सोशल मीडिया पर अभद्र पोस्ट को लेकर पालिकाध्यक्ष ने कांग्रेस नेता के खिलाफ दर्ज कराई रिपोर्ट..

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

-पहले पालिकाध्यक्ष के खिलाफ दर्ज हुई थी रिपोर्ट, भड़के पालिकाध्यक्ष ने थाने में रात को दिया धरना
-कांग्रेस नेता पर छवि खराब कराने के लिए सोशल मीडिया पर पोस्ट डलवाने का लगाया आरोप
नवीन समाचार, गदरपुर, 23 जनवरी 2020। नगर पालिकाध्यक्ष गुलाम गौस ने अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सदस्य व वरिष्ठ कांग्रेस नेता राजेंद्र पाल सिंह पाटू सहित तीन लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है। मामला पालिकाध्यक्ष के खिलाफ गत दिनों सोशल मीडिया पर वायरल हुई एक पोस्ट से जुड़ा है।

नियमित रूप से नैनीताल, कुमाऊं, उत्तराखंड के समाचार अपने फोन पर प्राप्त करना चाहते हैं तो हमारे टेलीग्राम ग्रुप में इस लिंक https://t.me/joinchat/NgtSoxbnPOLCH8bVufyiGQ से एवं ह्वाट्सएप ग्रुप से इस लिंक https://chat.whatsapp.com/ECouFBsgQEl5z5oH7FVYCO पर क्लिक करके जुड़ें।

उल्लेखनीय है कि गत दिवस मजराशिला निवासी हारिस पुत्र मोहम्मद अयूब की तहरीर पर पालिकाध्यक्ष के खिलाफ थाना गदरपुर में रिपोर्ट दर्ज की गई थी, जिसमें पालिकाध्यक्ष एवं पालिकाध्यक्ष के प्रतिनिधि के रूप में कार्य करने वाले तारीख एवं मोमिन सिद्दीकी के खिलाफ मारपीट एवं उसको जबरन उठाने के आरोप लगाए गए हैं। इसकी जानकारी लगने पर पालिकाध्यक्ष बीती रात्रि पालिका के सभासदों के साथ थाने पहुंचे। इस दौरान सैकड़ों लोग भी पालिकाध्यक्ष के समर्थन में पुलिस प्रशासन हाय हाय के नारे लगाते हुए थाना परिसर में ही धरने पर बैठ गए। उन्होंने थानाध्यक्ष जसविंदर सिंह पर दबाव में काम करने और एक व्यक्ति विशेष के कहने पर मुकदमा लिखे जाने के आरोप लगाए। माहौल बिगड़ता देख मौके पर पहुंची क्षेत्राधिकारी दीपशिखा अग्रवाल ने पालिकाध्यक्ष को मनाने का प्रयास किया। काफी देर की नोकझोंक के बाद भी पालिकाध्यक्ष ने दूसरे पक्ष के खिलाफ मुकदमा लिखवाया।
पालिकाध्यक्ष ने थाना गदरपुर में दी गई तहरीर में कहा है कि मजराशिला निवासी हारिस पुत्र मोहम्मद अय्यूब ने नगर में चल रहे है सोशल मीडिया के कई व्हाट्सएप ग्रुप्स में उनके विरुद्ध एक अभद्र पोस्ट डाली थी। किंतु जब इस विषय में हारिस से बात की तो वह 17 जनवरी की शाम उनके पास आया और माफी मांगने लगा, तथा बताया कि इस पोस्ट को झगड़पुरी निवासी प्रधान पति शराफत अली मंसूरी पुत्र शौकत ने उन्हें भेजी थी और नगर के कांग्रेसी नेता राजेंद्र पाल सिंह पुत्र भगत सिंह निवासी अलखदेवी ने ग्रुप में डाल कर पालिकाध्यक्ष को बदनाम करने को कहा था। पालिकाध्यक्ष गौस का यह भी कहना है कि वह निजी कार्य से करतारपुर रोड से जा रहे थे तो बस अड्डे के पास शराफत अली व राजेंद्र पाल ने उन्हें रोक लिया तथा उनके साथ मारपीट की तथा जान से मारने की धमकी दी। साथ ही उनकी छवि को खराब करने के लिए पोस्ट वायरल की।इस पर पालिकाध्यक्ष ने राजेंद्र पाल सिंह, शराफत अली मंसूरी व हारिश के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है।

यह भी पढ़ें : राजस्व अधिकारियों पर नशे में धुत हो दुर्व्यवहार करने का आरोप

नवीन समाचार, नैनीताल, 23 नवंबर 2019। अल्मोड़ा जिले की असगोली गांव निवासी महिला वंदना अधिकारी ने कुमाऊं आयुक्त राजीव रौतेला को ज्ञापन सौंपकर क्षेत्र के राजस्व अफसरों पर शराब के नशे में जबरन घर में घुसकर वृद्ध सास-ससुर के साथ धक्का-मुक्की करने का आरोप लगाया है। महिला का आरोप है कि बीती 27 सितंबर को क्षेत्र के राजस्व अधिकारियों ने शराब के नशे में बचे सिंह, रतन सिंह व उसके पति नंदन सिंह अधिकारी की दुकान में छापेमारी की। दुकान में कुछ न मिलने पर उनके घर में घुसकर छानबीन करने लगे और इस दौरान उसके वृद्ध सास-ससुर से धक्का-मुक्की की और अपशब्द भी कहे। इसकी शिकायत जिले के अधिकारियों से करने पर कोई कार्रवाई नहीं हुई। महिला ने आयुक्त से इस पूरे मामले की जांच राजस्व विभाग के इतर किसी अधिकारी से कराने की मांग की है।

Leave a Reply

Loading...
loading...
google.com, pub-5887776798906288, DIRECT, f08c47fec0942fa0

ads

यह सामग्री कॉपी नहीं हो सकती है, फिर भी चाहिए तो व्हात्सएप से 9411591448 पर संपर्क करें..