी। उसने साथ रहने से इनकार कर दिया। इसी कारण वह शराब भी पीने लगा था। जहर खाने से पहले उसकी पत्नी से बात हुई थी। पत्नी के नहीं आने और उसके कठोर शब्दों के बोलने से गुस्सा चढ़ गया था। बेटे की मौत के बाद उसने पत्नी को सूचना दे दी थी। पुलिस द्वारा पकड़े जाने पर उसे कोई गम नहीं था। उसका कहना था कि उसकी जिंदगी पत्नी ने खराब कर दी है। अब जेल की रोटी खाएगा। इसी तरह मर जाएगा। अब जीवन में कुछ नहीं बचा है।

नवीन समाचार
‘नवीन समाचार’ विश्व प्रसिद्ध पर्यटन नगरी नैनीताल से ‘मन कही’ के रूप में जनवरी 2010 से इंटरननेट-वेब मीडिया पर सक्रिय, उत्तराखंड का सबसे पुराना ऑनलाइन पत्रकारिता में सक्रिय समूह है। यह उत्तराखंड शासन से मान्यता प्राप्त, अलेक्सा रैंकिंग के अनुसार उत्तराखंड के समाचार पोर्टलों में अग्रणी, गूगल सर्च पर उत्तराखंड के सर्वश्रेष्ठ, भरोसेमंद समाचार पोर्टल के रूप में अग्रणी, समाचारों को नवीन दृष्टिकोण से प्रस्तुत करने वाला ऑनलाइन समाचार पोर्टल भी है।
https://navinsamachar.com

Leave a Reply