Crime

शादीशुदा लुटेरी दुल्हन, शादी किए बिना ही लाखों का माल लेकर चंपत, पुलिस ने भी नहीं सुनी

समाचार को यहाँ क्लिक करके सुन भी सकते हैं

नवीन समाचार, रुद्रपुर, 26 नवंबर 2021। मेहनत-मजदूरी करने वाले युवक ने बमुश्किल शादी करने की ठानी तो ठग शादीशुदा महिला को कुंवारी दिखाकर युवक से 51 हजार की नकदी, दो तोला सोने की चेन, 200 ग्राम चांदी के पायल ठग ले गए। शादी भी नहीं की गई। युवक ने शिकायत की तो पुलिस ने भी नहीं सुनी। मजबूर होकर पीड़ित ने न्यायालय की शरण ली। अब न्यायालय के आदेशों पर पुलिस ने शादी के लिए दिखाई गई महिला सहित चार आरोपित के खिलाफ अभियोग दर्ज कर लिया है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार ट्रांजिट कैंप, आजादनगर निवासी वेदप्रकाश ने न्यायालय को सौंपे शिकायती पत्र में कहा था कि वह मेहनत मजदूरी करता है। मूलरूप से वह बरेली, शीशगढ़ का रहने वाला है और अविवाहित है। 23 जून 2021 को ग्राम सैजना, मीरगंज, बरेली निवासी बेचेलाल, ग्राम कोहनी, विशारतगंज, बरेली निवासी गंगादीन, ग्राम बल्ली, शीशगढ़, बरेली निवासी मोतीराम और एक महिला कृष्णा देवी उसके घर आए और उसकी शादी कृष्णा देवी से अगले सप्ताह कराना तय कर चढ़ावे के नाम पर उससे 51 हजार की नकदी, दो तोला सोने की चेन, 200 ग्राम चांदी के पायल लेकर कृष्णा देवी को दे दिए।

लेकिन समय बीतने के बाद जब उसने चारों से संपर्क किया तो वह नहीं मिले। अलबत्ता यह पता चला कि कृष्णा देवी ट्रांजिट कैंप, आजादनगर निवासी छत्रपाल की पत्नी है। बेचेलाल, गंगादीन, मोतीराम और कृष्णा देवी गैंग बनाकर ठगी करते हैं। उसनी तहरीर पर पुलिस ने कोर्ट के आदेश पर चारों के खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज कर लिया है। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : उफ, देवभूमि के शांत पहाड़ों में भी ऐसी वारदात, पत्नी ने पति को चाकू से मार डाला, फिर अपराध छुपाने को दीवार से नीचे फेंका

नवीन समाचार, पिथौरागढ़, 12 नवंबर 2021। देवभूमि कहे जाने वाले उत्तराखंड के अपराधमुक्त माने जाने वाले पर्वतीय क्षेत्र में भी एक महिला द्वारा अपने पति की चाकू मारकर हत्या किए जाने का खुलासा हुआ है। पुलिस ने महिला को पति की हत्या के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है।

मामला कोतवाली डीडीहाट क्षेत्र का है। यहां गत 17 अक्टूबर को पुलिस को फोन के माध्यम से सूचना मिली थी कि कुंदन सिंह धामी पुत्र दीवान सिंह धामी निवासी ग्राम छनपट्टा डीडीहाट की दीवार से गिरने के कारण मृत्यु हो गई है। इस सूचना पर पुलिस ने मौके पर जाकर मृतक कुंदन के शव का पंचायतनामा भरकर पोस्टमार्टम की कार्यवाही हेतु जिला चिकित्सालय पिथौरागढ़ भेजा।

इधर बृहस्पतिवार को मृतक के भाई धन सिंह धामी ने कोतवाली डीडीहाट में तहरीर दी कि मृतक कुंदन का अपनी पत्नी के साथ अकसर लड़ाई-झगड़ा होते रहता था। उसे संदेह है कि शायद उसके भाई कुंदन की हत्या उसकी पत्नी नीमा देवी के द्वारा की गई है। तहरीर के आधार पर थाना डीडीहाट में भारतीय दंड संहिता की धारा 302 के तहत अभियोग पंजीकृत किया गया।

इसकी विवेचना करते हुए प्रभारी निरीक्षक हिमांशु पंत ने गवाहों के बयान लिये और मृतक की पत्नी से पूछताछ की तो उसने स्वीकार कर लिया कि आपसी लड़ाई-झगड़े में ही उसने अपने पति पर चाकू से वार किया था, जिससे गले में चोट लगने से उसकी मृत्यु हो गई। इसके बाद पत्नी ने डर के मारे अपने पति को घर के पास की दीवार से नीचे फेंक दिया था।

पूछताछ के बाद आरोपित की निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त चाकू और खून साफ किये हुए कपड़े, बोरा आदि भी बरामद कर लिये गये और आरोपित पत्नी नीमा को भी गिरफ्तार कर लिया गया। आगे उसे न्यायालय के समक्ष पेश कर वैधानिक कार्यवाही की जा रही है। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : धनतेरस पर आभूषण देखते दुकान से चांदी की चार पायलें चुराती पकड़ी गयीं महिलाएं…

नवीन समाचार, देहरादून, 3 नवंबर 2021। राजधानी में एक ज्वेलर की दुकान में गहने देखने आई दो महिलाओं ने मौका पाकर चार जोड़ी चांदी की पायल चोरी कर लीं और फरार हो गईं। सूचना पर पहुंची पुलिस ने जांच के बाद आरोपित महिलाओं को गिरफ्तार कर लिया है।

एसओ कुलदीप पंत ने बताया कि सोमवार को दो महिलाएं प्रेमनगर स्थित गायत्री ज्वेलर्स में गहने देखने के लिए आई थीं। काफी देर तक वह गहने देखती रहीं, और भीड़ का फायदा उठाकर चार जोड़ी पायल चोरी कर चुपके से वहां से निकल गईं। दुकान स्वामी चंदन कुमार ने जब गहनों का मिलान किया तो चार जोड़ी चांदी की पायल कम मिलीं। उन्होंने इस मामले की शिकायत प्रेमनगर थाना पुलिस की।

पुलिस मौके पर पहुंची और सीसीटीवी की फुटेज जांची। जिसमें दोनों महिलाओं की ओर से पायल चोरी किए जाने की पुष्टि हुई। आसपास के अन्य सीसीटीवी की फुटेज में महिलाएं टी इस्टेट की ओर जाती दिखाई दी। पुलिस ने उन्हें टी-इस्टेट से गिरफ्तार कर लिया। महिलाओं की पहचान चंपा देवी और कमला निवासी दुर्गेश नगर, कटघर, मुरादाबाद उत्तर प्रदेश के रूप में हुई है। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : लुटेरी दुल्हन कई दूल्हों को लगा चुकी है लाखों का चूना, एक साथी गिरफ्तार

नवीन समाचार, विकासनगर देहरादून, 2 अक्टूबर 2021। विकासनगर की प्रीति नाम की एक महिला पर कई शादियां करके दूल्हों को लूटने का आरोप लगा है। इस बार हरियाणा के यमुनानगर स्थित छछरौली में एक व्यक्ति से इस लुटेरी दुल्हन प्रीति तथा उसके साथियों के खिलाफ हरियाणा पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है। इस पर शनिवार को उसके एक साथी इलियास को हरियाणा पुलिस ने विकासनगर के नवाबगढ़ से गिरफ्तार कर लिया और अपने साथ ले गई। विकासनगर कोतवाली के इंस्पेक्टर प्रदीप बिष्ट ने इसकी पुष्टि की है।

बताया गया है कि छछरौली के गांव शाहजहांपुर पिपली माजरा निवासी मंगा राम ने यमुनानगर थाने में अपनी दूसरी पत्नी प्रीति सहित 10 आरोपितों के खिलाफ धोखाधड़ी और जान से मारने की धमकी देने का केस दर्ज करवाया है। आरोप लगाया कि प्रीति ने बिना तलाक लिए कई व्यक्तियों से शादी कर रखी है। उसने कुछ व्यक्तियों के साथ मिलकर गिरोह बना रखा है, जो भोले-भाले व्यक्तियों से उसकी शादी करवाता है। कुछ दिन के बाद वह घर से रुपये व गहने लेकर फरार हो जाती है।

मंगा राम के अनुसार उसकी पहली पत्नी की मौत वर्ष 2019 में हो गई थी। पिछले माह सितंबर में उसका संपर्क प्रेमनगर की अफसाना उर्फ रुकसाना से हुआ। अफसाना ने डेढ़ लाख रुपये लेकर उसकी शादी विकासनगर की प्रीति से 19 सितंबर को गुरुद्वारा निर्मल कुटिया गांव कुन्जा कुलाल विकासनगर में करवाई थी। शादी के चार-पांच दिन बाद उसने प्रीति के मोबाइल में कई कांटेक्ट नंबर और शादी की फोटो देखी। उन्हें देख पता चला कि प्रीति की शादी उससे पहले कई व्यक्तियों से हो चुकी है।

इस काम में प्रीति के साथ प्रियंका, सहसपुर निवासी प्रदीप व उसकी पत्नी दीपा, अंबाला के गांव तेपला निवासी अमरजीत सिंह, गांव कोड़वा खुर्द का शेरा गुर्जर, विकासनगर नवाबगढ़ निवासी इलियास, पांवटा साहिब का सरफराज, विकास नगर निवासी हाजी गुलशेर, अफसाना भी मिले हुए हैं। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : सुहागरात के बाद ही ससुराल से नगदी-जेवर ले फरार हुई तलाकशुदा दुल्हन…

नवीन समाचार, हरिद्वार, 24 सितंबर 2021। मुजफ्फरनगर यूपी निवासी एक युवक को उत्तराखंड के हरिद्वार निवासीय युवती से शादी करना भारी पड़ गया। नई-नवेली दुल्हन शादी की अगले दिन ही लाखों रुपये के जेवर और नकदी लेकर फरार हो गई।

लुटेरी दुल्हन का शिकार बने मुजफ्फरनगर के परिवार वालों ने ज्वालापुर कोतवाली में शिकायत दर्ज की है और शादी करवाने वाली महिला को भी पकड़कर पुलिस के हवाले किया है। पुलिस ने शादी करवाने वाली महिला से पूछताछ शुरू कर दी है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार मुजफ्फरनगर यूपी निवासी पीड़ित परिवार वालों का कहना है कि वह अपने बेटे की अधिक उम्र तक शादी न होने के कारण काफी परेशान चल रहे थे। इधर कुछ दिन पहले ज्वालापुर निवासी एक महिला ने एक पहले से ही तलाकशुदा महिला के साथ उनके बेटे की शादी तय की, और गत 13 सितंबर को महिला से उनके बेटे की शादी हो गई।

लेकिन सुहागरात के बाद अगली ही दिन महिला उनके घर से जेवरात और नगदी लेकर फरार हो गई। इसके बाद परिजन हरिद्वार पहुंचे और शादी कराने वाली बिचौलिया महिला को पकड़ लिया, और उसे पुलिस के पास ले आए। महिला ने दुल्हन को पकड़वाने का आश्वासन दिया है। कोतवाली प्रभारी सीसी नैथानी ने बताया कि रिश्ता तय कराने वाली महिला से पूछताछ की जा रही है। (डॉ.नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : मुझे मेरी पत्नी से बचाओ, आए दिन उत्पीड़न व मारपीट करती है…

प्रतीकात्मक चित्र

डॉ. नवीन जोशी, नवीन समाचार, नैनीताल, 6 सितंबर 2021। महिला उत्पीड़न की घटनाएं तो आम रहती हैं, पर पुरुष या पति उत्पीड़न की घटनाएं उजागर नहीं हो पाती हैं। सोमवार को नगर के मल्लीताल क्षेत्र निवासी एक व्यक्ति ने अपनी पत्नी पर मारपीट का आरोप लगाया है, और उनसे जान का खतरा बताते हुए न्याय दिलाने की गुहार लगाई है।

नगर के मार्शल कॉटेज निवासी प्रेम प्रकाश का कहना है कि उसकी पत्नी आए दिन उससे अभद्रता और मारपीट करती हैं। इससे वह मानसिक रूप से परेशान है। उसका कहना है कि पत्नी द्वारा की जाने वाली मारपीट के वीडियो भी उसके पास मौजूद हैं। एसआई कश्मीर सिंह ने कहा कि शिकायत मिली है। शिकायत के आधार पर मामले की जांच की जा रही है। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें। 

यह भी पढ़ें : व्यापारी पर छेड़छाड़ का आरोप लगाने वाली राजनीतिक नेत्री सहित चार लोगों पर रंगदारी का मुकदमा दर्ज

नवीन समाचार, हल्द्वानी, 8 अगस्त 2021। शहर के एक व्यापारी पर पूर्व में छेड़छाड़ का आरोप लगाने वाली एक राजनीतिक दल से जुड़ी महिला सहित दो अन्य महिलाओं व एक पुरुष पर ब्लैकमेल कर अब व्यापारी की तहरीर पर रंगदारी मांगने का मामला दर्ज किया गया है। मामले में पुलिस ने जांच शुरू कर दी है। आरोप है कि पुराने मामले में समझौता कराने के नाम पर रंगदारी मांगी जा रही है।

पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार रामपुर रोड गली नंबर 2 निवासी व्यापारी जसविंदर सिंह पुत्र चरनजीत सिंह ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है कि आरोपित महिलाओं ने खुद अपने कुछ वीडियो बनाकर बीती 3 मई को उनके मित्र राजीव और सुजीत को व्हाट्सएप पर भेजे और उन वीडियो को वायरल कर जसविंदर को बदमाश करने की धमकी दी थी। ऐसा नहीं करने की एवज में उनसे आठ लाख रुपये मांगे गए थे।

व्यापारी के अनुसार आरोपित उनके खिलाफ कई बार कोतवाली पुलिस में झूठी शिकायत कर चुके हैं और कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराने के बाद ब्लैकमेल करने की नीयत से एसएमएस भेजते थे ओर फेसबुक पर भी गलत पोस्ट कर उन्हें बदनाम करने की कोशिश करते थे। सीओ शांतनु पाराशर ने बताया कि जांच के बाद व्यापारी के खिलाफ पूर्व में छेड़छाड़ का मुकदमा दर्ज कराने वाली महिला तथा तीन अन्य महिलाओं के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें। 

यह भी पढ़ें : कोरोना से पति को खोने वाली विधवा ने अपनी ननद के खिलाफ दर्ज कराया मुकदमा

डॉ. नवीन जोशी @ नवीन समाचार, नैनीताल, 24 जुलाई 2021। नगर के मल्लीताल रुकुट कंपाउंड निवासी एक विधवा महिला रीना ठाकुर ने अपनी ननद उमा ठाकुर के खिलाफ पुलिस में मारपीट व गालीगलौज जान से मारने की धमकी देने का आरोप लगाते हुए तहरीर दी है। इस पर पुलिस ने आरोपित ननद के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 323, 504, 506 के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है।

पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार रुकुट कंपाउंड निवासी रीना ठाकुर ने तहरीर में कहा है कि उसकी ननद अपने पति से तलाक के बाद मायके में ही रह रही है। इधर रीना के पति की कोविड की वजह से हुई मौत के बाद वह उसकी संपत्ति व जीवन बीमा की धनराशि पर कब्जा करना चाहती है, इसलिए उसे घर से बेदखल करना चाहती है। इस कारण आए दिन उससे गालीगलौज तथा मारपीट करती है। कोतवाल अशोक कुमार ने बताया कि महिला की तहरीर के आधार पर आरोपित उमा ठाकुर के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है। आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें। 

यह भी पढ़ें : पति-पत्नी ने साथ पी शराब, विवाद में पत्नी ने नशे में पति को मार दिया बल्ला, मौत

नवीन समाचार, पिथौरागढ़, 13 जुलाई 2021। नशा जब चढ़ जाए तो मनुष्य, मनुष्य नहीं रहता, हैवान हो जाता है। पिथौरागढ़ में एक महिला पर शराब का ऐसा नशा चढ़ा कि उसने अपने पति पर बल्ले से वार कर दिया। पति बल्ले की चोट से गर्म पानी के भगोने में गिरा और कुछ देर में तड़प कर मर गया। पुलिस ने पत्नी को गिरफ्तार कर दिया है। उसके खिलाफ मुरौबत बरतते हुए हत्या की जगह गैर इरादतन हत्या करने के अभियोग में मुकदमा पंजीकृत किया गया है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार मामला 10 दिन पूर्व तीन जुलाई का है। नगर के नया बाजार स्थित धर्मशाला के पास रहने वाली महिला ने 9 जुलाई को कोतवाली में तहरीर देकर कहा है कि उसका पुत्र अजय उर्फ बबलू नया बाजार में अपनी पत्नी अनीता उर्फ सपना के साथ रहता था। बहू अनीता ने अजय की हत्या कर दी है। तहरीर में कहा गया था कि दोनों के बीच मारपीट होती रहती है। जिसके चलते उनके दोनों बच्चे उसके साथ रहते हैं। इस तहरीर पर पुलिस ने अनीता उर्फ सपना के खिलाफ भादवि धारा 302 के तहत मुकदमा दर्ज किया। मामले की गंभीरता को देखते हुए एसपी सुखवीर सिंह ने प्रभारी निरीक्षक कोतवाली प्रभात कुमार को इस प्रकरण की जांच सौंपी।

जांच के दौरान पुलिस ने अनीता से जब पूछताछ की तो उसने बताया कि यह सब शराब के नशे में हुआ। अनीता के अनुसार वह और उसका पति अजय शराब के आदी थे। शराब पीकर एक दूसरे को मारते-पीटते थे। पत्नी अनीता ने बताया कि तीन जु्रलाई को दस से ग्यारह बजे के बीच उसकी और पति बब्लू के बीच कहासुनी के बाद मारपीट हो गई। इस दौरान उसके हाथ में बल्ला आ गया और उसने किचन में अपने पति पर बल्ला मारा। बल्ले के धक्केे से अत्यधिक नशे में होने के कारण अजय उर्फ बबलू किचन में रखे गरम पानी के भगौने पर औधे मुंह छाती के बल गिर गया और गरम पानी से जल गया। इस पर वह कराहते हुए वहीं लेट गया और उसकी मौत हो गई।

पुलिस ने विवेचना में कहा है कि नामजद आरोपी अनीता उर्फ सपना ने अपने पति बबलू को जान से मारने की नीयत से बल्ला नहीं मारा। बल्ले के धक्के और गरम पानी के भगौने में गिरने से उसकी मौत हो गई। इसलिए उसके खिलाफ हत्या नहीं बल्कि गैरइरादतन हत्या का मामलाा बनता है। इसलिए उसके खिलाफ अभियोग भारतीय दंड संहिता की धारा 302 की जगह 304 में तरमीम कर दिया गया है। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें। 

यह भी पढ़ें : युवती द्वारा शादी की वेबसाइट पर उम्र कम बताई, पति की शिकायत पर मुकदमा हुआ दर्ज

नवीन समाचार, देहरादून, 11 जुलाई 2021। जीवनसाथी डॉट कॉम पर एक युवती को अपनी उम्र कम बताना भारी पड़ गया। डालनवाला कोतवाली पुलिस ने पति की शिकायत पर युवती सहित उसके माता-पिता के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार सर्वे आफ इंडिया में तैनात सोनू शर्मा ने शिकायत दर्ज करवाई कि निधि पांडे निवासी बिजनौर ने जीवनसाथी डॉट कॉम पर अपनी आइडी बनाई थी, जिसमें उसने अपनी उम्र 28 वर्ष बताई थी, जबकि असल में उसकी उम्र 38 साल थी। शादी से पहले सोनू शर्मा ने निधि से जन्म संबंधी दस्तावेज मांगे, लेकिन उन्होंने नहीं दिखाए। शादी के बाद जब सोनू शर्मा ने निधि के दस्तावेज चेक किए तो पता चला कि उसकी उम्र 38 साल है। इससे वह ठगा सा महसूस कर रहा है। उसकी शिकायत पर पुलिस ने धोखाधड़ी के आरोप मंे पीड़ित की पत्नी निधि और उसके माता-पिता के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें। 

यह भी पढ़ें : हल्द्वानी में 22 साल की ऐसी लुटेरी दुल्हन, जो कर चुकी है पांच शादियां और लगा चुकी है लाखों का चूना…

नवीन समाचार, हल्द्वानी, 16 जून 2021। हल्द्वानी में एक ऐसी 22 साल की लुटेरी दुल्हन का खुलासा हुआ है जिसने इतनी छोटी उम्र में पांच शादियां कर डाली हैं। सभी जगहों से वह रुपए और नकदी लेकर फरार हो जाती है। पांचवीं शादी के बाद पीड़ित युवक ने हल्द्वानी कोतवाली में तहरीर देकर उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की मांग की है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार हल्द्वानी के गोरा पड़ाव के निकट ग्राम हैड़ागज्जर अर्जुनपुर निवासी मजदूरी और ट्रक चालक का काम करने वाले वेद प्रकाश पुत्र उग्रसेन ने पुलिस को दी गई तहरीर में कहा है कि उसकी शादी गत 7 मार्च को रुद्रपुर निवासी 22 वर्षीय मुस्कान नाम की युवती से क्षेत्र के कालिका मंदिर में हुआ था। लड़की का कन्यादान उसकी मुंहबोली मां शीला निवासी भदईपुरा रुद्रपुर ने किया था। इधर गत छह जून को दोपहर लगभग ढाई बजे उसकी कथित सास शीला मौर्य उसके घर आई और कहने लगी कि मुस्कान को टीबी का इलाज कराने के लिए ले जाना है। आरोप है कि इस दौरान मुस्कान व शीला उसके घर में रखे करीब एक लाख रुपये कीमत के सोने-चांदी के जेवर, 48000 रुपए नगद व मोबाइल फोन ले गए। घर से सामान गायब देखकर जब युवक ने अपनी पत्नी को फोन किया तो उसने कहा कि अब वह नहीं आएगी। अगर वह ज्यादा पीछे पड़ेगा तो उसे झूठे केस में जेल भिजवा देगी।

पत्नी के मुंह से ऐसी बात सुनकर युवक भौंचक रह गया। बाद में घरवालों व रिश्तेदारों की मदद से उसने दोनों का बारे में छानबीन की ता पता चला कि मां-बेटी दोनों मिलकर इसी तरह से और लोगों को भी बेवकूफ बना चुकी हैं। इससे पहले भी उन्होंने चार शादियां की हैं। जहां से जेवर व पैसे लेकर फरार हो चुकी हैं। युवक ने पुलिस से गुहार लगाते हुए कहा है कि लुटेरी दुल्हन से उसे जान माल का भी खतरा है। लिहाजा उसे सुरक्षा भी प्रदान की जाए। पीड़ित ने बताया लंबे समय से शादी नहीं होने के कारण उसके मामा रूपचंद ने उसके लिए यह रिश्ता अपने साढ़ू की भाभी व मुस्कान की मुहबोली मां के जरिये करवाया था। (डॉ. नवीन जोशी) आज के अन्य ताजा ‘नवीन समाचार’ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें। 

यह भी पढ़ें : संबंधों का खुलासा होने पर पत्नी ने जिम ट्रेनर प्रेमी के साथ मिलकर अपने प्रॉपर्टी डीलर पति को सुला दिया मौत की नींद…

नवीन समाचार, देहरादूऩ, 30 मई 2021। देहरादून के रायपुर थाना क्षेत्र में एक महिला ने अपने जिम ट्रेनर प्रेमी के साथ मिलकर अपने प्रॉपर्टी डीलर पति को नींद की गोलियां खिलाकर मौत की नींद सुला दिया। पुलिस ने घटना के बाद आरोपी पत्नी व उसके प्रेमी को गिरफ्तार कर लिया है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार दो दिन पूर्व 28 मई को 43 वर्षीय प्रॉपर्टी डीलर पंकज भट्ट निवासी राज राजेश्वरी एन्क्लेव नथुवाला को मृत अवस्था में अस्पताल लाया गया था। उसकी पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मृत्यु का कारण संदिग्ध आया। इसके बाद पंकज की मां पुष्पा भट्ट ने रायपुर थाने में उसकी हत्या के संबंध में मुकदमा दर्ज कराया। शुरूआत में पुष्पा ने शक जताया कि विजयलक्ष्मी और उसके प्रेमी ने ही पंकज को कुछ जहरीला पदार्थ दिया है। पुष्पा भट्ट ने बताया कि उसका बड़ा बेटा पंकज पत्नी विजयलक्ष्मी और आठ साल की बेटी के साथ निचले तल पर रहते थे। जबकि छोटा बेटा परिवार संग ऊपर की मंजिल पर रहते थे। पंकज और विजयलक्ष्मी की शादी 2006 में हुई थी, लेकिन शादी के बाद से ही दोनों में झगड़े रहते थे। इसके बाद पता चला कि विजयलक्ष्मी उर्फ विजया का किसी दीपक नाम के जिम ट्रेनर लड़के से प्रेम प्रसंग चल रहा था। बीते दिनों पंकज ने विजयलक्ष्मी के पास दो मोबाइल देख लिए थे, जिसमें दीपक और विजयलक्ष्मी की तस्वीरें भी थीं। इस पर विजयलक्ष्मी से पूछताछ की गई तो उसने इन आरोपों से इनकार किया। उसने बताया कि उसने घटना की रात यानी 27 व 28 मई की रात एक बजे पंकज को बेहोश अवस्था में देखा था। उसने यह बात घरवालों को बताई और उसे अस्पताल ले गए, लेकिन उसकी वहां मौत हो गई। उसकी बातों में कई तरह के विरोधाभास नजर आए। इस पर पुलिस ने उसकी कॉल डिटेल खंगाली और दीपक को थाने बुलाया। दीपक ने थाने में पुलिस के सामने सारा राज उगल दिया। उसने बताया कि वह घटना की रात विजयलक्ष्मी के बुलाने पर उसके घर गया था। इससे पहले ही उसने अपने एक दोस्त के माध्यम से नींद की गोलियां मंगा ली थी। इसके बाद उसने रात के खाने में मिलाकर गोलियां दे दी। वह बेहोश हुआ तो उसने अपनी सास को यह बात बताई। इस पर उसे अस्पताल ले जाया गया, लेकिन चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। दोनों के जुर्म कबूल करने के बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। बताया गया है कि दोनों के बीच 2018 से प्रेम प्रसंग चल रहा था। दोनों की मुलाकात एक जिम में हुई थी। वहां पर दीपक ट्रेनर के रूप में काम करता था। बीते दिनों विजया ने दीपक को बताया कि उसके पति को उनके अफेयर के बारे में पता चल गया है। विजया बार-बार दीपक से मिलना चाहती थी। उसने कहा कि वह उसके बिना नहीं रह सकती। पुलिस को जांच में यह भी पता चला है कि दीपक काफी आशिक मिजाज है। केवल 25 वर्ष की उम्र में उसकी कई महिला मित्र हैं। (डॉ.नवीन जोशी)

यह भी पढ़ें : पति को संपत्ति अपने नाम कराने की धमकी देकर पत्नी ने करा दिया गर्भपात, पत्नी सहित 6 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज

नवीन समाचार, देहरादून, 14 अप्रैल 2021। पति की संपत्ति को अपने नाम कराने को लेकर एक महिला ने धमकी देते हुए गर्भपात कराने का मामला प्रकाश में आया है। मामले में पति की शिकायत पर दून पुलिस ने पत्नी सहित छह के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।
पुलिस से प्राप्त जानकारी एवं आरोपों के अनुसार राजधानी के प्रगति नगर डालनवाला निवासी जितेंद्र सिंह की शादी अक्षी बिष्ट के साथ आठ मार्च 2020 को हुई थी। शादी के बाद से ही अक्षी अपने पति जितेंद्र सिंह पर दबाव बना रही थी कि वह जमीन उसके नाम पर करवा दे। शादी के कुछ समय बाद जब वह गर्भवती हो गई, तब से वह और उसके मायके वाले पति जितेंद्र सिंह को धमकाने लगे कि जब तक वह संपत्ति अक्षी के नाम नहीं करेगा, वह बच्चे को जन्म नहीं देगी। इसी कड़ी में 5 जुलाई 2020 को अक्षी अपना सामान व गहने लेकर मायके चली गई और फोन पर धमकी दी कि 10 दिन में संपत्ति उसके नाम नहीं की तो वह बच्चे को जन्म नहीं देगी। इसी बीच अक्षी ने महिला हेल्प लाइन में पति के खिलाफ शिकायत भी दर्ज करवा दी। 8 अगस्त को जितेंद्र सिंह को महिला हेल्प लाइन से काउंसलिंग के लिए सूचित किया गया। 1 सितंबर को पहली काउंसलिंग थी, जिसमें पता चला कि अक्षी ने गर्भपात करवा लिया है। लेकिन वह झूठ बोलती रही है कि 30 जुलाई 2020 को वह सीढ़ी से गिर गई। इसके बाद काउंसिलिंग से बाहर आकर अक्षी व उसके स्वजनों ने धमकी दी कि यदि अब भी प्रापर्टी उनके नाम नहीं की तो वह उसके वंश का नाश कर देगी। डालनवाला के इंस्पेक्टर मणिभूषण श्रीवास्तव ने बताया कि जितेंद्र सिंह की पत्नी अक्षी, मौसी मीना, अमित, शीला, मौसा प्रवीण व मामा मंजीत के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

यह भी पढ़ें : पति को दो सालियों संग छोड़ विवाहिता प्रेमी संग फरार…

नवीन समाचार, हल्द्वानी, 19 फरवरी 2021। शहर के भोटिया पड़ाव पुलिस चौकी क्षेत्र से एक विवाहिता के घर से एक लाख की नकदी और छह तोला सोने के जेवर समेत प्रेमी के साथ फरार होने का समाचार है। बताया गया है कि वह अपने पीछे पांच साल के बच्चे को भी रोता-बिलखता छोड़ गई है। उसके पीड़ित पति ने पुलिस से पत्नी की बरामदगी और आरोपी प्रेमी के खिलाफ कार्रवाई करने की गुहार लगाई है। पीड़ित युवक के अनुसार वह आवास विकास में किराए पर रहता है। साथ में दो सालियां भी रहती हैं। उसकी पत्नी का किच्छा निवासी एक युवक से प्रेम प्रसंग चल रहा है। 15 फरवरी को आरोपी युवक बहाने से उसके घर आया और 17 फरवरी की तड़के उसकी पत्नी को बहला-फुसला कर भगा ले गया। उनकी खोजबीन शुरू की तो दोनों रोडवेज बस अड्डे के पास मिले। विवाहिता की छोटी बहनों के दबाव में आरोपी युवक ऑटो से विवाहिता को घर छोड़ने पहुंचा। लेकिन नैनीताल रोड के पास पहुंचने के बाद दोबारा भाग गया। साली ने पीछा करने की कोशिश की तो उसने ऑटो से टक्कर मारकर गिरा दिया। इससे साली चोटिल हो गई। चौकी पुलिस ने बताया कि विवाहिता के साथ ही आरोपी ऑटो चालक की तलाश भी की जा रही है।

यह भी पढ़ें : लड़की निकली चोर, उसने ही चुराया था लड़के का सामान…

नवीन समाचार, नैनीताल, 11 फरवरी 2021। मल्लीताल चार्टन लॉज क्षेत्र में किराये के कमरे से एक युवती युवक का सामान लेकर फरार हो गई। युवक के कोतवाली में शिकायत करने के बाद पुलिस ने युवती से सामान बरामद कर लिया है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार खटीमा निवासी मेडिकल छात्र ने नैनीताल में किराये पर कमरा लेने के लिए कुछ दिन पहले एक परिचित युवती से संपर्क किया। युवती ने कहा कि वह अपने कमरे को छोड़ रही है। वह उसे किराये पर ले सकता है। इस पर युवक अपना सामान लेकर नैनीताल पहुंच गया। युवती ने कमरा खाली करने के लिए दो दिन का समय मांगा। युवती की बात मानते हुए युवक ने अपना सामान उसी के कमरे में रख दिया और हल्द्वानी चला गया। इधरयुवती ने दो दिनों में अपना सारा सामान शिफ्ट कर दिया। लेकिन, दो दिन बाद युवक जब कमरे में पहुंचा तो वहां रखा हुआ इंडक्शन, बर्तन और एक बैग नहीं था। युवक ने इस बाबत फोन कर जानकारी मांगी तो युवती अनजान बन गई। इसके बाद युवक ने कोतवाली में शिकायत दर्ज करा दी। बृहस्पतिवार को शिकायत मिलने के बाद पुलिस ने युवती को बुलाकर पूछताछ की तो युवती ने चोरी से इनकार कर दिया। लेकिन, जब पुलिस ने सख्ती दिखाई तो उसने चोरी की बात कबूल ली। वहीं उसके एक परिचित युवक के पास चोरी का सामान भी बरामद हो गया। एसएसआई कश्मीर सिंह ने बताया कि सामान युवक के सुपुर्द कर दिया है। युवक के कार्रवाई से मना करने पर युवती को छोड़ दिया।

यह भी पढ़ें : उफ ऐसी महिला ! मायके में रह रही विवाहिता ने अपनी मां को चाकू मारकर किया लहूलुहान, पुलिस कर्मियों को भी दांत काट डाले, मायके में आग लगा दी…

नवीन समाचार, काशीपुर, 03 फरवरी 2021। शहर की एक महिला ने बीती रात्रि पुराने विवाद में आपा खोते हुए अपनी मां को चाकू मारकर लहूलुहान कर दिया। साथ ही सूचना मिलने पर पहुंचे तीन पुलिस कर्मियों व दो होमगार्डों को दांत से काट लिया। यही नहीं अपने घर में आग भी लगा दी। पुलिस ने महिला को गिरफ्तार कर केस दर्ज कर लिया है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार शहर की सैनिक कालोनी में ललिता बघेल नाम की महिला अपने पति से अलग होकर कुछ दिनों से मायके में रह रही है। उसका अपने भाइयों से भी संपत्ति को लेकर विवाद चल रहा है। इसी मामले में मंगलवार की देर रात विवाद इतना बढ़ा कि उसके भाइयों को रात्रि लगभग तीन बजे 112 पर सूचना देनी पड़ी कि उसने अपनी मां को चाकू मार दिया है और टीवी सहित काफी सामान तोड़ डाला है। पुलिस मौके पर पहुंची तो पता चला कि महिला की मां को इलाज के लिए एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस ने उसे गिरफ्तार करने का प्रयास किया तो वह पुलिस कर्मियों से ही उलझ गई। इस दौरान उसने एसआइ राकेश कठायत, चालक प्रदीप और एसआइ नीलम के साथ ही दो होमगार्ड प्रदीप व मोहम्मद हसन को दांत से काट लिया। किसी तरह महिला पुलिस ने उस पर काबू पाया। महिला के खिलाफ मां पर चाकुओं से हमला करने व पुलिस से अभद्रता करने का केस दर्ज किया गया है।

यह भी पढ़ें : उफ ऐसी महिलाएं ! 70 वर्षीय बुजुर्ग से झगड़ रही थीं, रोकने पहुंची पुलिस को ही देने लगीं फंसाने की धमकी, मोबाइल भी छीना…

नवीन समाचार, काशीपुर (ऊधमसिंह नगर), 06 जनवरी 2020। अब पुरुष तो पुरुष महिलाओं की दबंगई के समाचार भी आने लगे हैं। 70 वर्षीय बुजुर्ग के साथ झगड़ रही महिलाओं को रोकने पहुंचे पुलिस कर्मियों से भी महिलाओं द्वारा अभद्रता और हाथापाई करने का मामला प्रकाश में आया है। यहां झगड़ रही महिलाएं उल्टा पुलिस को ही अपनी ऊंची पहुंच बता कर झूठे केस में फंसाने की धमकी देने लगीं, और गाली-गलौज व मारपीट करने लगीं। एक महिला स्वयं को वकील बता कर पुलिसकर्मियों को रौब में लेने की कोशिश करने लगी। एक पुलिस कर्मी इसका वीडियो बनाने लगा तो महिलाओं ने उसका मोबाइल छीन लिया। इसके बाद महिला पुलिस को मौके पर बुलाया गया और पुलिस ने महिलाओं के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर एक महिला को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। वीडियो में महिलाएं गाली-गलौज करते हुए साफ दिखाई दे रही हैं। पुलिस ने कार्रवाई की चेतावनी दी जिसके बाद मोबाइल वापस किया गया।
पुलिस ने मोनी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। जागरणप्राप्त जानकारी के अनुसार मंगलवार शाम आइटीआइ थाना पुलिस को सूचना मिली कि मल्टीवाल फैक्ट्री के पास रहने वाले लोकेश के 70 वर्षीय पिता अतर सिंह के साथ कुछ महिलाएं मारपीट कर रही हैं। सूचना पाकर थानाध्यक्ष विद्यादत्त जोशी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। झगड़ा रोकने का प्रयास किया तो महिलाएं पुलिस से ही उलझ गईं। पुलिस के साथ भी गाली-गलौज और मारपीट शुरू कर दी। एक पुलिसकर्मी का मोबाइल भी महिलाओं ने छीन लिया। इसके बाद महिला पुलिस को बुला करके एक नाबालिग सहित दो महिलाओं को पुलिस ने हिरासत में ले लिया। उन्हें थाने लाया गया। थानाध्यक्ष विद्यादत्त जोशी ने स्थानीय पत्रकारों को बताया कि मामले में मल्टीवाल फैक्ट्री के पास रहने वाली मोनी उर्फ माही व राजेश्वरी तथा एक अन्य नाबालिग के खिलाफ मारपीट गाली-गलौज और सरकारी कार्य में बाधा डालने की धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है। मामले में मोनी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। घटना में शामिल नाबालिग व एक अन्य महिला की तलाश की जा रही है। एसओ ने बताया कि महिलाओं ने अतर सिंह के साथ भी मारपीट व गाली-गलौज की थी। उस मामले में भी लोकेश की तहरीर पर तीनों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। मोनी को दोनों केसों में जेल भेजा गया है। स्थानीय लोगों का कहना है कि तीनों महिलाएं बहुत ही झगड़ालू किस्म की हैं। इससे पहले भी वह कई लोगों को धमकी दे चुकी हैं।

यह भी पढ़ें : शादी के तीसरे दिन ससुरालियों को जहर पिला लाखों लूट भागी दुल्हन, पुलिस तलाश में दौड़ रही

नवीन समाचार, काशीपुर (ऊधमसिंह नगर), 26 दिसम्बर 2020। गत दिवस हमने ‘नवीन समाचार’ में हरियाणा के पानीपत जनपद के नौल्था गांव का एक मामला प्रकाशित किया था। जिसमें पीड़ित पक्ष का आरोप था कि शादी के तीन दिन बाद ही उत्तराखंड से आई नई नवेली दुल्हन ने पत्नी, बुजुर्ग सास व ससुर को जहरीला दूध पिला दिया। इसके बाद वह 80 हजार रुपये और करीब सवा दो लाख रुपये के जेवर, कपड़े और अन्य सामान लेकर फरार हो गई। इस मामले में इसराना थाना पुलिस ने आरोपित दुल्हन, उसकी बहन और चार बिचौलियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया था। इधर शनिवार को हरियाणा के थाना इशराना के एएसआइ सचिन कुमार पुलिस टीम के साथ काशीपुर पहुंचे और दिन भर युवती की तलाश करते रहे। उनका कहना था कि दुल्हन ने अपना पता लड़की ने अपना पता अल्मोड़ा निकट काशीपुर बताया था। उसे काशीपुर से ही ले गए थे। इसलिए वह काशीपुर पहुंचे हैं। आज उन्होंने काशीपुर में कई जगह छापे मारे, लेकिन युवती का कुछ पता नहीं चला। शाम तक पुलिस आरोपित की तलाश में जुटी रही।

यह भी पढ़ें : शादी की तीसरी रात ही पति, सास-ससुर को जहर पिलाकर जेवरात-नगदी सहित भाग गई उत्तराखंडी दुल्हन…

बताया गया है कि नौल्था गांव के अशिक्षित 26 वर्षीय किसान दिनेश पुत्र रामभज की हरियाणा से शादी नहीं हो पा रही थी। इसलिए गुहांड के पलड़ी गांव के कृष्ण पंडित ने दो महीने पहले पिता को बताया था कि जालपहाड़ गांव की कृष्णा नामक महिला उसकी उत्तराखंड के जिला अल्मोड़ा के पावा गांव की सुनीता से शादी करा देगी। सुनीता के स्वजन गरीब है। शादी का खर्च उन्हें ही वहन करना होगा। एक दिसंबर को वह, पिता, कृष्ण, कृष्णा का बेटा दिनेश और दिनेश की पत्नी पावा गांव पहुंचे। 2 दिसंबर को काशीपुर तहसील में उसकी व सुनीता की शादी हो गई। इस मौके पर सुनीता की बहन बिमलेश भी थी। उन्होंने सुनीता के स्वजनों से कोई दान नहीं लिया था। बल्कि सुनीता को उन्होंने सोने का मंगलसूत्र, दो सोने की अंगूठी, एक जोड़ी सोने के टॉप्स, एक चांदी का हथफूल, चांदी की चुटकी और चांदी का टिक्का सोने का पानी चढ़ा हुआ, चार चांदी की चूड़ी, दो जोड़ी पाजेब और 20 हजार रुपये के कपड़े और अन्य सामान दिलाया था। 80 हजार रुपये खान-पान पर भी उन्होंने ही खर्च किए थे। 4 दिसंबर की रात को वह सुनीता को साथ ले कर घर लौट आया। 4 दिसंबर की रात साढे़ आठ बजे सुनीता ने पहले उनके पिता रामभज और फिर मां को जहरीला दूध पिला दिया। इसके बाद उसे भी दूध पिलाया। 5 दिसंबर की सुबह चचेरे भाई की बहू व बुआ उनके घर आई वे तीनों बेसुध थे। स्वजनों ने उन्हें सामान्य अस्पताल में दाखिल कराया। उन्हें सात दिसंबर की शाम को होश आया। डाक्टर ने उन्हें बताया कि मारने की नीयत से तीनों को दूध में जहर मिलाकर पिलाया गया था। उसकी पत्नी सुनीता घर से 80 हजार रुपये की नकदी, जेवरात और अन्य सामान चुराकर भाग गई। इस साजिश में सुनीता व उक्त पांच लोग भी शामिल हैं।
ऋषिकेश में मिली महिला हो सकती है गिरोह की सदस्य
धोखाधड़ी का शिकार हुए दूल्हे के स्वजनों ने बताया कि दिनेश के रिश्ते के भाई से उन्हें इस लड़की के बारे में पता चला था। दिनेश का भाई ऋषिकेश की एक धर्मशाला में महिला से मिला था। यह बात उसने दिनेश के स्वजनों को बताई तो वह भी दिनेश की शादी के लिए काशीपुर आ गए। यहां आने पर दिनेश को लड़की पसंद आ गई, जिसके बाद शादी हुई। काशीपुर में भी एक युवती लड़की के साथ थी, लेकिन किसी ने अपना सही पता नहीं बताया। जबकि दूसरी लड़की ने स्वयं को काशीपुर का ही बताया। इस पूरे मामले में पांच संदिग्ध लोग सामने आए, लेकिन अब उनके पास न तो किसी का फोटो है और न ही कोई अन्य दस्तावेज, जिस कारण आरोपितों तक पहुंचने में परेशानी आ रही है।

नियमित रूप से नैनीताल, कुमाऊं, उत्तराखंड के समाचार अपने फोन पर प्राप्त करना चाहते हैं तो हमारे टेलीग्राम ग्रुप में इस लिंक https://t.me/joinchat/NgtSoxbnPOLCH8bVufyiGQ से एवं ह्वाट्सएप ग्रुप से इस लिंक https://chat.whatsapp.com/ECouFBsgQEl5z5oH7FVYCO पर क्लिक करके जुड़ें।

यह भी पढ़ें : उत्तराखंड : शादी के फेरों से पहले फुर्र हुई दुल्हन, इंतजार में बैठा रहा दुल्हा..

नवीन समाचार, काशीपुर, 5 फरवरी 2020। राजस्थान से शादी करने परिवार के साथ काशीपुर पहुंची दुल्हन फेरों से पहले ही फुर्र हो गई। दुल्हन के पिता की सूचना पर पुलिस ने तलाश की, लेकिन कोई पता नहीं चल पाया।

काशीपुर निवासी व्यक्ति के दो बेटों और एक बेटी की शादी हो चुकी है। जबकि सबसे छोटे बेटे की शादी राजस्थान निवासी युवती के साथ दो फरवरी को तय हुई थी। शादी के लिए दुल्हन का परिवार काशीपुर आ गया और आईटीआई थाना क्षेत्र स्थित एक रिसॉर्ट में रुका था। बताया जा रहा है कि एक फरवरी को रिंग सेरेमनी और महिला संगीत का भी कार्यक्रम था। अगले दिन शाम को बारात आनी थी। इसको लेकर वर पक्ष के लोग बारात चढ़त की तैयारी कर रहे थे। इसी बीच दुल्हन रिसॉर्ट से रहस्यमय ढंग से लापता हो गई। काफी तलाश के बाद भी दुल्हन का पता नहीं चला तो सूचना पुलिस को दी। बताया जा रहा है कई मेहमान शादी में शामिल होने रिसॉर्ट पहुंचे, लेकिन वह रिसॉर्ट की लाइटें बंद होने और जानकारी होने पर वापस लौट आये। मामले की सच्चाई पता चलने पर दुल्हन का परिवार रात में ही वापस लौट गया। पुलिस के अनुसार, प्रथम दृष्टया पता चला है कि युवती किसी अन्य युवक के संपर्क में थी। रहस्यमय ढंग से लापता होने से ऐन पहले वह रिसॉर्ट में ही झूला-झूल रही थी।

एक हजार से अधिक मेहमानों का बना था खाना
शादी समारोह में एक हजार से अधिक लोगों के खाने की व्यवस्था की गई थी। शादी से पहले ही दुल्हन के गायब होने के बाद खाना भी धरा रह गया। बताया जा रहा है कि खाने को आस-पास के लोगों में बांटा गया। (Courtsy LiveHindustan)

नवीन समाचार
‘नवीन समाचार’ विश्व प्रसिद्ध पर्यटन नगरी नैनीताल से ‘मन कही’ के रूप में जनवरी 2010 से इंटरननेट-वेब मीडिया पर सक्रिय, उत्तराखंड का सबसे पुराना ऑनलाइन पत्रकारिता में सक्रिय समूह है। यह उत्तराखंड शासन से मान्यता प्राप्त, अलेक्सा रैंकिंग के अनुसार उत्तराखंड के समाचार पोर्टलों में अग्रणी, गूगल सर्च पर उत्तराखंड के सर्वश्रेष्ठ, भरोसेमंद समाचार पोर्टल के रूप में अग्रणी, समाचारों को नवीन दृष्टिकोण से प्रस्तुत करने वाला ऑनलाइन समाचार पोर्टल भी है।
https://navinsamachar.com

Leave a Reply