Crime

डीजीपी से शिकायत करने पर वापस मिले बहन की शादी के लिए बचाकर रखे एक लाख रुपए…

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

नवीन समाचार, देहरादून, 05 अप्रैल 2021। बहन की शादी के लिए बैंक में जमा की गई रकम साइबर ठगों ने उड़ा ली। लाचार भाई इसकी शिकायत लेकर स्थानीय थाने में गया तो उसकी सुनवाई नहीं हुई। इस पर उसने प्रदेश के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) से कार्रवाई कर गुहार लगाई। डीजीपी के आदेश पर त्वरित कार्रवाई के बाद पीड़ित को उससे ठगे गऐ रुपयों में से एक लाख रुपये वापस मिल गए हैं।
प्राप्त जानकारी के अनुसर रुड़की के कृष्णानगर निवासी भीम सिंह काफी के पास गत दिवस एक व्यक्ति का फोन आया। उसने उन्हें झांसे में लेकर एक लाख रुपये बैंक खाते से उड़ा दिए। भीम ने यह रुपए अपनी बहन की शादी के लिए रखे थे। भीम ने बैंक में इसकी शिकायत की, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। आरोप है कि स्थानीय थाने की पुलिस भी उनकी शिकायत पर कार्रवाई के बजाय टालमटोल करती रही। इस पर धनराशि वापस मिलने की उम्मीद खो चुके भीम सिंह ने आखिर में डीजीपी अशोक कुमार से गुहार लगाई। डीजीपी ने एसएसपी हरिद्वार को मामले की गंभीरता से जांच करने और कार्रवाई करने का निर्देश दिया। इसके बाद हरिद्वार पुलिस ने ठगों के खाते को सीज कर पीड़ित भीम सिंह के खाते में एक लाख रुपए की धनराशिवापस डलवा दी। इसके साथ ही डीजीपी ने सभी जिलों की पुलिस को निर्देशित किया है कि साइबर अपराधों के मामलों को गंभीरता से लेते हुए त्वरित कार्रवाई करें। पीड़ितों को थाने-चौकियों के चक्कर न काटने पड़ें।

यह भी पढ़ें : सोशल मीडिया पर युवती ने नग्न होकर युवक से हड़प लिए 11 हजार रुपए

नवीन समाचार, बहादराबाद (हरिद्वार), 28 मार्च 2021। अपराधी प्रवृत्ति के युवक ही नहीं युवतियां भी सोशल मीडिया का उपयोग लोगों को लूटने के लिए किया जा रहा है। ऐसा ही एक मामला नगर के रावली महदूद निवासी एक युवक के साथ हुआ है। उसे एक अज्ञात युवती की फ्रेंड रिक्वेस्ट स्वीकार करना बहुत भारी पड़ गया। पीड़ित युवक का कहना है कि युवती वीडियो कॉलिंग में उसके सामने नग्न हुई और उससे भी कई बार मना करने के बावजूद नग्न होने को कहती रही। इस पर वह भी नग्न हो गया। इसके बाद युवती ने युवक से व्हाट्सएप पर भी जुड़कर उससे वीडियो कॉलिंग पर नग्न अवस्था में वीडियो क्लिप बना ली, और उस वीडियो क्लिप को वायरल करने की धमकी देकर गूगल-पे से 11 हजार रुपए हड़प लिए। इसके बाद भी युवती युवक से वीडियो को वायरल करने की धमकी देकर हजारों रुपए की मांग करने लगी, इस पर युवक ने पुलिस से मदद मांगी। इस पर पुलिस ने अज्ञात युवती के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है, और युवती की तलाश में जुट गई है।
सिडकुल थाने के प्रभारी लखपत सिंह बुटोला ने कहा कि इस तरह सोशल मीडिया पर ब्लैकमेलिंग के कई मामले सामने आ चुके है। लोगों को अनजान लोगों की फेसबुक आईडी पर फ्रेंड रिक्वेस्ट स्वीकार नहीं करनी है।

यह भी पढ़ें : कुुमाउनी में लोगों को साइबर अपराधों से बचने की सलाह दे रहे पुलिस के एएसआई हुए वायरल

नवीन समाचार, नैनीताल, 25 मार्च 2021। पूर्व में मल्लीताल कोतवाली में तैनात रहे व वर्तमान में ऊधमसिंह नगर जनपद में कार्यरत एएसआई सत्येंद्र गंगोला का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इस वीडियो में सत्येंद्र विस्तार से लोगों को साइबर अपराध बचने के तरीके समझा रहे हैं। उल्लेखनीय है कि सत्येंद्र कुमाउनी गीत भी गाते रहे हैं। उसके गाये गीतों की पूर्व में वीडियो भी आ चुकी है।
देखें एएसआई सत्येंद्र गंगोला का कुमाउनी में साइबर अपराधों से बचने का संदेश:

यह भी पढ़ें : एसएसपी, आईजी, कोतवाल के बाद अब एसडीएम की फेसबुक आईडी से मांगे जा रहे रुपए…

नवीन समाचार, नैनीताल, 05 मार्च 2021। जिले के पूर्व एसएसपी सुनील कुमार मीणा, आईजी अजय रौतेला व मल्लीताल के कोतवाल अशोक कुमार सिंह के बाद अब जनपद के धारी तहसील के एसडीएम विनोद कुमार की फेसबुक आईडी भी हैक कर ली गई है। कुमार की फर्जी फेसबुक आईडी बनाई गई है, और उससे उनकी असली फेसबुक आईडी से जुड़े मित्रों को पहले फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजकर जोड़ा गया है और फिर उन्हें संदेश भेजकर रुपए मांगे जा रहे हैं। एक मित्र से नाम पूछने पर रामेश्वर नाम बताया गया है। इसका पता लगने पर श्री कुमार ने अपने फेसबुक से जुड़े मित्रों से उनकी आईडी पैसा मांगने वालों के झांसे में न आने की अपील की है। उल्लेखनीय है कि विनोद कुमार अभी हाल तक नैनीताल के एसडीएम भी रह चुके हैं।

एसडीएम विनोद कुमार के नाम से इस तरह मांगे जा रहे हैं रुपए : https://www.facebook.com/photo/?fbid=3640205279411979&set=a.192026927563182

यह भी पढ़ें : सरकारी स्कूल की ‘मैडम जी’ ने 5 रुपये में मंगाया ऑनलाइन पिज्जा, और लग गया 60 हजार का चूना

नवीन समाचार, हल्द्वानी, 25 फरवरी 2021। देश की शिक्षा व्यवस्था जाने क्या-क्या सिखाती है, लेकिन व्यवहार में आने वाली छोटी-छोटी बातें व जीवन में बरती जाने वाली सावधानियां नहीं सिखाती। इसका ही परिणाम है कि बच्चों को ऐसी जानकारियां देने की जिन पर जिम्मेदारी होनी चाहिए थी, ऐसी एक सरकारी विद्यालय की शिक्षिका को ₹5 में पिज्जा दिलाने का झांसा देकर साइबर अपराधियों ने ₹60000 लूट लिए। मामला हल्द्वानी का है। हल्द्वानी कोतवाली पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर घटना की जांच शुरू कर दी है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार सीएमटी कालोनी डहरिया निवासी शिक्षिका कमला जोशी ने 22 फरवरी को पिज्जा मंगाने का ऑनलाइन ऑर्डर किया था। बुकिंग के बाद उन्हें मैसेज मिला कि वह पांच रुपये का भुगतान करें। कमला ने तुरंत ऑनलाइन पांच रुपये का भुगतान कर दिया। लेकिन इसके पांच मिनट बाद ही तीन किस्तों में 19999, 19999 और 19998 (59 हजार 996) रुपये निकाले जाने के मैसेज आ गये। इस पर कमला परेशान हो गईं। उन्होंने एसपी सिटी डॉ. जगदीश चंद्र को अवगत कराया। एसपी सिटी के निर्देश पर एसओजी की टीम सक्रिय तो हुई लेकिन तब तक पैसे निकल चुके थे। कोतवाली पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज किया है। मुकदमे की विवेचना टीपीनगर चौकी प्रभारी सतीश शर्मा को सौंपी गई है।

यह भी पढ़ें : एसएसपी, आईजी के बाद अब कोतवाल की फेसबुक आईडी हैक कर रुपए मांगे..

नवीन समाचार, देहरादून, 21 फरवरी 2021। जिले के पूर्व एसएसपी सुनील कुमार मीणा, आईजी अजय रौतेला के बाद अब मल्लीताल के कोतवाल अशोक कुमार सिंह की फेसबुक आईडी भी हैक कर ली गई है। सिंह की फर्जी फेसबुक आईडी बनाई गई है, और उससे उनकी असली फेसबुक आईडी से जुड़े मित्रों को पहले फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजकर जोड़ा गया है और फिर उन्हें संदेश भेजकर रुपए मांगे जा रहे हैं। इसका पता लगने पर कोतवाल ने फेसबुक आईडी को ब्लॉक करवा दिया है, और अपने फेसबुक से जुड़े मित्रों से उनकी आईडी पैसा मांगने वालों के झांसे में न आने की अपील की है। इन दिनों अवकाश पर चल रहे सिंह ने बताया कि उन्होंने एसओजी को मामले की जानकारी दे दी है। अब तक किसी मित्र के झांसे में आकर रुपए भेजने की जानकारी नहीं है।

यह भी पढ़ें : युवती की वीडियो पोर्न साइट पर अपलोड, दोस्ती पड़ी भारी…

नवीन समाचार, हल्द्वानी, 17 फरवरी 2021। शहर में एक युवती की तस्वीरें इंटरनेट पर अश्लील पोर्न साइट पर दिखने से हड़कंप मच गया। युवती के भाई ने जब ऐसा देखा तो सक्रियता दिखाते हुए कोतवाली पुलिस में लिखित शिकायत की। इस पर पुलिस ने संबंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज कर तहकीकात शुरू कर दी है। युवती के साथ ऐसी हरकत करने का आरोप उसके एक परिचित युवक पर लगा है। बताया जा रहा है कि युवती से संबंध बनाने से इंकार करने पर युवक ने उसे बदनाम करने नीयत से उसकी अश्लील वीडियो पोर्न साईड में अपलोड कर दी हैं। मामला चोरगलिया क्षेत्र का बताया जा रहा है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार तीन साल पूर्व युवती पड़ोस में किराए पर रहे एक युवक के संपर्क में आई थी। जिसके बाद दोनों के बीच दोस्ती हो गई। दोनो के बीच का प्रेम प्रसंग के चलते परिजनों ने युवती को समझाबुझाकर अलग कर दिया। बताया जा रहा कि बीते दिन युवती के भाई के दोस्तों ने एक पोर्न साइट पर उसका अश्लील वीडियो देखा और जानकारी दी। युवती के भाई ने तहरीर देते हुए कहा कि अज्ञात शख्स द्वारा उसकी बहन की अश्लील वीडियो अपलोड की गई हैं। इस कारण वह मानसिक रूप से परेशान है। इससे उसकी सामाजिक प्रतिष्ठा भी खराब हो रही है। इस पर पुलिस ने मामला दर्ज करते हुए वीडियो अपलोड करने वाले की तलाश शुरू कर दी है।

यह भी पढ़ें : उत्तराखंड पुलिस की बड़ी कार्रवाई, एक करोड़ से अधिक की ठगी करने वाले साइबर मास्टरमाइंड को किया गिरफ्तार

नवीन समाचार, देहरादून, 06 फरवरी 2021। उत्तराखंड एसटीएफ व साइबर क्राइम पुलिस की संयुक्त टीम ने एक क्लिक करते ही लाखों की ठगी करने वाले अंतरराज्यीय गिरोह के मास्टर माइंड को राज्य से लगभग 1600 किमी दूर कोलकाता से गिरफ्तार करने की बड़ी सफलता प्राप्त की है। पकड़े गए आरोपित अनिकेत चक्रवर्ती पर आरोप है कि उसने राज्य के चम्पावत निवासी व्यक्ति से अज्ञात मोबाइल नंबर द्वारा फोन एवं एसएमएस के माध्यम से सम्पर्क करके और इंटरनेट बैंकिग का एक्सेस प्राप्त कर उसके खाते से 30 लाख रुपये ऑनलाइन निकाल लिए थे। इस मामले में यह बड़ा खुलासा भी हुआ है कि घटना में प्रयुक्त हुये बैंक खातों में कुछ माह की अवधि में ही लगभग 1 करोड़ से अधिक की धनराशि का लेनदेन किया गया है।
देहरादून के एसएसपी अजय सिंह ने बताया कि विवेचना के दौरान अपराधियों द्वारा प्रयोग किये गये मोबाइल नंबरों विश्लेषण करने पर पता चला कि वे पश्चिम बंगाल के निकले। जबकि साइबर अपराधियों द्वारा पश्चिम बंगाल के 2 बैंक खातों का प्रयोग करते हुये धोखाधड़ी से 30 लाख की धनराशि स्थानान्तरित की गयी थी। इन बैंक खातों में कुछ माह की अवधि में ही लगभग 1 करोड़ से अधिक की धनराशि का लेनदेन होना पाया गया। प्रकरण में निरीक्षक विकास भारद्वाज के नेतृत्व में एक पुलिस टीम को पश्चिम बंगाल भेजा गया, जिन्होंने आरोपित को चिन्हित कर पश्चिम बंगाल के दूरस्थ जनपद 24 परगना से गिरफ्तार कर लिया है। आरोपित अनिकेत शातिर किस्म का साइबर अपराधी और मास्टर माइंड भी है। उसके द्वारा विभिन्न राज्यो के कई व्यक्तियो को इसी प्रकार झांसे में लेकर इंटरनेट बैंकिंग का एक्सेस प्राप्त करके ठगी का शिकार बनाया है। इधर एसटीएफ उत्तराखण्ड के प्रभारी ने जनता से अपील की है कि किसी भी अन्जान व्यक्ति द्वारा भेजे गये किसी भी पेमेंट गेटवे, वॉलेट-मोबाईल एप्लीकेशन पर धनराशि प्राप्त करने हेतु क्यूआर कोड स्कैन न करें। कभी भी किसी से अपने डेबिट-क्रेडिट कार्ड की जानकारी शेयर न करें तथा किसी भी प्रकार के धनराशि से संबंधित अन्जान लिंक पर क्लिक न करें, और कोई भी शक होने पर तत्काल निकटतम पुलिस स्टेशन या साईबर क्राईम पुलिस स्टेशन देहरादून से सम्पर्क करें। इसके साथ में जनता को विश्वास दिलाया कि अपराधी किसी भी कोने एवं दिशा में छुप जाए, एसटीएफ एवं साईबर थाना उसे गिरफ्तार करके रहेंगे।

यह भी पढ़ें : पिथौरागढ़ की युवती को असफल फेसबुकिया प्रेम में बागेश्वर के युवक ने मारा नैनीताल से ले जाकर चाकू, गला भी दबाया…

नवीन समाचार, पिथौरागढ़, 30 जनवरी 2021। नगर की एक युवती को फेसबुक पर बागेश्वर के युवक से दोस्ती करना भारी पड़ गया। युवक ने तीन साल से चल रही इस फेसबुकिया दोस्ती को प्यार समझ लिया, और उसने युवती के सामने शादी का प्रस्ताव रखा। युवती ने शादी करने से मना किया तो उसने योजना बनाकर युवती को मारने की साजिश रची और नैनीताल से चाकू ले जाकर पिथौरागढ़ में युवती के पेट में चाकू मार दिया और फरार हो गया। उसका गला दबाने का प्रयास भी किया। अलबत्ता, पुलिस ने मामला दर्ज कर उसे एसओजी की मदद से घटना के कुछ घंटे बाद ही पकड़ लिया। युवती को अस्पताल में भर्ती किया गया है, उसके पेट में 5 टांके आये हैं।
पुलिस के अनुसार, फेसबुकिया प्रेम में असफल रहे बागेश्वर के युवक को युवती द्वारा उसे ठुकराने की बात बुरी लग गई इसलिए उसने युवती को मारने का फैसला लिया। इसलिए वह युवती से मिलने उसके घर पहुंचा। उसने एक बार फिर उसे सालों की दोस्ती और जज्बातों का हवाला देते हुए प्रेम की दुहाई दी, लेकिन युवती ने अपने मन में कभी इस तरह के विचार न होने की बात कह उससे साफ मना कर दिया। इससे भड़के युवक ने युवती के पेट में चाकू मारकर उसे घायल कर दिया, और फरार हो गया। घटना की सूचना मिलने पर पुलिस और एसओजी ने घेराबंदी कर थल पुलिस की मदद से उसे मुवानी में पकड़ लिया।
पुलिस ने उसके पास से हमले में प्रयुक्त, नैनीताल से लाया गया चाकू भी बरामद कर लिया। युवती के परिजनों की तहरीर पर आरोपी के खिलाफ पिथौरागढ़ थाने में आईपीसी की धारा 324, 504, 506, 307 के तहत मामला दर्ज किया गया। गिरफ्तार करने वाली टीम में एसआई विजय कुमार, संजय सिंह, एसओजी प्रभारी सुरेश सिंह कंबोज, कांस्टेबल उमेश सिंह, गोविंद सिंह शामिल रहे। एसपी पिथौरागढ़ सुखबीर सिंह ने कहा कि युवती को चाकू मारने के आरोपी को घटना के कुछ घंटे बाद ही गिरफ्तार करने में पुलिस और एसओजी की टीम ने सराहनीय कार्य किया है।

यह भी पढ़ें : नैनीताल की नाबालिग को भारी पड़ा फेसबुकिया प्यार, अस्मत गंवाई, प्रेमी निकला एक बच्ची का पिता…

नवीन समाचार, नैनीताल, 28 जनवरी 2021। किसी भी अनजाने पर आंखें मूंदकर विश्वास करना भारी पड़ सकता है खासकर facebook जैसे सोशल मीडिया माध्यम पर। नगर के निकट के ग्रामीण क्षेत्र की एक नाबालिग किशोरी को ऐसा करने की बड़ी कीमत चुकानी पड़ी है। उसके शातिर फेसबुकिया दोस्त ने उससे झूठा प्रेम जता कर पहले उसकी अस्मत लूट ली, और जब शादी करने की बात हुई तो खुलासा हुआ है कि वह शादीशुदा ही नहीं एक बच्चे का बाप भी है।
नगर के निकटवर्ती गांव की निवासी नाबालिग किशोरी ने तल्लीताल थाने में शिकायत दर्ज कराई है कि उत्तर प्रदेश के निगोही के रहने वाले युवक रवि कुमार ने उससे सोशल मीडिया के माध्यम से दोस्ती की, और नैनीताल मिलने के लिए आने पर शादी का झांसा देकर मल्लीताल के एक होटल में उसके साथ शारीरिक संबंध बनाए।
इधर उसे एक महिला का फोन आया। उस महिला ने बताया कि वह रवि की पत्नी है और उनकी एक बच्ची भी है। दरअसल महिला को अपने पति के मोबाइल में चैट देखकर किशोरी से उसके संबंधों का पता चला।
किशोरी ने बताया कि लगी ने उसे अपनी पत्नी को अपनी भाभी बताया था। सच्चाई पता चलने पर जब पीड़िता ने आरोपी से बात करनी चाही तो उसने पीड़िता से बात करना बन्द कर दिया और उसे व उसके परिजनों को जान से मारने की धमकी देने लगा। इससे घबराई पीड़िता ने अब हिम्मत दिखाते हुए अपने परिजनों के साथ तल्लीताल थाने में रवि के खिलाफ तहरीर दी है। इस पर तल्लीताल पुलिस स्टेशन के थानाध्यक्ष विजय मेहता ने बताया की आरोपी के विरुद्ध भारतीय दंड संहिता की धारा 376 और 3/4 पाॅक्सो अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है। यथाशीघ्र आरोपी की गिरफ्तारी की जाएगी।

यह भी पढ़ें : एसएसपी के बाद अब साइबर अपराधियों ने आईजी कुमाऊं के नाम पर की धोखाधड़ी की कोशिश

-फर्जी फेसबुक खाता बनाकर लोगों से की रुपयों की मांग

नवीन समाचार, नैनीताल, 20 जनवरी 2021। बेख़ौफ़ साइबर अपराधियों ने गत दिनों नैनीताल जनपद के तत्कालीन एसएसपी सुनील कुमार मीणा के फेसबुक खाते जैसा हूबहू दिखने वाला फेसबुक खाता बना दिया था। अब ऐसा ही कुछ कुमाऊं परिक्षेत्र के आईजी, वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी अजय रौतेला के साथ हुआ है।

शातिर साइबर अपराधियों ने आईजी रौतेला की वर्दी वाली फोटो का प्रयोग करते हुए अजय रौतेला एलपीएस नाम से न केवल फेसबुक खाता बना लिया है, वरन उनके नाम से उनके फेसबुक दोस्तों को फेसबुक मैसेंजर से बड़ी धनराशि मांगी जा रही है। पूछे जाने पर आईजी रौतेला ने बताया कि अभी-अभी उनकी जानकारी में भी यह बात आई है। वह अभी देहरादून में हैं और साइबर सेल से इसकी शिकायत करने जा रहे हैं। दिलचस्प बात यह भी है उनके नाम का फर्जी खाता अजय रौतेला एलपीएस के नाम से बनाया गया है। संभवतया खाता अजय रौतेला आईपीएस नाम से बनाने का प्रयास किया गया हो, किंतु जल्दबाजी अथवा किसी अन्य कारण से आईपीएस की जगह एलपीएस लिखा गया है।

यह भी पढ़ें : नैनीताल : युवतियों को मिल रहीं युवती के नाम से बनी फेसबुक आईडी से अभद्र संदेश व धमकियां

नवीन समाचार, नैनीताल, 19 अगस्त 2020। नगर के पास मंगोली क्षेत्र निवासी कुछ युवतियों के साथ फेसबुक मैसेंजर पर युवती के नाम से बनी प्रोफाइल से अभद्रतापूर्ण संदेश भेजने एवं युवतियों की गंदी फोटो बनाकर फेसबुक पर अपलोड करने की धमकी देने का मामला प्रकाश में आया है। मल्लीताल कोतवाली पुलिस ने मामले को साइबर सेल को भेज दिया है।
पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार मंगोली निवासी युवती ने शिकायत दर्ज कराई है तीन दिन पूर्व एक युवती को अंजलि नाम की फेसबुक आईडी से फ्रेंड रिक्वेस्ट मिली। लड़की समझ कर उसने रिक्वेस्ट स्वीकार कर ली। इसके बाद उसे कथित अंजली की ओर से मैसेज आने शुरू हो गए। मैसेज में बात की तो दूसरी ओर से अभद्रतापूर्ण बातें शुरू की गईं। साथ ही एडिट कर युवती की गंदी फोटो बनाकर फेसबुक पर अपलोड करने की धमकी गई। यह बात युवती ने गांव की अपनी अन्य सहेलियों को बताई तो उन्होंने भी इसी तरह की घटना उनके साथ होने की बात कही। इसके बाद युवती शिकायत लेकर मल्लीताल कोतवाली पहुंची। एएसआई सत्येंद्र गंगोला ने बताया कि फेक आईडी बनाया हुआ कोई परिचित ही इसके पीछे हो सकता है। उसके द्वारा युवतियों को उनके पिता के नाम आदि भी बताये गये हैं। जल्द घटना का खुलासा कर दिया जाएगा।

यह भी पढ़ें : फर्जी फेसबुक आईडी से रुपयों की मांग

नवीन समाचार, नैनीताल, 16 मई 2020। नगर के माल्डन कॉटेज निवासी सामाजिक कार्यकर्ता राम सिंह गोसांई के नाम की फर्जी फेसबुक आईडी बनाकर उनके मित्रों से मैसेंजर ऐप के माध्यम से किसी के द्वारा धनराशि की मांग की जा रही है। गोसांई ने इस संबंध में मल्लीताल कोतवाली में लिखित शिकायत दर्ज कर बताया है कि उनकी वास्तविक फेसबुक आईडी ब्लॉक हो चुकी है। अज्ञात व्यक्ति 9050464329 जिसका नाम ट्रूकॉलर पर संजय नयर आ रही है, लोगों को उनके नाम से संदेश भेजकर रुपये मांग रहा है। लिहाजा उन्होंने पुलिस से आरोपित के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है।

यह भी पढ़ें : कुमाऊं विवि के कुलपति के नाम से धोखाधड़ी का प्रयास, बैंक खाते में ‘फोन पे’ से गड़बड़ी का आरोप

नवीन समाचार, नैनीताल, 8 मई 2020। कुमाऊं विवि के कुलपति प्रो. केएस राना के नाम से एक अज्ञात ईमेल-oscorodova11@gmail.com के जरिये विवि के प्रोफेसरों से धोखाधड़ी का प्रयास किया गया है। इस मामले में कुलपति प्रो. राना ने जनपद के एसएसपी को पत्र लिखकर कहा है कि उनके नाम व पदनाम का दुरुपयोग न होने पाये, इसलिए संबंधित अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ आईटी एक्ट के तहत कार्रवाई करने की मांग की है।

बैंक खाते में ‘फोन पे’ से गड़बड़ी का आरोप
नैनीताल। नगर के मल्लीताल प्रेम भवन निवासी राजीव लाल साह पुत्र स्वर्गीय लक्ष्मी लाल साह ने अपने पंजाब नेशनल बैंक मल्लीताल बाजार शाखा के खाते में गड़बड़ी का आरोप लगाया है। उन्होंने मल्लीताल कोतवाली में दी गई तहरीर में कहा है कि उनके खाते से ई-कॉम फोन पे प्राइवेट लिमिटेड द्वारा कई बार में 41 हजार 858 रुपए की धनराशि निकाली जा चुकी है। इस पर उन्होंने प्राथमिकी दर्ज कराने की मांग की है। उधर पुलिस मामले की जांच कर कार्रवाई करने की बात कह रही है।

यह भी पढ़ें : पीएम मोदी के नाम पर साइबर ठगी का किया गया प्रयास

नवीन समाचार, नैनीताल, 30 अप्रैल 2020। कोरोना विषाणु की महामारी एवं लॉक डाउन के दौरान साइबर ठग भी सक्रिय हो गये हैं। बृहस्पतिवार को एक ऐसे ही एक साइबर ठग द्वारा 8409384856 नंबर से सूचना विभाग में कार्यरत प्रकाश पांडे को फोन पर उनके एटीएम कार्ड के बारे में जानकारी लेने का प्रयास किया गया। अलबत्ता पांडे ने विवेक का प्रयोग करते हुए जल्दी ही भांप लिया कि उन्हें साइबर ठग द्वारा ठगने का प्रयास किया जा रहा है, इसलिये उन्होंने पहले ही सतर्कता बरतते हुए अपने पास एटीएम कार्ड ही न होने की बात कह साइबर ठग से पीछा छुड़ा लिया। उधर ठग का कहना था कि जिनके पास एटीएम कार्ड है उनके एटीएम कार्ड की जानकारी देने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से लॉक डाउन की वजह से 6000 रुपए की धनराशि दी जा रही है। पांडे ने बताया कि उन्होंने जनपद के एसएसपी को भी इसकी शिकायत की है। एसएसपी सुनील कुमार मीणा ने एसओजी को इस मामले में जांच सोंपने की बात कही है। उन्होंने अन्य लोगों से भी ऐसे फोन आने पर सतर्क रहने की सलाह दी है।
साइबर ठगी के प्रति जागरूक कर रहे हैं अधिवक्ता मिगलानी
नैनीताल। उत्तराखंड उच्च न्यायालय के अधिवक्ता ललित मिगलानी ने बताया कि लॉक डाउन में साइबर ठग लोगों को ठगने के लिए अधिक सक्रिय हो गये हैं। वे स्वयं तथा उनकी संस्था भारतीय जागरूकता समिति के द्वारा लोगों को इंटरनेट के माध्यम से होने वाले लेन-देन एवं साइबर ठगी तथा इससे बचने आदि के बारे में जानकारियां देकर जागरूक किया जा रहा है। उन्होंने इस संबंध में सोशल मीडिया पर विस्तृत जानकारी भी साझा की है।

यह भी पढ़ें : दिल्ली दंगे: उत्तराखंड टूरिज्म की वेबसाइट हैक, हैकर्स ने दिल्‍ली दंगे को लेकर दी चेतावनी

लिखा- भाइयों को नुकसान पहुंचाने पर चुप नहीं बैठेंगे

नवीन समाचार,देहरादून, 3 मार्च 2020।उत्तराखंड सरकार के टूरिज्म विभाग की वेबसाइट हैक हो गई है। हैकर्स का दावा है कि वे इंडोनेशिया के मुस्लिम हैं और दिल्ली में सीएए हुए दंगों का बदला लेने के लिए उन्होंने यह वेबसाइट हैक की है।

हैकर्स ने भारत सरकार को भी चेतावनी दी है। हैकर्स ने वेबसाइट के सिनॉप्सिस में लिखा है, ‘यह वेबसाइट भारत सरकार को सबक सिखाने के लिए वन हैट साइबर टीम ने हैक की है। दिल्ली में मुस्लिमों पर काफी अत्याचार हुए, जिसमें कई मुस्लिम घायल हुए। जब हमारे भाइयों को नुकसान पहुंचाया गया हो, हम शांत नहीं बैठेंगे।’ हैकर्स ने आगे लिखा है कि हम आपको चेतावनी देते हैं कि प्लीज इसे रोकिए।

यह भी पढ़ें : हाईकोर्ट की महिला अधिवक्ता को अश्लील संदेश भेजने वाला यूपी से गिरफ्तार

नवीन समाचार, नैनीताल, 2 मार्च 2020। उत्तराखंड उच्च न्यायालय की एक महिला अधिवक्ता को फर्जी फेसबुक अकाउंट बनाकर अश्लील मैसेज भेजने के मामले में मल्लीताल कोतवाली पुलिस ने खुर्जा यूपी निवासी व्यक्ति को गिरफ्तार कर साइबर अपराधियों को बड़ा संदेश दिया है। अपराधी चाहे जितना भी शातिर हों, वे कानून से बच नहीं सकते।
उल्लेखनीय है कि नवंबर 2019 में उत्तराखंड उच्च न्यायालय की एक महिला अधिवक्ता को योगी ब्वॉय योगी नाम के फेसबुक अकाउंट से अश्लील मैसेज भेजे गए थे। बताया गया है कि इस मामले में महिला अधिवक्ता की शिकायत पर आईटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया गया था और कोतवाली प्रभारी अशोक कुमार सिंह ने विवेचना की। सिंह की अगुवाई में कोतवाली के एएसआई सत्येंद्र गंगोला ने फर्जी फेसबुक अकाउंट को ट्रेक कर सोमवार को खुर्जा यूपी जाकर वहां के निवासी योगेश गोस्वामी पुत्र सुंदर गोस्वामी निवासी शिव नगर खुर्जा उससे तीन मोबाइल और अन्य उपकरण जब्त कर उसे गिरफ्तार कर लिया। अलबत्ता उस पर दर्ज मुकदमे में सात वर्ष से कम सजा का प्राविधान होने यानी जमानती अपराध होने के कारण उसे मौके पर ही जमानत मिल गई, लेकिन वह कानून के शिकंजे में आ गया है। उसे न्यायालय में पेश होने के लिए बंध पत्र भरवा दिया गया है।

यह भी पढ़ें : फेसबुक फ्रेंड का फेसबुक हैक कर हैकरों ने पत्रकारों से मांगे रुपए

नवीन समाचार, नैनीताल, 28 जनवरी 2020। फेसबुक हैकरों ने पत्रकारों के एक कॉमन फेसबुक फ्रेंड का फेसबुक अकाउंट कर नगर एवं आसपास के पत्रकारों से रुपए मांग डाले। गनीमत रही कि पत्रकार तो झांसे में नहीं फंसे, अलबत्ता अल्मोड़ा निवासी एक जूनियर इंजीनियर हैकरों के झांसे में फंसकर हैकरों के खाते में चार हजार रुपए जमा कर बैठे। मामले में अब पुलिस में शिकायत दर्ज करने की तैयारी की जा रही है।
हुआ यह कि जिला रेडक्रॉस सोसायटी के पूर्व चेयरमैन विनोद तिवारी का फेसबुक खाता 26 जनवरी की सुबह किसी ने हैक कर लिया और उनकी फ्रेंडलिस्ट में जुड़े नगर के कई पत्रकारों एवं अन्य लोगों से फेसबुक मैसेंजर के माध्यम से खुद को विनोद तिवारी के रूप में पेश कर चैटिंग करते हुए बताया कि उनके यानी तिवारी के एक दोस्त के साथ दुर्घटना हो गई है और वह दिल्ली के अस्पताल में भर्ती है। दोस्त के उपचार के लिए आर्थिक मदद की मांग की गई। पत्रकार तो हैकरों के झांसे में नहीं फंसे और ज्योलीकोट के पत्रकार कैलाश जोशी ने श्री तिवारी को फोन कर सत्यता पता करनी चाही। इसके बाद तिवारी ने अपने फेसबुक मित्रों को उनका फेसबुक अकाउंट हैक होने की जानकारी देकर किसी झांसे में न फंसने की हिदायत दी, अलबत्ता इस बीच पता चला कि उनके अल्मोड़ा के जूनियर इंजीनियर मित्र राजबीर राणा ने हैकरों के झांसे में फंसकर उनके द्वारा भेजे गए बैंक खाते में चार हजार रुपए जमा करा दिये। तिवारी आज पुलिस में इस बाबत शिकायत दर्ज कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें : पति की फेसबुक आईडी हैक कर पत्नी को भेजे अभद्र संदेश, मामला दर्ज

नवीन समाचार, काशीपुर, 13 जनवरी 2020। हैकर के द्वारा नगर के एक युवक की फेसबुक आइडी हैक कर उसकी पत्नी को मैसेंजर के माध्यम से अभद्र संदेश भेजने, जान से मारने की धमकी देने एवं ब्लैकमेल करते हुए 15 हजार रुपये रंगदारी मांगने का मामला प्रकाश में आया है। मामले में पुलिस ने युवक द्वारा सीएम समाधान पोर्टल पर की गई शिकायत के आधार पर अज्ञात हैकर के खिलाफ जान से मारने की धमकी व आइटी एक्ट की धारा 506 व 66 सी के तहत मामला दर्ज कर मामले में जांच शुरू कर दी है।
शहर के मोहल्ला कानूनगोयान निवासी युवक अमित नागर ने कोतवाली में तहरीर देकर बताया कि नौ जनवरी को किसी ने उसकी फेसबुक आइडी हैक कर उसी की पत्नी को फेसबुक मैसेंजर पर अभद्र मैसेज भेजे। यही नहीं पत्नी से 15 हजार रुपए की रंगदारी मांगी और रुपये न देने पर फेसबुक आइडी से लोगों से पैसों की नाजायज मांग कर फंसवा देने और फेसबुक से पारिवारिक फोटो लेकर उन फोटो का दुरुपयोग करने की धमकी दी। मामले की विवेचना कोतवाल चंद्रमोहन सिंह रावत कर रहे हैं।

नवीन समाचार
‘नवीन समाचार’ विश्व प्रसिद्ध पर्यटन नगरी नैनीताल से ‘मन कही’ के रूप में जनवरी 2010 से इंटरननेट-वेब मीडिया पर सक्रिय, उत्तराखंड का सबसे पुराना ऑनलाइन पत्रकारिता में सक्रिय समूह है। यह उत्तराखंड शासन से मान्यता प्राप्त, अलेक्सा रैंकिंग के अनुसार उत्तराखंड के समाचार पोर्टलों में अग्रणी, गूगल सर्च पर उत्तराखंड के सर्वश्रेष्ठ, भरोसेमंद समाचार पोर्टल के रूप में अग्रणी, समाचारों को नवीन दृष्टिकोण से प्रस्तुत करने वाला ऑनलाइन समाचार पोर्टल भी है।
https://navinsamachar.com

Leave a Reply

loading...