News

‘नवीन समाचार’ में सभी समाचार एक जगह

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये      [wp-rss-aggregator] ब्लॉक प्रमुख ने सड़क पर बेरोजगारों-प्रवासियों को रोजगार देने के लिए निकाला फॉर्मूलाAugust 8, 2020 कांग्रेस नेता ने ग्रामीणों से सड़क के लिए जनांदोलन करने को कहा, विधायक ने कहा पहले ही धन स्वीकृत..August 8, 2020 विधायक पुत्र के असामयिक निधन पर श्रद्धांजलि देने में भी […]

बड़ा समाचार: स्वामी विवेकानंद के कुमाऊं से जुड़ाव पर यह बड़ी पहल करेगा कुमाऊं विवि

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये     -कुलपति ने जतायी आगामी 3-4 जून को इस पर अंतिम निर्णय होने की उम्मीद नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 29 मई 2019। स्वामी विवेकानंद को 1890 में उत्तराखंड के कुमाऊं मंडल में अल्मोड़ा जिले की सीमा पर स्थित काकड़ीघाट नाम के स्थान पर ही समूचे ब्रह्मांड के […]

21 दिन की निराहार साधना व 12 घंटे के महायज्ञ से आस्था में सराबोर हुआ ग्वेलज्यू दरबार

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये     नवीन समाचार, नैनीताल, 24 अप्रैल 2019। मंगलवार 2 अप्रैल से जनपद के धारी तहसील के दूरस्थ गांव पुटगांव में आध्यात्म के केंद्र के केंद्र के रूप में उभर रहे कुमाऊं के न्याय देवता श्री ग्वेलज्यू के दरबार में शुरू हुई 21 दिन की निराहार कठोर साधना के उपरांत […]

जागेश्वर मंदिर समूह बना कुमाऊं विवि का आधिकारिक प्रतीक

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये     नैनीताल। कुमाऊं विश्वविद्यालय ने सातवीं से 14वीं शताब्दी में बने देश के 12 ज्योर्तिलिंगों में से एक, 125 मंदिरों के जागेश्वर मंदिर समूह को अपना आधिकारिक प्रतीक चुन लिया है। विवि के कुलपति प्रो. डीके नौड़ियाल ने बताया कि काफी सोच-विचार के बाद कुमाऊं के सबसे बड़े मंदिर […]

1830 में मुरादाबाद से हुई कुमाउनी रामलीला की शुरुआत

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये     -कुमाऊं की रामलीला की है देश में अलग पहचान नवीन जोशी, नैनीताल। उत्तराखंड के कुमाऊं मंडल में होने वाली कुमाउनी रामलीला की अपनी मौलिकता, कलात्मकता, संगीत एवं राग-रागिनियों में निबद्ध होने के कारण देश भर में अलग पहचान है। खास बात यह भी है कि कुमाउनी रामलीला की शुरुआत कुमाऊं […]

भगवान राम की नगरी के समीप माता सीता का वन ‘सीतावनी’

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये      देवभूमि कुमाऊं-उत्तराखंड में रामायण में सतयुग, द्वापर से लेकर त्रेता युग से जुड़े अनेकों स्थान मिलते हैं। इन्हीं में से एक है त्रेता युग में भगवान राम की धर्मपत्नी माता सीता के निर्वासन काल का आश्रय स्थल रहा वन क्षेत्र-सीतावनी, जो अपनी शांति, प्रकृति एवं पर्यावरण के साथ मनुष्य […]

सच्चा न्याय दिलाने वाली माता कोटगाड़ी: जहां कालिया नाग को भी मिला था अभयदान

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये     नवीन जोशी, नैनीताल। कण-कण में देवत्व के लिए प्रसिद्ध देवभूमि उत्तराखंड में कोटगाड़ी (कोकिला देवी) नाम की एक ऐसी देवी हैं, जिनके दरबार में कोर्ट सहित हर दर से मायूस हो चुके लोग आकर अथवा बिना आए, कहीं से भी उनका नाम लेकर न्याय की गुहार लगाते (स्थानीय […]

भद्रकालीः जहां वैष्णो देवी की तरह त्रि-पिंडी स्वरूप में साथ विराजती हैं माता सरस्वती, लक्ष्मी और महाकाली

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

यहाँ से दोस्तों को भी शेयर करके पढ़ाइये     ॐ जयन्ती मंगला काली भद्रकाली कपालिनी। दुर्गा क्षमा शिवा धात्री स्वाहा स्वधा नमोस्तुते।। कहते हैं आदि-अनादि काल में सृष्टि की रचना के समय आदि शक्ति ने त्रिदेवों-ब्रह्मा, विष्णु व महेश के साथ उनकी शक्तियों-सृष्टि का पालन व ज्ञान प्रदान करने वाली ब्रह्माणी यानी माता सरस्वती, पालन करने वाली […]

loading...