नैनीताल में मानव सैलानियों के लिए सीजन ‘ऑफ’ तो पक्षी सैलानियों के लिए ‘ऑन’

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये     -ध्रुवीय देशों से नैनी झील में पहुंचने लगे ग्रेट कॉर्मोरेंट, स्टीपी ईगल, सुर्खाब, बार हेडेड गीज आदि प्रवासी पक्षियों के भी जल्द पहुंचने की संभावना नवीन जोशी, नवीन समाचार, नैनीताल, 20 नवंबर 2019। जी हां, जहां दीपावली के बाद शरदकाल में ठंड बढ़ने के साथ आमतौर पर पहाड़ों और […]

नैनीतालवासियों के लिए आज का दिन कुछ अधिक ही खास: आज के दिन ही बनना और बिगड़ना प्रारंभ हुआ था नैनीताल

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये     -आज के ही दिन यानी 18 नवंबर 1841 को अंग्रेज शराब व्यवसायी पीटर बैरन के यहां पड़े थे कदम नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 18 नवंबर 2019। ऐतिहासिक तथ्यों के अनुसार 18 नवंबर 1841 को नैनीताल में पीटर बैरन नाम के पहले अंग्रेज के कदम पड़े थे। […]

News

नैनीताल-कुमाऊं में फिल्माई गई फिल्में

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये      मधुमती (1958)-दिलीप कुमार, वैजयन्ती माला और जॉनी वॉकर। प्रमुख गीत-जुल्मी संग आँख लड़ी, चढ़ गयो पापी बिछुआ, दिल तड़प तड़प के, घड़ी घड़ी मोरा दिल धड़के, जंगल में मोर नाचा, सुहाना सफ़र, आजा  रे परदेशी । गुमराह(1963)- सुनील दत्त, माला सिन्हा। प्रमुख गीत-इन हवाओं में, इन फ़िज़ाओं में तुझको मेरा प्यार पुकारे। कौन अपना-कौन पराया (पूर्व […]

‘प्रकृति के स्वर्ग’ नैनीताल में जाम और समस्याओं के अलावा भी इतना कुछ है जो दुनिया के किसी दूसरे हिल स्टेशन में नहीं…

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये      लिंक क्लिक कर संबंधित पेज पर जाएं:  नैनीताल से संबंधित आलेख  नैनीताल की पुरानी तस्वीरों का समग्र विश्व प्रसिद्ध नैनी झील शिक्षा नगरी के रूप में नैनीताल नैनीताल के प्रतीक पर्यटन नगरी के रूप में नैनीताल पक्षियों के भी पर्यटन स्थल के रूप में नैनीताल-कुमाऊं नैनीताल में […]

नैनीताल में ‘नेचुरल एसी’ बना कौतूहल का केंद्र, उमड़ रहे सैलानी

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये      -बारापत्थर चौराहे पर सैलानी आकर लेने लगे हैं इसका अनुभव नवीन समाचार, नैनीताल, 31 मई 2019। सरोवरनगरी में एक पहाड़ी चट्टान पर करीब पांच वर्ष पूर्व प्रकाश में आया ‘नेचुरल एसी’ सैलानियों के साथ ही नगरवासियों के बीच भी आकर्षण और कौतूहल का केंद्र बना हुआ है। […]

‘भारत के स्विटजरलेंड’ में गांधी जी ने लिखी थी ‘अनासक्ति योग’

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये     राष्ट्रपिता महात्मा गांधी एक अलग दृष्टि के महामानव थे। यही कारण है कि उन्होंने अपनी आग उगलती बंदूकों और जुल्मो-सितम के लिए पहचाने जाने वाले अंग्रेजों को, जिनके राज में तब कभी सूर्य अस्त न होता था, एक अलग तरह के अहिंसा के अस्त्र का प्रयोग कर असंभव […]

बड़ा समाचार: स्वामी विवेकानंद के कुमाऊं से जुड़ाव पर यह बड़ी पहल करेगा कुमाऊं विवि

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये     -कुलपति ने जतायी आगामी 3-4 जून को इस पर अंतिम निर्णय होने की उम्मीद नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 29 मई 2019। स्वामी विवेकानंद को 1890 में उत्तराखंड के कुमाऊं मंडल में अल्मोड़ा जिले की सीमा पर स्थित काकड़ीघाट नाम के स्थान पर ही समूचे ब्रह्मांड के […]

जानें राजपथ पर कैसे दिखा उत्तराखंड, और कहां 12वीं पास मंत्री नहीं पढ़ पाई गणतंत्र दिवस का भाषण

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये     नवीन समाचार, नई दिल्ली, 26 जनवरी 2019। 70वें गणतंत्र दिवस के शुभ अवसर पर नई दिल्ली के राजपथ पर आयोजित हुई गणतंत्र दिवस परेड  में उत्तराखण्ड राज्य की ‘‘अनाशक्ति आश्रम कौसानी’’की झांकी प्रदर्शित की गई। यह वर्ष राष्ट्र पिता महात्मा गांधी की 150वीं जयंती का वर्ष है, इसलिए सभी […]

साफ़ हुई पंचाचूली-पिंडारी ग्लेशियर रूट की राह, रेकी कर लौटे पुणे के दल ने सराही व्यवस्थाएं

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये     -केएमवीएन आगामी मार्च माह से यहां करायेगा बड़े स्तर पर ट्रेकिंग-होम स्टे नवीन समाचार, नैनीताल, 17 दिसंबर 2018। केएमवीएन यानी कुमाऊं मंडल विकास निगम आगामी मार्च माह से कुमाऊं मंडल के पंचाचूली एवं पिंडारी ग्लेशियर के यात्रा मार्गों पर बड़े स्तर पर ट्रेकिंग एवं होम स्टे की योजना […]

महेश खान: यानी प्रकृति और जैव विविधता की खान

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये     पहली नजर में दो हिंदू-मुस्लिम नामों का सम्मिश्रण लगने वाले महेश खान के नाम में ‘खान’ कोई जाति या धर्म सूचक शब्द नहीं है, लेकिन ‘खान’ शब्द को दूसरे अर्थों में प्रयोग करें तो यह स्थान प्रकृति के लिए भी प्रयोग किए जाने वाले महेश यानी शिव की […]

जागेश्वर मंदिर समूह बना कुमाऊं विवि का आधिकारिक प्रतीक

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये     नैनीताल। कुमाऊं विश्वविद्यालय ने सातवीं से 14वीं शताब्दी में बने देश के 12 ज्योर्तिलिंगों में से एक, 125 मंदिरों के जागेश्वर मंदिर समूह को अपना आधिकारिक प्रतीक चुन लिया है। विवि के कुलपति प्रो. डीके नौड़ियाल ने बताया कि काफी सोच-विचार के बाद कुमाऊं के सबसे बड़े मंदिर […]

प्रसिद्ध वैष्णो देवी शक्तिपीठ सदृश रामायण-महाभारतकालीन द्रोणगिरि वैष्णवी शक्तिपीठ दूनागिरि

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये     हिमालय की गोद में बसे आध्यात्मिक महिमा से मंडित और नैसर्गिक प्राकृतिक सौंदर्य से भरपूर दूनागिरि शक्तिपीठ का अपार महात्म्य है। जम्मू के प्रसिद्ध वैष्णो देवी शक्तिपीठ की तरह ही यहां भी वैष्णवी माता की स्वयंभू सिद्ध पिंडि विग्रह मौजूद हैं। कहते हैं कि इन दोनों स्थानों पर […]

पक्षी-तितली प्रेमियों का सर्वश्रेष्ठ गंतव्य है पवलगढ़ रिजर्व

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये     उत्तराखंड का नैनीताल जनपद में रामनगर वन प्रभाग स्थित पवलगढ़ रिजर्व पक्षी प्रेमियों के लिए बेहतरीन गंतव्य है। दिल्ली से सड़क और रेल मार्ग से करीब 260 किमी तथा नजदीकी हवाई अड्डे पंतनगर से करीब 87 किमी दूर रामनगर के जिम कार्बेट नेशनल पार्क से कोसी नदी के […]

भगवान राम की नगरी के समीप माता सीता का वन ‘सीतावनी’

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये      देवभूमि कुमाऊं-उत्तराखंड में रामायण में सतयुग, द्वापर से लेकर त्रेता युग से जुड़े अनेकों स्थान मिलते हैं। इन्हीं में से एक है त्रेता युग में भगवान राम की धर्मपत्नी माता सीता के निर्वासन काल का आश्रय स्थल रहा वन क्षेत्र-सीतावनी, जो अपनी शांति, प्रकृति एवं पर्यावरण के साथ मनुष्य […]

सच्चा न्याय दिलाने वाली माता कोटगाड़ी: जहां कालिया नाग को भी मिला था अभयदान

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये     नवीन जोशी, नैनीताल। कण-कण में देवत्व के लिए प्रसिद्ध देवभूमि उत्तराखंड में कोटगाड़ी (कोकिला देवी) नाम की एक ऐसी देवी हैं, जिनके दरबार में कोर्ट सहित हर दर से मायूस हो चुके लोग आकर अथवा बिना आए, कहीं से भी उनका नाम लेकर न्याय की गुहार लगाते (स्थानीय […]

loading...