News

खबर का असर : 24 घंटे के भीतर ही आ गया नौ दिन से न आ रहा पानी

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
नवीन समाचार, नैनीताल, 21 सितंबर 2020। जनपद एवं हल्द्वानी विकास खंड की सबसे बड़ी ग्राम सभा खेड़ा में बीते नौ दिनों से पेयजल आपूर्ति नहीं हो रही थी। इस पर ‘नवीन समाचार’ ने सोमवार को ‘नैनीताल जनपद की सबसे बड़ी ग्राम सभा में नौ दिनों से पेयजल नहीं’ शीर्षक से समाचार प्रकाशित किया था। इसका 24 घंटे से भी पहले, तत्काल असर हुआ है। ग्राम प्रधान लीला देवी एवं पूर्व क्षेत्र पंचायत सदस्य अर्जुन बिष्ट ने सोमवार शाम जानकारी दी कि फुंके ट्यूबवेल को बदल दिया गया है, और शाम साढ़े पांच बजे के करीब पेयजल आपूर्ति शुरू कर दी गई है।

नैनीताल जनपद की सबसे बड़ी ग्राम सभा में नौ दिन से पेयजल नहीं…

इससे पूर्व ग्राम प्रधान द्वारा टैंकर से भी गांव में पेयजल वितरित कराया गया। उन्होंने बताया कि पूर्व में यहां नलकूप के साथ लगा 75 केवीए का ट्रांसफार्मर फुंक गया था और इसकी जगह 100 केवीए का ट्रांसफार्मर लगाने के लिए जल संस्थान एवं विद्युत विभाग एक-दूसरे पर जिम्मेदारी टाल रहे थे। किंतु समाचार प्रकाशित होने के बाद तत्काल ही 100 केवीए का ट्रांसफार्मर लगा दिया गया है। हालांक जानकारों के अनुसार यहां 175 केवीए के ट्रांसफार्मर की आवश्यकता है। अलबत्ता, फिलजाल पेयजल आपूर्ति शुरू हो जाने से ग्रामीणों ने राहत की सांस ली है।

यह भी पढ़ें : मिला कोरोना पॉजिटिव को जीवन दान, पुनः एक अपील

नवीन समाचार, नैनीताल, 2 सितंबर 2020। आपके प्रिय एवं भरोसेमंद तथा उत्तराखंड के अग्रणी एवं सबसे पुराने समाचार पोर्टल ‘नवीन समाचार’ ने गत दिवस हल्द्वानी के सुशीला तिवारी अस्पताल में भर्ती एक कोरोना मरीज के उपचार हेतु बी-पॉजिटिव के रक्त प्लाज्मा की आवश्यकता संबंधी अपील प्रकाशित की थी। इस समाचार का तत्काल ही असर हुआ और संबंधित व्यक्ति को हमारे शुधी पाठकों में से किसी एक ने उदारता दिखाते हुए ब्लड प्लाज्मा उपलब्ध करा दिया। इसके लिए हम अपने उन अनाम पाठक का भी हार्दिक धन्यवाद अदा करते हैं। इस पर सूचना कर्ता ने भी आभार ज्ञापन किया है।

नीट की बहुप्रतीक्षित परीक्षा कल, परीक्षा केंद्र लाने-न लाने के लिए दी गई हिदायतें

इधर पुनः हमें इस बार सोशल मीडिया से जानकारी मिली है कि सुशीला तिवारी अस्पताल में भर्ती किन्ही प्रभात भट्ट को कोरोनावायरस के उपचार के लिए बी-पॉजिटिव समूह के रक्त प्लाज्मा की जरूरत है। इस मामले में भी हम मानवीय संवेदना के तहत अपने पाठकों से अपील करना चाहते हैं कि यदि कोई व्यक्ति अपना प्लाज्मा डोनेट करना चाहते है तो श्री भट्ट के मोबाइल नंबर पर संपर्क कर उनको सहयोग कर सकते हैं। स्मरण रहे, किसी का जीवन बचाने से बड़ा कार्य दुनिया में कुछ भी नहीं है।

यह भी पढ़ें : उत्तराखंड आने-जाने एवं एक से दूसरे जिले में आने-जाने वालों को मिलेगा लाभ

नवीन समाचार, नैनीताल, 2 सितंबर 2020। आपके प्रिय एवं भरोसेमंद तथा उत्तराखंड के अग्रणी एवं सबसे पुराने समाचार पोर्टल ‘नवीन समाचार’ ने एक सितंबर को राज्य एवं राज्य के जिलों में आने-जाने वाले लोगों के पंजीकरण के लिए बनाए गए पोर्टल डीएससीएल सर्विसेज डॉट ओरजी वेबसाइटhttp://dsclservices.org.in/apply.php की बड़ी तकनीकी कमी की ओर शासन का ध्यान आकृष्ट किया था।
देखें पुराना समाचार:

भ्रमित करने वाली साबित हो रही राज्य सरकार की बाहर से आने वालों की ‘त्रुटिपूर्ण’ पंजीकरण व्यवस्था..

इस समाचार का तत्काल असर हुआ है। ‘नवीन समाचार’ के ध्यानाकर्षण के बाद वेबसाइट में अब उत्तराखंड आने के अलावा उत्तराखंड से अन्य राज्य जाने तथा अंतर जनपदीय यात्रा करने के विकल्प उपलब्ध करा दिये गये हैं।

यह भी पढ़ें : कुछ घंटों में ही हुआ ‘नवीन समाचार’ के स्तम्भ ‘आजाद के तीर’ का असर

शुक्रिया :  नगर पालिका -प्रशासन नैनीताल का
साहिबान,
हमने ‘नवीन समाचार’ के स्तम्भ ‘आज़ाद के तीर’ के  02/07/2020 के अंक में “हलुआ (मलबा) रायता फ़ैलाने को है तैयार” उन्वान के साथ कूर्मांचल बैंक के पास रखे मलबे के कट्टों का हाल बयां किया था कि किस तरह वहाँ नाली बनाई गयी उसके बाद मलबे के कट्टे वहीं सड़क पर रखकर छोड़ दिये गये थे, जिससे कभी भी कोई हादसा हो सकता था अथवा वही मलबा पुनः नालियों में समां सकता था जिसपर नगर पालिका प्रशासन ने हमारी बात का संज्ञान लेते हुये उस पर तत्काल कार्रवाई की और उक्त तथाकथित मलबे के कट्टों को वहां से हटाया गया जिसके लिये ‘आज़ाद मंच परिवार’ नगर पालिका प्रशासन में सचिन नेगी पालिकाध्यक्ष महोदय, अशोक वर्मा अधिशासी अधिकारी महोदय, राजू टांक सभासद महोदय का तहे दिल से शुक्रिया अदा करता है और साथ ही ये भी उम्मीद करता है कि उक्त मलबे के अलावा हमने जितने भी मौज़ू पर आपका ध्यान खींचने की कोशिश की गयी थी जैसे पार्किंग, उद्यान, साफ़-सफ़ाई के इंतज़ामात, हमें उम्मीद के साथ पूरा यक़ीन है कि आप बेहतर कार्य प्रणाली के साथ नगर की व्यवस्था संभालते रहेंगे,  जिससे नगर हित के साथ -साथ जन  हित भी बना रहे
न काहू से दोस्ती

यह भी पढ़ें : ‘नवीन समाचार’ की खबर का अब बेतालघाट में हुआ असर

-सेठी पुल पर एक बार में केवल दो वाहन ही गुजरेंगे

पुल का निरीक्षण करने पहुंचे अधिकारी।

नवीन समाचार, नैनीताल, 05 जून 2020। आपके प्रिय एवं भरोसेमंद समाचार पोर्टल ‘नवीन समाचार’ की खबर का एक बार फिर असर हुआ है। ‘नवीन समाचार’ ने गत दिवस बेतालघाट के सेठी पुल पर खनन से भरे डंपरों के कारण पुल पर दरारें उभरने के साथ खतरा बढ़ने का समाचार प्रकाशित किया था। इस समाचार को गंभीरता से लेते हुए शनिवार को लोक निर्माण विभाग के अधिशासी अभियंता डीएस कुटियाल एवं एसडीएम ऋचा सिंह ने पुल का स्थलीय निरीक्षण किया। अधिकारियों ने कहा कि वह पुल की दरारों को जल्द ही दुरुस्त किया जाएगा। ग्रामीणों के साथ वार्ता में यह भी तय हुआ कि पुल पर सिर्फ दो वाहन ही एक बार में गुजरेंगे। इसके लिए पुल पर संबंधित पट्टा धारक गांव की सहमति से एक चौकीदार नियुक्त करेंगे, जो ट्रकों की आवाजाही पर नियंत्रण रखेंगे एवं निगरानी करेंगे। सम्बंधित समाचार ⇒

https://navinsamachar.com/khanan-bridge-crack/

यह भी पढ़ें : इस बार पिथौरागढ़ में होगा ‘नवीन समाचार’ की खबर का असर

नवीन समाचार, नैनीताल, 1 जून 2020। जी हां आपके प्रिय एवं भरोसेमंद समाचार वेबसाइट ‘नवीन समाचार’ के समाचार को फिर से असर हुआ है। गत 28 मई को हमने पिथौरागढ़ में कोरोना विषााणु कोविद-19 की संभावना से होम क्वारन्टाइन यानी गृह एकांतवास किये गये लोगों के घरों पर जिला प्रशासन के द्वारा ‘कृपया इस घर से संपर्क न करें’। लिखवाने पर सवाल उठाते हुए समाचार प्रकाशित किया था। हमारी आपत्ति किसी को गृह एकांतवास में भेजे जाने पर नहीं, बल्कि इस हेतु प्रयोग की गई भाषा पर थी। इस पर कुमाऊं मंडल के नवागत आयुक्त अरविंद सिंह ह्यांकी ने संज्ञान लिया और जानकारी दी है कि उन्होंने ‘कृपया इस घर से संपर्क न करें’ की जगह ‘कृपया सुरक्षित दूरी/सावधानी बरतें’ लिखने को पिथौरागढ़ के जिलाधिकारी को कहा है। उन्होंने कहा है कि किसी से ‘कृपया इस घर से संपर्क न करें’ कहना अच्छा नहीं लगता है, और यह लोगों के द्वारा भी पसंद नहीं किया जा रहा है।

संवेदनहीनता: ‘कोरोना योद्धा’ को विश्वविद्यालय प्रशासन ने नहीं दी छुट्टी, देखभाल न होने से दो जुड़वा बच्चों की गर्भ में ही मौत

यह भी पढ़ें : राहत सामग्री लोगों को बुलाकर न बांटें, घर पर पहुंचाएं

नवीन समाचार, नैनीताल, 7 अप्रैल 2020। ‘नवीन समाचार’ ने सोमवार को मोहल्लों में राशन बांटने पर सामाजिक दूरी के सिद्धांत को नजर अंदाज कर भीड़ लगने का समाचार प्रकाशित किया था, और इस बारे में एसडीएम विनोद कुमार से भी वार्ता की थी। इसका असर हुआ है। एसडीएम कुमार ने इस बाबत नैनीताल के तहसीलदार तथा कोतवाली मल्लीताल, भवाली, तल्लीताल, भीमताल, मुक्तेश्वर व काठगोदाम एवं सभी राजस्व निरीक्षकों को निर्देशित किया है कि सामाजिक एवं स्वयं सेवी संगठनों द्वारा खाद्य सामग्री के वितरण के दौरान काफी संख्या में लोगों के एक स्थान पर एकत्रित होने से कानून व्यवस्था के प्रभावित होने से इंकार नहीं किया जा सकता है। इसलिए खाद्य सामग्री का वितरण यथासंभव स्वयं सेवकों द्वारा जरूरतमंदों के घर तक पहुंचाने की व्यवस्था की जाए। यह भी कहा है कि आदेश का कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित किया जाए।

ग्रामीण क्षेत्र में किया राहत सामग्री का वितरण
नैनीताल। नगर के जय जननी जय भारत, अयारपाटा सेवा दल के मनोज कुंवर, प्रकाश नारायण, भगवत मेहरा आदि के द्वारा मंगलवार को निकटवर्ती ग्राम सौड़ क्षेत्र में जरूरतमंद ग्रामीणों को राशन बांटा गया। सभासद मनोज साह जगाती ने बताया कि यह राशन उन्हें भोटिया मार्केट के विक्रेताओं ने उपलब्ध कराया था।

यह भी पढ़ें : फिर हुआ ‘नवीन समाचार’ का असर..

ठंडी सड़क का गेट दुरुस्त करते मजदूर।

नवीन समाचार, नैनीताल, 23 फरवरी 2020। ‘नवीन समाचार’ ने 22 फरवरी को अंक में ‘ठंडी सड़क का गेट तोड़ा, अब दौड़ा रहे कार, जिम्मेदार सोये’ शीर्षक से समाचार प्रकाशित किया था। इस समाचार पर संज्ञान लेकर प्रशासन ने असामाजिक तत्वों द्वारा तोड़े गए ठंडी सड़क के गेट को वेल्डिंग कर दुरुस्त करा लिया है और गेट की चाबी फिर से तल्लीताल पुलिस ने संभाल ली है। इसके बाद उम्मीद की जा रही है कि नगर के एकमात्र पैदल पथ एवं भूगर्भीय दृष्टि से संवेदनशील ठंडी सड़क में वाहनों के आवागमन पर रोक लगेगी। अलबत्ता, गेट को ठीक किए जाने पर लोगों में अपनी-अपनी ओर से श्रेय देने की भी होड़ नजर आ रही है। कुछ लोग जिलाधिकारी तो कुछ डीएम को इस बात का श्रेय दे रहे हैं।

पहले : 

यहाँ पढ़ें पूर्व समाचार : ‘ठंडी सड़क का गेट तोड़ा, अब दौड़ा रहे कार, जिम्मेदार सोये’

नवीन समाचार
‘नवीन समाचार’ विश्व प्रसिद्ध पर्यटन नगरी नैनीताल से ‘मन कही’ के रूप में जनवरी 2010 से इंटरननेट-वेब मीडिया पर सक्रिय, उत्तराखंड का सबसे पुराना ऑनलाइन पत्रकारिता में सक्रिय समूह है। यह उत्तराखंड शासन से मान्यता प्राप्त, अलेक्सा रैंकिंग के अनुसार उत्तराखंड के समाचार पोर्टलों में अग्रणी, गूगल सर्च पर उत्तराखंड के सर्वश्रेष्ठ, भरोसेमंद समाचार पोर्टल के रूप में अग्रणी, समाचारों को नवीन दृष्टिकोण से प्रस्तुत करने वाला ऑनलाइन समाचार पोर्टल भी है।
https://navinsamachar.com

Leave a Reply

loading...