News

जमकर मनाएं होली, पर रहे ध्यान इतना-होली की सदियों पुरानी समृद्ध परम्परा के ध्वज वाहक भी हैं हम..

      सदियों पुरानी सांस्कृतिक विरासत है कुमाउनी शास्त्रीय होली पौष माह के पहले रविवार से ही शुरू हो जाती हैं शास्त्रीय रागों में होलियों की बैठकें और सर्वाधिक लंबे समय चलती हैं होलियां प्रथम पूज्य गणेश से लेकर पशुपतिनाथ शिव की आराधना और राधा-कृष्ण की हंसी-ठिठोली से लेकर स्वाधीनता संग्राम व उत्तराखंड आंदोलन की झलक भी […]